'Trust vote' - 61 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • India | शुक्रवार अगस्त 14, 2020 05:42 PM IST
    Rajasthan Floor Test: करीब एक महीने तक चली सियासी खींचतान (Rajasthan Crisis) और बगावत के थमने के बाद राजस्थान विधानसभा में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के नेतृत्‍व वाली कांग्रेस सरकार ने आज बहुमत साबित कर दिया है. मुख्यमंत्री गहलोत और पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के बीच सुलह के बाद विश्वास प्रस्ताव (Confidence Motion) पेश किया गया. शुक्रवार को विधानसभा का सत्र शुरू होने से ठीक पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने ट्वीट में लिखा, "विधानसभा का सत्र आज से शुरू हो गया है. इसमें राजस्थान के लोगों और कांग्रेस विधायकों की एकता की जीत होगी. यह सच की जीत होगी. सत्यमेव जयते." 
  • India | शुक्रवार अगस्त 14, 2020 04:33 PM IST
    Rajasthan Floor Test News: गहलोत ने बहस का जवाब देते हुए कहा कि राजस्थान में फोन टैपिंग की परम्परा नहीं रही. गहलोत ने बीजेपी पर बरसते हुए कहा, "आपकी पार्टी और आपके हाईकमान का षड्यंत्र था, सरकार गिराने का षड्यंत्र था, पूरे देश में नंगा नाच चल रहा, देश में लोकतंत्र खतरे में, केवल 2 लोग राज कर रहे हैं.
  • India | शुक्रवार अगस्त 14, 2020 04:47 PM IST
    सरकार की ओर से संसदीय कार्यमंत्री शांति धारीवाल ने विश्‍वास प्रस्ताव पेश किया किया. प्रस्ताव पर बहस की शुरुआत करते हुए धारीवाल ने कहा कि केंद्र की सरकार के इशारों पर मध्य प्रदेश व गोवा में चुनी हुई सरकारों को गिराया गया है. धारीवाल ने कहा कि धन बल व सत्ता बल से सरकारें गिराने की यह साजिश राजस्थान में कामयाब नहीं हो पाई.
  • India | शुक्रवार अगस्त 14, 2020 09:03 AM IST
    राजस्थान कांग्रेस में चली महीने भर की खींचतान के बाद अब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत शुक्रवार से शुरू हो रही विधानसभा के विशेष सत्र में भारतीय जनता पार्टी की चुनौती का सामना कर रहे हैं. बीजेपी ने गुरुवार को घोषणा की थी कि पार्टी गहलोत सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लेकर आएंगी. यानी अब गहलोत को सदन में अपना बहुमत साबित करना होगा. गहलोत शुरू से ही दावा करते रहे हैं कि उनके पास बहुमत का आंकड़ा है. यहां तक कि सचिन पायलट सहित 19 विधायकों के बगावत कर देने के बावजूद भी वो गवर्नर से इस दावे के साथ मिले थे कि उनके पास बहुमत है. लेकिन ये तो तय था कि विधानसभा सत्र शुरू होने के बाद उन्हें अविश्वास प्रस्ताव का सामना करना पड़ सकता है.
  • India | शनिवार नवम्बर 30, 2019 11:25 AM IST
    महाराष्ट्र में प्रोटेम स्पीकर बदले जाने पर बीजेपी अब सुप्रीम कोर्ट जाने की तैयारी कर रही है. महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा है कि कालिदास कोलंबकर को हटाकर दिलीप वाल्से पाटिल को प्रोटेम स्पीकर बनाना कानूनी तौर पर वैध नहीं है इसके साथ ही शपग्रहण भी नियमों के खिलाफ हो रहा है.
  • India | शनिवार नवम्बर 30, 2019 10:17 AM IST
    महाराष्ट्र में प्रोटेम स्पीकर बदले जाने पर पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने Congress-NCP और शिवसेना पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा है कि गुप्त रूप से सदन को क्यों बुलाया जा रहा है. नियमों के खिलाफ प्रोटेम स्पीकर को क्यों बदला जा रहा है. अभी तक विधायकों पर क्यों शक किया जा रहा है? विधायकों को अभी तक क्यों छिपाया जा रहा है? आपको बता दें कि देवेंद्र फडणवीस ने ट्वीट कर निशाना साधा है. उन्होंने आगे कहा कि पहली कैबिनेट में नई सरकार ने किसानों को मदद करने को लेकर चर्चा करने के बजाए इस बात पर मंत्रणा की गई कि सबकी नजरों से बचाकर बहुमत साबित किया जाए.
  • India | शनिवार नवम्बर 30, 2019 08:32 AM IST
    महाराष्ट्र में तीन दलों की गठबंधन सरकार के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे आज विधानसभा में विश्वास मत साबित करेंगे. बहुमत परीक्षण, मंत्रियों के परिचय के बाद होगा. उद्धव ठाकरे ने गुरुवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी. राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने उन्हें बहुमत साबित करने के लिए 3 दिसंबर तक का वक़्त दिया था. बहुमत परीक्षण की प्रक्रिया से पहले एनसीपी विधायक दल की बैठक होगी. ये बैठक दोपहर 12 बजे विधान भवन में होनी है.
  • India | सोमवार जुलाई 29, 2019 05:30 PM IST
    कर्नाटक में बीएस येदियुरप्पा ने आखिरकार विश्वासमत हासिल कर लिया है. सरकार के पक्ष में 105 वोट पड़े हैं जबकि कांग्रेस के पक्ष में 99 वोट पड़े. क्रिकेट की भाषा में कहें तो कांग्रेस 'नर्वस नाइंटीज' का शिकार हो गई है. दरअसल 16 विधायकों को स्पीकर की ओर से अयोग्य घोषित किए जाने के बाद से बीजेपी के लिए राह आसान हो गई थी क्योंकि सदन में बहुमत का आंकड़ा 105 पहुंच गया था. विश्वास मत पर चर्चा के दौरान बीएस येदियुरप्पा ने कहा, ' मैं बदले की राजनीति में शामिल नही हैं. मैं भूलने और माफ करो के सिद्धांत में विश्वास करता हूं. गौरतलब है कि 16 विधायकों का सरकार से समर्थन वापस लेने के बाद राज्य में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की सरकार गिर गई थी. इसके बाद येदियुरप्पा की ओर से सरकार बनाने का दावा पेश किया गया. राज्यपाल की मंजूरी के बाद उन्होंने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली और उन्हें एक हफ्ते का समय दिया गया. वहीं दूसरी ओर से अयोग्य घोषित किए गए विधायकों ने कहा है कि वे स्पीकर के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील करेंगे.
  • India | सोमवार जुलाई 29, 2019 11:39 AM IST
    कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा (BS Yeddyurappa) को आज विधानसभा में बहुमत साबित करना है. जेडीएस और कांग्रेस के 17 बाग़ी विधायकों को अयोग्य क़रार दिए जाने के बाद बहुमत का आंकड़ा 105 रह गया है. अकेले बीजेपी के पास यह आंकड़ा मौजूद है, साथ ही एक निर्दलीय विधायक का भी साथ है. ऐसे में येदियुरप्पा को बहुमत साबित करने में कोई मुश्किल नहीं आएगी. वहीं कांग्रेस और JDS के पास स्पीकर समेत 100 विधायक हैं. बीजेपी ने जेडीएस को बाहर से समर्थन का ऑफ़र भी दिया है साथ ही बीजेपी ने बाग़ी विधायकों को अदालती लड़ाई में समर्थन देने की बात भी कही है. दल-बदल क़ानून के तहत अयोग्य ठहराए गए 17 बाग़ी विधायक स्पीकर के फ़ैसले के ख़िलाफ़ सुप्रीम कोर्ट में गुहार लगा सकते हैं. अयोग्य विधायक अदालत से मामले में जल्द सुनवाई की भी मांग कर सकते हैं.. कर्नाटक विधान सभा अध्यक्ष रमेश कुमार ने दलबदल क़ानून के तहत जेडीएस कॉन्ग्रेस के 14 बचे हुए विधयाको को भी अयोग्य घोषित कर दिया इस तरह सभी 17 बागी विधायक अब कर्नाटक विधान सभा के सदस्य नही रहे. उन्होंने 3 विधायकों को शुक्रवार को निष्कासित किया था.
  • India | रविवार जुलाई 28, 2019 01:02 PM IST
    वहां भले ही बीजेपी ने कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की सरकार गिरा एक बार फिर अपनी सरकार बना ली हो लेकिन इन सब के बावजूद भी वहां राजनीति संकट खत्म होता नहीं दिख रहा है. बता दें, बीएस येदियुरप्पा ने पिछले ही सप्ताह राज्य में नए मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली है. उन्हें 29 जुलाई को बहुमत साबित करना है.़
  • India | गुरुवार जुलाई 25, 2019 09:43 AM IST
    बसपा सुप्रीमो मायावती ने बुधवार को कहा था कि कर्नाटक में जिस तरह सत्ता और धनबल का इस्तेमाल कर विपक्ष की सरकार को गिराने का काम किया गया, वह लोकतंत्र के इतिहास में काले अध्याय के रूप में दर्ज किया जाएगा. उन्होंने कहा, ''कर्नाटक में भाजपा ने संवैधानिक मर्यादाओं को ताक पर रखने के साथ-साथ जिस प्रकार से सत्ता व धनबल का इस्तेमाल करके विपक्ष की सरकार को गिराने का काम किया है, वह लोकतंत्र के इतिहास में काले अध्याय के रूप में दर्ज रहेगा.''
  • India | बुधवार जुलाई 24, 2019 12:00 AM IST
    कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने आरोप लगाया कि भाजपा पिछले दरवाजे से सत्ता तक पहुंचने का प्रयास कर रही है. उन्होंने कहा कि राज्य में 'अनैतिक, अवैध और गैरसंवैधानिक' सरकार आने वाली है.
  • India | मंगलवार जुलाई 23, 2019 11:17 PM IST
    कर्नाटक (Karnataka) का सियासी नाटक अब खत्म हो चुका है. कर्नाटक में बीते कई दिनों से जारी राजनीतिक उठापटक के बीच 14 महीने पुरानी कांग्रेस-जेडीएस (Congress-JDS) सरकार गिर गई. मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी (HD Kumaraswamy) विधानसभा में बहुमत साबित नहीं कर सके. फ्लोर टेस्ट के दौरान सरकार के पक्ष में 99 और विरोध में 105 वोट डाले गए. बता दें कि कर्नाटक के इतिहास में केवल तीन मुख्यमंत्री ही अब तक पांच साल का अपना कार्यकाल पूरा कर पाए हैं.
  • India | मंगलवार जुलाई 23, 2019 11:42 PM IST
    कर्नाटक में कुमारस्वामी सरकार के विश्वास मत के दौरान BSP विधायक के विधानसभा से गैरहाजिर रहने को पार्टी सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने गंभीरता से लेते हुए उन्हें पार्टी से निष्कासित कर दिया है.
  • India | मंगलवार जुलाई 23, 2019 11:05 PM IST
    कांग्रेस-JDS सरकार गिराने के बाद बीजेपी नेता और कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा (BS Yeddyurappa) ने इसे लोकतंत्र की जीत बताया.
  • India | मंगलवार जुलाई 23, 2019 09:54 PM IST
    कर्नाटक का नाटक अब खत्म हो चुका है. कर्नाटक में बीते कई दिनों से जारी राजनीतिक उठापटक के बीच 14 महीने पुरानी कांग्रेस-जेडीएस सरकार गिर गई है. मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी विधानसभा में अपना बहुमत साबित नहीं कर सके. विधानसभा में फ्लोर टेस्ट के दौरान सरकार के पक्ष में 99 और विरोध में 105 वोट डाले गए. 
  • India | मंगलवार जुलाई 23, 2019 09:24 PM IST
    जानकारी के मुताबिक रेड कोर्स स्थित फ्लैट पर दो विधायक ठहरे हुए थे. जहां भारी संख्या में कांग्रेस के कार्यकर्ता पहुंच गए और उन्हें गठबंधन के पक्ष में वोट डालने के लिए जबरन ले जाने लगे. इसी दौरान वहां बीजेपी के कार्यकर्ता पहुंच गए और कांग्रेस कार्यकर्ताओं का विरोध गए. दोनों विधायकों को लेकर दोनों पार्टियों के बीच झड़प तेज होती चली गई.
  • India | मंगलवार जुलाई 23, 2019 08:11 AM IST
    सत्ताधारी गठबंधन के 16 विधायकों द्वारा इस्तीफा दिये जाने के बाद उपजे संकट के बीच शुक्रवार को विश्वास प्रस्ताव लाया गया था. इस्तीफा देने वालों में 13 कांग्रेसी और तीन जद(एस) विधायक थे. एक कांग्रेसी विधायक ने हालांकि बाद में इस्तीफा वापस ले लिया था. रामास्वामी ने कहा, 'इस्तीफा देने वाले विधायक अगर कहते हैं कि उनका कोई निहित स्वार्थ और लालच नहीं है तो उन्हें यह घोषित करने दीजिए कि वे भविष्य में चुनाव नहीं लड़ेंगे.'
और पढ़ें »
'Trust vote' - 31 वीडियो रिजल्ट्स
और देखें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com