NDTV Khabar

Kalraj Mishra


'Kalraj Mishra' - 65 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • मुझे विपक्ष के पास इसलिए बिठाया गया, क्योंकि सीमा पर सबसे ताकतवर योद्धा को भेजा जाता है : सचिन पायलट

    मुझे विपक्ष के पास इसलिए बिठाया गया, क्योंकि सीमा पर सबसे ताकतवर योद्धा को भेजा जाता है : सचिन पायलट

    सचिन पायलट ने अपनी सीट में हुए बदलाव के बारे में बोलते हुए कहा, 'इस सरहद पर कितनी भी गोलीबारी हो, मैं कवच और भाला लेकर सरकार को बचाने के लिए खड़ा हूं. मुझे सरहद पर बैठाया गया है, सरहद पर सबसे मजबूत योद्धा को भेजा जाता है.' पायलट ने राजेंद्र राठौड़ को उनके भाषण के बीच में रोककर यह कहा है.

  • राजस्थान : CM अशोक गहलोत बोले- 19 विधायकों के बगैर भी बहुमत साबित कर देते लेकिन...

    राजस्थान : CM अशोक गहलोत बोले- 19 विधायकों के बगैर भी बहुमत साबित कर देते लेकिन...

    गुरुवार को कांग्रेस विधायक दल की बैठक (Congress Legislature Party Meeting) हुई थी. इस दौरान गहलोत ने विधायकों को संबोधित करते हुए कहा, 'जो बातें हुईं, उन्हें अब भूल जाओ. हम इन 19 विधायकों के बिना भी बहुमत साबित कर देते लेकिन फिर वह खुशी नहीं मिलती क्योंकि अपने तो अपने होते हैं. हम विधानसभा में विश्वास प्रस्ताव लाएंगे.'

  • कांग्रेस ने पलट डाला BJP का गेम, नई रणनीति तैयार करने को किया मजबूर

    कांग्रेस ने पलट डाला BJP का गेम, नई रणनीति तैयार करने को किया मजबूर

    राजस्थान (Rajasthan) विधानसभा का विशेष सत्र कल (शुक्रवार) से शुरू हो रहा है. प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे (Vasundhara Raje) और बीजेपी (BJP) नेताओं ने आज (गुरुवार) सत्र को लेकर मुलाकात की. कांग्रेस (Congress) में मची आंतरिक कलह के बाद यह बीजेपी नेताओं की पहली मीटिंग है. सोमवार को सचिन पायलट (Sachin Pilot) अपने समर्थक विधायकों के साथ घर वापसी कर चुके हैं और इसी के साथ गहलोत सरकार पर बना कथित संकट खत्म हो गया.

  • CM अशोक गहलोत बोले - कांग्रेस की लड़ाई सोनिया-राहुल के नेतृत्व में लोकतंत्र बचाने की है

    CM अशोक गहलोत बोले - कांग्रेस की लड़ाई सोनिया-राहुल के नेतृत्व में लोकतंत्र बचाने की है

    मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट्स में लिखा, 'कांग्रेस की लड़ाई तो सोनिया गांधी जी और राहुल गांधी जी के नेतृत्व में डेमोक्रेसी को बचाने की है. पिछले एक माह में कांग्रेस पार्टी में आपस में जो भी नाइत्तेफ़ाकी हुई है, उसे देश के हित में, प्रदेश के हित में, प्रदेशवासियों के हित में और लोकतंत्र के हित में हमें फॉरगेट एन्ड फॉरगिव, आपस में भूलो और माफ करो और आगे बढ़ो की भावना के साथ डेमोक्रेसी को बचाने की लड़ाई में लगना है.'

  • गहलोत के लिए मुसीबत : BSP MLAs के कांग्रेस में विलय के खिलाफ अर्ज़ी पर सुनवाई करेगा SC

    गहलोत के लिए मुसीबत : BSP MLAs के कांग्रेस में विलय के खिलाफ अर्ज़ी पर सुनवाई करेगा SC

    राजस्थान (Rajasthan) में बहुजन समाज पार्टी (BSP) के टिकट पर जीते और कांग्रेस (Congress) में विलय कर चुके 6 विधायकों को लेकर दायर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) सुनवाई करेगा. जस्टिस अरुण मिश्रा, जस्टिस बीआर गवई और जस्टिस कृष्णा मुरारी की बेंच इस मामले की सुनवाई करेगी. विधायकों ने उनके कांग्रेस में जाने के याचिका पर फैसला आने तक उन्हें सदन में भाग ना लेने का आदेश देने की मांग की है.

  • राजस्थान संकट पर अशोक गहलोत ने PM मोदी से कहा - 'बंद करवाएं यह तमाशा'

    राजस्थान संकट पर अशोक गहलोत ने PM मोदी से कहा - 'बंद करवाएं यह तमाशा'

    राजस्थान में चल रहे सियासी ड्रामे का अंत अभी तक नहीं हुआ है. राज्यपाल द्वारा 14 अगस्त से विधानसभा का सत्र बुलाए जाने को मंजूरी दिए जाने के बाद गहलोत खेमे के विधायक जैसलमेर पहुंच गए हैं.

  • राजस्थान : विधानसभा सत्र की मंज़ूरी के बाद 3 चार्टर प्लेन में जैसलमेर रवाना हुए कांग्रेस MLAs

    राजस्थान : विधानसभा सत्र की मंज़ूरी के बाद 3 चार्टर प्लेन में जैसलमेर रवाना हुए कांग्रेस MLAs

    राजस्थान (Rajasthan Political Crisis) में विधानसभा सत्र की मंजूरी मिलने के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने अपने सभी समर्थक विधायकों को जैसलमेर ले जाने की तैयारी कर ली है. तीन चार्टर्ड प्लेन से विधायकों को जैसलमेर ले जाया जा रहा है. एक विमान रवाना हो चुका है. अन्य विधायक कुछ देर में रवाना होंगे. कुछ देर पहले गहलोत कैंप के सभी विधायक एयरपोर्ट पर नजर आए थे.

  • 'हॉर्स ट्रेडिंग के रेट बढ़ गए' वाला बयान देकर अब अपने MLAs को जैसलमेर में ठहराएंगे CM अशोक गहलोत

    'हॉर्स ट्रेडिंग के रेट बढ़ गए' वाला बयान देकर अब अपने MLAs को जैसलमेर में ठहराएंगे CM अशोक गहलोत

    राजस्थान (Rajasthan) की सियासी जंग में शह और मात का खेल जारी है. सियासी बाजी को जीतने के लिए हर हथकंडा अपनाया जा रहा है. अब मिल रही जानकारी के अनुसार, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) कैंप के विधायकों को आज (शुक्रवार) स्पेशल फ्लाइट के जरिए किसी अन्य शहर में शिफ्ट किया जा सकता है. अभी तक सभी विधायक जयपुर स्थित फेयरमाउंट होटल में ठहरे हुए हैं.

  • हरियाणा में ठहरे टीम पायलट के विधायक बोले- विधानसभा सत्र में लेंगे हिस्सा

    हरियाणा में ठहरे टीम पायलट के विधायक बोले- विधानसभा सत्र में लेंगे हिस्सा

    हसीएम अशोक गहलोत और गवर्नर कलराज मिश्र के बीच विधानसभा सत्र की तारीख को लेकर चले लंबे गतिरोध के बाद सीएम की ओर से अब सत्र के लिए नई तारीख 14 अगस्‍त का प्रस्‍ताव दिया गया है. इस बीच, हरियाणा में डेरा डाले सचिन पायलट खेमे के विधायकों ने कहा है कि वे विधानसभा सत्र में हिस्‍सा लेंगे.

  • राजस्थान विधानसभा सत्र बुलाने को लेकर गवर्नर-CM के बीच कैसे सुलझा गतिरोध

    राजस्थान विधानसभा सत्र बुलाने को लेकर गवर्नर-CM के बीच कैसे सुलझा गतिरोध

    राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार को आखिरकार राज्यपाल कलराज मिश्र ने 14 अगस्त को विधानसभा सत्र बुलाने की मंजूरी दे दी है. राज्यपाल की ओर से बुधवार की देर शाम गहलोत सरकार को सत्र बुलाने की मंजूरी दे दी गई. सीएम गहलोत सत्र बुलाने की अपनी मांग के साथ पिछले दो हफ्तों के दौरान गवर्नर से चार बार मुलाकात कर चुके थे, वहीं उनकी कैबिनेट की ओर से सत्र को लेकर तीन प्रस्ताव भी भेजे गए, जिन्हें गवर्नर ने वापस लौटा दिया था. आखिरकार बुधवार को सरकार की ओर से भेजे गए चौथे प्रस्ताव पर हामी भरी गई. राज्यपाल ने गहलोत सरकार को सत्र के दौरान कोविड-19 गाइडलाइंस का सख्ती से पालन करने को लेकर मौखिक निर्देश भी दिए हैं. बता दें कि गवर्नर सदन बुलाने से पहले गहलोत से 21 दिनों का नोटिस देने की मांग कर रहे थे. उनका सवाल था कि 'क्या गहलोत सदन में विश्वास प्रस्ताव लाना चाहते हैं? अगर ऐसा होता है तो तुरंत सत्र बुलाया जा सकता है लेकिन अगर ऐसा नहीं है तो उन्हें 21 दिनों का नोटिस देना होगा.' इसके बाद गहलोत सरकार ने पहले प्रस्ताव से 21 दिन गिनकर 14 अगस्त से सत्र बुलाने का प्रस्ताव भेजा, जिसे स्वीकार कर लिया.

  • राजस्थान : गवर्नर-CM खींचतान खत्म, 3 बार फाइल लौटाने के बाद दी विधानसभा सत्र बुलाने की मंजूरी

    राजस्थान :  गवर्नर-CM खींचतान खत्म, 3 बार फाइल लौटाने के बाद दी विधानसभा सत्र बुलाने की मंजूरी

    आखिरकार राजस्थान के गवर्नर कलराज मिश्र ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की विधानसभा सत्र बुलाने की मांग मान ली है. बुधवार की देर शाम गवर्नर ने गहलोत को 14 अगस्त से विधानसभा का सत्र बुलाने की इजाज़त दे दी है. हालांकि, राजभवन से जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि राज्यपाल कलराज मिश्र ने राजस्थान विधानसभा के सत्र के दौरान कोविड-19 से बचाव के लिए आवश्यक प्रबंध किए जाने के निर्देश मौखिक रूप से दिए हैं. बता दें कि अशोक गहलोत लगभग पिछले दो हफ्तों से विधानसभा सत्र बुलाने की मांग कर रहे थे, लेकिन गवर्नर बार-बार उन्हें लौटा दे रहे थे.

  • आखिरकार मान गए राज्यपाल, गहलोत सरकार को 14 अगस्त से विधानसभा सत्र बुलाने को दी मंजूरी

    आखिरकार मान गए राज्यपाल, गहलोत सरकार को 14 अगस्त से विधानसभा सत्र बुलाने को दी मंजूरी

    Rajasthan Political Crisis: राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र (Kalraj Mishra) ने आखिरकार राज्य के विधानसभा सत्र (Assembly Session) को मंजूरी दे दी. उन्होंने बुधवार को देर शाम को यह फैसला लिया. राज्यपाल मिश्र ने राजस्थान विधानसभा के पंचम सत्र को अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) मंत्रिमंडल द्वारा भेजे गए 14 अगस्त से आरंभ करने के प्रस्ताव को स्वीकृति दे दी है. राजभवन के राज्यपाल सचिवालय ने यह जानकारी दी है.

  • राजस्‍थान: विधानसभा सत्र पर गतिरोध के बीच CM गहलोत ने अपने रुख में दिखाई कुछ नरमी

    राजस्‍थान: विधानसभा सत्र पर गतिरोध के बीच CM गहलोत ने अपने रुख में दिखाई कुछ नरमी

    तीसरी बार विधानसभा सत्र के लिए अनुरोध को अस्वीकार किए जाने के कुछ ही घंटों बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने रुख में कुछ 'नरमी' का संकेत दिया है. मिली जानकारी के अनुसार, सीएम गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने विधानसभा सत्र  (Assembly Session)के लिए एक नई तारीख का प्रस्‍ताव दिया है.

  • राजस्‍थान: विधानसभा सत्र को लेकर गतिरोध कायम, राज्‍यपाल ने फिर कहा-21 दिन को नोटिस बेहद जरूरी

    राजस्‍थान: विधानसभा सत्र को लेकर गतिरोध कायम, राज्‍यपाल ने फिर कहा-21 दिन को नोटिस बेहद जरूरी

    राज्‍यपाल की ओर से एक बार फिर दोहराया है कि विधासनभा सत्र (Assembly Session) बुलाने के लिए 21 दिन को नोटिस बेहद जरूरी है. यानि राज्यपाल का कहना है कि अगर आप “विश्वास मत प्रस्ताव लाना चाहते हैं तो जल्दी विधानसभा सत्र बुलाया जा सकता है वर्ना 21 दिन के नोटिस पर सत्र बुलाया जाए जबकि गहलोत सरकार का कहना है कि वो “विश्वास मत  प्रस्ताव “ नहीं लाना चाहते उनके पास बहुमत है.

  • गवर्नर से चौथी बार मिले CM गहलोत, 31 जुलाई को विधानसभा सत्र बुलाने के लिए नहीं माने राज्यपाल

    गवर्नर से चौथी बार मिले CM गहलोत, 31 जुलाई को विधानसभा सत्र बुलाने के लिए नहीं माने राज्यपाल

    राजस्थान के सियासी संकट के बीच राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और राज्यपाल कलराज मिश्र ने चौथी बार मुलाकात की. राज्यपाल कलराज मिश्र 31 जुलाई से विधानसभा का सत्र बुलाने पर राजी नहीं हैं. गवर्नर ने तीसरी बार फाइल वापस कर दी है.

  • विधानसभा सत्र बुलाने पर जारी 'जंग' के बीच गवर्नर ने कोरोना का हवाला देकर 15 अगस्त का समारोह किया रद्द

    विधानसभा सत्र बुलाने पर जारी 'जंग' के बीच गवर्नर ने कोरोना का हवाला देकर 15 अगस्त का समारोह किया रद्द

    राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने प्रदेश में कोरोना की भयावह स्थिति को देखते हुए स्वतंत्रता दिवस की संध्या को प्रत्येक वर्ष होने वाले एट होम को इस बार नहीं किये जाने का निर्णय लेते हुए 15 अगस्त को होने वाले इस समारोह के आयोजन को रद्द कर दिया है.  

  • Rajasthan Crisis Updates: 31 जुलाई को विधानसभा का सत्र बुलाने पर राजी नहीं हुए राज्यपाल

    Rajasthan Crisis Updates: 31 जुलाई को विधानसभा का सत्र बुलाने पर राजी नहीं हुए राज्यपाल

    जपा विधायक मदन दिलावर ने बीएसपी के 6 विधायकों के कांग्रेस में विलय के खिलाफ स्पीकर के समक्ष याचिका दाखिल की थी, जिसे स्पीकर ने खारिज कर दिया था. अब वो इसके खिलाफ हाईकोर्ट गए हैं. बीएसपी सुप्रीमो मायावती भी इस मामले को अदालत लेने जाने का संकेत दे चुकी हैं.

  • महामहिम के महा कारनामे..

    महामहिम के महा कारनामे..

    अभी तक यह आरोप कांग्रेस द्वारा नियुक्त किए गए राज्यपालों पर लगते रहे हैं मगर हाल के वर्षों में एनडीए शासन द्वारा राज्यपालों ने सभी को पीछे छोड दिया है. बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड का उदाहरण तो दे ही चुका हूं. राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्रभी इसका सबसे ताजा उदाहरण है, जहां मुख्यमंत्री अशोक गहलोत विधानसभा का सत्र बुलाना चाहते हैं मगर राज्यपाल महोदय को यह नागवार गुजर रहा है.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com