NDTV Khabar

Today in history


'Today in history' - 97 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • 22 जुलाई का इतिहास : चंद्रयान-2 आज ही के दिन हुआ था लॉन्च, वैज्ञानिकों के लिए है खास दिन

    22 जुलाई का इतिहास : चंद्रयान-2 आज ही के दिन हुआ था लॉन्च, वैज्ञानिकों के लिए है खास दिन

    अंतरिक्ष की गहराइयों और चांद-तारों की चाल पर नजर रखने वालों के लिए पिछले वर्ष 22 जुलाई दिन इतिहास में एक बड़ी घटना के साथ दर्ज है. दरअसल 2019 को आज ही के दिन चंद्रमा के अनछुए पहलुओं का पता लगाने के लिए चंद्रयान-2 को श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र (एसडीएससी) से शान के साथ रवाना किया गया. इसे ‘बाहुबली’ नाम के सबसे ताकतवर और विशाल राकेट जीएसएलवी-मार्क ।।। के जरिए प्रक्षेपित किया गया. इसे देश के अंतरिक्ष इतिहास की एक बड़ी उपलब्धि के तौर पर देखा गया.

  • कानपुर : यूपी पुलिस के आठ लोगों को मारने वाला विकास दुबे कैसे बना अगड़ों की राजनीति का 'हथियार', जानें History-Sheet

    कानपुर : यूपी पुलिस के आठ लोगों को मारने वाला विकास दुबे कैसे बना अगड़ों की राजनीति का 'हथियार', जानें History-Sheet

    उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले के गांव में डिकरू में बीती रात 8 पुलिसकर्मियों पर घात लगाकर हुई हत्या के मामले में जानकारी मिल रही है कि हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के 2 गुर्गों को भी मार गिराया गया है. हालांकि अभी तक इस मामले की पूरी तरह से पुष्टि नहीं हो पाई है. पास से एक हथियार बरामद हुआ है.  वहीं इस पूरे मामले के सरगना विकास दुबे की तलाश में एक सघन तलाशी अभियान शुरू कर दिया है  घटना स्थल पर एक यूपी पुलिस के आलाधिकारी और फॉरेंसिंक टीम भी मौजूद है और साथ ही वहां पर एसटीएफ भी तैनात कर दी गई है. बात करें हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की तो उसका एक लंबा आपराधिक इतिहास है. साल 2001 में उसके खिलाफ बीजेपी नेता की हत्या का भी मामला दर्ज हुआ था लेकिन इस मामले में उसको सजा नहीं हो पाई थी. वहीं हाल में उसके खिलाफ एक और मामला दर्ज हुआ था और इसी मामले में उसे गिरफ्तार करने के लिए पुलिस की भारी-भरकम टीम गांव गई थी. 

  • 30 जून का इतिहास: इसी दिन कॉमिक बुक्स के पन्नों पर पहली बार नजर आया था Superman

    30 जून का इतिहास: इसी दिन कॉमिक बुक्स के पन्नों पर पहली बार नजर आया था Superman

    Today In History: साल के छठे महीने का अंतिम दिन यानी 30 जून आने के साथ ही हम इस वर्ष का आधा सफर पूरा कर चुके हैं. साल का 181वां दिन देश दुनिया के इतिहास में बहुत सी घटनाओं के साथ दर्ज है. वह 1938 में 30 जून का ही दिन था जब बच्चों के सबसे पसंदीदा कार्टून चरित्रों में शुमार सुपरमैन पहली बार कॉमिक्स के पन्नों पर नजर आया था. उसके बाद सुपरमैन दुनियाभर के बच्चों का पसंदीदा किरदार बन गया. 

  • Today In History: इतिहास के पन्नों में आज की तारीख यानी 14 जून का महत्व

    Today In History:  इतिहास के पन्नों में आज की तारीख यानी 14 जून का महत्व

    राजनीति के मैदान के धुरंधरों की बात करें तो अमेरिका के मौजूदा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का जन्म भी 14 जून को ही हुआ था और अर्जेंटीना के क्रांतिकारी नेता चेग्वेरा का जन्मदिन भी 14 जून ही है.

  • 25 मई का इतिहास: आज ही के दिन हुआ था शहजादे सलीम और नूरजहां का निकाह

    25 मई का इतिहास: आज ही के दिन हुआ था शहजादे सलीम और नूरजहां का निकाह

    2013 में वह 25 मई का ही दिन था, जब 80 वर्ष के एक जापानी पर्वतारोही ने सबसे अधिक उम्र में दुनिया के सबसे ऊंचे पर्वत शिखर एवरेस्ट पर चढ़ने का रिकॉर्ड अपने नाम किया. देश दुनिया के इतिहास में 25 मई की तारीख पर दर्ज अन्य प्रमुख घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा इस प्रकार है:

  • आज का इतिहास (Today in History): जानें 17 मई की तारीख क्यों है भारत के लिए अहम

    आज का इतिहास (Today in History): जानें 17 मई की तारीख क्यों है भारत के लिए अहम

    इतिहास में कई ऐसे नाम दर्ज हैं जो किसी एक देश के नहीं बल्कि सारी दुनिया में चाहे और सराहे जाते हैं. चार्ली चैपलिन भी उनमें से एक हैं. बहुत कम लोगों को मालूम होगा कि दुनिया को हंसाने वाले चार्ली चैपलिन की मौत के बाद कुछ चोर उनकी कब्र खोदकर ताबूत निकाल ले गए और उनके परिवार से ताबूत के बदले में चार लाख पाउंड की मांग की.

  • 15 मई, आज का इतिहास (Today in History) : सेना की बगावत के बाद दिल्ली के सुल्तान की हुई थी हत्या

    15 मई, आज का इतिहास (Today in History) : सेना की बगावत के बाद दिल्ली के सुल्तान की हुई थी हत्या

    Today in History: 15 मई की तारीख काफी अहम है. आज ही के दिन साल 1242 में दिल्ली के सुलतान मुइजुद्दीन बहराम शाह की सेना ने विद्रोह कर दिया और सुलतान की हत्या कर दी थी. साल 1957 में ब्रिटेन के सप्लाई मंत्रालय ने घोषणा की कि प्रशांत महासागर में किए गए श्रृखंलाबद्ध परीक्षणों के अंतर्गत पहले हाइड्रोजन बम का परीक्षण किया गया. साल 2002 में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने इराक पर प्रतिबंधों का अनुमोदन किया था. पूरी दुनिया में मैक-चिकन, मैक-आलू टिक्की और पनीर रैप और फास्ट-फूड को आप तक पहुंचाने वाली फास्ट फूड चेन मैकडोनाल्ड्स की शुरूआत 15 मई को ही हुई थी. रिचर्ड और मौरिस मैकडॉनल्ड्स नाम के दो भाइयों ने 15 मई 1940 को कैलिफोर्निया के सैन बर्नार्डीनो में छोटा सा रेस्तरां खोला था। आज वही छोटा सा रेस्तरां दुनिया की सबसे बड़ी फास्ट फूड चेन बन चुका है। 100 से ज्यादा देशों में इसके 35,000 से ज्यादा आउटलेट्स हैं. इसके अलावा बॉलीवुड की धक-धक गर्ल माधुरी दीक्षित का जन्म भी 15 मई के दिन ही हुआ है.

  • 25 मार्च का इतिहास: आज ही के दिन भारतीय भाषा में छपा था पहला विज्ञापन

    25 मार्च का इतिहास: आज ही के दिन भारतीय भाषा में छपा था पहला विज्ञापन

    आजकल अगर अखबारों को देखें तो उनमें हर तरफ विज्ञापनों की भरमार रहती है और यह विज्ञापन अखबार मालिकों के लिए राजस्व का एक बड़ा जरिया होते हैं. अब सवाल यह पैदा होता है कि पहला विज्ञापन कब और कहां प्रकाशित हुआ होगा. भारत में वह 25 अप्रैल 1788 का दिन था जब कलकत्ता गजट में भारतीय भाषा में पहला विज्ञापन प्रकाशित हुआ.

  • 5 मार्च का इतिहास: कई अच्छी बुरी घटनाओं के नाम दर्ज है आज का दिन

    5 मार्च का इतिहास: कई अच्छी बुरी घटनाओं के नाम दर्ज है आज का दिन

    5 मार्च का दिन ग्रेगोरी कैलंडर के अनुसार वर्ष का 64वां दिन है. लीप वर्ष होने पर यह साल का 65वां दिन होगा. अभी साल में 301 दिन बाकी हैं. यह दिन भी साल के बाकी दिनों की तरह ही कई अच्छी बुरी घटनाओं के साथ इतिहास के पन्नों में दर्ज है.

  • 2 मार्च का इतिहास: आज है द नाइटिंगेल ऑफ इंडिया के नाम से प्रसिद्ध सरोजिनी नायडू की पुण्यतिथि

    2 मार्च का इतिहास: आज है द नाइटिंगेल ऑफ इंडिया के नाम से प्रसिद्ध सरोजिनी नायडू की पुण्यतिथि

    इतिहास में दो मार्च 1949 का दिन सरोजिनी नायडू की पुण्यतिथि के रूप में दर्ज है. राजनीतिक कार्यकर्ता, महिला अधिकारों की समर्थक, स्वतंत्रता सेनानी और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की पहली भारतीय महिला अध्यक्ष सरोजिनी नायडू को उनकी प्रभावी वाणी और ओजपूर्ण लेखनी के कारण ‘‘नाइटिंगेल ऑफ इंडिया'' कहा जाता था. today in history sarojini naidu death anniversary check other important events

  • 1 मार्च का इतिहास: आज ही के दिन पहली बार हुआ थ हाइड्रोजन बम का परीक्षण

    1 मार्च का इतिहास: आज ही के दिन पहली बार हुआ थ हाइड्रोजन बम का परीक्षण

    इतिहास में साल का हर दिन किसी अच्छी या बुरी घटना के साथ दर्ज है. एक मार्च साल के तीसरे महीने का पहला दिन है और यह दुनिया में पहले हाइड्रोजन बम के परीक्षण के दिन के तौर पर इतिहास में दर्ज है. एक मार्च 1954 को अमेरिका ने हाइड्रोजन बम का परीक्षण किया और यह मानव इतिहास में उस समय तक का सबसे बड़ा विस्फोट था.

  • 26 फरवरी का इतिहास: आज की तारीख पर दर्ज हैं देश और दुनिया की ये महत्वपूर्ण घटनाएं

    26 फरवरी का इतिहास: आज की तारीख पर दर्ज हैं देश और दुनिया की ये महत्वपूर्ण घटनाएं

    व्यापारी के रूप में भारत में आए अंग्रेजों ने धीरे धीरे जिस बर्बर और घृणित तरीके से अपनी साम्राज्यवादी चालों को आकार देना शुरू किया, उसका समाज के प्रत्येक वर्ग ने अपने अपने तरीके से विरोध किया. अंतत: यही असंतोष 1857 के जन विद्रोह के रूप में सामने आया, जिसने अंग्रेजी शासन की जड़ों पर प्रहार किया.

  • 24 फरवरी का इतिहास: आज है एप्पल की नींव रखने वाले स्टीव जॉब्स की बर्थ एनिवर्सरी

    24 फरवरी का इतिहास: आज है एप्पल की नींव रखने वाले स्टीव जॉब्स की बर्थ एनिवर्सरी

    इतिहास में 24 फरवरी की तारीख स्टीव जॉब्स के जन्मदिन के रूप में दर्ज है, जिन्होंने एप्पल के सह संस्थापक के तौर पर इतिहास में अपना नाम दर्ज कराया. अपनी मिनी बस और दोस्त का कुछ सामान बेचकर एक गैराज में अपने दो दोस्तों के साथ कंपनी शुरू करने वाले जॉब्स ने कंप्यूटर से लेकर मोबाइल फोन तक का निर्माण शुरू किया और इन दोनों उत्पादों को देखने का पूरी दुनिया का नजरिया बदलकर रख दिया.

  • 23 फरवरी का इतिहास: आज ही के दिन मधुबाला ने दुनिया को कहा था अलविदा

    23 फरवरी का इतिहास: आज ही के दिन मधुबाला ने दुनिया को कहा था अलविदा

    किसी खूबसूरत चेहरे को देखते ही बेसाख्ता मुंह से निकल पड़ता है कि इसे ऊपर वाले ने फुरसत में बनाया है. हिंदी फिल्मों की सबसे हसीन अदाकारा मधुबाला के बारे में बेशक यह बात कही जा सकती है. मधुबाला ने हर तरह की फिल्मों में अपनी खूबसूरती और अदाकारी का जलवा बिखेरा. फिर चाहे वह मुगलिया सजधज वाली ‘मुगले आजम' हो या फिर किशोर कुमार और बंधुओं के हास्य से भरी ‘चलती का नाम गाड़ी', मधुबाला के दिलकश और शोख अंदाज ने इन्हें यादगार बना दिया.

  • 20 फरवरी का इतिहास: रेलवे ने आज ही दिन शुरू की थी कंप्यूटर से टिकट आरक्षण प्रणाली की शुरूआत

    20 फरवरी का इतिहास: रेलवे ने आज ही दिन शुरू की थी कंप्यूटर से टिकट आरक्षण प्रणाली की शुरूआत

    कंप्यूटर को मानव इतिहास के चंद सबसे महत्वपूर्ण अविष्कारों में शुमार किया जाता है. इसके होने से हजारों लाखों आंकड़ों का संकलन और संचालन बड़ी सहजता से हो जाता है. भारतीय रेलवे ने 20 फरवरी 1986 को कंप्यूटर से रेलवे टिकट आरक्षण प्रणाली की शुरूआत की.

  • 19 फरवरी का इतिहास: आज की तारीख पर दर्ज हैं ये महत्वपूर्ण घटनाएं, बढ़ाएं अपनी नॉलेज

    19 फरवरी का इतिहास: आज की तारीख पर दर्ज हैं ये महत्वपूर्ण घटनाएं, बढ़ाएं अपनी नॉलेज

    कुछ लोगों में कुछ ऐसी विलक्षण प्रतिभा होती है, जो उन्हें बाकी सबसे अलहदा और खास बना देती है. अपनी सधी उंगलियों से पत्थर और मिट्टी में प्राण फूंकने वाले देश के महान शिल्पकार राम वी सुतार भी एक ऐसी ही शख्सियत हैं. वह ऐसी खूबसूरत प्रतिमाएं गढ़ते हैं कि डीलडौल से लेकर चेहरे के भाव तक सब मानो सजीव सा जान पड़ता है. गुजरात में सरदार वल्लभ भाई पटेल की विशाल प्रतिमा का मूल स्वरूप भी इस महान शिल्पकार ने तैयार किया है.

  • 18 फरवरी का इतिहास: आज ही के दिन हुई थी प्लूटो ग्रह की खोज, 11वीं की स्टूडेंट ने दिया था नाम

    18 फरवरी का इतिहास: आज ही के दिन हुई थी प्लूटो ग्रह की खोज, 11वीं की स्टूडेंट ने दिया था नाम

    हर दिन कुछ नया करने और कुछ अनोखा खोजने के इच्छुक लोगों की दुनिया में कमी नहीं है. 18 फरवरी 1930 को ऐसे ही एक जिज्ञासु अमेरिकी वैज्ञानिक क्लाइड टॉमबा ने एक बौने ग्रह की खोज की थी. पहले इसे ग्रह मान लिया गया था, लेकिन बाद में इसे ग्रहों के परिवार से बाहर कर दिया गया. इस ग्रह का नाम रखने के लिए सुझाव मांगे गए तो 11वीं में पढ़ने वाली एक लड़की ने इसे प्लूटो नाम दिया.

  • आज का इतिहास: आज की तारीख पर दर्ज हैं कई महत्वपूर्ण घटनाएं, बढ़ाएं अपनी जनरल नॉलेज

    आज का इतिहास: आज की तारीख पर दर्ज हैं कई महत्वपूर्ण घटनाएं, बढ़ाएं अपनी जनरल नॉलेज

    साल के दूसरे महीने के दो पखवाड़े गुजर चुके हैं और तीसरे पखवाड़े का पहला दिन इतिहास में कई बड़ी हस्तियों के नाम के साथ दर्ज है. यही वह दिन है जब 1959 में फिदेल कास्त्रो ने क्यूबा का शासन अपने हाथ में लिया. हिंदी सिनेमा के पितामह दादा साहब फाल्के का निधन 1944 में आज ही के दिन हुआ. हिंदी के प्रख्यात लेखक सूर्यकांत त्रिपाठी निराला और बांग्ला साहित्य के प्रतिष्ठित नाम शरत चंद्र चट्टोपाध्याय का जन्मदिन भी 16 फरवरी ही है.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com