NDTV Khabar

India China Clash


'India China Clash' - 130 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • भारत-चीन तनाव पर बोले रक्षामंत्री राजनाथ सिंह : देश का मस्तक नहीं झुकने देंगे, किसी का सिर झुकाना भी नहीं चाहते

    भारत-चीन तनाव पर बोले रक्षामंत्री राजनाथ सिंह : देश का मस्तक नहीं झुकने देंगे, किसी का सिर झुकाना भी नहीं चाहते

    संसद के मॉनसून सत्र के दौरान राज्यसभा में भारत-चीन तनाव पर बोलते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि पूर्वी लद्दाख में लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर भारत की टकराव टालने की कोशिश है. उन्होंने कहा कि भारत इस मसले पर बातचीत से हल निकालने का पक्षधर है.

  • चीन ने हमारे 20 सैनिक मारे, फिर PM ने उनसे 5,521 करोड़ उधार लेकर दिया 'मुंहतोड़' जवाब : ओवैसी का हमला

    चीन ने हमारे 20 सैनिक मारे, फिर PM ने उनसे 5,521 करोड़ उधार लेकर दिया 'मुंहतोड़' जवाब : ओवैसी का हमला

    असदुद्दीन ओवैसी ने केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने एक मीडिया रिपोर्ट का हवाला देते हुए गलवान झड़प के बाद सरकार पर 'चीन से उधार' लेने के आरोपों को लेकर तीखा हमला किया है. उन्होंने एक ट्वीट कर कहा कि मोदी सरकार ने गलवान में हुई हिंसक झड़प का 'मुंहतोड़ जवाब' चीन से उधार लेकर दिया है.

  • चीन समेत पड़ोसी देशों के साथ भारत के संबंध खराब हुए हैं? केंद्रीय मंत्री ने जवाब दिया- 'नहीं'

    चीन समेत पड़ोसी देशों के साथ भारत के संबंध खराब हुए हैं? केंद्रीय मंत्री ने जवाब दिया- 'नहीं'

    पड़ोसी देशों के साथ संबंधों को लेकर पूछे गए सवाल में केंद्रीय मंत्री विदेश राज्यमंत्री वी मुरलीधरन (V Muraleedharan) ने कहा कि भारत के किसी भी देश के साथ संबंध खराब नहीं हुए हैं. दरअसल टीएमसी (Trinamool Congress) सांसद सौगाता रॉय (Sougata Ray) ने यह सवाल किया था. उन्होंने पूछा था, 'क्या पड़ोसी देश जैसे- नेपाल, चीन, बांग्लादेश, श्रीलंका, अफगानिस्तान और म्यांमार से भारत के संबंध बिगड़े हैं.' केंद्रीय मंत्री वी मुरलीधरन ने साफ-साफ जवाब देते हुए कहा, 'नहीं.'

  • पिछले 6 महीने में भारत-चीन सीमा पर नहीं हुई कोई घुसपैठ : सरकार ने संसद में कहा

    पिछले 6 महीने में भारत-चीन सीमा पर नहीं हुई कोई घुसपैठ : सरकार ने संसद में कहा

    पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर भारत-चीन के बीच लगातार बने तनाव और चीन की ओर यथास्थिति बदलने की कोशिशों के बीच केंद्र सरकार ने बुधवार को संसद में कहा है कि पिछले छह महीनों में भारत-चीन सीमा पर कोई घुसपैठ नहीं हुई है.

  • सितंबर की शुरुआत में भारत और चीन ने 'चेतावनी के तौर पर' 100-200 गोलियां दागीं : सूत्र

    सितंबर की शुरुआत में भारत और चीन ने 'चेतावनी के तौर पर' 100-200 गोलियां दागीं : सूत्र

    सूत्रों के हवाले से जानकारी मिली है कि सितंबर के शुरुआती दिनों में पैंगॉन्ग झील के उत्तरी किनारे पर भारत और चीन की तरफ से वॉर्निंग शॉट्स फायर किए गए थे. जानकारी है कि भारत और चीन ने 'चेतावनी के तौर पर' 100-200 गोलियां दागीं थीं. 

  • 'भारत ऐसा अनूठा संसदीय लोकतंत्र है जहां सवाल करने की अनुमति नहीं', मोदी सरकार पर बरसे चिदंबरम

    'भारत ऐसा अनूठा संसदीय लोकतंत्र है जहां सवाल करने की अनुमति नहीं', मोदी सरकार पर बरसे चिदंबरम

    कांग्रेस नेता पी चिदंबरम (P Chidambaram) ने मंगलवार को कहा कि भारत एक ऐसा अनूठा संसदीय लोकतंत्र है जहां कोई प्रश्न नहीं पूछा जाता है और कोई बहस नहीं होती है. लद्दाख में जारी गतिरोध (India China Clash off Ladakh) के मुद्दे पर लोकसभा में पार्टी को नहीं बोलने देने के बाद चिदंबरम ने यह टिप्पणी की. पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ सीमा पर जारी गतिरोध पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) के बयान देने के बाद कांग्रेस को बोलने की अनुमति नहीं दिए जाने से नाराज कांग्रेस के सदस्यों ने लोकसभा वॉकआउट किया और संसद भवन परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने एकत्र होकर विरोध-प्रदर्शन किया. चिदंबरम (P Chidambaram) ने ट्वीट किया, ''आज भारत एक ऐसा अनूठा संसदीय लोकतंत्र है जहां कोई प्रश्न नहीं पूछा जाता सकता है और जहां बहस की अनुमति नहीं है.''

  • लद्दाख तनाव पर भारत : चीन की एक और कोशिश नाकाम, हमारी ज़मीन पर हमारा कब्ज़ा बरकरार

    लद्दाख तनाव पर भारत : चीन की एक और कोशिश नाकाम, हमारी ज़मीन पर हमारा कब्ज़ा बरकरार

    चीन की ओर से सोमवार को भारत पर वास्तविक नियंत्रण रेखा (Line of Actual Control) के करीब हवाई फायरिंग (air shots fired) किए जाने के आरोप लगाए गए थे, जिसके बाद भारत ने इसका जवाब दिया है. भारतीय सेना (Indian Army) ने कहा है कि उसने ऐसी किसी घटना को अंजाम नहीं दिया है, उल्टे चीन ने 7 सितंबर को फायरिंग की है. भारतीय सेना ने एक बयान जारी कर कहा कि चीन हकीकत के उलट बयान देकर अपने देश और दुनिया के लोगों को गुमराह करने की कोशिश कर रहा है. सेना ने यह भी कहा कि वो सीमा पर शांति बनाए रखने को लेकर प्रतिबद्ध है लेकिन चीन की ओर से लगातार आक्रामक गतिविधियां की जा रही हैं.

  • हमने नहीं, चीनी सैनिकों ने की थी फायरिंग, भारतीय चौकियों के करीब आने की थी कोशिश : लद्दाख तनाव पर भारत

    हमने नहीं, चीनी सैनिकों ने की थी फायरिंग, भारतीय चौकियों के करीब आने की थी कोशिश : लद्दाख तनाव पर भारत

    भारत ने LAC पर फायरिंग किए जाने के आरोपों को खारिज किया है. भारत ने उलटा चीन भारतीय सेना की मौजूदगी वाले इलाकों के करीब हवाई फायरिंग करने का आरोप लगाया है और कहा है कि चीन अपने बयानों से अपने देश और पूरी दुनिया को गुमराह कर रहा है. भारतीय सेना ने अपने बयान में कहा कि सेना ने किसी भी स्थिति में वास्तविक नियंत्रण रेखा को पार नहीं किया है, न ही फायरिंग की है, न ही कोई आक्रामक कदम उठाया है.

  • चीन के साथ तनाव पर बोले विदेश मंत्री- लद्दाख के हालात ‘बहुत गंभीर’, राजनीतिक स्तर पर ‘बहुत-बहुत गहन विचार-विमर्श’ की जरूरत

    चीन के साथ तनाव पर बोले विदेश मंत्री- लद्दाख के हालात ‘बहुत गंभीर’, राजनीतिक स्तर पर ‘बहुत-बहुत गहन विचार-विमर्श’ की जरूरत

    पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में 15 जून को संघर्ष में 20 भारतीय सैन्यकर्मियों के शहीद होने के बाद वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर तनाव काफी बढ़ गया था. चीनी जवान भी हताहत हुए लेकिन पड़ोसी देश ने उनका ब्योरा नहीं दिया. अमेरिका की एक खुफिया रिपोर्ट के अनुसार चीन के भी 35 जवान मारे गये. विदेश मंत्री ने कहा, ‘‘सीमा पर अगर अमन-चैन नहीं रहता तो बाकी रिश्ते जारी नहीं रह सकते क्योंकि स्पष्ट रूप से संबंधों का आधार शांति ही है.’

  • तनाव के बीच चीन को भारत का जवाब, तिब्बती जवान की अंतिम विदाई में शामिल हुए BJP नेता राम माधव

    तनाव के बीच चीन को भारत का जवाब, तिब्बती जवान की अंतिम विदाई में शामिल हुए BJP नेता राम माधव

    भारतीय सेना और लेह में तिब्बती समुदाय के लोगों ने सोमवार को तिब्बती जवान नीमा तेन्जिन को अंतिम विदाई दी. तेन्जिन कभी गुप्त समूह रहे स्पेशल फ्रंटियर फोर्स (SFF) के कमांडो थे. यह फोर्स भारतीय सेना के अंडर में ऑपरेट में काम करती है. अगस्त के आखिरी महीने में नीमा तेन्जिन दक्षिणी पैंगॉन्ग में एक पुराने लैंडमाइन की चपेट में आ गए थे, जिससे हुए धमाके में उनकी जान चली गई थी. 

  • लद्दाख में सेना को आसानी हो, इसके लिए दिन-रात काम कर रहा BRO

    लद्दाख में सेना को आसानी हो, इसके लिए दिन-रात काम कर रहा BRO

    भारत-चीन (India China Clash) के बीच सीमा पर तनाव बरकरार है. इसके मद्देनजर लद्दाख (Ladakh) में LAC के पास सुरक्षाबलों (Security Forces) के फास्ट मूवमेंट और भारी-भरकम मशीनों व अन्य हथियारों को एक जगह से दूसरी जगह ले जाए जाने के लिए बॉर्डर रोड आर्गेनाइजेशन (Border Road Organisation) 24x7 काम कर रहा है. BRO लेह में सड़क निर्माण और यातायात सुगम बनाने के लिए सड़कों के गड्ढों को भरने का काम कर रहा है. लैंडस्लाइड की वजह से बंद पड़ी सड़कों को भी खोला जा रहा है.

  • रूस में राजनाथ और चीनी रक्षामंत्री के बीच 2.20 घंटे हुई बातचीत, लद्दाख में तनाव कम करने पर रहा फोकस- 10 बातें

    रूस में राजनाथ और चीनी रक्षामंत्री के बीच 2.20 घंटे हुई बातचीत, लद्दाख में तनाव कम करने पर रहा फोकस- 10 बातें

    केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और चीनी रक्षा मंत्री वेई फेंगही के बीच शुक्रवार को हुई बैठक दो घंटे से भी ज्यादा देर तक हुई. जहां पूर्वी लद्दाख में सीमा पर तनाव को कम करने पर ध्यान केन्द्रित रहा. सरकारी सूत्रों ने यह जानकारी दी. पूर्वी लद्दाख में मई में सीमा पर हुए तनाव के बाद से दोनों ओर से यह पहली उच्च स्तरीय आमने सामने की बैठक थी. इससे पहले विदेश मंत्री एस जयशंकर और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल गतिरोध दूर करने के लिए चीनी विदेश मंत्री वांग यी के साथ टेलीफोन पर बातचीत कर चुके हैं. सूत्रों ने बताया कि वार्ता के दौरान सिंह ने पूर्वी लद्दाख में यथा स्थिति को बनाए रखने और सैनिकों को तेजी से हटाने पर जोर दिया.

  • लद्दाख में तनाव के बीच दक्षिणी पैंगॉन्ग में बढ़ी चीनी टैंकों और सैनिकों की मौजूदगी

    लद्दाख में तनाव के बीच दक्षिणी पैंगॉन्ग में बढ़ी चीनी टैंकों और सैनिकों की मौजूदगी

    पूर्वी लद्दाख में 30 अगस्त को चीनी जवानों को पीछे खदेड़ते हुए भारत ने कई ऊंचाई के इलाकों पर कब्जा जमा लिया था, उसके बाद से इलाके में चीनी सेना के अस्त्र-शस्त्र की मौजूदगी काफी बढ़ी हुई दिख रही है. पैंगॉन्ग झील के दक्षिणी किनारे पर चीनी टैंकों और पैदल सैनिकों की बढ़ी हुई मौजूदगी देखी गई है.

  • भारत की ओर से ऐप्स पर बैन लगाने का विरोध करने के लिए चीन ने किया टैगोर, योग और 'दंगल' का जिक्र

    भारत की ओर से ऐप्स पर बैन लगाने का विरोध करने के लिए चीन ने किया टैगोर, योग और 'दंगल' का जिक्र

    चीन के वाणिज्य मंत्रालय के संवाददाता सम्मेलन में प्रवक्ता गाओ फेंग ने कहा, ‘भारत सरकार ने ‘राष्ट्रीय सुरक्षा’ की अवधारणा का दुरुपयोग किया और चीन की कंपनियों के खिलाफ भेदभावपूर्ण प्रतिबंध उपायों को अपनाया. यह विश्व व्यापार संगठन के नियमों का उल्लंघन है और उसकी प्रासंगिकता को कम करता है. चीन भारत से उसकी गलत प्रक्रियाओं को सुधारने का आग्रह करता है.’

  • भारत-चीन में तनाव के बीच रूस में राजनाथ सिंह से मिलना चाहते हैं चीनी रक्षा मंत्री : रिपोर्ट

    भारत-चीन में तनाव के बीच रूस में राजनाथ सिंह से मिलना चाहते हैं चीनी रक्षा मंत्री : रिपोर्ट

    भारत और चीन के सैनिकों के बीच पूर्वी लद्दाख में जारी तनाव के बीच ऐसी खबर आई है कि चीन के रक्षा मंत्री वेई फेंगही ने शंघाई सहयोग संगठन (Shanghai Co-operation Organization-SEO) की अहम बैठक से इतर भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मिलना चाहते हैं.

  • मुद्दों को सुलझा कर आगे बढ़ना ही एक तरीका है, चीन के साथ सीमा विवाद पर सरकार ने कहा

    मुद्दों को सुलझा कर आगे बढ़ना ही एक तरीका है, चीन के साथ सीमा विवाद पर सरकार ने कहा

    पूर्वी लद्दाख (Clash in Eastern Ladakh) में एलएसी (LAC) पर भारत का चीन के साथ तनाव बरकरार है. गुरुवार को विदेश मंत्रालय (MEA) की रुटीन प्रेस कॉन्फ्रेंस में सवालों के जवाब देते हुए विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव (Anurag Shrivastava) ने कहा कि चीन की तरफ से यथा स्थ‍िति बदलने के लिए की  गई एकतरफा कार्यवाई से (एलएसी पर) तनाव बढ़ा है.

  • COVID-19 का फायदा उठाने में जुटा चीन, भारत इसका उदाहरण : अमेरिकी डिप्लोमेट

    COVID-19 का फायदा उठाने में जुटा चीन, भारत इसका उदाहरण : अमेरिकी डिप्लोमेट

    भारत और चीन के बीच तनाव पर डेविड स्टिलवेल ने कहा, "हिमालय समेत अन्य मुद्दों पर विवाद विशेष रूप से चीन के अपने पड़ोसियों के साथ मतभेद की वजह से हैं. हम उन्हें सलाह देते हैं कि बातचीत के रास्ते पर वापस आएं और बिना जोर-जबरदस्ती और सेना के इस्तेमाल के बैगर शांति से हल निकाले."

  • लद्दाख में तनाव के बीच चीन का बयान, शांति की भावना है, लेकिन उकसाए जाने पर पीछे नहीं हटेंगे

    लद्दाख में तनाव के बीच चीन का बयान, शांति की भावना है, लेकिन उकसाए जाने पर पीछे नहीं हटेंगे

    पूर्वी लद्दाख में भारत के साथ चल रहे सीमा विवाद पर चीन की प्रतिक्रिया आई है. चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने कहा है कि चीन ने कभी किसी देशपर कब्जा नहीं किया है और वो कभी अपनी तरफ से कोई समस्या नहीं खड़ी करता है. 

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com