NDTV Khabar

Sachin Pilot


'Sachin Pilot' - 175 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • राजस्थान में सियासी संकट को लेकर कांग्रेस का BJP पर हमला- 'पूरा देश कोरोना से त्रस्त है और सत्ताधारी दल...' 

    राजस्थान में सियासी संकट को लेकर कांग्रेस का BJP पर हमला- 'पूरा देश कोरोना से त्रस्त है और सत्ताधारी दल...' 

    Rajasthan Political Crisis: राजस्थान में जारी सियासी संकट को लेकर कांग्रेस (Congress) ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर हमला बोला है. सुरजेवाला ने ट्वीट किया, 'कोरोना से पूरा देश त्रस्त है, प्रतिदिन संक्रमण बढ़ कर 29,000 हो गया है, चीन ने हमारी सरज़मीं पर क़ब्ज़ा किया है और सत्ताधारी पहले मध्यप्रदेश और अब राजस्थान में विधायक खरीदने में व्यस्त है. समझना ये है हम सबको कि -संकट किसी राज्य पर नहीं, पूरे भारतीय लोकतंत्र पर है.'

  • राजस्थान में सियासी उठापटक के बीच क्या कहते हैं आंकड़े? जानिये किसका पलड़ा है भारी...

    राजस्थान में सियासी उठापटक के बीच क्या कहते हैं आंकड़े? जानिये किसका पलड़ा है भारी...

    कांग्रेस में यह संकट 19 जून को राज्यसभा की तीन सीटों के लिए चुनावों की उथलृ-पुथल के एक महीने के भीतर ही आया. गहलोत ने तब कहा था कि बीजेपी उनकी सरकार को गिराने की कोशिश कर रही है. यह सब कुछ मध्य प्रदेश में बीजेपी द्वारा कांग्रेस की सरकार गिराने और ज्योतिरादित्य सिंधिया को अपने पाले में लेने के ठीक तीन महीने बाद आया है.

  • सचिन पायलट ने कहा बहुत हुआ, गहलोत ने बुलाई विधायकों की बैठक, 10 बड़ी बातें

    मध्य प्रदेश और ज्योतिरादित्य सिंधिया को खोने के तीन महीने बाद कांग्रेस राजस्थान में भी गहरे संकट में है. कारण है राज्य में पार्टी के पुराने गार्ड और नए के बीच लंबे समय से चली आ रही खींचतान.  राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट, जो अनुभवी अशोक गहलोत के सामने सीएम पद की दौड़ में हार गए थे वो आजकल  वो बीजेपी के साथ बातचीत कर रहे हैं, ऐसा उनके करीबी सूत्रों ने कहा है. सूत्रों का दावा है कि पायलट को पास 16 विधायकों और तीन निर्दलीय उम्मीदवारों का समर्थन है. सूत्रों का कहना है कि इस बारे में चर्चा लॉकडाउन के पहले से चल रही है. लेकिन हालात तब बिगड़े जब सरकार को अस्थिर करने के आरोपों पर डिप्टी सीएम सचिन पायलट को ही स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप  (एसओजी) ने पूछताछ के लिए समन भेज दिया. बता दें कि एसओजी राजस्थान सरकार के गृह मंत्रालय के अंतर्गत आता है जो कि सीएम गहलोत ही देख रहे हैं. अब सचिन पायलट अपने विश्वासपात्र विधायकों के साथ दिल्ली में हैं. कुछ नेताओं ने कहा कि पायलट एक क्षेत्रीय पार्टी बना सकते हैं, क्योंकि बीजेपी उन्हें मुख्यमंत्री पद का प्रस्ताव देने के लिए तैयार नहीं है. वहीं बीजेपी ने भी पायलट के साथ किसी भी प्रकार की बातचीत से इनकार किया है.

  • राजस्थान में सियासी उठापटक के बीच सचिन पायलट को लेकर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने किया यह ट्वीट...

    राजस्थान में सियासी उठापटक के बीच सचिन पायलट को लेकर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने किया यह ट्वीट...

    Rajasthan Political Crisis: राजस्थान में सियासी उठापटक के बीच सचिन पायलट के पुराने मित्र ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia ) ने ट्वीट कर कांग्रेस और अशोक गहलोत पर निशाना साधा है.

  • राजस्थान में जारी सियासी संकट को लेकर सीएम अशोक गहलोत ने आज रात बुलाई कांग्रेस विधायकों की बैठक

    राजस्थान में जारी सियासी संकट को लेकर सीएम अशोक गहलोत ने आज रात बुलाई कांग्रेस विधायकों की बैठक

    आपको बता दें कि ऐसा ही आरोप राज्यसभा की दो सीटों के लिए हुए चुनाव के समय भी लगे थे. जिसकी जांच के लिए सीएम गहलोत ने एसओजी का गठन किया था. एसओजी 3 निर्दलीय विधायकों को पूछताछ के लिए बुलाया. साथ ही 10 जून को उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट को भी समन भेज दिया.

  • सचिन पायलट के दिल्ली पहुंचने पर अशोक गहलोत की प्रतिक्रिया, कहा- इस ढंग से पेश करना सही नहीं

    सचिन पायलट के दिल्ली पहुंचने पर अशोक गहलोत की प्रतिक्रिया, कहा- इस ढंग से पेश करना सही नहीं

    उन्होंने ट्वीट करके कहा कि एसओजी को जो कांग्रेस विधायक दल ने बीजेपी नेताओं द्वारा खरीद-फरोख्त की शिकायत की थी उस संदर्भ में मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री, चीफ व्हिप एवम अन्य कुछ मंत्री व विधायकों को सामान्य बयान देने के लिए नोटिस आए हैं। कुछ मीडिया द्वारा उसको अलग ढंग से प्रस्तुत करना उचित नहीं है।

  • 5 प्वाइंट्स में समझिए, सचिन पायलट और बीजेपी के बीच हो रही चर्चा के बारे में: सूत्र

    5 प्वाइंट्स में समझिए, सचिन पायलट और बीजेपी के बीच हो रही चर्चा के बारे में: सूत्र

    अशोक गहलोत सरकार द्वारा उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट को ही एटीएस और एसओजी की ओर से पूछताछ का नोटिस भेज दिया गया था. सूत्रों के अनुसार इस बात से नाराज सचिन पायलट दिल्ली की चौखट पर पहुंच चुके हैं. सूत्रों के अनुसार सचिन बीजेपी के भी संपर्क में भी हैं और बातचीत का सिलसिला तेज हो रहा है. ऐसे में यह जानना जरूरी हो जाता है कि सचिन पायलट और बीजेपी के कब से बात हो रही है और कहां आकर मामला अटक गया है. 

  • क्या सचिन पायलट भी सिंधिया के रास्ते पर जाने को तैयार हैं? जानिए उनके बारे में 5 बड़ी बातें

    क्या सचिन पायलट भी सिंधिया के रास्ते पर जाने को तैयार हैं? जानिए उनके बारे में 5 बड़ी बातें

    राजस्थान में सीएम अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट के बीच लड़ाई ऐसा लग रहा है कि अंतिम दौर में पहुंच गई है. राजस्थान में सरकार को अस्थिर करने के मामले में एटीएस (एंटी टेरर स्क्वाएड ) और एसओजी की ओर से सचिन पायलट को नोटिस भेजा गया है. इसके बाद से सचिन पायलट काफी नाराज हो गए. उनके समर्थकों का कहना है कि यह सिर्फ सचिन पायलट को प्रताड़ित करने के लिए किया जा रहा है क्योंकि राजस्थान में गृह मंत्रालय भी अशोक गहलोत के ही हाथ है और एसओजी उन्हीं के अधीन आता है. गहलोत ने एसओजी का गठन विधायकों की खरीद-फरोख्त मामले की जांच के लिए गठित किया है. हालांकि इसमें सीएम अशोक गहलोत भी पूछताछ के लिए शामिल हो सकते हैं. हालांकि इसे बात को सचिन पायलट के समर्थक ज्यादा तवज्जो नहीं दे रहे हैं. वहीं सूत्रों का दावा है कि सचिन पायलट के पास 19 विधायकों का समर्थन है और वह बीजेपी के संपर्क हैं.

  • बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं के संपर्क में सचिन पायलट, 19 विधायकों के समर्थन का दावा - सूत्र

    बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं के संपर्क में सचिन पायलट, 19 विधायकों के समर्थन का दावा - सूत्र

    राजस्थान में अशोक गहलोत पर संकट और गहरा गया है. सूत्रों के हवाले से खबर मिल रही है कि सचिन पायलट दिल्ली में हैं और वह बीजेपी के नेताओं के संपर्क में है.सचिन पायलट का दावा है कि उनके पास 16 कांग्रेस और 3 निर्दलीय विधायकों का समर्थन है.

  • राजस्थान के सियासी संकट पर कपिल सिब्बल का ट्वीट, इशारों-इशारों में दी अपनी पार्टी को नसीहत

    राजस्थान के सियासी संकट पर कपिल सिब्बल का ट्वीट, इशारों-इशारों में दी अपनी पार्टी को नसीहत

    राजस्थान में गहलोत सरकार पर संकट मंडराते हुए देख कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल (Kapil Sibal) ने चिंता जाहिर की है. उन्होंने ट्विटर पर राजस्थान सरकार का जिक्र किए बगैर इशारों-इशारों में ट्वीट किया है.

  • राजस्थान: सरकार को अस्थिर करने के मामले में सचिन पायलट को पूछताछ का नोटिस, कांग्रेस आलाकमान CM गहलोत से नाराज

    राजस्थान: सरकार को अस्थिर करने के मामले में सचिन पायलट को पूछताछ का नोटिस, कांग्रेस आलाकमान CM गहलोत से नाराज

    राजस्थान में सियासी संकट उस समय बढ़ गया जब विधायकों की खरीद-फरोख्त के मामले में उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट को ही एटीएस और एसओजी की ओर से पूछताछ का नोटिस भेज दिया गया. सचिन पायलट अपनी सरकार के इस कदम से काफी नाराज हो गए हैं. सीएम अशोक गहलोत ने शनिवार को ही प्रेस कॉन्फ्रेंस करके आरोप लगाया था कि उनके विधायकों को लालच देकर सरकार को अस्थिर करने की कोशिश की जा रही है.  आपको बता दें सीएम गहलोत ने इस मामले की जांच के लिए एसओजी का गठन किया था और जो उनके ही अधीन है. इसलिए ये नोटिस एक तरह से दोनों के बीच चल रहे छत्तीस के आंकड़ों का नतीजा माना जा रहा है. हालांकि इस मामले में सीएम गहलोत से पूछताछ हो सकती है लेकिन इस बात को ज्यादा तवज्जो नहीं दे रही है.  

  • कैबिनेट की बैठक छोड़ सचिन पायलट दिल्ली में, राजस्थान में राजनीतिक उठा-पटक की 'क्रोनोलॉजी समझिए' 8 प्वाइंट में

    कैबिनेट की बैठक छोड़ सचिन पायलट दिल्ली में, राजस्थान में राजनीतिक उठा-पटक की 'क्रोनोलॉजी समझिए' 8 प्वाइंट में

    राजस्थान में राजनीतिक माहौल गरमा रहा है. ऐसा अंदाजा लगाया जा रहा है कि राजस्थान के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट भी मध्य प्रदेश के नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया की राह जाते दिखाई दे रहे हैं. दरअसल यह मामला उस समय गरमा गया है जब सीएम अशोक गहलोत ने आरोप लगाया कि उनकी सरकार को अस्थिर करने की कोशिश की जा रही है. एसओजी और भ्रष्टाचार निरोधक टीम ने 3 निर्दलीय विधायकों को पूछताछ के लिए बुलाया है. इसके बाद से ये हलचल तेज हो गई है. इस बीच खबर आई है कि सचिन पायलट कैबिनेट की बैठक में हिस्सा न लेते हुए दिल्ली पहुंच गए हैं और उनके साथ कुछ विधायक भी हैं. बताया जा रहा है कि अब वह आलाकमान से मिलकर मामले को निपटाने के मूड में हैं.

  • राजस्थान में सियासी उठापटक के बीच सचिन पायलट अपने विधायकों संग पहुंचे दिल्ली

    राजस्थान में सियासी उठापटक के बीच सचिन पायलट अपने विधायकों संग पहुंचे दिल्ली

    सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सोनिया गांधी और राहुल गांधी को पूरे मामले के बारे में बताया जा चुका है. पार्टी के एक सीनियर लीडर ने कहा कि हम तैयार हैं और मध्य प्रदेश जैसी स्थिति दोहराने नहीं देंगे. वहीं सोनिया गांधी ने इस मामले को संज्ञान लिया है. 

  • Rajasthan Live Updates: अपने विधायकों संग दिल्ली पहुंचे सचिन पायलट

    Rajasthan Live Updates: अपने विधायकों संग दिल्ली पहुंचे सचिन पायलट

    Rajasthan Live Updates: राजस्थान में जारी सियासी उठापटक के बीच उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट अपने विधायकों के साथ दिल्ली पहुंच चुके हैं. जानकारी के अनुसार सचिन पायलट पार्टी आलाकमान के साथ मीटिंग करेंगे. सूत्रों के हवाले से यह जानकारी मिली है. वहीं अशोक गहलतो ने कल बीजेपी पर आरोप लगाए थे कि राजस्थान की सरकार को गिराने की कोशिश की जा रही है. 

  • क्या राजस्थान सरकार संकट में है? इस सवाल ने कहां से और कैसे पकड़ा तूल

    क्या राजस्थान सरकार संकट में है? इस सवाल ने कहां से और कैसे पकड़ा तूल

    मध्य प्रदेश में सरकार गंवाने के बाद अब राजस्थान में उथल-पुथल मची हुई है. सीएम अशोक गहलोत ने आरोप लगाया है कि बीजेपी उनकी सरकार गिराने की कोशिश कर रही है. मुख्यमंत्री गहलोत का दावा है कि विधायकों को 'अपनी निष्ठा बदलने के लिए' 10 से 15 करोड़ रुपये तक की पेशकश की जा रही है. राजस्थान के सीएम ने कहा, "मैं चाहता हूं कि पूरा देश जाने की बीजेपी अब अपनी सारी सीमाएं पार कर रही है. वह मेरी सरकार को गिराने की कोशिश कर रही है." गहलोत ने आगे कहा, "हम विधायकों को पाला बदलने के लिए ऑफर देने की बात सुनते रहे हैं. कुछ लोगों को 15 करोड़ रुपये तक देने का वादा किया गया है और कुछ को अन्य प्रलोभन देने की बात कही गई है. यह लगातार हो रहा है'.  

  • राजस्थान के डिप्टी सीएम सचिन पायलट बोले, 'राज्यसभा चुनाव में दोनों उम्मीदवारों की जीत से स्पष्ट हो गया कि...'

    राजस्थान के डिप्टी सीएम सचिन पायलट बोले, 'राज्यसभा चुनाव में दोनों उम्मीदवारों की जीत से स्पष्ट हो गया कि...'

    राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने मंगलवार को कहा कि हाल ही में सम्पन्न राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस के दोनों उम्मीदवारों की जीत से यह स्पष्ट हो गया है चुनाव से पहले जो भी कुछ गया उसका कोई औचित्य नहीं था.

  • राज्यसभा चुनाव से पहले राजस्थान में चल रही उथल-पुथल के बीच सचिन पायलट का आया यह बयान...

    राज्यसभा चुनाव से पहले राजस्थान में चल रही उथल-पुथल के बीच सचिन पायलट का आया यह बयान...

    प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सहप्रभारी विवेक बंसल ने कहा कि राज्य में स्थिति संतोषजनक है. उन्होंने बताया कि बुधवार को हुई बैठक में लगभग 107 विधायकों ने भाग लिया था और बृहस्पतिवार शाम को एक और बैठक बुलाई गई है जिसमें राज्यसभा चुनाव के लिए दोनों उम्मीदवार और अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव और प्रभारी अविनाश पांडे भी मौजूद रहेंगे.

  • राज्यसभा चुनाव के लिए बहुमत को लेकर चिंता की जरूरत नहीं : सचिन पायलट

    राज्यसभा चुनाव के लिए बहुमत को लेकर चिंता की जरूरत नहीं : सचिन पायलट

    राजस्थान से राज्यसभा की तीन सीटों को लेकर चुनाव के बारे में राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एवं उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने मंगलवार को कहा कि बहुमत को लेकर किसी को चिंता करने की जरूरत नहीं है. उन्होंने कहा, ‘‘मतदाता इस बात को समझता है कि बहुमत किसके पास है, अब बेवजह भ्रम फैलाकर कोई अगर.. भ्रम पैदा करना चाहता है तो उसका कोई मतलब नहीं है, बहुमत किसके पास है, हम सब जानते हैं, किसी को चिंता करने की जरूरत नहीं है.’’ 

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com