NDTV Khabar

Rajasthan Governor Kalraj Mishra


'Rajasthan Governor Kalraj Mishra' - 18 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • राजस्थान संकट पर अशोक गहलोत ने PM मोदी से कहा - 'बंद करवाएं यह तमाशा'

    राजस्थान संकट पर अशोक गहलोत ने PM मोदी से कहा - 'बंद करवाएं यह तमाशा'

    राजस्थान में चल रहे सियासी ड्रामे का अंत अभी तक नहीं हुआ है. राज्यपाल द्वारा 14 अगस्त से विधानसभा का सत्र बुलाए जाने को मंजूरी दिए जाने के बाद गहलोत खेमे के विधायक जैसलमेर पहुंच गए हैं.

  • हरियाणा में ठहरे टीम पायलट के विधायक बोले- विधानसभा सत्र में लेंगे हिस्सा

    हरियाणा में ठहरे टीम पायलट के विधायक बोले- विधानसभा सत्र में लेंगे हिस्सा

    हसीएम अशोक गहलोत और गवर्नर कलराज मिश्र के बीच विधानसभा सत्र की तारीख को लेकर चले लंबे गतिरोध के बाद सीएम की ओर से अब सत्र के लिए नई तारीख 14 अगस्‍त का प्रस्‍ताव दिया गया है. इस बीच, हरियाणा में डेरा डाले सचिन पायलट खेमे के विधायकों ने कहा है कि वे विधानसभा सत्र में हिस्‍सा लेंगे.

  • राजस्थान विधानसभा सत्र बुलाने को लेकर गवर्नर-CM के बीच कैसे सुलझा गतिरोध

    राजस्थान विधानसभा सत्र बुलाने को लेकर गवर्नर-CM के बीच कैसे सुलझा गतिरोध

    राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार को आखिरकार राज्यपाल कलराज मिश्र ने 14 अगस्त को विधानसभा सत्र बुलाने की मंजूरी दे दी है. राज्यपाल की ओर से बुधवार की देर शाम गहलोत सरकार को सत्र बुलाने की मंजूरी दे दी गई. सीएम गहलोत सत्र बुलाने की अपनी मांग के साथ पिछले दो हफ्तों के दौरान गवर्नर से चार बार मुलाकात कर चुके थे, वहीं उनकी कैबिनेट की ओर से सत्र को लेकर तीन प्रस्ताव भी भेजे गए, जिन्हें गवर्नर ने वापस लौटा दिया था. आखिरकार बुधवार को सरकार की ओर से भेजे गए चौथे प्रस्ताव पर हामी भरी गई. राज्यपाल ने गहलोत सरकार को सत्र के दौरान कोविड-19 गाइडलाइंस का सख्ती से पालन करने को लेकर मौखिक निर्देश भी दिए हैं. बता दें कि गवर्नर सदन बुलाने से पहले गहलोत से 21 दिनों का नोटिस देने की मांग कर रहे थे. उनका सवाल था कि 'क्या गहलोत सदन में विश्वास प्रस्ताव लाना चाहते हैं? अगर ऐसा होता है तो तुरंत सत्र बुलाया जा सकता है लेकिन अगर ऐसा नहीं है तो उन्हें 21 दिनों का नोटिस देना होगा.' इसके बाद गहलोत सरकार ने पहले प्रस्ताव से 21 दिन गिनकर 14 अगस्त से सत्र बुलाने का प्रस्ताव भेजा, जिसे स्वीकार कर लिया.

  • राजस्थान : गवर्नर-CM खींचतान खत्म, 3 बार फाइल लौटाने के बाद दी विधानसभा सत्र बुलाने की मंजूरी

    राजस्थान :  गवर्नर-CM खींचतान खत्म, 3 बार फाइल लौटाने के बाद दी विधानसभा सत्र बुलाने की मंजूरी

    आखिरकार राजस्थान के गवर्नर कलराज मिश्र ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की विधानसभा सत्र बुलाने की मांग मान ली है. बुधवार की देर शाम गवर्नर ने गहलोत को 14 अगस्त से विधानसभा का सत्र बुलाने की इजाज़त दे दी है. हालांकि, राजभवन से जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि राज्यपाल कलराज मिश्र ने राजस्थान विधानसभा के सत्र के दौरान कोविड-19 से बचाव के लिए आवश्यक प्रबंध किए जाने के निर्देश मौखिक रूप से दिए हैं. बता दें कि अशोक गहलोत लगभग पिछले दो हफ्तों से विधानसभा सत्र बुलाने की मांग कर रहे थे, लेकिन गवर्नर बार-बार उन्हें लौटा दे रहे थे.

  • आखिरकार मान गए राज्यपाल, गहलोत सरकार को 14 अगस्त से विधानसभा सत्र बुलाने को दी मंजूरी

    आखिरकार मान गए राज्यपाल, गहलोत सरकार को 14 अगस्त से विधानसभा सत्र बुलाने को दी मंजूरी

    Rajasthan Political Crisis: राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र (Kalraj Mishra) ने आखिरकार राज्य के विधानसभा सत्र (Assembly Session) को मंजूरी दे दी. उन्होंने बुधवार को देर शाम को यह फैसला लिया. राज्यपाल मिश्र ने राजस्थान विधानसभा के पंचम सत्र को अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) मंत्रिमंडल द्वारा भेजे गए 14 अगस्त से आरंभ करने के प्रस्ताव को स्वीकृति दे दी है. राजभवन के राज्यपाल सचिवालय ने यह जानकारी दी है.

  • राजस्‍थान: विधानसभा सत्र पर गतिरोध के बीच CM गहलोत ने अपने रुख में दिखाई कुछ नरमी

    राजस्‍थान: विधानसभा सत्र पर गतिरोध के बीच CM गहलोत ने अपने रुख में दिखाई कुछ नरमी

    तीसरी बार विधानसभा सत्र के लिए अनुरोध को अस्वीकार किए जाने के कुछ ही घंटों बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने रुख में कुछ 'नरमी' का संकेत दिया है. मिली जानकारी के अनुसार, सीएम गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने विधानसभा सत्र  (Assembly Session)के लिए एक नई तारीख का प्रस्‍ताव दिया है.

  • राजस्‍थान: विधानसभा सत्र को लेकर गतिरोध कायम, राज्‍यपाल ने फिर कहा-21 दिन को नोटिस बेहद जरूरी

    राजस्‍थान: विधानसभा सत्र को लेकर गतिरोध कायम, राज्‍यपाल ने फिर कहा-21 दिन को नोटिस बेहद जरूरी

    राज्‍यपाल की ओर से एक बार फिर दोहराया है कि विधासनभा सत्र (Assembly Session) बुलाने के लिए 21 दिन को नोटिस बेहद जरूरी है. यानि राज्यपाल का कहना है कि अगर आप “विश्वास मत प्रस्ताव लाना चाहते हैं तो जल्दी विधानसभा सत्र बुलाया जा सकता है वर्ना 21 दिन के नोटिस पर सत्र बुलाया जाए जबकि गहलोत सरकार का कहना है कि वो “विश्वास मत  प्रस्ताव “ नहीं लाना चाहते उनके पास बहुमत है.

  • महामहिम के महा कारनामे..

    महामहिम के महा कारनामे..

    अभी तक यह आरोप कांग्रेस द्वारा नियुक्त किए गए राज्यपालों पर लगते रहे हैं मगर हाल के वर्षों में एनडीए शासन द्वारा राज्यपालों ने सभी को पीछे छोड दिया है. बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड का उदाहरण तो दे ही चुका हूं. राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्रभी इसका सबसे ताजा उदाहरण है, जहां मुख्यमंत्री अशोक गहलोत विधानसभा का सत्र बुलाना चाहते हैं मगर राज्यपाल महोदय को यह नागवार गुजर रहा है.

  • राजस्‍थान संकट: तीन पूर्व कानून मंत्रियों ने राज्‍यपाल कलराज मिश्र को लिखा पत्र, कही यह बात..

    राजस्‍थान संकट: तीन पूर्व कानून मंत्रियों ने राज्‍यपाल कलराज मिश्र को लिखा पत्र, कही यह बात..

    तीनों पूर्व कानून मंत्रियों ने कहा कि विधानसभा सत्र बुलाने की स्थापित संवैधानिक स्थिति से इतर जाने से संवैधानिक संकट पैदा होगा.उन्होंने कहा, ‘‘राज्यपाल पद पर आसीन होने के नाते आप इससे अच्छी तरह अवगत हैं कि संवैधानिक पदों पर बैठे लोगों को संविधान के तहत ली गई शपथ का अक्षरश: निर्वहन करना होता है.

  • राजस्‍थान: विधानसभा सत्र के लिए राज्‍यपाल ने दी 'रजामंदी' लेकिन रखीं खास शर्तें, 10 बातें

    राजस्‍थान: विधानसभा सत्र के लिए राज्‍यपाल ने दी 'रजामंदी' लेकिन रखीं खास शर्तें, 10 बातें

    Rajasthan Political Crisis: राजस्‍थान के सियासी संकट के मामले में हर रोज नए ट्विस्‍ट आ रहे हैं. सोमवार को यह सवाल सियासी गलियारों में चर्चा का विषय बना कि क्‍या राज्यपाल कलराज मिश्र ने विधानसभा का सत्र बुलाने को हरी झंडी दिखा दी है? राजभवन की ओर से जारी एक बयान के बाद यह सवाल उठ रहा है, जिसमें कहा गया है कि राज्यपाल की मंशा यह कतई नहीं है कि विधानसभा का सत्र न बुलाया जाए. राजभवन की ओर से जारी बयान में राज्य सरकार से कहा गया है कि वो सत्र बुलाने की कार्यवाही शुरू करें, लेकिन तीन शर्तों का खास ध्‍यान रखें.

  • विधानसभा सत्र बुलाने का आग्रह खारिज होने के बाद राजस्थान के CM बोले, "गवर्नर के व्यवहार को लेकर कल PM से बात की..."

    विधानसभा सत्र बुलाने का आग्रह खारिज होने के बाद राजस्थान के CM बोले,

    राजस्थान विधानसभा सत्र बुलाने का आग्रह राज्यपाल की ओर से बार-बार खारिज होने के बीच राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार को कहा है कि उन्होंने इसे लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की है. गहलोत ने सोमवार को कहा कि उन्होंने 'गवर्नर के व्यवहार को लेकर कल PM से बात' की है.

  • विधानसभा सत्र बुलाने से राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र का फिर इंकार, लौटाई गहलोत सरकार की फाइल

    विधानसभा सत्र बुलाने से राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र का फिर इंकार, लौटाई गहलोत सरकार की फाइल

    राजस्थान की राजनीति में ऐसा लग रहा है कि राज्यपाल कलराज मिश्र और सीएम अशोक गहोलत के बीच टकराव बढ़ता जा रहा है. राज्यपाल ने विधानसभा सत्र बुलाने के लिए सीएम अशोक गहलोत के प्रस्ताव पर फिर से मंजूरी देने से इनकार कर दिया है.

  • संवैधानिक संकट की ओर बढ़ रहा है राजस्थान : राज्यपाल से मुलाकात के बाद बीजेपी ने कहा

    संवैधानिक संकट की ओर बढ़ रहा है राजस्थान : राज्यपाल से मुलाकात के बाद बीजेपी ने कहा

    उन्होंने विपक्ष के नेता गुलाब चंद कटारिया द्वारा पिछले सप्ताह की गई मांगों को फिर से उठाया किया. राजस्थान विधानसभा में विपक्ष के उप नेता राजेंद्र सिंह राठौड़ ने कहा: "यह सरकार एक संवैधानिक संकट की तरफ बढ़ रही है"

  • अशोक गहलोत मंत्रिमंडल की बैठक खत्म, विधानसभा सत्र के लिए राज्यपाल के पास फिर से भेजा जाएगा प्रस्ताव

    अशोक गहलोत मंत्रिमंडल की बैठक खत्म, विधानसभा सत्र के लिए राज्यपाल के पास फिर से भेजा जाएगा प्रस्ताव

    राजस्थान  (Rajasthan) में जारी राजनीतिक दांव पेंच में शुक्रवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के नेतृत्व में विधानसभा सत्र बुलाने की मांग को लेकर राजभवन के सामने प्रदर्शन किया गया.

  • राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा- मुख्यमंत्री ने विधानसभा सत्र के लिए कोई एजेंडा नहीं बताया

    राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा- मुख्यमंत्री ने विधानसभा सत्र के लिए कोई एजेंडा नहीं बताया

    राजस्थान में जारी राजनीतिक उठापटक के बीच राज्य के राज्यपाल  कलराज मिश्र ने कहा कि वह संविधान के अनुसार ही काम करेंगे. मिश्र ने एक बयान में कहा कि सामान्य प्रक्रिया के तहत, सत्र को बुलाए जाने के लिए 21 दिन के नोटिस की आवश्यकता होती है.

  • राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर फोड़ा 'लेटर बम'

    राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर फोड़ा 'लेटर बम'

    राजस्थान (Rajasthan) के राज्यपाल कलराज मिश्र (Kalraj Mishra) ने कहा है कि संवैधानिक मर्यादा से ऊपर कोई नहीं है. 23 जुलाई को सरकार ने रात को अल्प नोटिस के सत्र आहूत करने की पत्रावली पेश की थी. राज्य सरकार को यह भी सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए गए हैं कि सभी विधायकों की स्वतंत्रता एवं उनका स्वतंत्र आवागमन भी सुनिश्चित किया जाए. राज्य सरकार के पास अगर बहुमत है तो विश्वासमत प्राप्त करने हेतु सत्र आहूत करने का क्या औचित्य है. फिर कुछ विधायकों की निर्योग्यता का प्रकरण माननीय उच्च न्यायालय और माननीय सर्वोच्च न्यायालय में भी विचाराधीन है उनका संज्ञान भी लिए जाने के निर्देश राज्य सरकार को दिए गए हैं. राज्यपाल ने अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) सरकार से विधानसभा सत्र से जुड़े 6 सवाल पूछे हैं.

  • गहलोत राज्यपाल के सामने कराएंगे MLAs की परेड, अगले हफ्ते विधानसभा सत्र बुलाने की करेंगे मांग

    गहलोत राज्यपाल के सामने कराएंगे MLAs की परेड, अगले हफ्ते विधानसभा सत्र बुलाने की करेंगे मांग

    राजस्थान के CM अशोक गहलोत शुक्रवार को गवर्नर से मुलाकात करके अपने विधायकों की परेड कराने वाले हैं. गहलोत ने इसके लिए गवर्नर कलराज मिश्र से वक्त मांगा था, जिसके लिए उन्हें वक्त दे दिया गया है.

  • राजस्थान का सियासी संकट : CM अशोक गहलोत की गवर्नर से मुलाकात के वक्त क्या हुई बातचीत?

    राजस्थान का सियासी संकट : CM अशोक गहलोत की गवर्नर से मुलाकात के वक्त क्या हुई बातचीत?

    राजस्थान सियासी संकट (Rajasthan Political Crisis) अब और भी गहराता ही जा रहा है. सचिन पायलट (Sachin Pilot) और सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) के कानूनी दांव पेंच के अलावा अब जल्द ही विधानसभा सत्र बुलाने की तैयारी की जा रही है.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com