NDTV Khabar

Piyush Goyal Speech


'Piyush Goyal speech' - 6 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • मोदी के बजट में मुक्तिबोध का योगदान

    मोदी के बजट में मुक्तिबोध का योगदान

    यह कई बार सोचा है कि मुक्तिबोध पर लिखते हुए यह नहीं लिखूंगा कि उनकी कविता 'अंधेरे में' में आधी रात को डोमाजी उस्ताद के नेतृत्व में चल रहा विराट जुलूस हमारे आज के यथार्थ का प्रतीक है. यह बात इतनी बार कही जा चुकी है कि इसे दुहराना व्यर्थ लगता है. लेकिन डोमाजी उस्ताद हर तरफ़ हैं और हर बार उकसाते हैं कि उनके बारे में कुछ कहा जाए.

  • मोदी सरकार का बड़ा ऐलान: किसानों को प्रति वर्ष दिए जाएंगे 6000 रुपये, तीन किस्तों में मिलेंगे पैसे

    मोदी सरकार का बड़ा ऐलान: किसानों को प्रति वर्ष दिए जाएंगे 6000 रुपये, तीन किस्तों में मिलेंगे पैसे

    Budget 2019: वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने साल 2019-20 का अंतरिम बजट पेश करने से पहले अपने बजट भाषण में कहा कि 2022 तक किसानों की आय दोगुनी हो जाएगी. बजट पेश करते हुए गोयल ने ऐलान किया कि प्रधानमंत्री किसान योजना में 2 हेक्टेयर तक की जमीन वाले छोटे किसानों को 6,000 रुपये प्रति वर्ष मिलेंगे. तीन किस्तों में पैसे मिलेंगे. पहली किस्त जल्द मिलेगी. यह पैसा 2 हेक्टेयर जमीन वाले किसानों को दिया जाएगा. यह योजना दिसंबर 2018 से ही लागू हो जाएगी. इसका पूरा खर्च केंद्र सरकार उठाएगी. इससे 12 करोड़ किसानों को फायदा होगा. इसके साथ ही प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना को मंजूरी दे गई. इस वर्ष किसान निधि के लिए 75 हजार करोड़ रुपए दिए गए हैं.

  • मोदी सरकार के पास चुनाव से पहले 'चौका-छक्का' मारने का आखिरी मौका, पीयूष गोयल के पिटारे में क्या होगा खास, 10 बातें

    मोदी सरकार के पास चुनाव से पहले 'चौका-छक्का' मारने का आखिरी मौका, पीयूष गोयल के पिटारे में क्या होगा खास, 10 बातें

    लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election 2019) से पहले केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरका (PM Narendra Modi Govt) पहले से चली आ रही परंपराओं का पालन करते हुए आज अंतरिम बजट (Budget2019) पेश करेगी. मोदी सरकार में कार्यकारी वित्त मंत्री पीयूष गोयल आज सरकार का आखिरी बजट पेश करेंगे. माना जा रहा है कि इस बजट (Budget 2019) में किसानों और मध्यम वर्ग को ध्यान में रखते हुये कुछ घोषणाएं की जा सकती हैं. जानकार सूत्रों के अनुसार इसमें (Budget 2019) आयकर छूट सीमा बढ़ाने, गरीबों के लिये न्यूनतम आय योजना और किसानों के लिये सहायता पैकेज सहित कई तरह की लोक लुभावन घोषणायें की जा सकती हैं. हालांकि, आगामी बजट सत्र (Interim budget 2019) के दौरान नई सरकार के सत्ता संभालने तक चार माह के खर्च के लिये लेखानुदान को ही मंजूरी दी जायेगी. उम्मीद की जा रही है कि लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार लोगों को लुभाने की पूरी कोशिश करेगी. 

  • Budget 2019: आयकर छूट सीमा बढ़ाकर 3.5 लाख रुपये करने, कंपनी कर घटाकर 25 प्रतिशत पर लाने की मांग

    Budget 2019: आयकर छूट सीमा बढ़ाकर 3.5 लाख रुपये करने, कंपनी कर घटाकर 25 प्रतिशत पर लाने की मांग

    सरकार ने पिछले साल के बजट में सालाना 250 करोड़ तक का कारोबार करने वाली कंपनियों के लिये कारपोरेट कर की दर को 30 प्रतिशत से घटाकर 25 प्रतिशत कर दिया था. इस कदम से कर रिटर्न भरने वाली 99 प्रतिशत कंपनियों के लिये कर की दर कम हो गई. पीएचडी वाणिज्य एवं उद्योग मंडल के अध्यक्ष राजीव तलवार ने कहा है, ‘‘यह समय अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिये नये ठोस कदम उठाने का है. मांग बढ़ाकर वृद्धि को नये स्तर पर पहुंचाने का है.’’ प्रत्यक्ष कर क्षेत्र में सुधारों को आगे बढ़ाया जाना चाहिये.

  • Budget 2019: गोयल के बजट में बढ़ सकती है आयकर छूट सीमा, किसानों के लिये हो सकती है राहत पैकेज की घोषणा

    Budget 2019: गोयल के बजट में बढ़ सकती है आयकर छूट सीमा, किसानों के लिये हो सकती है राहत पैकेज की घोषणा

    ह अंतरिम बजट (Interim budget 2019) होगा लेकिन उद्योग सूत्रों और विशेषज्ञों का कहना है कि वित्त मंत्री पीयूष गोयल (piyush goyal) इससे आगे बढ़कर कुछ नई घोषणायें कर सकते हैं. अंतरिम बजट (Interim budget 2019) में अगले वित्त वर्ष के चार महीने के खर्च के लिये संसद की अनुमति ली जायेगी. पूर्ण बजट आम चुनाव के बाद बनने वाली नई सरकार जुलाई में पेश करेगी. कांग्रेस के उभार को देखते हुये गोयल किसानों को राहत पहुंचाने के लिये प्रत्यक्ष नकद हस्तांतरण जैसे किसी योजना की घोषणा कर सकते हैं.

  • Budget 2019-20 Live Updates: मोदी सरकार का दूसरा सबसे बड़ा दांव, 5 लाख रुपये तक सालाना सैलरी पर कोई टैक्स नहीं

    Budget 2019-20 Live Updates: मोदी सरकार का दूसरा सबसे बड़ा दांव, 5 लाख रुपये तक सालाना सैलरी पर कोई टैक्स नहीं

    आम चुनाव से पहले केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार पहले से चली आ रही परंपराओं का पालन करते हुए आज अंतरिम बजट (Budget 2019) पेश कर दिया है. केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि उनकी सरकार ने कमरतोड़ महंगाई की कमर तोड़कर रख दी. करेगी. उन्होंने ​​बजट (Budget  2019) को पढ़़ते हुए कहा कि किसानों आय में बढ़ी है. वित्तीय घाटे पर लगाम लगाई है. राज्यों को ज्यादा पैसे गए.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com