NDTV Khabar

Rajasthan Politics


'Rajasthan politics' - 335 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • राजस्थान का सियासी संकट, BSP विधायकों के कांग्रेस में विलय पर SC ने टाली सुनवाई

    राजस्थान का सियासी संकट, BSP विधायकों के कांग्रेस में विलय पर SC ने टाली सुनवाई

    बसपा और भाजपा विधायक की याचिका पर यह सुनवाई हो रही है. हालांकि 24 अगस्त को 6 बीएसपी विधायकों के कांग्रेस में विलय के मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने भाजपा विधायक मदन दिलावर की याचिका खारिज कर दी थी. जस्टिस अरुण मिश्रा की अध्यक्षता वाली बेंच ने कहा कि इस मामले पर राजस्थान हाईकोर्ट का फैसला आ गया है इसलिए अब मामले में सुनवाई का कोई मतलब नहीं है.

  • भारत दर्शन करने के बजाय राजस्थान के जिले-जिले में जाएं राहुल गांधी : प्रकाश जावड़ेकर

    भारत दर्शन करने के बजाय राजस्थान के जिले-जिले में जाएं राहुल गांधी : प्रकाश जावड़ेकर

    केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने राजस्थान (Rajasthan) में पुजारी की जिंदा जलाकर हत्या की घटना को लेकर कहा है कि ''राजस्थान में कानून व्यवस्था ध्वस्त हो गई है. राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को भारत दर्शन करने के बजाय राजस्थान के जिले-जिले में जाना चाहिए. वे राजस्थान सरकार (Rajasthan Government) से या तो इस्तीफा ले लें, या फिर सुधार करने के लिए कवायद करें. वे कुछ नहीं करेंगे, केवल राजनीति करेंगे. यह राजनीति भी लोग बर्दास्त नहीं करेंगे. करौली में पुजारी की हत्या बेहद संगीन मामला है. इस पर सरकार को फौरन एक्शन लेना चाहिए. राहुल गांधी को वहां तुरंत पहुंचना चाहिए.''

  • महिनों तक पांच सितारा होटल में रहने वाली सरकार अपनी ही सुरक्षा कर सकती है, जनता की नहीं: राठौड़

    महिनों तक पांच सितारा होटल में रहने वाली सरकार अपनी ही सुरक्षा कर सकती है, जनता की नहीं: राठौड़

    राजस्थान (Rajasthan) में जमीन विवाद को लेकर मंदिर के पुजारी को जिंदा जलाने की घटना पर भारतीय जनता पार्टी के सांसद  राज्यवर्धन राठौड़ (Rajyavardhan Singh Rathore) ने राज्य की कांग्रेस सरकार (Congress Government) और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) को निशाना बनाया है. राज्यवर्धन राठौड़ ने इस घटना को लेकर कहा कि ''राजस्थान के अंदर आज कोई सुरक्षित नहीं है, न महिला, न बच्चे. पुलिस का मनोबल गिर रहा है. यहां तक कि मंदिर में पूजा करने वाले पुजारी तक सुरक्षित नहीं हैं. जो सरकार महिनों तक पांच सितारा होटल में रहती है वह अपनी ही सुरक्षा कर सकती है, जनता की नहीं.''

  • मुझे विपक्ष के पास इसलिए बिठाया गया, क्योंकि सीमा पर सबसे ताकतवर योद्धा को भेजा जाता है : सचिन पायलट

    मुझे विपक्ष के पास इसलिए बिठाया गया, क्योंकि सीमा पर सबसे ताकतवर योद्धा को भेजा जाता है : सचिन पायलट

    सचिन पायलट ने अपनी सीट में हुए बदलाव के बारे में बोलते हुए कहा, 'इस सरहद पर कितनी भी गोलीबारी हो, मैं कवच और भाला लेकर सरकार को बचाने के लिए खड़ा हूं. मुझे सरहद पर बैठाया गया है, सरहद पर सबसे मजबूत योद्धा को भेजा जाता है.' पायलट ने राजेंद्र राठौड़ को उनके भाषण के बीच में रोककर यह कहा है.

  • राजस्थान : CM अशोक गहलोत बोले- 19 विधायकों के बगैर भी बहुमत साबित कर देते लेकिन...

    राजस्थान : CM अशोक गहलोत बोले- 19 विधायकों के बगैर भी बहुमत साबित कर देते लेकिन...

    गुरुवार को कांग्रेस विधायक दल की बैठक (Congress Legislature Party Meeting) हुई थी. इस दौरान गहलोत ने विधायकों को संबोधित करते हुए कहा, 'जो बातें हुईं, उन्हें अब भूल जाओ. हम इन 19 विधायकों के बिना भी बहुमत साबित कर देते लेकिन फिर वह खुशी नहीं मिलती क्योंकि अपने तो अपने होते हैं. हम विधानसभा में विश्वास प्रस्ताव लाएंगे.'

  • राजस्थान के सियासी संकट के बीच 6 प्वाइंट्स में जानिए- क्या है विश्वास और अविश्वास प्रस्ताव?

    राजस्थान के सियासी संकट के बीच 6 प्वाइंट्स में जानिए- क्या है विश्वास और अविश्वास प्रस्ताव?

    राजस्थान कांग्रेस में चली महीने भर की खींचतान के बाद अब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत शुक्रवार से शुरू हो रही विधानसभा के विशेष सत्र में भारतीय जनता पार्टी की चुनौती का सामना कर रहे हैं. बीजेपी ने गुरुवार को घोषणा की थी कि पार्टी गहलोत सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लेकर आएंगी. यानी अब गहलोत को सदन में अपना बहुमत साबित करना होगा. गहलोत शुरू से ही दावा करते रहे हैं कि उनके पास बहुमत का आंकड़ा है. यहां तक कि सचिन पायलट सहित 19 विधायकों के बगावत कर देने के बावजूद भी वो गवर्नर से इस दावे के साथ मिले थे कि उनके पास बहुमत है. लेकिन ये तो तय था कि विधानसभा सत्र शुरू होने के बाद उन्हें अविश्वास प्रस्ताव का सामना करना पड़ सकता है.

  • कांग्रेस ने पलट डाला BJP का गेम, नई रणनीति तैयार करने को किया मजबूर

    कांग्रेस ने पलट डाला BJP का गेम, नई रणनीति तैयार करने को किया मजबूर

    राजस्थान (Rajasthan) विधानसभा का विशेष सत्र कल (शुक्रवार) से शुरू हो रहा है. प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे (Vasundhara Raje) और बीजेपी (BJP) नेताओं ने आज (गुरुवार) सत्र को लेकर मुलाकात की. कांग्रेस (Congress) में मची आंतरिक कलह के बाद यह बीजेपी नेताओं की पहली मीटिंग है. सोमवार को सचिन पायलट (Sachin Pilot) अपने समर्थक विधायकों के साथ घर वापसी कर चुके हैं और इसी के साथ गहलोत सरकार पर बना कथित संकट खत्म हो गया.

  • CM अशोक गहलोत बोले - कांग्रेस की लड़ाई सोनिया-राहुल के नेतृत्व में लोकतंत्र बचाने की है

    CM अशोक गहलोत बोले - कांग्रेस की लड़ाई सोनिया-राहुल के नेतृत्व में लोकतंत्र बचाने की है

    मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट्स में लिखा, 'कांग्रेस की लड़ाई तो सोनिया गांधी जी और राहुल गांधी जी के नेतृत्व में डेमोक्रेसी को बचाने की है. पिछले एक माह में कांग्रेस पार्टी में आपस में जो भी नाइत्तेफ़ाकी हुई है, उसे देश के हित में, प्रदेश के हित में, प्रदेशवासियों के हित में और लोकतंत्र के हित में हमें फॉरगेट एन्ड फॉरगिव, आपस में भूलो और माफ करो और आगे बढ़ो की भावना के साथ डेमोक्रेसी को बचाने की लड़ाई में लगना है.'

  • सुलह के बाद भी राजस्थान कांग्रेस में 'सब कुछ ठीक' नहीं! क्या आज होगी पायलट-गहलोत की मुलाकात?

    सुलह के बाद भी राजस्थान कांग्रेस में 'सब कुछ ठीक' नहीं! क्या आज होगी पायलट-गहलोत की मुलाकात?

    सचिन पायलट और उनके समर्थन में उतरे 18 बागी विधायकों ने सोमवार को राहुल गांधी और प्रियंका गांधी से मिलकर अपनी बात रखी थी और सुलह कर लिया था, इसके बाद ये सभी लोग राजस्थान लौट आए हैं. हालांकि, उन्हें लौटे हुए 48 घंटों से ज्यादा का वक्त हो गया है लेकिन अभी तक न ही उनसे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मुलाकात की है, न ही नए प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे ने.

  • राजस्थान कांग्रेस के लिए बड़ा दिन, MLA बैठक के बीच BSP MLAs की याचिका पर कोर्ट में सुनवाई - 10 बड़ी बातें

    राजस्थान कांग्रेस के लिए बड़ा दिन, MLA बैठक के बीच BSP MLAs की याचिका पर कोर्ट में सुनवाई - 10 बड़ी बातें

    राजस्थान कांग्रेस (Rajasthan Congress) के लिए गुरुवार का दिन काफी बड़ा है. महीने भर चली सियासी उठापटक के बाद मामला शांत हो गया है और शुक्रवार को कांग्रेस-बीजेपी दोनों विधायकों की बैठक कर रहे हैं. शुक्रवार से राजस्थान विधानसभा सत्र की शुरुआत हो रही है, ऐसे में अशोक गहलोत को विश्वास मत पेश करना पड़ सकता है. इसके अलावा गहलोत की चिंता में सुप्रीम कोर्ट और राजस्थान हाईकोर्ट में आज होने वाली एक सुनवाई भी शामिल होगी. सुप्रीम कोर्ट और राजस्थान हाईकोर्ट में आज कांग्रेस में बीएसपी विधायकों के विलय पर (BSP MLAs merger in congress) सुनवाई होनी है. इस मामले इस विलय को अवैध घोषित किए जाने की मांग वाली याचिका डाली गई है. अगर आज फैसला आता है और गहलोत को अपने समर्थन के छह विधायकों से हाथ धोना पड़ सकता है.

  • राजस्थान :  विधानसभा सत्र शुरू होने से पहले CM गहलोत ने Tweet कर जताई ये उम्मीद

    राजस्थान :  विधानसभा सत्र शुरू होने से पहले CM गहलोत ने Tweet कर जताई ये उम्मीद

    Rajasthan Crisis: मुख्यमंत्री गहलोत ने बुधवार को अपने ट्वीट में लिखा- "विधानसभा 14 अगस्त से शुरू हो रही है, मुझे उम्मीद है कि सत्र के दौरान हम राज्य में कोरोना की स्थिति और लॉकडाउन के बाद में आर्थिक रूप से जो स्थिति बनी है, उसे लेकर खुलकर चर्चा करने में सक्षम होंगे."

  • तीन दिन की चुप्पी के बाद, गहलोत और पायलट का आज होगा आमना-सामना

    तीन दिन की चुप्पी के बाद, गहलोत और पायलट का आज होगा आमना-सामना

    राजस्थान कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सचिन पायलट, कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा से मुलाकात के बाद मंगलवार को जयपुर लौटे थे. कांग्रेस नेतृत्व की ओर से उन्हें भरोसा दिया गया है कि उनकी शिकायतों को दूर किया जाएगा.

  • राजस्‍थान: राहुल गांधी की सचिन पायलट से भेंट के बाद बन गई बिगड़ी बात, अब 'ऑल इज वेल!', 10 बातें

    राजस्‍थान: राहुल गांधी की सचिन पायलट से भेंट के बाद बन गई बिगड़ी बात, अब 'ऑल इज वेल!', 10 बातें

    राजस्‍थान में करीब एक माह से चल रहे सियासी संकट का समाधान निकलने से कांग्रेस ने राहत की सांस ली है. पूर्व कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी की बागी तेवर अख्तियार किए हुए सचिन पायलट के साथ चर्चा के बाद पूरी तरह से बिगड़ती लग रही बात बन गई और पूर्व उपमुख्‍यमंत्री की ससम्‍मान 'घरवापसी' का रास्‍ता साफ हुआ. इसके घटनाक्रम के साथ ही अशोक गहलोत की सरकार पर मंडरा संकट टल गया और राजस्‍थान में सियासी उलटफेर की उम्‍मीद लगा रही बीजेपी की उम्‍मीदों पर पानी फिर गया.

  • जैसलमेर से जयपुर लौटते कांग्रेस MLAs ने बस में जमकर गाए गीत - देखें VIDEO

    जैसलमेर से जयपुर लौटते कांग्रेस MLAs ने बस में जमकर गाए गीत - देखें VIDEO

    जैसलमेर के होटल सूर्यागढ़ में ठहरे कांग्रेस के विधायक बुधवार को जयपुर लौट रहे हैं. इन विधायकों का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वो बस में गाने गाते नजर आ रहे हैं. ये विधायक बस से जैसलमेर एयरपोर्ट जा रहे थे, जहां से उन्हें जयपुर के लिए फ्लाइट लेनी थी. 

  • अशोक गहलोत ने ‘ऑपरेशन लोटस का ही ऑपरेशन’ कर BJP को सिखाया सबक- शिवसेना

    अशोक गहलोत ने ‘ऑपरेशन लोटस का ही ऑपरेशन’ कर BJP को सिखाया सबक- शिवसेना

    शिवसेना ने चुटकी लेते हुए कहा, ‘महाराष्ट्र में तड़के किया गया यह ऑपरेशन विफल हो चुका है. कम से कम अब तो भाजपा को इससे सबक लेनी चाहिए. कुछ फर्जी डॉक्टरों द्वारा महाराष्ट्र में ऑपरेशन करने की नई तारीख अब सितंबर में है.’

  • अशोक गहलोत बोले - भूलो और माफ करो, तो टीम पायलट ने कहा - टेस्ट मैच ड्रॉ हो गया

    अशोक गहलोत बोले - भूलो और माफ करो, तो टीम पायलट ने कहा - टेस्ट मैच ड्रॉ हो गया

    राजस्थान कांग्रेस में चल रहे सियासी ड्रामे (Rajasthan Congress Political Drama) के खत्म होने के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने बुधवार को कहा कि अब विधायकों को 'Forget and Forgive' के रास्ते पर चलना चाहिए. उन्होंने कहा कि 'अब भूलो और माफ करो और आगे बढ़ो देश के हित में, प्रदेश के हित, प्रदेशवासियों के हित में, डेमोक्रेसी के हित में'.

  • सचिन पायलट की 'घर वापसी' पर बोले अशोक गहलोत- विधायकों की नाराजगी स्वाभाविक है

    सचिन पायलट की 'घर वापसी' पर बोले अशोक गहलोत- विधायकों की नाराजगी स्वाभाविक है

    राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सचिन पायलट व अन्य बागी विधायकों की वापसी को लेकर कांग्रेस विधायकों में नाराजगी की ओर इशारा करते हुए बुधवार को कहा कि 'उनकी नाराजगी स्वाभाविक है, लेकिन मैने इन विधायकों को समझाया है. उन्होंने उम्मीद जताई कि अब सब मिलकर राज्य के विकास के लिए काम करेंगे.'

  • राजस्थान : खत्म नहीं हुई खटास, सचिन पायलट की 'घर वापसी' के बाद अब अशोक गहलोत खेमा नाराज, 10 बड़ी बातें

    राजस्थान : खत्म नहीं हुई खटास, सचिन पायलट की 'घर वापसी' के बाद अब अशोक गहलोत खेमा नाराज, 10 बड़ी बातें

    कांग्रेस आलाकमान के दखल के बाद राजस्थान का सियासी घमासान (Rajasthan Political Crisis) तो सुलझ गया लेकिन कांग्रेस के विधायकों की नाराजगी अभी बरकरार है. मंगलवार को जैसलमेर में गहलोत समर्थक विधायकों (Gehlot Camp MLA) की मीटिंग में इसका नजारा देखने को मिला. ऐसे में आज का दिन कांग्रेस के लिए बेहद महत्वपूर्ण है. पायलट और गहलोत खेमे के विधायक आज विधायक दल (CLP) की बैठक में आमने सामने होंगे.ऐसे में देखना दिलचस्प होगा कि क्या इस बैठक में हंगामा होता है या फिर गिले शिकवे मिटाकर गहलोत और पायलट एक दूसरे को गले लगाते हैं. वहीं इससे पहले कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने मंगलवार को कहा था कि उन्होंने पार्टी से किसी पद की मांग नहीं की है लेकिन वह चाहते हैं कि उनके साथ आवाज उठाने वाले विधायकों के खिलाफ कोई द्वेषपूर्ण कार्रवाई नहीं हो. अपने बगावती व्यवहार से राज्य की राजनीति में घमासान मचाने के बीच लगभग एक महीने बाद जयपुर लौटे पायलट ने उम्मीद जताई कि पार्टी आलाकमान द्वारा गठित तीन सदस्यीय समिति जल्द ही अपना काम शुरू करेगी.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com