NDTV Khabar

Madhya Pradesh Government Crisis


'Madhya Pradesh Government Crisis' - 42 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • चौथी बार सीएम पद की शपथ लेने के बाद शिवराज सिंह ने किया ट्वीट, कहा- बाकी सब बाद में पहली प्राथमिकता कोरोनावायरस

    चौथी बार सीएम पद की शपथ लेने के बाद शिवराज सिंह ने किया ट्वीट, कहा- बाकी सब बाद में पहली प्राथमिकता कोरोनावायरस

    शपथ लेने के साथ ही चौहान ने अपने ट्वीटर पर लोगों की बधाइयों का जवाब देते हुए लिखा कि आप की शुभकामनाओं के लिए हृदय की गहराइयों से धन्यवाद. मेरी सबसे पहली प्राथमिकता #COVIDー19 से मुक़ाबला है. बाक़ी सब बाद में...

  • मध्य प्रदेश में फिर खिला 'कमल', शिवराज सिंह चौहान ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ

    मध्य प्रदेश में फिर खिला 'कमल', शिवराज सिंह चौहान ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ

    इससे पहले मध्य प्रदेश में बीजेपी विधायकों को आज शाम पार्टी के प्रदेश कार्यालय में बुलाया गया था. इस बैठक में शिवराज सिंह चौहान को पार्टी के नए नेता के रुप में चुना गया. भाजपा के पर्यवेक्षक दिल्ली से वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिए विधायकों से बात की. गौरतलब है कि मध्यप्रदेश में 22 विधायकों के साथ छोड़ने से कांग्रेस को सत्ता गंवानी पड़ी थी.

  • MP Govt Crisis: कांग्रेस के 22 बागी पूर्व विधायकों के बीजेपी में शामिल होने के बाद क्या कुछ अन्य MLA भी बदल सकते हैं पाला

    MP Govt Crisis: कांग्रेस के 22 बागी पूर्व विधायकों के बीजेपी में शामिल होने के बाद क्या कुछ अन्य MLA भी बदल सकते हैं पाला

    MP Govt Crisis: सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस के लगभग डेढ़ साल तक सत्ता में रहने पर हली बार चुनाव जीतकर आए विधायकों को सत्ता का मजा मिला और अब वे सत्ता से किसी भी स्थिति में दूर नहीं होना चाहते. सत्ता छिन जाने को लेकर उनमें बेचैनी है. यही कारण है कि अब उन्हें भाजपा की सरकार बनने पर अपने हित भाजपा में पूरे होते नजर आ रहे हैं. इन विधायकों ने भाजपा से मेलजोल बढ़ाना शुरू कर दिया है और वे पाला बदलने तक की तैयारी में हैं.

  • MP Govt Crisis: क्या मध्य प्रदेश में बीजेपी अपनाएगी यूपी मॉडल, सिंधिया समर्थकों को मिल सकती है बड़ी जिम्मेदारी?

    MP Govt Crisis: क्या मध्य प्रदेश में बीजेपी अपनाएगी यूपी मॉडल, सिंधिया समर्थकों को मिल सकती है बड़ी जिम्मेदारी?

    MP Govt Crisis: क्या मध्य प्रदेश में बीजेपी यूपी मॉडल लागू कर सकती है, सूत्रों की मानें तो जवाब हैं हां. राज्य में बीजेपी ने कमलनाथ की अगुवाई वाली कांग्रेस को सत्ता से हटने पर मजबूर कर दिया है. सूत्रों के मुताबिक सिंधिया खेमे के 22 विधायकों को सत्ता में भागीदारी देने के लिये राज्य में एक मुख्यमंत्री और दो उप मुख्यमंत्री के फॉर्मूले पर सोचा जा रहा है. मध्य प्रदेश बीजेपी के सूत्रों ने कहा कि केंद्रीय नेतृत्व सोमवार को इस बारे में अंतिम फैसला ले सकता है कि राज्य में नई सरकार का नेतृत्व कौन करेगा.

  • MP Govt Crisis: जिन 22 बागी विधायकों के इस्तीफे की वजह से गिरी थी कमलनाथ सरकार, सभी बीजेपी में हुए शामिल

    MP Govt Crisis: जिन 22 बागी विधायकों के इस्तीफे की वजह से गिरी थी कमलनाथ सरकार, सभी बीजेपी में हुए शामिल

    MP Govt Crisis: मध्य प्रदेश में सिंधिया समर्थक कांग्रेस के 22 बागी विधायकों ने भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया है. ज्योतिरादित्य सिंधिया ने एक ट्वीट के जरिए जानकारी दी है. उन्होंने लिखा कि मध्य प्रदेश के विकास प्रगति और उन्नति के अपने संकल्प के साथ कांग्रेस के सभी 22 पूर्व विधायक जो मेरे परिवार के सदस्य हैं, उन्होंने आज भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के निवास पर बीजेपी की सदस्यता ग्रहण की है.

  • Madhya Pradesh Government Crisis Highlights: कमलनाथ ने किया इस्तीफे का ऐलान, बोले- मेरा क्या कसूर था इन 15 महीनों में

    Madhya Pradesh Government Crisis Highlights: कमलनाथ ने किया इस्तीफे का ऐलान, बोले- मेरा क्या कसूर था इन 15 महीनों में

    मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा कि जनता ने पांच साल का मौका दिया था ताकि प्रदेश को सही रास्ते पर लाया जा सके. इसकी नई पहचान बने.

  • मध्यप्रदेश में 'कमल' या कमलनाथ? कल होगा फैसला- सुप्रीम कोर्ट ने फ्लोर टेस्ट कराने का दिया आदेश

    मध्यप्रदेश में 'कमल' या कमलनाथ? कल होगा फैसला- सुप्रीम कोर्ट ने फ्लोर टेस्ट कराने का दिया आदेश

    Madhya Pradesh Crisis: मध्य प्रदेश में जारी सियासी संकट के बीच सुप्रीम कोर्ट ने कमलनाथ सरकार को कल शाम बजे से पहले फ्लोर टेस्ट में बहुमत साबित करने को कहा है.

  • कमलनाथ ने झाड़ा पल्ला? कहा -ज्योतिरादित्य सिंधिया क्या चाहते थे ये दिल्ली के नेतागण बताएंगे

    कमलनाथ ने झाड़ा पल्ला? कहा -ज्योतिरादित्य सिंधिया क्या चाहते थे ये दिल्ली के नेतागण बताएंगे

    फ्लोर टेस्ट को लेकर सुप्रीम कोर्ट में चल रही सुनवाई के बीच मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ ने एक बड़ा बयान दिया है. एनडीटीवी की ओर से जब उनसे पूछा गया कि क्या इतने बड़े नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया कमलनाथ को छोड़कर कमल की ओर चले जाएंगे, तो उन्होंने कहा, 'मैंने कभी नहीं सोचा था, उनका फैसला था, सब अपना तय करते हैं उन्होंने भी तय किया है'. लेकिन जब उनसे पूछा गया कि सिंधिया को क्यों नहीं प्रदेश कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया गया तो उन्होंने कहा, मैं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नहीं बना सकता है, ये दिल्ली से तय होता है.

  • Madhya Pradesh Government Crisis Live Updates: सुप्रीम कोर्ट के निर्देश- कल बुलाया जाए विधानसभा सत्र, शाम 5 बजे तक हो बहुमत का फैसला

    Madhya Pradesh Government Crisis Live Updates: सुप्रीम कोर्ट के निर्देश- कल बुलाया जाए विधानसभा सत्र, शाम 5 बजे तक हो बहुमत का फैसला

    सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि मध्यप्रदेश में अनिश्चितता की स्थिति को फ्लोर टेस्ट द्वारा प्रभावी ढंग से हल किया जाना चाहिए. कोर्ट ने सात दिशा-निर्देश दिए - मध्यप्रदेश असेंबली सेशन 20 मार्च को बुलाया जाए, केवल एक एजेंडा, क्या सरकार को बहुमत है? हाथ उठाकर हो मतदान, वीडियोग्राफी और लाइव टेलीकास्ट किया जाए, शांतिपूर्ण तरीके से मतदान हो, शाम 5 बजे तक पूरा होगा मतदान और एमपी व कर्नाटक के डीजीपी को सुनिश्चित करना चाहिए कि सत्र की व्यवस्था से 16 विधायकों पर कोई प्रतिबंध ना हों. अगर वे आना चाहते हैं तो सुरक्षा दी जाए.

  • कमलनाथ सरकार के फ्लोर टेस्ट का मामला : सुप्रीम कोर्ट में आज किसका पलड़ा रहा भारी, 10 बड़ी बातें

    कमलनाथ सरकार के फ्लोर टेस्ट का मामला : सुप्रीम कोर्ट में आज किसका पलड़ा रहा भारी,  10 बड़ी बातें

    सुप्रीम कोर्ट ने मध्य प्रदेश कांग्रेस के बागी विधायकों से न्यायाधीशों के चैंबर में मुलाकात करने की पेशकश बुधवार को ठुकराते हुये टिप्पणी की कि विधानसभा जाना या नहीं जाना उनपर (विधायकों) निर्भर है, लेकिन उन्हें बंधक बनाकर नहीं रखा जा सकता. न्यायमूर्ति धनन्जय वाई चन्द्रचूड़ और न्यायमूर्ति हेमंत गुप्ता की पीठ ने कांग्रेस के 22 बागी विधायकों के इस्तीफे की वजह से मध्य प्रदेश में उत्पन्न राजनीतिक संकट को लेकर दायर याचिकाओं पर सुनवाई के दौरान यह टिप्पणी की और कहा कि वह विधानसभा द्वारा यह निर्णय करने के बीच में नहीं पड़ेगी कि किसके पास सदन का विश्वास है लेकिन उसे यह सुनिश्चित करना है कि ये 16 विधायक स्वतंत्र रूप से अपने अधिकार का इस्तेमाल करें. पीठ ने इन विधायकों का चैंबर में मुलाकात करने की पेशकश यह कहते हुये ठुकरा दी कि ऐसा करना उचित नहीं होगा. यही नहीं, पीठ ने रजिस्ट्रार जनरल को भी इन बागी विधायकों से मुलाकात के लिये भेजने से इनकार कर दिया. पीठ ने इसके साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और भाजपा के नौ विधायकों के साथ ही मध्य प्रदेश कांग्रेस विधायक दल की याचिकाओं पर सुनवाई गुरुवार को सवेरे साढ़े दस बजे तक के लिये स्थगित कर दी.

  • MP का सियासी घमासान: दिग्विजय सिंह से बोले बागी विधायक- हम एक साल से बात करने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन अब...

    MP का सियासी घमासान: दिग्विजय सिंह से बोले बागी विधायक- हम एक साल से बात करने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन अब...

    दिग्विजय सिंह बुधवार सुबह बेंगलुरु में उन नेताओं से मिलने पहुंचे थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें रोक लिया. उसके बाद वह कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ धरने पर बैठ गए.

  • मध्य प्रदेश : क्या कमलनाथ सरकार को बचा सकता है हरीश रावत का दांव...?

    मध्य प्रदेश : क्या कमलनाथ सरकार को बचा सकता है हरीश रावत का दांव...?

    मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार को बचाने के लिए कांग्रेस के नेता हर संभव कोशिश कर रहे हैं. राज्यपाल लालजी टंडन के दो बार कहने के बावजूद भी फ्लोर टेस्ट नहीं किया गया है. विधानसभा स्पीकर ने कोरोना वायरस के चलते इस कार्यवाही को 26 मार्च तक स्थगित कर दिया है. बीजेपी इसको लेकर सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई है. मंगलवार को हुई सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने सीएम कमलनाथ और विधानसभा सचिव को नोटिस जारी किया है और साथ ही कहा है कि नोटिस की कॉपी बागी विधायकों तक भी पहुंचा दिया जाए.

  • MP का सियासी घमासान: बागी विधायकों से मिलने बेंगलुरु पहुंचे दिग्विजय सिंह हिरासत से रिहा, पुलिस कमिश्नर से मिलने की जताई इच्छा

    MP का सियासी घमासान: बागी विधायकों से मिलने बेंगलुरु पहुंचे दिग्विजय सिंह हिरासत से रिहा, पुलिस कमिश्नर से मिलने की जताई इच्छा

    Madhya Pradesh Crisis: बेंगलुरु में जिस रिसॉर्ट में कांग्रेस विधायकों को रखा गया है, उनसे मिलने के लिए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह पहुंचे हैं. लेकिन पुलिस ने उन्हें मिलने से रोक दिया. इसके बाद वह उसी होटल के पास धरने पर बैठ गए. उनके साथ कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार सहित पार्टी के कई नेता हैं.

  • Madhya Pradesh Government Live Updates: मध्य प्रदेश मामले में कांग्रेस की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू

    Madhya Pradesh Government Live Updates: मध्य प्रदेश मामले में कांग्रेस की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू

    Madhya Pradesh Crisis: मध्य प्रदेश के सियासी घमासान के बीच आज सुप्रीम कोर्ट फ्लोर टेस्ट को लेकर साढ़े दस बजे सुनवाई करेगा. शिवराज सिंह चौहान की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को सीएम कमलनाथ, विधानसभा सचिव को नोटिस जारी किया था. कोर्ट ने कहा है कि आदेश की कॉपी, ईमेल, वाट्एसएप के माध्यम से बागी विधायकों को भी दिया जाए. कोर्ट फिलहाल अब इस मामले की सुनवाई बुधवार को 10:30 बजे करेगा.

  • MP Government Crisis: मध्यप्रदेश के राज्यपाल ने कमलनाथ को फिर लिखी चिट्ठी, आज फ्लोर टेस्ट कराने के दिए निर्देश

    MP Government Crisis: मध्यप्रदेश के राज्यपाल ने कमलनाथ को फिर लिखी चिट्ठी, आज फ्लोर टेस्ट कराने के दिए निर्देश

    MP Government Crisis: मध्यप्रदेश में सियासी नाटक जारी है.  राज्यपाल ने कमलनाथ (Kamal Nath) को फिर चिट्ठी लिखी है. उन्होंने कल फ्लोर टेस्ट कराने के लिए  निर्देश दिए हैं. राज्यपाल लालजी टंडन (Lalji Tandon) ने मुख्यमंत्री कमलनाथ को पत्र लिखकर विधानसभा में कल फ्लोर टेस्ट कराने के लिए कहा है. उन्होंने अपने 14 मार्च के पत्र के जवाब में कमलनाथ की ओर से भेजे गए पत्र को लेकर आपत्ति उठाई है. उन्होंने कहा है कि आपने (कमलनाथ) अपने पत्र में फ्लोर टेस्ट नहीं कराने के  जो कारण दिए हैं वे आधारहीन एवं अर्थहीन हैं.  

  • MP: क्या आज होगी CM कमलनाथ की 'अग्निपरीक्षा', फ्लोर टेस्ट पर सस्पेंस बरकरार, पढ़ें 10 बातें

    MP: क्या आज होगी CM कमलनाथ की 'अग्निपरीक्षा', फ्लोर टेस्ट पर सस्पेंस बरकरार, पढ़ें 10 बातें

    मध्य प्रदेश विधानसभा में सोमवार को कोई "विश्वास प्रस्ताव" सूचीबद्ध नहीं है अर्थात् विधानसभा की कार्यसूची में विश्वास मत का जिक्र नहीं है. इससे राज्यपाल के निर्देश पर होने वाले फ्लोर टेस्ट को लेकर सवाल उठ रहे हैं. रविवार को मुख्यमंत्री कमलनाथ (kamal nath) ने इस मुद्दे पर मंत्रिमंडल की बैठक बुलाई थी. मंत्रिमंडल ने सीएम कमलनाथ को फ्लोर टेस्ट पर फैसला लेने के लिए कहा है. साथ ही दलील दी है कि राज्यपाल के पत्र की कोई संवैधानिक वैद्यता नहीं है क्योंकि वह विधानसभा को निर्देश नहीं दे सकते हैं. यदि सरकार फ्लोर टेस्ट की प्रक्रिया को शुरू नहीं करती है तो विपक्षी पार्टी BJP विधानसभा में सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव ला सकती है. सीएम कमलनाथ ने कल रात राज्यपाल लालजी टंडन के साथ मुलाकात के बाद पत्रकारों से कहा कि स्पीकर सोमवार को होने वाले मतदान पर फैसला करेंगे. वहीं, बागी विधायकों ने एक बार फिर विधानसभा स्पीकर को इस्तीफे भेजे हैं.

  • Madhya Pradesh Government Updates: फ्लोर टेस्ट पर शिवराज की याचिका पर सीएम कमलनाथ, सुप्रीम कोर्ट का नोटिस

    Madhya Pradesh Government Updates: फ्लोर टेस्ट पर शिवराज की याचिका पर सीएम कमलनाथ, सुप्रीम कोर्ट का नोटिस

    फ्लोर टेस्ट को लेकर शिवराज सिंह चौहान की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने सीएम कमलनाथ, विधानसभा सचिव को नोटिस जारी किया है. कोर्ट ने कहा है कि आदेश की कॉपी, ईमेल, वाट्एसएप के माध्यम से बागी विधायकों को भी दिया जाए. इससे पहले बेंगलुरु में डेरा डाले कांग्रेस के बागी विधायकों ने कहा कि वह ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ हैं. उनका इस्तीफा स्वीकार क्यों नहीं किया जा रहा है

  • मध्यप्रदेश : कमलनाथ सरकार के मंत्री ने 'शत्रु' के विनाश के लिए किया यह खास अनुष्ठान

    मध्यप्रदेश : कमलनाथ सरकार के मंत्री ने 'शत्रु' के विनाश के लिए किया यह खास अनुष्ठान

    MP Govt Crisis: मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) पर संकट के बादल छाये हुए हैं. कांग्रेस (Congress) सरकार के पतन के हालात बन चुके हैं. ऐसे समय में राज्य सरकार के कैबिनेट मंत्री पीसी शर्मा (PC Sharma) ने शनिवार को देवी की शरण में जाकर उन्हें अनुष्ठान करके मनाने की कोशिश की. उन्होंने आगर मालवा जिले के नलखेड़ा में खास किस्म का 'शत्रु विनाशक हवन' किया. यह हवन नलखेड़ा के देवी बगलामुखी के मंदिर में किया गया. ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) के कांग्रेस से विदा लेने, बीजेपी (BJP) में शामिल होने और उनके समर्थक मंत्रियों, विधायकों के भी सरकार का साथ छोड़ते हुए इस्तीफे देने से मध्यप्रदेश सरकार डगमगाने लगी है. सरकार को संकट से उबारने के लिए मंत्री गण अपने-अपने तरीके से प्रयास कर रहे हैं.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com