NDTV Khabar

INLD


'INLD' - 32 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • हरियाणा में BJP और JJP के बीच क्या समझौता हुआ, जानें अंदर की 10 बड़ी बातें

    हरियाणा में BJP और JJP के बीच क्या समझौता हुआ, जानें अंदर की 10 बड़ी बातें

    हरियाणा में दुष्यंत चौटाला नए नेता के तौर पर उभरे हैं. सवाल है कि देवीलाल की विरासत का असली वारिस कौन है? मौजूदा चुनाव में INLD का जो हाल हुआ है और जननायक जनता पार्टी (JJP) जिस तरह नई ताक़त बन कर उभरी है, उसे देखते हुए माना जा रहा है कि देवीलाल की विरासत उन्हीं के हाथ में है. इस पूरी राजनीति में जेजेपी एक नई ताक़त और दुष्यंत चौटाला एक नए नेता के तौर पर उभरे हैं। ये साफ हो गया कि अब देवीलाल की विरासत उनके हाथ में है. शुक्रवार सुबह दुष्यंत चौटाला को विधायकों ने अपना नेता चुना. इसके बाद दुष्यंत तिहाड़ में बंद अपने पिता अजय चौटाला से मिले. दुष्यंत इसके पहले आइएनएलडी के टिकट पर ही हिसार से सांसद रह चुके हैं. लेकिन 2018 की टूट के बाद उन्होंने जननायक जनता पार्टी का गठन किया. वो जमीनी नेता माने जाते हैं जिनका लोगों और कार्यकर्ताओं से सीधा संपर्क है. दुष्यंत की पार्टी को 15 फ़ीसदी वोट मिले हैं, जिनमें बड़ी तादाद में युवाओं के वोट शामिल माने जा रहे हैं. हालांकि हरियाणा की मौजूदा राजनीति में 10 विधायकों के साथ अपना पहला क़दम तय करना दुष्यंत के लिए आसान नहीं है. जेजेपी के समर्थन के बाद हरियाणा की विधानसभा में बीजेपी गठबंधन के पास कुल 59 सीटें हो जाएंगी जो कि बहुमत से कहीं ज्यादा है.

  • Haryana Election Results 2019: बहुमत में पिछड़ी बीजेपी, किसकी बनेगी सरकार?

    Haryana Election Results 2019: बहुमत में पिछड़ी बीजेपी, किसकी बनेगी सरकार?

    हरियाणा में विधानसभा चुनाव के सभी परिणाम घोषित हो चुके हैं. यहां 90 में से 40 सीटें जीतकर भारतीय जनता पार्टी एक बार फिर सबसे बड़े दल के रूप में सामने आई है. हालांकि इसके बावजूद बहुमत के आंकड़े 46 सीट से पीछे है. दूसरी तरफ कांग्रेस ने 31 सीटें जीतकर राज्य में अपनी स्थिति को सुधार लिया है. दुष्यंत चौटाला की नई पार्टी जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) ने दस सीटें हासिल करके सभी को आश्चर्य में डाल दिया है. इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) को सिर्फ एक सीट पर ही जीत मिली है. हरियाणा लोकहित पार्टी (एचएलपी) को एक सीट मिली है और सात निर्दलीय विधायक जीते हैं. हरियाणा के मौजूदा राजनीतिक परिदृश्य में यहां त्रिशंकु विधानसभा बनना तय हो गया है. अब हरियाणा में जेजेपी और निर्दलीय विधायकों के पास सत्ता की चाबी है.

  • हरियाणा चुनाव परिणाम : बीजेपी को झटका, जेजेपी का उदय; यह है सत्ता का गणित

    हरियाणा चुनाव परिणाम : बीजेपी को झटका, जेजेपी का उदय; यह है सत्ता का गणित

    हरियाणा में विधानसभा चुनाव के सभी परिणाम घोषित हो चुके हैं. यहां 90 में से 40 सीटें जीतकर भारतीय जनता पार्टी एक बार फिर सबसे बड़े दल के रूप में सामने आई है. हालांकि इसके बावजूद बहुमत के आंकड़े (46) से पीछे है. दूसरी तरफ बीजेपी के मुख्य प्रतिद्वंदी दल कांग्रेस ने 31 सीटें जीतकर राज्य में अपनी स्थिति को सुधारा है. इन दोनों मजबूत दलों से हटकर दुष्यंत चौटाला की नई पार्टी जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) ने दस सीटें हासिल करके आश्चर्यचकित कर दिया है.

  • Poll of Exit Polls Haryana 2019: हरियाणा में फिर बीजेपी सरकार, 60 से अधिक सीटें मिलने का अनुमान

    Poll of Exit Polls Haryana 2019: हरियाणा में फिर बीजेपी सरकार, 60 से अधिक सीटें मिलने का अनुमान

    Poll of Exit Polls Haryana 2019: 90 सीटों वाली हरियाणा विधानसभा (Haryana Assembly Elections) के लिए BJP का मुकाबला कांग्रेस और इंडियन नेशनल लोकदल (INLD) से है. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने 75 से 90 सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है. बता दें कि नतीजे 24 अक्टूबर को आएंगे.

  • हरियाणा चुनाव : इनेलो के घोषणापत्र में किसानों और छोटे कारोबारियों की कर्जमाफी का वादा

    हरियाणा चुनाव : इनेलो के घोषणापत्र में किसानों और छोटे कारोबारियों की कर्जमाफी का वादा

    चौटाला परिवार में फूट के बाद दो धड़ों में बंटी इनेलो ने सतलुज-यमुना लिंक नहर के निर्माण के बाद राज्य का नदी के जल का हिस्सा लाने और भाजपा नीत सरकार द्वारा खत्म की गई दादूपुर-नलवी नहर परियोजना को फिर से शुरू करने का भी वादा किया. हरियाणा में विभानसभा चुनाव के लिये 21 अक्टूबर को मतदान होना है.

  • हरियाणा चुनाव से पहले INLD को झटका, पार्टी के दो पूर्व सांसद कांग्रेस में हुए शामिल 

    हरियाणा चुनाव से पहले INLD को झटका, पार्टी के दो पूर्व सांसद कांग्रेस में हुए शामिल 

    हरियाणा विधानसभा चुनाव (Haryana Assembly Election) से ठीक पहले मंगलवार को इंडियन नेशनल लोक दल (INLD) को झटका देते हुए पार्टी के दो पूर्व सांसद कांग्रेस में शामिल हो गए.

  • पेहोवा विधानसभा सीट : कांग्रेस, INLD का ही रहा है कब्जा, क्या BJP रच पाएगी इतिहास...?

    पेहोवा विधानसभा सीट : कांग्रेस, INLD का ही रहा है कब्जा, क्या BJP रच पाएगी इतिहास...?

    पेहोवा विधानसभा चुनाव का इतिहास रहा है कि अभी तक बीजेपी कभी भी यहां जीत नहीं पाई है. इसी को ध्यान में रखते हुए बीजेपी ने बड़ा दांव खेलते हुए हॉकी के पूर्व भारतीय कप्तान संदीप सिंह को यहां से अपना उम्मीदवार बनाया है.

  • केंद्र में NDA की सहयोगी अकाली दल ने हरियाणा में नहीं मिलाया BJP से हाथ, INLD के साथ मिलकर लड़ेगी चुनाव

    केंद्र में NDA की सहयोगी अकाली दल ने हरियाणा में नहीं मिलाया BJP से हाथ, INLD के साथ मिलकर लड़ेगी चुनाव

    2014 के विधानसभा चुनाव भी अकाली दल ने इनेलो के साथ गठबंधन में लड़े थे. बाद में 2017 में सतलुज-यमुना लिंक नहर के मुद्दे पर दोनों के संबंध टूट गये.

  • इनेलो के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा और निर्दलीय विधायक कांग्रेस में शामिल हुये

    इनेलो के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा और निर्दलीय विधायक कांग्रेस में शामिल हुये

    हरियाणा में विधानसभा चुनाव की सुगबुगाहट से पहले इंडियन नेशनल लोकदल (आईएनएलडी) के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा रविवार को कांग्रेस में शामिल हो गये. हरियाणा कांग्रेस के प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने पार्टी की प्रदेश अध्यक्ष कुमारी शैलजा और विधायक दल के नेता भूपेन्द्र सिंह हुड्डा की मौजूदगी में अरोड़ा और राज्य के निर्दलीय विधायक जय प्रकाश समेत कुछ अन्य नेता कांग्रेस में शामिल हुए.

  • राज्यसभा में बहुमत के लिए BJP कर रही 'पीछे के दरवाजे' का इस्तेमाल, कई महत्वपूर्ण बिल पास करवाने पर नजर...

    राज्यसभा में बहुमत के लिए BJP कर रही 'पीछे के दरवाजे' का इस्तेमाल, कई महत्वपूर्ण बिल पास करवाने पर नजर...

    भारतीय जनता पार्टी (BJP) राज्यसभा में बहुमत हासिल करने के लिए 'पीछे के दरवाजे' का इस्तेमाल धड़ल्ले से कर रही है. पहले टीडीपी (TDP) और अब इंडियन नेशनल लोक दल (INLD) के सांसद को बीजेपी में शामिल करवा लिया गया है. इस तरह बीजेपी की संख्या सदन में सबसे ज़्यादा 75 और एनडीए की 110 पहुंच गई है, हालांकि बहुमत से एनडीए अब भी दूर है.

  • गुरुग्राम लोकसभा सीट पर केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत का लालू यादव के समधी से कड़ा मुकाबला

    गुरुग्राम लोकसभा सीट पर केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत का लालू यादव के समधी से कड़ा मुकाबला

    राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की पड़ोसी लोकसभा सीट गुरुग्राम (गुड़गांव) में लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections 2019) में बीजेपी (BJP) और कांग्रेस (Congress) का सीधा मुकाबला है. हरियाणा के इस लोकसभा क्षेत्र (Gurugram) में जहां एक तरफ बीजेपी के कद्दावर नेता राव इंद्रजीत सिंह (Rao Inderjit Singh) हैं वहीं उनके सामने कांग्रेस के कैप्टन अजय यादव हैं. दोनों प्रत्याशी एक ही क्षेत्र रेवाड़ी के और एक ही जाति के हैं जिससे यहां जातिगत वोट बंटने की संभावना नजर आ रही है. इस लोकसभा क्षेत्र में मुस्लिम मतदाताओं की तादाद भी काफी है जो कि चुनावी नतीजों को प्रभावित करने की ताकत रखते हैं.

  • हरियाणा में इनेलो से नाता तोड़ बसपा ने बीजेपी के बागी सांसद की पार्टी से किया गठबंधन

    हरियाणा में इनेलो से नाता तोड़ बसपा ने बीजेपी के बागी सांसद की पार्टी से किया गठबंधन

    लोकसभा चुनाव में अब कुछ महीने ही बचे हैं. इसको देखते हुए तमाम राजनैतिक दल तैयारियों में जुट गए है. इसी कड़ी में हरियाणा से बड़ी खबर सामने आ रही है. मायावती की बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने हरियाणा के मुख्य विपक्षी दल आईएनएलडी से अपना करीब नौ महीने पुराना गठबंधन तोड़ लिया और पार्टी ने लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी यानी एलएसपी से गठबंधन का ऐलान किया है.

  • जींद की जंग में कौन मारेगा बाजी...

    जींद की जंग में कौन मारेगा बाजी...

    हरियाणा के जींद का उपचुनाव अब महज एक विधायक चुनने का चुनाव नहीं रह गया है क्योंकि कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता और कैथल से विधायक रणदीप सुरजेवाला ने यहां से चुनाव लड़ने का फैसला कर इस उपचुनाव को राष्ट्रीय स्तर पर चर्चा का बिषय बना दिया है.

  • ओमप्रकाश चौटाला ने अब बड़े बेटे अजय को पार्टी से निकाला, पहले पोतों को किया था बाहर

    ओमप्रकाश चौटाला ने अब बड़े बेटे अजय को पार्टी से निकाला, पहले पोतों को किया था बाहर

    इनेलो के राज्य प्रभारी अशोक अरोड़ा ने चंडीगढ़ में अजय सिंह चौटाला के छोटे भाई अभय सिंह चौटाला की मौजूदगी में इस फैसले की घोषणा की. दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद ओमप्रकाश चौटाला का खत पढ़कर सुनाया गया, जिसमें अजय चौटाला को बाहर निकालने का फैसला लिखा गया था.

  • अभय चौटाला ने परिवार में मनमुटाव की खबरों को किया खारिज, कहा- अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं 

    अभय चौटाला ने परिवार में मनमुटाव की खबरों को किया खारिज, कहा- अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं 

    अभय सिंह चौटाला ओमप्रकाश चौटाला के छोटे बेटे हैं. दुष्यंत और दिग्विजय अभय के बड़े भाई अजय सिंह चौटाला के बेटे हैं. अभय ने कहा कि दुष्यंत (और दिग्विजय) के साथ कोई मनमुटाव नहीं है, वे हमारे बच्चे हैं. हालांकि उन्होंने कहा कि अनुशासन हमारी पार्टी की सबसे बड़ी ताकत है. अगर कोई भी उसका उल्लंघन करता है तो पार्टी कार्रवाई करेगी.

  • मायावती को प्रधानमंत्री बनाने के लिए यह काम करेंगे INLD अध्यक्ष ओम प्रकाश चौटाला

    मायावती को प्रधानमंत्री बनाने के लिए यह काम करेंगे INLD अध्यक्ष ओम प्रकाश चौटाला

    इनेलो (इंडियन नेशनल लोकदल) अध्यक्ष ओम प्रकाश चौटाला ने रविवार को कहा कि बसपा सुप्रीमो मायावती को 2019 के लोकसभा चुनाव के बाद अगला प्रधानमंत्री बनाने के लिए उनकी पार्टी विपक्षी दलों को एकसाथ लाने की दिशा में काम कर रही है. पैरोल पर दो सप्ताह के लिए जेल से बाहर आए हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ने अपने पिता और इनलो के वरिष्ठ नेता देवी लाल की 105वीं जयंती पर आयोजित रैली के दौरान यह बात कही. चौटाला शिक्षक भर्ती घोटाले मामले में 10 साल की कैद काट रहे हैं.

  • हरियाणा के पूर्व CM चौटाला ने कहा, दो दिन और जेल नहीं जाते तो बनती INLD की सरकार

    हरियाणा के पूर्व CM चौटाला ने कहा, दो दिन और जेल नहीं जाते तो बनती INLD की सरकार

    चौटाला ने आज दोपहर बाद यहां पार्टी कार्यकर्ताओं के सम्मुख 2014 के विधानसभा चुनावों के नतीजे से अपने भाषण की शुरूआत की.

  • जेल में ही पढ़ाई कर 12वीं में फर्स्ट डिवीजन पास हुए ओम प्रकाश चोटाला, अब करेंगे बीए की पढ़ाई

    जेल में ही पढ़ाई कर 12वीं में फर्स्ट डिवीजन पास हुए ओम प्रकाश चोटाला, अब करेंगे बीए की पढ़ाई

    हरियाणा के 82 वर्षीय पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला ने. चोटाला ने दिल्ली की तिहाड़ जेल में दस साल की सजा काटते हुए बारहवीं कक्षा की परीक्षा प्रथम श्रेणी में पास की है. शिक्षक भर्ती घोटाला मामले में दोषी चौटाला अब 12वीं करने के बाद बीए की पढ़ाई करने की योजना बना रहे हैं.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com