NDTV Khabar

Rajasthan Chief Minister


'Rajasthan Chief Minister' - 33 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अगले एक महीने के सभी व्यक्तिगत मुलाकात कार्यक्रम स्थगित किए 

    राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अगले एक महीने के सभी व्यक्तिगत मुलाकात कार्यक्रम स्थगित किए 

    कोरोना वायरस संक्रमितों की बढ़ती संख्या के बीच राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अगले एक महीने तक किसी से भी व्यक्तिगत रूप से मुलाकात नहीं करने का फैसला किया है. गहलोत के एक महीने के सभी मुलाकात कार्यक्रम स्थगित कर दिए गए हैं. 

  • राजस्थान में कौन जीता और कौन हारा, किसको मिला राहुल का सहारा...

    राजस्थान में कौन जीता और कौन हारा, किसको मिला राहुल का सहारा...

    उधर सचिन के जयपुर आने की ख़बर के बीच गहलोत जैसलमेर निकल गए. कहा गया कि सचिन के लौटने के उनके समर्थक विधायकों में जो नाराज़गी है उसे दूर करने की कोशिश कर रहे हैं. इधर 19 थे तो उधर सौ से ज़्यादा हैं. तो नाराज़गी का आलम भी ज़्यादा होगा. लेकिन अब गहलोत के सामने हाईकमान के फ़ैसले और निर्देश की बाध्यता होगी और उनको उसी के हिसाब से चलना होगा.

  • ..तो इस वजह से विधानसभा सत्र से पहले अशोक गहलोत से नहीं मिल सकेंगे सचिन पायलट

    ..तो इस वजह से विधानसभा सत्र से पहले अशोक गहलोत से नहीं मिल सकेंगे सचिन पायलट

    आज शाम जब सचिन पायलट जयपुर में होंगे तो अशोक गहलोत ने जैसलमेर में अपने ख़ेमे के विधायकों के साथ रात में रुकने का फ़ैसला किया हैं. मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने शाम 7:30 बजे जैसलमेर में सूर्यगढ़ होटल में विधायक दल की बैठक भी बुलाई है. संभव है कि कल गहलोत ख़ेमे के विधायक जयपुर पहुंचें और वापस विधानसभा सत्र तक Fairmont resort में रहें.

  • राजस्‍थान संकट: अशोक गहलोत बोले, 'यदि पार्टी ने माफ कर दिया है तो बागियों का स्‍वागत करूंगा'

    राजस्‍थान संकट: अशोक गहलोत बोले, 'यदि पार्टी ने माफ कर दिया है तो बागियों का स्‍वागत करूंगा'

    सीएम ने आज इस सवाल पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी कि वे उसके साथ वापस काम कैसे करेंगे जिसे उन्‍होंने 'निकम्‍मा' करार दिया था. गहलोत ने कहा कि उन विधायकों की शिकायतों को सुनना उनकी जिम्‍मेदारी है जो उनसे नाराज हैं. बागियों के साथ सुलह के बारे में पूछे सवाल पर सीएम ने कहा कि यदि पार्टी नेतृत्‍व इन विधायकों को माफ कर दिया है तो वे इन विधायकों को गले से लगाएंगे.

  • राजस्थान : अंतिम दौर की लड़ाई, विधायकों के बीच सेनापति की तरह बोले CM अशोक गहलोत

    राजस्थान : अंतिम दौर की लड़ाई,  विधायकों के बीच सेनापति की तरह बोले CM अशोक गहलोत

    सूत्रों के हवाले से खबर मिल रही है कि सचिन पायलट और बागी विधायक में कुछ लोग गांधी परिवार से मिलने की योजना बना रहे हैं और कहा जा रहा है कि इस मुलाकात में कड़वाहट मिटने की कोशिश की जाएगी. हालांकि इस बात से सचिन पायलट का खेमा मुकर रहा है और साफ कहना है कि उनका मुख्य लक्ष्य अशोक गहलोत को मुख्यमंत्री के पद से हटाना है.  उधर राजस्थान में सरकार बचाने की कोशिश में जुटे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की लड़ाई अब अंतिम पड़ाव की ओर पहुंच गई है. 14 अगस्त को विधानसभा सत्र बुलाया गया है जहां विश्वास मत की तैयारी है. लेकिन इससे पहले विधायकों को तोड़ने की आशंका भी जताई जा रही है.

  • राजस्‍थान: विधानसभा सत्र के लिए राज्‍यपाल ने दी 'रजामंदी' लेकिन रखीं खास शर्तें, 10 बातें

    राजस्‍थान: विधानसभा सत्र के लिए राज्‍यपाल ने दी 'रजामंदी' लेकिन रखीं खास शर्तें, 10 बातें

    Rajasthan Political Crisis: राजस्‍थान के सियासी संकट के मामले में हर रोज नए ट्विस्‍ट आ रहे हैं. सोमवार को यह सवाल सियासी गलियारों में चर्चा का विषय बना कि क्‍या राज्यपाल कलराज मिश्र ने विधानसभा का सत्र बुलाने को हरी झंडी दिखा दी है? राजभवन की ओर से जारी एक बयान के बाद यह सवाल उठ रहा है, जिसमें कहा गया है कि राज्यपाल की मंशा यह कतई नहीं है कि विधानसभा का सत्र न बुलाया जाए. राजभवन की ओर से जारी बयान में राज्य सरकार से कहा गया है कि वो सत्र बुलाने की कार्यवाही शुरू करें, लेकिन तीन शर्तों का खास ध्‍यान रखें.

  • राजस्‍थान संकट: 'लंबे ड्रामे' के बाद राजस्‍थान पुलिस उस रिसॉर्ट में गई, जहां रुके हैं पायलट कैंप के विधायक

    राजस्‍थान संकट: 'लंबे ड्रामे' के बाद राजस्‍थान पुलिस उस रिसॉर्ट में गई, जहां रुके हैं पायलट कैंप के विधायक

    कांग्रेस पार्टी ने शुक्रवार सुबह भंवर लाल शर्मा और एक अन्य विधायक, विश्वेंद्र सिंह को निलंबित कर दिया है,पार्टी के अनुसार, ये बीजेपी के साथ नकद लेनदेन पर चर्चा करते हुए रिकॉर्ड किए गए हैं. हालांकि इन दोनों विधायकों ने आरोप का खंडन किया है और कहा है कि टेप की गई बातचीत प्रामाणिक नहीं है.

  • राजस्‍थान संकट: सचिन पायलट को लेकर कांग्रेस ने कहा, 'वे ऐसे स्‍थान तक पहुंचे जहां से वापसी संभव नहीं'

    राजस्‍थान संकट: सचिन पायलट को लेकर कांग्रेस ने कहा, 'वे ऐसे स्‍थान तक पहुंचे जहां से वापसी संभव नहीं'

    कांग्रेस ने कहा, एक इस बात का संकेत है कि कांग्रेस की सरकारों को अस्थिर करने वाले बागियों का बीजेपी सक्रिय रूप से समर्थन कर रही है. करीब तीन माह पहले बीजेपी ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया की मदद से मध्‍य प्रदेश में कमलनाथ के नेतृत्‍व वाली कांग्रेस सरकार को भी गिरा चुकी है.

  • राजस्‍थान में 'एडवांटेज' की स्थिति में CM गहलोत, कांग्रेस ने सचिन पायलट को दिया बातचीत का ऑफर, 10 बातें

    राजस्‍थान में 'एडवांटेज' की स्थिति में CM गहलोत, कांग्रेस ने सचिन पायलट को दिया बातचीत का ऑफर, 10 बातें

    Rajasthan Political Crisis: राजस्‍थान की सियासत की लड़ाई रोमांचक होती जा रही है. सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने बुधवार को साफ किया कि वह भाजपा में नहीं जा रहे हैं. इस बीच दोनों पक्षों की ओर से अपने रुख में कुछ नरमी के संकेत हैं. बागी विधायकों का खेमा भी अपने आगामी कदम को लेकर अनिश्चितता की स्थिति में है.

  • राजस्थान के CM अशोक गहलोत का BJP पर आरोप, 'हॉर्स ट्रेडिंग को बढ़ावा देने के लिए टाले गए थे राज्यसभा चुनाव'

    राजस्थान के CM अशोक गहलोत का BJP पर आरोप, 'हॉर्स ट्रेडिंग को बढ़ावा देने के लिए टाले गए थे राज्यसभा चुनाव'

    मुख्यमंत्री ने विधायकों के साथ बुधवार रात हुई बैठक के बाद कहा, "आप कब तक हॉर्स ट्रेडिंग में शामिल होकर राजनीति करेंगे. इसमें हैरानी नहीं होगी यदि कांग्रेस उन्हें आने वाले समय में झटका दे. जनता सब कुछ समझती है." इन विधायकों को शिव विलास रिसोर्ट में ठहराया गया है. उन्होंने बैठक को "लाभदायक" बताया और कहा कि "सभी एकजुट हैं".

  • राजस्थान में 1 जुलाई से खुलेंगे स्कूल, बोर्ड परीक्षाओं के बारे में बाद में लिया जाएगा फैसला

    राजस्थान में 1 जुलाई से खुलेंगे स्कूल, बोर्ड परीक्षाओं के बारे में बाद में लिया जाएगा फैसला

    राजस्थान के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह दोस्तारा ने गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए करीब  50 से अधिक शिक्षक संस्‍थाओं के साथ मीटिंग आयोजित की. इस मीटिंग के दौरान मंत्री ने राज्य में पढ़ाई और परीक्षाओं के बारे में कई अहम निर्णय लिए. इस मीटिंग के दौरान सबसे अहम निर्णय ये रहा कि राजस्थान में सभी स्कूल 1 जुलाई से खोले जाएंगे.

  • Corona से जंग के बीच राजस्थान सरकार का बड़ा फैसला- जल्द होगी 2 हजार डॉक्टरों की नियुक्ति

    Corona से जंग के बीच राजस्थान सरकार का बड़ा फैसला- जल्द होगी 2 हजार डॉक्टरों की नियुक्ति

    कोरोनावायरस (Coronavirus) के चलते देश में हालात गंभीर बने हुए हैं. हर गुजरते दिन के साथ कोरोना संक्रमित लोगों के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं. ऐसे में मेडिकल स्टाफ की डिमांड बढ़ गई है, ताकि कोरोना संक्रमित लोगों का बेहतर तरीके से इलाज हो सके. वहीं, इसी बीच राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा (Rajasthan Health Minister Raghu Sharma) ने बताया कि पिछले राज्य के बजट में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की घोषणा के अनुसार राज्य में 2,000 डॉक्टरों की भर्ती की प्रक्रिया शुरू हो गई है. 

  • कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने 60 साल की उम्र में रचाई शादी, अशोक गहलोत ने ट्वीट कर दी बधाई

    कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने 60 साल की उम्र में रचाई शादी, अशोक गहलोत ने ट्वीट कर दी बधाई

    कांग्रेस महासचिव मुकुल वासनिक ने 60 साल की उम्र में रविवार को विवाह किया. वासनिक के करीबी सूत्रों का कहना है कि वासनिक दिल्ली के एक पांच सितारा होटल में रवीना खुराना के साथ विवाह बंधन में बंधे.

  • राजस्थानः अब भ्रष्टाचारियों की खैर नहीं, करप्शन की पोल खोलने वालों को सुरक्षा देगी गहलोत सरकार

    राजस्थानः अब भ्रष्टाचारियों की खैर नहीं, करप्शन की पोल खोलने वालों को सुरक्षा देगी गहलोत सरकार

    राजस्थान सरकार (Rajasthan Govt) ने अब भ्रष्टाचार पर लगाम कसने की पूरी तैयारी कर ली है. सरकार सूबे के सभी व्हिसल ब्लोअर (Whistleblowers) जो सरकारी कर्मचारियों के करप्शन की पोल खोलेंगे, को सुरक्षा मुहैया कराएगी. मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से इस संबंध में सभी सरकारी विभागों को एक सर्कुलर जारी किया गया है.

  • हाईकोर्ट के एक फैसले से छिन गईं पूर्व सीएम वसुंधरा राजे की सभी सुविधाएं

    हाईकोर्ट के एक फैसले से छिन गईं पूर्व सीएम वसुंधरा राजे की सभी सुविधाएं

    राजस्थान में अब पूर्व मुख्यमंत्रियों को न सरकारी बंगला मिलेगा न कार और न स्टाफ. राजस्थान हाईकोर्ट ने आज राजस्थान मंत्री संशोधन वेतन अधिनियम 2017 को अवैध करार दे दिया. इस अधिनियम में पूर्व मुख्यमंत्रियों को आजीवन सरकारी बंगला, आईएएस रैंक का प्राईवेट सेक्रेट्री समेत स्टाफ और कार जैसी सुविधाएं दी गई हैं. अब हाईकोर्ट ने इस अधिनियम को रद्द कर कहा कि पूर्व सीएम को कोई सुविधा नहीं दी जा सकती हैं, न ही सरकारी बंगला.

  • विभागों के बंटवारे पर खींचतान खत्म: अशोक गहलोत 9 तो सचिन पायलट 5 विभागों के बॉस, देखें पूरी लिस्ट

    विभागों के बंटवारे पर खींचतान खत्म: अशोक गहलोत 9 तो सचिन पायलट 5 विभागों के बॉस, देखें पूरी लिस्ट

    राजस्थान (Rajasthan) में कांग्रेस सरकार (Rajasthan Cabinet) में विभागों के बंटवारे से जुड़ी खींचतान की खबरें थीं, मगर अब उस पर सहमति बनती दिख रही है. राजस्थान सरकार के विभागों का बंटवारा हो गया है और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने 9 विभाग अपने पास रखे हैं, वहीं उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट (Sachin Pilot) को पांच विभाग मिले हैं. बता दें कि राजस्थान में  कांग्रेस ने बीजेपी को हराकर सत्ता हासिल की है. इससे पहले वसुंधरा राजे के नेतृत्व में बीजेपी की सरकार थी.

  • अशोक गहलोत तीसरी बार बने राजस्थान के सीएम, शपथ ग्रहण समारोह में दिखी विपक्ष की एकजुटता

    अशोक गहलोत तीसरी बार बने राजस्थान के सीएम, शपथ ग्रहण समारोह में दिखी विपक्ष की एकजुटता

    गहलोत तीसरी बार राजस्थान के मुख्यमंत्री बने हैं. राज्य में तीसरी बार मुख्यमंत्री बनने वाले वह चौथे नेता हैं. गहलोत से पहले भैंरो सिंह शेखावत और हरिदेव जोशी तीन-तीन बार मुख्यमंत्री रहे. हालांकि मोहन लाल सुखाड़िया सबसे अधिक चार बार इस पद पर रहे. गहलोत 1998 में पहली बार और 2008 में दूसरी बार मुख्यमंत्री बने थे. इंदिरा गांधी के समय से राजनीति में सक्रिय गहलोत केंद्र में मंत्री भी रहे हैं. राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी में कई अहम पदों पर रह चुके गहलोत तीन बार कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष रहे हैं. गहलोत ने राजनीति के अलावा 1971 में बांग्लादेश के मुक्ति संग्राम के दौरान पश्चिम बंगाल में बांग्लादेशी शरणार्थियों के शिविरों में काम किया और कई सामाजिक गतिविधियों में शामिल रहे.

  • कर्नाटक के बाद एक बार फिर दिखेगी विपक्षी एकता, जानें- राजस्थान, MP और छत्तीसगढ़ में शपथ ग्रहण में कौन-कौन होगा शामिल

    कर्नाटक के बाद एक बार फिर दिखेगी विपक्षी एकता, जानें- राजस्थान, MP और छत्तीसगढ़ में शपथ ग्रहण में कौन-कौन होगा शामिल

    कांग्रेस ने शुक्रवार को एलान किया था कि अशोक गहलोत राजस्थान के मुख्यमंत्री और सचिन पायलट बतौर डिप्टी सीएम शपथ लेंगे. दोनों ही सोमवार को जयपुर के अल्बर्ट हॉल परिसर में शपथ लेंगे. मध्य प्रदेश में कमलनाथ बतौर सीएम दोपहर करीब 1.30 बजे लाल परेड ग्राउंड में शपथ ग्रहण करेंगे. इसके अलावा छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री का एलान रविवार दोपहर किया जाएगा, यहां शपथ ग्रहण समारोह सोमवार शाम करीब 4.30 होगा.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com