NDTV Khabar

Shiv Vihar


'Shiv Vihar' - 8 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • दिल्ली हिंसा : GTB अस्पताल में वो 5 दिन....

    दिल्ली हिंसा : GTB अस्पताल में वो 5 दिन....

    इमरजेंसी के बाहर खड़े होकर लाइव करने के दौरान ऐंबुलेंस और पुलिस जिप्सी की आवाजाही बढ़ती जा रही थी. कोई अपनों को स्कूटी पर ला रहा था तो कोई ई रिक्शा से. कुछ लोगों को ऐंबुलेंस तो कुछ को पुलिस जिप्सी में ला रही थी. जिस दंगे को कुछ देर पहले मैं रुटीन बवाल मान रहा था अब दिल दहलाने वाली घटना में तेजी से बदलती जा रहा था.

  • दंगे सिर्फ़ मुहल्ला नहीं जलाते, आपसी भरोसा भी राख हो जाता है

    दंगे सिर्फ़ मुहल्ला नहीं जलाते, आपसी भरोसा भी राख हो जाता है

    उत्तर-पूर्वी दिल्ली में दंगा फैला तो मेरे पास भी मां-पापा और कुछ रिश्तेदार और दोस्तों के फ़ोन आना शुरू हो गए. चूंकि मैं पूर्वी दिल्ली में रहता हूं तो फ़ोन करने वाले स्वाभाविक रूप से टीवी और अख़बारों की ख़बरों से परेशान थे, फिर मेरा हालचाल जाना तो उन्हें इत्मिनान हुआ, हालांकि वो कई बार पूछते रहे कि सच-सच बताओ कि सब ठीक है.

  • दिल्ली दंगा- बेकरी से लेकर रेडिमेड गारमेन्ट्स को निशाना बनाने की कोशिश

    दिल्ली दंगा- बेकरी से लेकर रेडिमेड  गारमेन्ट्स को निशाना बनाने की कोशिश

    उत्तर पूर्वी दिल्ली की आबादी करीब 26 लाख होनी चाहिए. 23 लाख मतदाता हैं. यहां आबादी की बसावट का पैटर्न इस तरह से नहीं है कि बहुसंख्यक एक जगह बसते हों और अल्पसंख्यकों की बसावट उससे दूर कहीं किसी एक जगह पर हो. उत्तर पूर्वी दिल्ली में एक ही गली में हिन्दू और मुसलमान दोनों हैं. ऐसा भी है कि एक गली में मुसलमान है, तो बगल की गली में हिन्दू हैं. ऐसा है कि दोनों के मोहल्ले कहीं कहीं साफ-साफ अलग-अलग हैं. कुल मिलाकर देखेंगे तो यहां की बसावट मिली जुली बसावट है.

  • Delhi Violence: 60 वर्षीय महिला ने बताया कैसे बची आगजनी से, पहली मंजिल से कूदे बच्‍चे

    Delhi Violence: 60 वर्षीय महिला ने बताया कैसे बची आगजनी से, पहली मंजिल से कूदे बच्‍चे

    शिव विहार की रहने वाली 60 वर्षीय बिल्‍कीस बानो सोमवार को भीड़ के हमले को याद करते हुए अपने आंसू नहीं रोक पातीं. विवादास्‍पद नागरिकता कानून को लेकर दिल्‍ली में हुई हिंसा में सबसे ज्‍यादा प्रभावित शिव विहार ही हुआ है जहां सैकड़ों की संख्‍या में उपद्रवियों की भीड़ ने बिल्‍कीस के घर को भी आग लगा दी. जब हमलावर आए तब वो अपने घर के अंदर ही थी, जहां वो करीब 35 साल से रह रही हैं.

  • 'भूतिया शहर' में तब्‍दील हुआ दिल्‍ली हिंसा में सबसे ज्‍यादा प्रभावित शिव विहार

    'भूतिया शहर' में तब्‍दील हुआ दिल्‍ली हिंसा में सबसे ज्‍यादा प्रभावित शिव विहार

    जले हुए घर, दुकानें, गाड़ियां और वीरान गलियां. कहीं भी कोई नजर नहीं आता. जो कभी उत्तर पूर्वी दिल्‍ली के शिव विहार की सबसे हलचल वाली कॉलोनी हुआ करती थी, अब वो एक भूतिया शहर की तरह हो गई है. तबाही के मंजर देखकर यकीन करना मुश्किल होता है कि यह इस देश की राजधानी का ही कोई मोहल्‍ला है. 24 फरवरी को नागरिकता कानून के विरोधियों और समर्थकों के बीच शुरू हुई हिंसा में सबसे ज्‍यादा प्रभावित शिव विहार ही हुआ.

  • Delhi Violence : शिव विहार में दुकानें लूटीं, मकान जला दिए गए; अब तक खत्म नहीं हुआ डर

    Delhi Violence : शिव विहार में दुकानें लूटीं, मकान जला दिए गए; अब तक खत्म नहीं हुआ डर

    उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा के दौरान दंगाईयों ने भारी उत्पात किया. शिव विहार में कई मकान जला दिए गए और दुकानें लूट ली गईं. यहां के कई लोग अपने घर छोड़कर भाग गए हैं और शहर में अन्य स्थानों पर अपने रिश्तेदारों के घर में शरण लिए हुए हैं.

  • दिल्ली में दंगाइयों ने कर लिया था स्कूल पर कब्जा, किताबें फाड़कर फेकीं, रोते हुए गार्ड ने सुनाई दिल दहला देने वाली कहानी

    दिल्ली में दंगाइयों ने कर लिया था स्कूल पर कब्जा, किताबें फाड़कर फेकीं, रोते हुए गार्ड ने सुनाई दिल दहला देने वाली कहानी

    Delhi Violence: नॉर्थ ईस्ट दिल्ली (North-East Delhi) के शिव विहार (Shiv Vihar) इलाके में हिंसा की कई ऐसी घटनाएं हुई हैं, जिनकी रिपोर्ट नहीं की गई. पुलिस भी गुरुवार की शाम तक ही यहां पहुंच पाई है. दंगाइयों ने एक ही गली के दो स्कूलों पर कब्जा कर लिया.

  • देखें PHOTOS: दिल्ली हिंसा में दंगाइयों ने ब्लैकबोर्ड तोड़ा, लाइब्रेरी जलाई, डेस्क भी तोड़े, स्कूल को फूंक डाला

    देखें PHOTOS: दिल्ली हिंसा में दंगाइयों ने ब्लैकबोर्ड तोड़ा, लाइब्रेरी जलाई, डेस्क भी तोड़े, स्कूल को फूंक डाला

    नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के शिव विहार इलाके में हिंसा की कई ऐसी घटनाएं हुई हैं, जिनकी रिपोर्ट नहीं की गई. पुलिस भी गुरुवार की शाम तक ही यहां पहुंच पाई है. करीब एक हजार बच्चों वाली 10वीं तक के डीआरपी कॉन्वेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल को लूटा गया और फिर जलाकर राख कर दिया गया. यहां स्कूल के बगल की इमारत से रस्सियां भी लटक रही हैं, जहां से दंगाई उतरे हैं. इतना ही नहीं एक ऐसी तस्वीर सामने आई है, जिसे देखकर हर कोई हैरान रह जाएगा.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com