NDTV Khabar

Madhya Pradesh Assembly Results 2018


'Madhya Pradesh Assembly Results 2018' - 84 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • अशोक गहलोत तीसरी बार बने राजस्थान के सीएम, शपथ ग्रहण समारोह में दिखी विपक्ष की एकजुटता

    अशोक गहलोत तीसरी बार बने राजस्थान के सीएम, शपथ ग्रहण समारोह में दिखी विपक्ष की एकजुटता

    गहलोत तीसरी बार राजस्थान के मुख्यमंत्री बने हैं. राज्य में तीसरी बार मुख्यमंत्री बनने वाले वह चौथे नेता हैं. गहलोत से पहले भैंरो सिंह शेखावत और हरिदेव जोशी तीन-तीन बार मुख्यमंत्री रहे. हालांकि मोहन लाल सुखाड़िया सबसे अधिक चार बार इस पद पर रहे. गहलोत 1998 में पहली बार और 2008 में दूसरी बार मुख्यमंत्री बने थे. इंदिरा गांधी के समय से राजनीति में सक्रिय गहलोत केंद्र में मंत्री भी रहे हैं. राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी में कई अहम पदों पर रह चुके गहलोत तीन बार कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष रहे हैं. गहलोत ने राजनीति के अलावा 1971 में बांग्लादेश के मुक्ति संग्राम के दौरान पश्चिम बंगाल में बांग्लादेशी शरणार्थियों के शिविरों में काम किया और कई सामाजिक गतिविधियों में शामिल रहे.

  • NDTV को कमलनाथ ने बताया- शपथ ग्रहण समारोह में क्यों शामिल नहीं होंगी ममता और मायावती

    NDTV को कमलनाथ ने बताया- शपथ ग्रहण समारोह में क्यों शामिल नहीं होंगी ममता और मायावती

    उन्होंने कहा कि शपथ ग्रहण समारोह में शामिल न होने के पीछे ममता बनर्जी और मायावती की जायज वजह हैं. उन्होंने कहा, 'मैंने खुद मायावती से बात की थी. उनकी कोई नस खींच गई है. उन्होंने बताया कि वे अपने डॉक्टर से बात करेंगी. ऐसा नहीं है कि वे किसी तरह के संकेत दे रही हैं, उनकी यह वास्तविक स्वास्थ्य समस्या है.'

  • कमलनाथ बोले- राहुल गांधी ने कभी नहीं कहा कि वे PM बनना चाहते हैं, कांग्रेस भी जल्दबाजी में नहीं

    कमलनाथ बोले- राहुल गांधी ने कभी नहीं कहा कि वे PM बनना चाहते हैं, कांग्रेस भी जल्दबाजी में नहीं

    कमलनाथ ने कहा, 'यह लोकसभा चुनाव के बाद का मुद्दा है. अगर सभी नेता मिलकर एक नाम तय करते हैं तो वही आखिरी नाम होगा. इसके बारे में अभी कुछ भी कहना 'जल्दबाजी' होगी. आने वाले एक या दो महीने में चीजें और ज्यादा साफ हो जाएंगी'

  • शपथ से पहले NDTV से बोले कमलनाथ- दस दिनों से पहले ही माफ होगा किसानों का कर्ज

    शपथ से पहले NDTV से बोले कमलनाथ- दस दिनों से पहले ही माफ होगा किसानों का कर्ज

    उन्होंने मध्य प्रदेश कांग्रेस में गुटबाजी के सवाल पर भी अपना जवाब दिया. उन्होंने कहा, 'कांग्रेस चुनाव से पहले गुटों में बंटी थी. यह स्वभाविक है कि किसी भी राजनीतिक दल में कोई किसी का करीबी रहता है तो कोई किसी और का करीबी. ऐसा आमतौर पर हमारे परिवारों में भी देखने को मिलता है. लेकिन कांग्रेस में किसी तरह की कोई तनाव की स्थिति नहीं थी. पिछले सात महीनों में मुझे लगा कि कांग्रेस में ऐसी कोई गुटबाजी नहीं थी कि तनाव की स्थिति हो. सबने मिलकर काम किया और अच्छा काम किया है.'

  • अशोक गहलोत, कमलनाथ और भूपेश बघेल आज लेंगे CM पद की शपथ, विपक्षी एकता का होगा प्रदर्शन

    अशोक गहलोत, कमलनाथ और भूपेश बघेल आज लेंगे CM पद की शपथ, विपक्षी एकता का होगा प्रदर्शन

    मध्यप्रदेश में कांग्रेस विधायक दल के नेता कमलनाथ सोमवार को यहां एक भव्य समारोह में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. कमलनाथ दोपहर 1 बजे शपथ लेंगे.

  • तीन राज्यों में बीजेपी की हार पर बोले पार्टी नेता- कुछ लोग पार्टी में तानाशाह हो गए थे, प्रभु सद्‌बुद्धि दें

    तीन राज्यों में बीजेपी की हार पर बोले पार्टी नेता- कुछ लोग पार्टी में तानाशाह हो गए थे, प्रभु सद्‌बुद्धि दें

    राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनावों में बीजेपी की हार पर यूपी के वरिष्ठ नेता आईपी सिंह ने कुछ पार्टी नेताओं को तानाशाह बताते हुए कहा- प्रभु उन्हें सद्बुद्धि दें.

  • राहुल गांधी को निशाना बना कैलाश विजयवर्गीय का विवादित ट्वीट- विदेशी स्त्री की संतान देशभक्त नहीं हो सकती

    राहुल गांधी को निशाना बना कैलाश विजयवर्गीय का विवादित ट्वीट- विदेशी स्त्री की संतान देशभक्त नहीं हो सकती

    विजयवर्गीय ने ट्वीट करते हुए लिखा था, 'विदेशी स्त्री से उत्पन्न संतान कभी देश हित और राष्ट्र प्रेम का अनुगामी नहीं हो सकता.' इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर यूजर्स ने उन्हें निशाने पर ले लिया था. राहुल गांधी की मां सोनिया गांधी इटालियन मूल की हैं, लेकिन वे हमेशा से भारत को अपना 'असली मुल्क' करार देती रही हैं. हालांकि, विरोध के बाद विजयवर्गीय ने वह ट्वीट हटा लिया, लेकिन अभी तक उस पर माफी नहीं मांगी है.

  • भोपाल के जम्बूरी मैदान में 17 दिसंबर को भव्य समारोह में कमलनाथ अकेले लेंगे शपथ

    भोपाल के जम्बूरी मैदान में 17 दिसंबर को भव्य समारोह में कमलनाथ अकेले लेंगे शपथ

    मध्यप्रदेश के मनोनीत मुख्यमंत्री कमलनाथ अकेले सोमवार 17 जनवरी को भोपाल के जम्बूरी मैदान में एक भव्य समारोह में मुख्यमंत्री के पद और गोपनीयता की शपथ लेंगे. प्रदेश में 15 साल बनने जा रही कांग्रेस की सरकार में फिलहाल मुख्यमंत्री को शपथ दिलायी जाएगी जबकि मंत्रिमंडल के अन्य सदस्यों का शपथ ग्रहण बाद में होगा.

  • अशोक गहलोत होंगे राजस्थान के मुख्यमंत्री, सचिन पायलट चुने गए डिप्टी सीएम

    अशोक गहलोत होंगे राजस्थान के मुख्यमंत्री, सचिन पायलट चुने गए डिप्टी सीएम

    राजस्थान में कांग्रेस की जीत के बाद से ही इस बात पर सबकी नजरें टिकीं थीं कि आखिर राजस्थान का सीएम कांग्रेस किसे बनाती है. मगर अब राजस्थान के सीएम पर से सस्पेंस खत्म हो गया है. राहुल गांधी ने अशोक गहलोत के नाम पर मंजूरी दे दी है.

  • BJP कहीं पलट न दे बाजी, इसलिए कांग्रेस ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को नहीं बनाया MP का सीएम!

    BJP कहीं पलट न दे बाजी, इसलिए कांग्रेस ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को नहीं बनाया MP का सीएम!

    मध्य प्रदेश में सत्ता से दूर रहने का वनवास खत्म होने के बाद बीजेपी को हराने वाली कांग्रेस के सामने सबसे बड़ी चुनौती थी कि आखिर वह सूबे का मुख्यमंत्री किसे बनाए? मगर काफी माथापच्ची और सियासी बैठकों के बाद आखिरकार गुरुवार की रात यह फैसला हो गया कि कमलनाथ ही राज्य के मुख्यमंत्री होंगे. दरअसल, मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री पद के दो दावेदार थे. एक कमलनाथ और दूसरे ज्योतिरादित्य सिंधिया. मगर कांग्रेस हाईकमान ने काफी सोच-समझने के बाद कमलनाथ के नाम पर मंजूरी दे दी. हालांकि, ऐसा माना जा रहा है कि कांग्रेस ने यह फैसला आगे की रणनीति को भी ध्यान में रखकर लिया है. 

  • मुख्यमंत्री पर मंथन : राजस्थान के मुख्यमंत्री होंगे अशोक गहलोत, सचिन पायलट डिप्टी सीएम, छत्तीसगढ़ पर सस्‍पेंस

    मुख्यमंत्री पर मंथन : राजस्थान के मुख्यमंत्री होंगे अशोक गहलोत, सचिन पायलट डिप्टी सीएम, छत्तीसगढ़ पर सस्‍पेंस

    मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में मुख्यमंत्री के नाम पर बना सस्पेंस खत्म हो गया है और लोकसभा चुनाव 2019 से पहले अनुभव को तरजीह देते हुए कांग्रेस ने कमलनाथ के नाम को मुख्यमंत्री पद लिए हरी झंडी दे दी है. हालांकि, राजस्थान (Rajasthan) और छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) पर फैसला अभी भी बाकी है. राजस्थान में मुख्यमंत्री के नाम को लेकर सुबह से शुरू हुआ सियासी ड्रामा देर रात तक चला. मगर तब भी किसी एक नाम पर सहमति नहीं बनी. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राजस्थान और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्रियों पर फैसला शुक्रवार के लिए टाल दिया है क्योंकि वह इस विषय पर पार्टी नेताओं से और चर्चा करना चाहते हैं. सूत्रों के अनुसार गांधी ने छत्तीसगढ़ के नये मुख्यमंत्री पर फैसला करने के लिए गुरुवार को प्रदेश के पार्टी नेताओं से चर्चा की मगर दावेदारों से और चर्चा करने के लिए फैसला शुक्रवार के लिए टाल दिया. कांग्रेस अध्यक्ष ने राजस्थान के मुख्यमंत्री पद के दावेदारों अशोक गहलोत और सचिन पायलट के साथ कई बैठकें कीं, लेकिन उनके बीच कोई सहमति नहीं बन पायी. पायलट ने इस शीर्ष पद के लिए दावा किया. राहुल गांधी के निवास के बाहर पायलट के समर्थकों ने उनके समर्थन में नारे भी लगाए.

  • भावुक हुए शिवराज सिंह, कहा- जीना यहां-मरना यहां; मध्यप्रदेश वासियों को मुझसे कष्ट हुआ तो क्षमा करें

    भावुक हुए शिवराज सिंह, कहा- जीना यहां-मरना यहां; मध्यप्रदेश वासियों को मुझसे कष्ट हुआ तो क्षमा करें

    मध्यप्रदेश के निवृत्तमान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह पद छोड़ने के बाद से काफी भावुक नजर आए. बुधवार को गवर्नर को इस्तीफा सौंपने के बाद उन्होंने चुनाव में बीजेपी की हार के लिए सिर्फ खुद को जिम्मेदार माना. उन्होंने बुधवार को सोशल मीडिया (ट्विटर और फेसबुक) पर कई संदेश दिए और लोगों के संदेशों के उत्तर दिए जिनमें वे काफी भावुक दिखे.

  • Kamal Nath Profile: मध्यप्रदेश के नवनियुक्त सीएम कमलनाथ को तीसरा बेटा मानती थीं इंदिरा गांधी, जानिये उनके बारे में सबकुछ

    Kamal Nath Profile: मध्यप्रदेश के नवनियुक्त सीएम कमलनाथ को तीसरा बेटा मानती थीं इंदिरा गांधी, जानिये उनके बारे में सबकुछ

    चुनाव परिणाम के बाद दो दिन तक चली माथापच्ची के बाद कांग्रेस ने आखिरकार कमलनाथ (Kamal Nath) को मध्यप्रदेश का मुख्यमंत्री (CM Of Madhya Pradesh) घोषित कर दिया. कमलनाथ राज्य के 18वें मुख्यमंत्री होंगे. मध्यप्रदेश में कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीच सीएम की रेस थी.

  • CM Of Madhya Pradesh: कांग्रेस ने सस्पेंस किया खत्म, मध्यप्रदेश की कमान कमलनाथ के हाथ

    CM Of Madhya Pradesh: कांग्रेस ने सस्पेंस किया खत्म, मध्यप्रदेश की कमान कमलनाथ के हाथ

    मध्यप्रदेश में कौन बनेगा मुख्यमंत्री (CM Of Madhya Pradesh) इसे लेकर सस्पेंस खत्म हो गया है. कमलनाथ (Kamal Nath) मध्यप्रदेश के अगले मुख्यमंत्री होंगे.  कांग्रेस ने ट्वीट कर कमलनाथ को मुख्यमंत्री बनने की बधाई दी.

  • राजस्थान में सीएम पद की रस्साकशी के बीच सचिन पायलट ने समर्थकों से की यह अपील...

    राजस्थान में सीएम पद की रस्साकशी के बीच सचिन पायलट ने समर्थकों से की यह अपील...

    राजस्थान में मुख्यमंत्री की कुर्सी को लेकर रस्साकशी जारी है. सचिन पायलट (Sachin Pilot) और अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं. उनके समर्थकों का भी सब्र जवाब दे रहा है. राजस्थान के करौली में कथित तौर पर सचिन पायलट के समर्थकों ने हंगामा किया और हाइवे जाम कर दिया.

  • राजस्थान, MP में सीएम पर अब भी सस्पेंस, जानिये कौन है सोनिया गांधी की पसंद...

    राजस्थान, MP में सीएम पर अब भी सस्पेंस, जानिये कौन है सोनिया गांधी की पसंद...

    राजस्थान और मध्यप्रदेश में कौन बनेगा मुख्यमंत्री इसे लेकर सस्पेंस अभी बना हुआ है. ज्योतिरादित्य सिंधिया अभी दिल्ली में ही हैं. इस संकट का हल निकालने के लिए बैठकों का दौर अब भी जारी है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने अशोक गहलोत (Ashok gehlot) और सचिन पायलट (Sachin Pilot) के साथ आज बैठक भी की, लेकिन अभी कोई हल नहीं निकल सका है. सचिन पायलट जहां राहुल गांधी की पसंद बताए जा रहे हैं, वहीं सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) चाहती हैं गहलोत मुख्यमंत्री बनें.

  • मध्यप्रदेश में सीएम पर सस्पेंस 'खत्म', भोपाल में कांग्रेस कार्यालय के बाहर लगे बधाई वाले पोस्टर...

    मध्यप्रदेश में सीएम पर सस्पेंस 'खत्म', भोपाल में कांग्रेस कार्यालय के बाहर लगे बधाई वाले पोस्टर...

    विधानसभा चुनाव परिणाम के बाद कांग्रेस में राजस्थान और मध्यप्रदेश में सीएम पद को लेकर माथापच्ची जारी है. सूत्रों की मानें तो ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya Scindia) पर कमलनाथ (Kamal Nath) का पलड़ा भारी है. इस बीच मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल स्थित कांग्रेस कार्यालय के बाहर पोस्टर लगे दिखाई दे रहे हैं, जिनमें कमलनाथ को मुख्यमंत्री बनने पर बधाई दी गई है.

  • चुनावी नतीजों के बाद संसद भवन में आमने-सामने हुए PM मोदी-राहुल गांधी, जानिये कैसा रहा रिएक्शन

    चुनावी नतीजों के बाद संसद भवन में आमने-सामने हुए PM मोदी-राहुल गांधी, जानिये कैसा रहा रिएक्शन

    पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के परिणाम आने के बाद पीएम मोदी (PM Modi) और राहुल गांधी (Rahul Gandhi) का आमना-सामना हुआ, लेकिन दोनों में कोई बात नहीं हुई. दोनों नेता 17 साल पहले संसद पर हुए आतंकी हमले के दौरान मारे गए लोगों के लिए आयोजित श्रद्धांजलि कार्यक्रम में शामिल हुए थे.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com