NDTV Khabar

ICSE exam


'ICSE exam' - 39 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • JEE Main, NEET 2020 Update: जेईई और नीट परीक्षा तय शेड्यूल पर होगी या नहीं? HRD मंत्री आज कर सकते हैं घोषणा

    JEE Main, NEET 2020 Update: जेईई और नीट परीक्षा तय शेड्यूल पर होगी या नहीं?  HRD मंत्री आज कर सकते हैं घोषणा

    देश के सबसे अहम एंट्रेंस एग्जाम नीट (NEET) और जेईई मेन (JEE Main) एग्जाम के बारे में आज कोई अहम निर्णय लिया जा सकता है. दरअसल, सीबीएसई (CBSE) और आईसीएसई (ICSE) बोर्ड की बची हुई परीक्षाएं कैंसिल होने के बाद  NEET और JEE Main एग्ज़ाम में शामिल होने वाले स्टूडेंट्स HRD मंत्री से परीक्षाओं पर अंतिम फैसला जल्द से जल्द सुनाने की मांग कर रहे थे, तो वहीं, कुछ स्टूडेंट्स कोरोनावायरस के चलते बिगड़े हालातों में NEET और JEE Main एग्जाम को स्थगित करने की भी मांग कर रहे थे. इन सबके बाद बीते दिन मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने हालात की समीक्षा के लिए एक पैनल का गठन किया. इस पैनल में नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) के डीजी समेत अन्य विशेषज्ञ शामिल किए गए. एनटीए से कहा गया है कि हालात की समीक्षा करके आज (3 जून) तक अपनी रिपोर्ट जमा कराएं. 

  • CISCE Board: सीआईएससीई बोर्ड ने जारी की 10वीं और 12वीं के बचे हुए पेपर के लिए Assessment Scheme, जानिए कैसे तैयार किया जाएगा Result

    CISCE Board: सीआईएससीई बोर्ड ने जारी की 10वीं और 12वीं के बचे हुए पेपर के लिए Assessment Scheme, जानिए कैसे तैयार किया जाएगा Result

    ICSE, ISC Assessment Scheme Released: काउंसिल फॉर इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (CISCE) ने 10वीं और 12वीं क्लास के बचे हुए पेपर के इवैल्यूएशन के लिए असेसमेंट स्कीम जारी कर दी है. बता दें कि 1 जुलाई से 14 जुलाई के बीच होने वाले 10वीं और 12वीं के पेपर CISCE बोर्ड ने कोरोनावायरस के खतरे के चलते कैंसिल कर दिए हैं. परीक्षाओं पर 26 जून को सुप्रीम कोर्ट में हुई सुनवाई के दौरान CISCE बोर्ड ने कहा था कि वे कैंसिल हो चुके पेपर्स के लिए असेसमेंट स्कीम (Assessment Scheme) एक सप्ताह के अंदर बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जारी करेगा. अपने बयान के अनुसार CISCE बोर्ड ने 10वीं और 12वीं के कैंसिल हो चुके पेपर के लिए असेसमेंट स्कीम जारी कर दी है. 

  • JEE Main और NEET एग्ज़ाम का क्या होगा? HRD मंत्रालय ने हालात की समीक्षा के लिए बनाया पैनल

    JEE Main और NEET एग्ज़ाम का क्या होगा? HRD मंत्रालय ने हालात की समीक्षा के लिए बनाया पैनल

    सीबीएसई (CBSE) और आईसीएसई (ICSE) बोर्ड की बची हुई परीक्षाएं कैंसिल होने के बाद अब NEET और JEE Main एग्ज़ाम पर सबकी नज़र है. इन दोनों एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी कर रहे छात्रों को भी इंतजार है कि आखिर अंतिम फैसला क्या होगा. देश में कोरोनावायरस का संक्रमण अब भी तेजी से फैल रहा है, ऐसे में केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने हालात की समीक्षा के लिए एक पैनल का गठन किया है. इस पैनल में नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) के डीजी समेत अन्य विशेषज्ञ शामिल हैं. एनटीए से कहा गया है कि हालात की समीक्षा करके कल (3 जून) तक अपनी रिपोर्ट जमा कराएं. जेईई मेन  (JEE Main 2020) एग्जाम 18-23 जुलाई और नीट (NEET 2020) 26 जुलाई को आयोजित किया जाना है.

  • CBSE ने कैंसिल की 10वीं और 12वीं क्लास की परीक्षाएं, तो हुई Memes की बरसात, बने ऐसे Jokes

    CBSE ने कैंसिल की 10वीं और 12वीं क्लास की परीक्षाएं, तो हुई Memes की बरसात, बने ऐसे Jokes

    सीबीएसई (CBSE) और आईसीएसई (ICSE) बोर्ड की जुलाई महीने में प्रस्तावित 10वीं और 12वीं कक्षाओं की शेष परीक्षायें रद्द कर दी गई हैं. फैसला आते ही ट्विटर पर #CBSE ट्रेंड करने लगा. ट्विटर पर खूब मीम्स और जोक्स (Memes And Jokes) तेजी से वायरल हो रहे हैं.

  • ICSE ने सुप्रीम कोर्ट में बताया- 10वीं के बच्चों को भी दिया जा सकता है बाद में परीक्षा देने का मौका

    ICSE ने सुप्रीम कोर्ट में बताया- 10वीं के बच्चों को भी दिया जा सकता है बाद में परीक्षा देने का मौका

    ICSE Board Exams 2020: सीबीएसई और आईसीएसई ने 10वीं और 12वीं की बची हुई बोर्ड परीक्षाएं रद्द कर दी हैं. सुप्रीम कोर्ट ने भी सीबीएसई के प्लान को मंजूरी दे दी है. जिसके बाद ये फाइनल हो गया है कि 1 जुलाई से 15 जुलाई के बीच रखी गईं सीबीएसई की बोर्ड परीक्षाएं (CBSE Board Exams) अब नहीं होंगी. सीबीएसई ने शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा देकर अपना पूरा प्लान बताया. रिजल्ट के फॉर्मले के साथ ही सीबीएसई ने रिजल्ट की तारीख भी बता दी है. वहीं आईसीएसई (ICSE) की तरफ से भी शुक्रवार की सुनवाई के दौरान अपना पक्ष रखा गया. आईसीएसई और सीबीएसई बोर्ड दोनों ही जुलाई के मध्य में परीक्षाओं के परिणामों की घोषणा करेंगे. दोनों ही बोर्ड ने आज सुप्रीम कोर्ट में इस बात की जानकारी दी है. 

  • CBSE और ICSE बोर्ड ने 10वीं और 12वीं क्लास की परीक्षाएं की कैंसिल, आज सुप्रीम कोर्ट में दी जाएगी पूरी जानकारी

    CBSE और ICSE बोर्ड ने 10वीं और 12वीं क्लास की परीक्षाएं की कैंसिल, आज सुप्रीम कोर्ट में दी जाएगी पूरी जानकारी

    CBSE Board Exams 2020: उच्चतम न्यायालय को बृहस्पतिवार को सूचित किया गया कि कोविड-19 महामारी के मद्देनजर सीबीएसई (CBSE) और आईसीएसई (ICSE) बोर्ड की जुलाई महीने में प्रस्तावित 10वीं और 12वीं कक्षाओं की शेष परीक्षायें रद्द कर दी गयी हैं. ये परीक्षायें जुलाई महीने में आयोजित करने का कार्यक्रम था. सीबीएसई बोर्ड के 12वीं कक्षा के छात्रों के पास बाद में परीक्षा देने या फिर पिछली तीन आंतरिक परीक्षाओं में प्रदर्शन के आधार पर मूल्यांकन का रास्ता चुनने का विकल्प उपलब्ध रहेगा. परंतु 10वीं कक्षा के छात्रों के लिये पुन:परीक्षा का विकल्प नहीं होगा. हालांकि, आईसीएसई बोर्ड के 10वीं और 12वीं कक्षा के छात्रों के पास दुबारा परीक्षा का विकल्प उपलब्ध नहीं होगा.

  • सुप्रीम कोर्ट में ICSE बोर्ड ने कहा- रद्द होंगी 10वीं, 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं, बाद में परीक्षा का विकल्प नहीं दिया जाएगा

    सुप्रीम कोर्ट में ICSE बोर्ड ने कहा- रद्द होंगी 10वीं, 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं, बाद में परीक्षा का विकल्प नहीं दिया जाएगा

    सुप्रीम कोर्ट ने ICSE द्वारा आयोजित परीक्षा भी रद्द करने का आदेश दिया. ICSE ने सुप्रीम कोर्ट को कहा कि हम परीक्षा रद्द करने के लिए सहमत हैं. महाराष्ट्र राज्य ने बॉम्बे HC को बताया है कि वे परीक्षा आयोजित नहीं कर सकते. इसलिए अब ICSE बोर्ड की परीक्षाएं भी रद्द कर दी गई है. इसमें आंतरिक मूल्यांकन प्रणाली का पालन होगा. हालांकि ICSE ने बाद में परीक्षा देने का विकल्प नहीं रखा है. सॉलिसिटर जनरल ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट को आदेश पारित करना चाहिए कि इस मामले के बारे में मामला SC में आना चाहिए न कि हाईकोर्ट में.

  • CBSE बोर्ड एग्जाम पर आज आएगा फैसला, ICSE, JEE Main और NEET परीक्षाओं पर भी पड़ेगा असर

    CBSE बोर्ड एग्जाम पर आज आएगा फैसला, ICSE, JEE Main और NEET परीक्षाओं पर भी पड़ेगा असर

    CBSE Pending Board Exams 2020:  जून के महीने में कोरोनावायरस (Coronavirus) का संक्रमण और तेजी से बढ़ रहा है. ऐसे में छात्रों की सुरक्षा और भविष्य को लेकर चिंताएं पैदा हो गई हैं. न बोर्ड एग्जाम पूरे हो सके हैं और न ही एंट्रेंस एग्जाम हो पा रहे हैं. शिक्षा मंत्रालय से लेकर अलग-अलग बोर्ड और एग्जामिनेशन एजेंसी कोई अंतिम निर्णय नहीं कर पाई हैं. सीबीएसई (CBSE), आईसीएसई (ICSE), जेईई मेन (JEE Main), यूजीसी नीट (NEET) समेत कई महत्वपूर्ण परीक्षाओं पर संकट के बादल छाए हुए हैं. हालांकि, आज सीबीएसई बोर्ड (CBSE Board) की बची हुई परीक्षाओं को लेकर अहम दिन है. बोर्ड आज अंतिम निर्णय ले सकता है कि परीक्षाएं कराई जाएं या किसी दूसरे फॉर्मूले से रिजल्ट जारी कर दिए जाएं. सीबीएसई के फैसले का असर आईसीएसई, जेईई और यूजीसी नीट एग्जाम पर भी पड़ेगा.

  • स्कूलों के लिए अब आएगा नया सिलेबस, HRD मंत्रालय ने NCERT को दिए किताबों में बदलाव के आदेश

    स्कूलों के लिए अब आएगा नया सिलेबस, HRD मंत्रालय ने NCERT को दिए किताबों में बदलाव के आदेश

    मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने कहा है कि स्कूली शिक्षा के लिए राष्ट्रीय पाठ्यक्रम की रूपरेखा (एनसीएफ) में 15 साल बाद बदलाव किया जा रहा है और नई रूपरेखा का मसौदा दिसंबर तक तैयार हो जाएगा. वहीं, नया पाठ्यक्रम अगले साल मार्च तक तैयार हो जाने की संभावना है. मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘स्कूली शिक्षा के लिए नया पाठ्यक्रम तैयार करने का काम शुरू हो चुका है. एनसीईआरटी (NCERT) से उम्मीद की जाएगी कि वह नए पाठ्यक्रम के मुताबिक किताबों में जरूरी बदलाव करें. स्कूली शिक्षा के लिए इस प्रक्रिया की शुरुआत विषयों के विशेषज्ञ करेंगे और दिसंबर 2020 तक अंतरिम रिपोर्ट देंगे. नया पाठ्यक्रम मार्च 2021 तक तैयार होने की संभावना है.’’

  • CBSE Pending Exam: पेंडिंग परीक्षाएं होंगी या नहीं? बचे हुए बोर्ड एग्जाम पर आज अंतिम फैसला करेगा CBSE

    CBSE Pending Exam: पेंडिंग परीक्षाएं होंगी या नहीं? बचे हुए बोर्ड एग्जाम पर आज अंतिम फैसला करेगा CBSE

    CBSE Pending Exam: सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन यानी CBSE बोर्ड की बची हुई परीक्षाओं को लेकर आज अहम दिन है. ये पेंडिंग परीक्षाएं जुलाई में तय समय पर कराई जाएंगी या कोरोनावायरस के खतरे के चलते रद्द की जाएंगी, इस पर सीबीएसई (CBSE) आज सुप्रीम कोर्ट में अपना अंतिम फैसला सामने रखने वाला है. माना जा रहा है कि सीबीएसई के फैसले का असर ICSE बोर्ड की बची परीक्षाओं पर भी होगा. इस मामले में आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई भी होनी है. कुछ पैरेंट्स ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है और सीबीएसई के परीक्षा कराने के फैसले को रद्द करने की मांग की है. पैरेंट्स की तरफ से याचिका में बच्चों को कोरोनावायरस का खतरा बताते हुए ये मांग की गई है. सीबीएसई (CBSE Board) आज सुप्रीम कोर्ट में भी अपना पक्ष रखेगा. 

  • ICSE Board Exams 2020: महाराष्ट्र सरकार ने HC से कहा- ICSE बोर्ड को नहीं दे सकते पेंडिंग परीक्षाएं आयोजित करने की अनुमति

    ICSE Board Exams 2020: महाराष्ट्र सरकार ने HC से कहा- ICSE बोर्ड को नहीं दे सकते पेंडिंग परीक्षाएं आयोजित करने की अनुमति

    ICSE Board Exams 2020:  महाराष्ट्र सरकार ने बुधवार को बॉम्बे हाईकोर्ट को बताया कि इंडियन सर्टिफिकेट ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (ICSE) बोर्ड को COVID-19 स्थिति के मद्देनजर जुलाई में 10वीं और 12वीं क्लास की पेंडिंग परीक्षाएं आयोजित करने की अनुमति नहीं दी जा सकती है. सरकार ने कोर्ट में अपना पक्ष रखते हुए ये भी कहा कि राज्य में स्थित यूनिवर्सिटी की फाइनल ईयर की परीक्षाएं भी कोरोनावायरस के खतरे को देखते हुए कैंसिल कर दी गई हैं. 

  • सुप्रीम कोर्ट ने ICSE बोर्ड से बची हुई परीक्षाओं को रद्द करने पर जल्दी फैसला करने को कहा, अगली सुनवाई 25 जून को

    सुप्रीम कोर्ट ने ICSE बोर्ड से बची हुई परीक्षाओं को रद्द करने पर जल्दी फैसला करने को कहा, अगली सुनवाई 25 जून को

    ICSE (Indian Certificate of Secondary Education) बोर्ड की बची हुई परीक्षाएं कराने के खिलाफ डाली गई याचिकाओं पर मंगलवार को हुई सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने ICSE से परीक्षा रद्द करने के लेकर सवाल किया और कहा कि बोर्ड इस संबंध में जल्दी फैसला ले. इस मामले में अगली सुनवाई 25 जून को होनी है.

  • ICSE Board Exams 2020: आईसीएसई बोर्ड परीक्षाओं को लेकर बॉम्बे हाई कोर्ट का महाराष्ट्र सरकार को आदेश- स्पष्ट करें अपना स्टैंड

    ICSE Board Exams 2020: आईसीएसई बोर्ड परीक्षाओं को लेकर बॉम्बे हाई कोर्ट का महाराष्ट्र सरकार को आदेश- स्पष्ट करें अपना स्टैंड

    कोरोनावायरस महामारी के बीच बोर्ड की बची हुई परीक्षाएं आयोजित कराना एक बड़ा मसला बन गया है. महाराष्ट्र राज्य में कोरोनावायरस के तेजी से बढ़ते हुए मामले देखकर बॉम्बे हाई कोर्ट ने सोमवार को राज्य सरकार को निर्देश दिए हैं कि वो स्पष्ट करें कि राज्य में CISCE बोर्ड को 10वीं और 12वीं की पेंडिंग परीक्षाएं आयोजित करने के लिए अनुमति देते हैं या नहीं. कोर्ट ने राज्य सरकार से परीक्षाओं को लेकर उनका स्टैंड क्लियर करने के लिए कहा है.

  • CISCE Board Exams 2020: इस राज्य के स्कूल का छात्रों को आदेश, बोर्ड परीक्षा में शामिल होने के लिए दिखाएं Corona Negative रिपोर्ट

    CISCE Board Exams 2020: इस राज्य के स्कूल का छात्रों को आदेश, बोर्ड परीक्षा में शामिल होने के लिए दिखाएं Corona Negative रिपोर्ट

    कोलकाता के एक प्रतिष्ठित निजी स्कूल ने बुधवार को जुलाई में होने वाली आईसीएसई (ICSE) और आईएससी (ISC) की पेंडिंग परीक्षाओं में शामिल होने वाले उन सभी छात्रों के माता-पिता से मांग की है कि वे अपने बच्चों की कोरोनावायरस नेगेटिव रिपोर्ट जमा कराएं. दरअसल, काउंसिल फॉर इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (CISCE) बोर्ड ने 10वीं और 12वीं की पेंडिंग परीक्षाओं को लेकर हाल ही में फैसला सुनाया है कि 10वीं और 12वीं क्लास के स्टूडेंट्स अगर चाहें तो 1 जुलाई से 14 जुलाई के बीच होने वाली पेंडिंग परीक्षाओं में शामिल हो सकते हैं और अगर वे परीक्षा में शामिल नहीं होना चाहते हैं तो परीक्षा छोड़ भी सकते हैं. परीक्षा न देने का विकल्प चुनने वाले स्टूडेंट्स का रिजल्ट प्री- बोर्ड एग्जाम की परफॉर्मेंस या इंटरनल असेसमेंट के आधार पर जारी किया जाएगा.

  • CISCE बोर्ड का बड़ा फैसला, 10वीं और 12वीं के स्टूडेंट्स छोड़ सकते हैं बची हुई परीक्षाएं

    CISCE बोर्ड का बड़ा फैसला, 10वीं और 12वीं के स्टूडेंट्स छोड़ सकते हैं बची हुई परीक्षाएं

    काउंसिल फॉर इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (CISCE) बोर्ड ने 10वीं और 12वीं के स्टूडेंट्स के लिए बड़ी घोषणा की है. बोर्ड के अधिकारियों के मुताबिक, CISCE बोर्ड के 10वीं और 12वीं क्लास के स्टूडेंट्स अगर चाहें तो परीक्षाओं को छोड़ सकते हैं. परीक्षा न देने का विकल्प चुनने वाले स्टूडेंट्स का रिजल्ट प्री- बोर्ड एग्जाम की परफॉर्मेंस या इंटरनल असेसमेंट के आधार पर जारी किया जाएगा. काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (CISCE) के चीफ एग्जीक्यूटिव और सचिव, गैरी अराथून (Gerry Arathoon) के अनुसार, " छात्रों को 22 जून तक अपने-अपने स्कूलों में अपने विकल्प के बारे में सूचित करना होगा."

  • ICSE Board Exams 2020: आईसीएसई के छात्रों को मिल सकता है इस साल 10वीं के बचे हुए पेपर छोड़ने का मौका

    ICSE Board Exams 2020: आईसीएसई के छात्रों को मिल सकता है इस साल 10वीं के बचे हुए पेपर छोड़ने का मौका

    आईसीएसई (ICSE) दसवीं क्लास के बचे हुए पेपर को लेकर काउंसिल फॉर इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (CISCE) ने बॉम्बे हाई कोर्ट में अपना प्रस्ताव जमा करा दिया है. इस प्रस्ताव में कहा गया है कि छात्र एग्जाम न देने का विकल्प चुन सकते हैं, ऐसी स्थिति में इंटरनल या प्री-बोर्ड मार्क्स के हिसाब से उनका रिजल्ट जारी किया जाएगा. बॉम्बे हाई कोर्ट में अभिभावक की तरफ से ICSE 10वीं बोर्ड के बचे हुए एग्जाम रद्द करने की मांग की गई थी, जिसके जवाब में काउंसिल ने अपना ये प्रस्ताव कोर्ट में जमा कराया है. 

  • ICSE परीक्षा रद्द करने को लेकर बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दाखिल

    ICSE परीक्षा रद्द करने को लेकर बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दाखिल

    बॉम्बे हाईकोर्ट ने शुक्रवार को जुलाई महीने में होने वाली आईसीएसई की 10वीं और 12वीं कक्षा की परीक्षाओं को रद्द करने की अपील पर दाखिल याचिका पर सुनवाई शुरू की. याचिकाकर्ता का कहना है कि महाराष्ट्र में कोरोना के कारण हालात खराब हैं और ऐसे में परीक्षा आयोजित करना सही नहीं है.

  • ICSE, ISC Exams 2020: सीआईएससीई ने 10वीं और 12वीं के स्टूडेंट्स को दिया परीक्षा केंद्र बदलने का मौका, बाद में एग्जाम देने की भी दी छूट

    ICSE, ISC Exams 2020: सीआईएससीई ने 10वीं और 12वीं के स्टूडेंट्स को दिया परीक्षा केंद्र बदलने का मौका, बाद में एग्जाम देने की भी दी छूट

    ICSE, ISC Exams 2020: काउंसिल फॉर इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशंस (CISCE) ने छात्रों को उसी शहर से बोर्ड की लंबित परीक्षा देने की अनुमति दे दी है जहां वे वर्तमान में हैं. अधिकारियों ने बताया कि परिषद ने परीक्षार्थियों को बाद में कंपार्टमेंटल परीक्षा के समय परीक्षा में उपस्थित होने का विकल्प भी दिया गया है. कोरोनावायरस फैलने के खतरे को देखते हुए किए गए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के कारण स्थगित की गई परीक्षाएं 1 से 14 जुलाई तक आयोजित की जाएंगी.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com