NDTV Khabar

ISRO


'ISRO' - 447 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • भारत ने PSLV-C49 से किया रडार इमेजिंग सैटेलाइट का प्रक्षेपण

    भारत ने PSLV-C49 से किया रडार इमेजिंग सैटेलाइट का प्रक्षेपण

    भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने शनिवार शाम को श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से PSLV-C49 प्रक्षेपण यान से पृथ्वी अवलोकन उपग्रह (EOS-01) और साथ ही नौ अंतर्राष्ट्रीय उपग्रह सफलतापूर्वक लॉन्च किए हैं.

  • PAC रैंकिंग में केरल सबसे सुशासित राज्य, लिस्ट में उत्तर प्रदेश सबसे नीचे

    PAC रैंकिंग में केरल सबसे सुशासित राज्य, लिस्ट में उत्तर प्रदेश सबसे नीचे

    बेंगलुरु से संचालित गैर लाभकारी संगठन ने शुक्रवार को वार्षिक रिपोर्ट जारी की. इस संगठन के अध्यक्ष भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के पूर्व प्रमुख के कस्तूरीरंगन (K Kasturirangan) हैं. पीएसी ने कहा कि राज्यों की रैंकिंग स्थायी विकास के संदर्भ में एकीकृत सूचकांक पर आधारित है.

  • US कोर्ट ने ISRO की शाखा Antrix को दिया आदेश- बेंगलुरु की स्टार्टअप कंपनी को चुकाएं 1.2 अरब डॉलर

    US कोर्ट ने ISRO की शाखा Antrix को दिया आदेश- बेंगलुरु की स्टार्टअप कंपनी को चुकाएं 1.2 अरब डॉलर

    करार के अनुसार, एंट्रिक्स को देवास के लिए दो सैटेलाइट के निर्माण, उनके प्रक्षेपण और संचालन पर सहमत हुई थी. उसने देवास को एस बैंड 70 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम देने को भी कहा था

  • ये हैं एपीजे अब्दुल कलाम के 5 वैज्ञानिक योगदान, इसलिए कहलाए जाते हैं मिसाइलमैन

    ये हैं एपीजे अब्दुल कलाम के 5 वैज्ञानिक योगदान, इसलिए कहलाए जाते हैं मिसाइलमैन

    डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम ने राष्ट्रपति बनने से लेकर विभिन्न क्षेत्रों में देश के विकास में योगदान दिया है. एक एयरोस्पेस वैज्ञानिक के रूप में, कलाम ने भारत के दो प्रमुख अंतरिक्ष अनुसंधान संगठनों - रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) और भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के साथ काम किया. हालांकि, स्वदेशी निर्देशित मिसाइलों- AGNI और PRITHVI के विकास और संचालन में उनके काम ने उन्हें ''भारत के मिसाइल मैन '' की उपाधि से नवाज़ा था. इसी के साथ ऐसे कई तरीके हैं, जिनसे कलाम ने साइंस एंड टेक्नोलॉजी में भारत की मदद की.

  • ISRO Recruitment 2020: साइंटिस्ट- इंजीनियर के पदों पर नौकरी, 2 लाख से ज्यादा होगी सैलरी

    ISRO Recruitment 2020: साइंटिस्ट- इंजीनियर के पदों पर नौकरी, 2 लाख से ज्यादा होगी सैलरी

    ISRO Recruitment 2020: भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर 55 पदों पर आवेदन मांगे हैं.  यह भर्ती स्पेस एप्लीकेशन सेंटर (SAC) अहमदाबाद के लिए है. जो उम्मीदवार इस पद पर आवेदन करने के इच्छुक हैं वह 15 अक्टूबर से पहले SAC की आधिकारिक वेबसाइट sac.gov.in पर जाकर आवेदन कर सकते हैं.  आवेदन पूरी तरह से ऑनलाइन होगा. भर्ती प्रक्रिया के तहत साइंटिस्ट, इंजीनियर और टेक्निकल असिस्टेंट समेत कई पदों को सिलेक्शन किया जाएगा. यहां जानें भर्ती से जुड़ी डिटेल्स.

  • सीएनईएस ने कहा- ISRO 2025 में देगा शुक्र मिशन को अंजाम, फ्रांस होगा इसमें शामिल

    सीएनईएस ने कहा- ISRO 2025 में देगा शुक्र मिशन को अंजाम, फ्रांस होगा इसमें शामिल

    इसरो अध्यक्ष के. सिवन और सीएनईएस अध्यक्ष जीन यवेस ले गाल ने आपस में बातचीत की और अंतरिक्ष में भारत तथा फ्रांस के बीच सहयोग वाले क्षेत्रों की समीक्षा की. सीएनईएस ने एक बयान में कहा, ‘‘अंतरिक्ष खोज क्षेत्र में फ्रांस शुक्र ग्रह से संबंधित इसरो के मिशन में शामिल होगा जिसका 2025 में प्रक्षेपण निर्धारित है.

  • AICTE ने GATE और NET परीक्षा में इस सब्जेक्ट को शामिल करने की दी अनुमति, जानिए खासियत

    AICTE ने GATE और NET परीक्षा में इस सब्जेक्ट को शामिल करने की दी अनुमति, जानिए खासियत

    अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (AICTE) ने ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग (GATE) और नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट (NET) में जियोस्पेशियल साइंस और टेक्नोलॉजी (Geospatial Science And Technology) सब्जेक्ट को शामिल करने की मंजूरी दे दी है. NET में जूनियर रिसर्च फेलोशिप (JRF) के लिए और IIT और NIT सहित विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में लेक्चरशिप में शामिल होने वाले उम्मीदवार अब इस नए सब्जेक्ट को पढ़ सकेंगे. 

  • ISRO के पूर्व प्रमुख ने कहा- भारत को अपनी अंतरिक्ष संपत्तियां बढ़ानी चाहिए

    ISRO के पूर्व प्रमुख ने कहा- भारत को अपनी अंतरिक्ष संपत्तियां बढ़ानी चाहिए

    चीन के साथ चल रहे तनाव के बीच वरिष्ठ अंतरिक्ष वैज्ञानिक जी माधव नायर ने शुक्रवार को कहा कि बदलते वक्त के साथ कदम मिलाने के लिए भारत को अंतरिक्ष में अपनी संपत्तियां बढ़ाने के साथ ही क्षेत्र का कवरेज भी बढ़ाना चाहिए.

  • ISRO ने कहा- चंद्रयान-2 ने चंद्रमा की कक्षा में एक साल पूरा किया, अगले सात वर्षों के लिए उपलब्ध है पर्याप्त ईंधन

    ISRO ने कहा- चंद्रयान-2 ने चंद्रमा की कक्षा में एक साल पूरा किया, अगले सात वर्षों के लिए उपलब्ध है पर्याप्त ईंधन

    अंतरिक्ष एजेंसी इसरो ने कहा कि भारत के दूसरे चंद्र अभियान चंद्रयान-2 ने बृहस्पतिवार को चंद्रमा की कक्षा में चारों ओर परिक्रमा करते हुए एक वर्ष पूरा कर लिया है और इसके सभी उपकरण वर्तमान में अच्छी तरह काम कर रहे हैं. साथ ही कहा कि सात और वर्षों के संचालन के लिए चंद्रयान-2 में पर्याप्त ईंधन मौजूद है.

  • गगनयान पर कोरोना का ग्रहण! भारत के मानवरहित अंतरिक्ष मिशन में हो सकती है देरी 

    गगनयान पर कोरोना का ग्रहण! भारत के मानवरहित अंतरिक्ष मिशन में हो सकती है देरी 

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दो साल पहले अपने स्वतंत्रता दिवस के संबोधन में मानव अंतरिक्ष मिशन की घोषणा की थी. गगनयान मिशन का उद्देश्य भारत की स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूरे होने के मौके पर 2022 तक तीन सदस्यीय दल को पांच से सात दिन की अवधि के लिए अंतरिक्ष में भेजना है. उसी हिसाब से इसरो ने मिशन की योजना बनानी शुरू कर दी थी. 

  • चंद्रयान-2 ने चंद्रमा पर क्रेटर की तस्वीर खींची, ISRO ने विक्रम साराभाई का नाम दिया

    चंद्रयान-2 ने चंद्रमा पर क्रेटर की तस्वीर खींची, ISRO ने विक्रम साराभाई का नाम दिया

    प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि साराभाई का जन्म शताब्दी वर्ष 12 अगस्त को पूरा हुआ और यह वैज्ञानिक को श्रद्धांजलि है. सिंह ने कहा कि इसरो की हालिया उपलब्धियां साराभाई की दूरदृष्टि को साकार कर रही हैं. इसरो ने भारत को दुनिया के अग्रिम पंक्ति के देशों में खड़ा कर दिया है. अंतरिक्ष विभाग, प्रधानमंत्री कार्यालय के अधीन आता है.

  • केंद्रीय मंत्रिमंडल ने नई शिक्षा नीति को मंजूरी दी, HRD मंत्रालय का नाम शिक्षा मंत्रालय होगा

    केंद्रीय मंत्रिमंडल ने नई शिक्षा नीति को मंजूरी दी, HRD मंत्रालय का नाम शिक्षा मंत्रालय होगा

    केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को नई शिक्षा नीति को मंजूरी दे दी. साथ ही मानव संसाधन विकास मंत्रालय का पुन: नामकरण शिक्षा मंत्रालय किया गया है. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के पूर्व अध्यक्ष के कस्तूरीरंगन की अध्यक्षता वाली समिति ने पिछले वर्ष मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक को नई शिक्षा नीति का मसौदा सौंपा था. इस दौरान ही निशंक ने मंत्रालय का कार्यभार संभाला था. नई शिक्षा नीति के मसौदे को विभिन्न पक्षकारों की राय के लिये सार्वजनिक किया गया था और मंत्रालय को इस पर दो लाख से अधिक सुझाव प्राप्त हुए. मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘‘ नीति के मसौदे को मंजूरी मिल गई है. मंत्रालय का पुन: नामकरण शिक्षा मंत्रालय किया गया है. ’’ 

  • प्राइवेट सेक्‍टर भी अब कर सकेंगे रॉकेट निर्माण, Inter-Planetary Mission का बन सकेंगे हिस्‍सा: ISRO प्रमुख

    प्राइवेट सेक्‍टर भी अब कर सकेंगे रॉकेट निर्माण, Inter-Planetary Mission का बन सकेंगे हिस्‍सा: ISRO प्रमुख

    उन्होंने कहा कि निजी क्षेत्र भी भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के अंतर-ग्रहीय मिशनों का हिस्सा हो सकता है. गौरतलब है कि केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को ग्रहों की खोज मिशन सहित अंतरिक्ष गतिविधियों की श्रृंखला में निजी क्षेत्र की भागीदारी को मंजूरी प्रदान की है.

  • लॉकडाउन की वजह से प्रभावित हुए 10 अंतरिक्ष मिशन, गगनयान और चंद्रयान-3: ISRO प्रमुख

    लॉकडाउन की वजह से प्रभावित हुए 10 अंतरिक्ष मिशन, गगनयान और चंद्रयान-3: ISRO प्रमुख

    भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) प्रमुख के. सिवन ने बुधवार को कहा कि लॉकडाउन की वजह से अंतरिक्ष में मानव को भेजने और चंद्रयान-3 अभियान में देर होने के अलावा ऐसे 10 अंतरिक्ष अभियान ‘बाधित’ हुए हैं, जिनके इस साल होने की योजना थी.

  • Coronavirus: ‘गगनयान’ के पहले मानव रहित मिशन में हो सकती है देरी

    Coronavirus: ‘गगनयान’ के पहले मानव रहित मिशन में हो सकती है देरी

     अब इसरो के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘COVID-19 की वजह से कुछ बाधाएं आई हैं लेकिन अब भी पुष्टि (विलंब) नहीं की जा सकती है. हमारे पास अब भी छह महीने का समय है। हम यह देखने की कोशिश कर रहे हैं कि क्या हम वहां पहुंच सकते हैं.’

  • पृथ्वी जैसे युवा ग्रह के मिलने की संभावना पहले की उम्मीदों से कहीं ज्यादा : अध्ययन

    पृथ्वी जैसे युवा ग्रह के मिलने की संभावना पहले की उम्मीदों से कहीं ज्यादा : अध्ययन

    इस शोध में विश्वविद्याल के स्नातक की पढ़ाई कर रहे छात्र शामिल थे जिससे उन्हें इस अध्ययन के दौरान प्राप्त कौशल को प्रमुख शोध के प्रकाशन के दौरान इस्तेमाल में मदद मिलेगी. पार्कर ने कहा, “इन ग्रहों को पाने का स्थान तथाकथित ‘युवा गतिमान समूह’ हैं जो नए तारों का समूह होता है जिनकी उम्र 10 करोड़ साल से कम होती है.”

  • ISRO के गगनयान मिशन के लिए भारतीय अंतरिक्ष यात्रियों ने रूस में अपनी ट्रेनिंग दोबारा से शुरू की

    ISRO के गगनयान मिशन के लिए भारतीय अंतरिक्ष यात्रियों ने रूस में अपनी ट्रेनिंग दोबारा से शुरू की

    भारत के पहले मानवयुक्त अंतरिक्ष अभियान 'गगनयान' के लिए चुने गए चार अंतरिक्ष यात्रियों ने रूस में अपने प्रशिक्षण की शुरुआत कर दी है. दरअसल कोविड 19 के चलते प्रशिक्षण को टाल दिया गया था. रसियन स्पेस कॉरपोरेशन ,रोसकोमोस, ने एक बयान में कहा कि गागरिन रिसर्च एंड टेस्ट कोस्मोनॉट ट्रेनिंग सेंटर ने 12 मई को भारतीय कोस्मोनॉट्स के प्रशिक्षण की शुरुआत कर दी है. बता दें कि ग्लावोकोस्मोस, जेएससी (जो कि स्टेट स्पेस कॉरपोरेशन रोस्कोमोस का हिस्सा है ) और इसरो के ह्यूमन स्पेस फ्लाइट सेंटर के बीच हुए अनुबंध के तहत इन अंतरिक्ष यात्रियों को प्रशिक्षत किया जा रहा है. 

  • सरकार ने रक्षा क्षेत्र में विदेशी निवेश की सीमा बढ़ाई, आर्थिक सुधार के लिए कई बड़े फैसले

    सरकार ने रक्षा क्षेत्र में विदेशी निवेश की सीमा बढ़ाई, आर्थिक सुधार के लिए कई बड़े फैसले

    भारत सरकार ने डिफेंस मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में विदेशी निवेश की सीमा ऑटोमेटिक रूट के जरिए 49% से बढाकर 74% करने का फैसला किया है.  वित्त मंत्री ने आपने चौथे इकॉनामिक पैकेज के ऐलान के दौरान इसका खुलासा किया. साथ ही सरकार ने कोयला और खनिज से लेकर बिजली डिस्ट्रीब्यूशन और अंतरिक्ष के क्षेत्र में बड़े स्तर पर आर्थिक सुधार करने का फैसला किया है.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com