NDTV Khabar

UP STF


'UP STF' - 56 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • हाईवे पर लूटपाट और दुष्कर्म के आरोपी के साथ यूपी STF की मुठभेड़, 2 लाख का ईनामी बदमाश ढेर

    हाईवे पर लूटपाट और दुष्कर्म के आरोपी के साथ यूपी STF की मुठभेड़, 2 लाख का ईनामी बदमाश ढेर

    दिनांक 20 जनवरी 2020 को अनिल ने ही अपने साथियों के साथ केएमपी रोड पलवल पर गाड़ी पंक्चर करके सवारियों से लूटपाट की और एक 14 वर्षीय बालक के साथ मिलकर दुष्कर्म किया.

  • बलिया हत्याकांड: बीजेपी कार्यकर्ताओं ने पीड़ित पक्ष पर केस दर्ज नहीं होने पर पार्टी छोड़ने की चेतावनी दी

    बलिया हत्याकांड: बीजेपी कार्यकर्ताओं ने पीड़ित पक्ष पर केस दर्ज नहीं होने पर पार्टी छोड़ने की चेतावनी दी

    Ballia Murder Case: बलिया हत्याकांड के मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह (Dhirendra Singh) को यूपी एसटीएफ (UP STF) ने आज गिरफ्तार कर लिया. उधर बलिया में हत्या के आरोपी के समर्थन में बीजेपी (BJP) कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया. उन्होंने जमकर नारेबाज़ी की. उनकी मांग है कि पीड़ित पक्ष पर भी मुकदमा हो क्योंकि उन्होंने भी मारपीट की थी. अगर मामला दर्ज नहीं हुआ तो वे बीजेपी छोड़ देंगे. पहले पुलिस ने धीरेंद्र सिंह को पकड़कर पिस्टल समेत छोड़ दिया था...लेकिन आज पकड़ा तो नहीं छोड़ा.अब उसे बलिया पुलिस को सौंपा जा रहा है.

  • दिल्ली के महरौली में मुठभेड़ के बाद पुलिस ने ईनामी बदमाश को पकड़ा

    दिल्ली के महरौली में मुठभेड़ के बाद पुलिस ने ईनामी बदमाश को पकड़ा

    जानकारी मिली है कि मुठभेड़ के दौरान दोनों तरफ से 8 राउंड फायरिंग हुई है. ऐसा बताया जा रहा है कि अजमल बाइक पर जा रहा था और उसे रुकने का इशारा किया गया जिसके बाद अजमल ने फायरिंग कर दी.

  • यूपी: मर्डर केस में आरोपी एसपी नहीं उठा रहे फोन, कैसे करें पूछताछ? एडीजी ने देर रात की प्रेस कॉन्फ्रेन्स

    यूपी: मर्डर केस में आरोपी एसपी नहीं उठा रहे फोन, कैसे करें पूछताछ? एडीजी ने देर रात की प्रेस कॉन्फ्रेन्स

    इसी महीने की शुरुआत में 8 सितंबर को जिले के मशहूर खनन व्यापारी इंद्रकांत त्रिपाठी महोबा में बाईवे पर अपनी ऑडी कार में घायल अवस्था में मिले थे. उन्हें गर्दन में गोली लगी थी. कुछ दिनों के इलाज के बाद त्रिपाठी की मौत हो गई थी.

  • फर्जी क्रेडिट कार्ड बनाकर बड़े पैमाने पर बैंकों से ठगी करने वाले गैंग का भंडाफोड़

    फर्जी क्रेडिट कार्ड बनाकर बड़े पैमाने पर बैंकों से ठगी करने वाले गैंग का भंडाफोड़

    यूपी एसटीफ (UP STF) की नोएडा यूनिट ने 20 नोएडा पुलिस (Noida Police) के सहयोग से बैंकों से अच्छे सिबिल रिकॉर्ड धारकों की जानकारी चुराकर फर्जी क्रेडिट कार्ड बनाकर बड़े पैमाने पर बैंकों से ठगी करने वाले गैंग के सरगना सहित चार लोगों को फ़िल्म सिटी के पास से गिरफ़्तार किया. आरोपी पहले जाली दस्तावेजों का इस्तेमाल करके फ़र्ज़ी क्रेडिट कार्ड बनवाते थे फिर कैश/शॉपिंग लिमिट का प्रयोग करके फरार हो जाते थे. दर्जनों बैंकों और फ़ायनेंस कम्पनियों से इसी प्रकार जाली दस्तावेजों का प्रयोग करके कई करोड़ की ठगी की बात प्रकाश में आई है. 

  • मेरठ: STF की रेड में NCERT की 35 करोड़ रुपये की किताबें बरामद, डाउनलोड करके करते थे छपाई

    मेरठ: STF की रेड में NCERT की 35 करोड़ रुपये की किताबें बरामद, डाउनलोड करके करते थे छपाई

    पुलिस ने मौके से 10 लाख किताबें बरामद की हैं. जिनकी कीमत करीब 35 करोड़ आंकी जा रही है. पुलिस और एसटीएफ की साझा कार्रवाई में पुलिस ने 6 प्रिंटिंग प्रेस भी बरामद की हैं. हैरान करने वाली बात ये है कि मेरठ से इन किताबों की सप्लाई कई दूसरे राज्यों जैसे उत्तराखंड, दिल्ली, हरियाणा, मध्य प्रदेश, राजस्थान में हो रही थी.

  • ढूंढ़ती रही पुलिस और STF,विकास दुबे के गुर्गे ने ऐसे किया सरेंडर

    ढूंढ़ती रही पुलिस और STF,विकास दुबे के गुर्गे ने ऐसे किया सरेंडर

    कानपुर के बिकरू कांड के एक आरोपी गोविंद सैनी ने अदालत के सामने सरेंडर किया है. यह जानकारी कानपुर ग्रामीण के एसपी ब्रजेश श्रीवास्तव ने दी है. उन्होंने बताया है कि गोविंद सैनी ने कानपुर देहात जिले की अदालत में सरेंडर किया है. कानपुर पुलिस और एसटीएफ उसकी तलाश घटना के बाद से कर रही थी. गौरतलब है कि बीती 3 जुलाई को विकास दुबे को पकड़ने गई पुलिस टीम पर हमला हुआ था जिसमें 8 पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी. इसके बाद कई दिनों की तलाशी के बाद विकास दुबे को उज्जैन से गिरफ्तार किया गया था. कानपुर लाते समय उसने भौंती के पास एक दुर्घटना का फायदा उठाकर भागने की कोशिश जिसमें पुलिस ने उसे मार गिराया.  

  • 50000 का ईनामी राम सिंह यादव गिरफ्तार, डबल बैरल बंदूक से पुलिस पर की थी फायरिंग

    50000 का ईनामी राम सिंह यादव गिरफ्तार, डबल बैरल बंदूक से पुलिस पर की थी फायरिंग

    उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने कानपुर के बिकरु गांव में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या में शामिल 50 हजार रुपये के इनामी बदमाश राम सिंह यादव को गिरफ्तार किया है. कुख्यात बदमाश विकास दुबे के साथी यादव को कानपुर देहात क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया. पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी.  एसटीएफ की तरफ से सोमवार को जारी बयान के मुताबिक पिछली दो-तीन जुलाई की दरमियानी रात को बिकरू गांव में कुख्यात बदमाश विकास दुबे के साथियों द्वारा आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के आरोपितों में शामिल 50 हजार रुपये के इनामी बदमाश राम सिंह यादव को रविवार देर शाम कानपुर देहात के अकबरपुर इलाके में गिरफ्तार कर लिया गया. 

  • यूपी सरकार ने गैंगस्टर विकास दुबे एनकाउंटर मामले में रिटायर्ड जज की निगरानी में बिठाई जांच कमेटी

    यूपी सरकार ने गैंगस्टर विकास दुबे एनकाउंटर मामले में रिटायर्ड जज की निगरानी में बिठाई जांच कमेटी

    कानपुर बिकरु कांड और 3 जुलाई से 10 जुलाई के बीच हुए संबंधित सभी एनकाउंटर की जांच के लिए यह आयोग गठित किया गया है. जस्टिस शशीकांत अग्रवाल की अध्यक्षता में एकल सदस्यीय आयोग का गठन किया गया है.

  • विकास दुबे एनकाउंटर मामले में SC में दाखिल 2 याचिका, कोर्ट की निगरानी में जांच की मांग

    विकास दुबे एनकाउंटर मामले में SC में दाखिल 2 याचिका, कोर्ट की निगरानी में जांच की मांग

    विकास दुबे (Vikas Dubey) एनकाउंटर मामले में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में दो याचिकाएं दाखिल की गई हैं. याचिकाओं में सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में जांच की मांग की गई है. एक याचिका वकील अनूप प्रकाश अवस्थी ने दाखिल की है.

  • विकास दुबे के एनकाउंटर पर बोले उसके पिता- मेरे बेटे ने किया था अक्षम्य पाप...

    विकास दुबे के एनकाउंटर पर बोले उसके पिता- मेरे बेटे ने किया था अक्षम्य पाप...

    न्यूज एजेंसी ANI से बात करते हुए रामकुमार दुबे ने कहा, 'क्या उसने हमारा कहा माना, माना होता तो उसकी जिंदगी ऐसे खत्म नहीं होती. विकास ने कभी किसी भी तरह से हमारी मदद नहीं की. उसकी वजह से हमारी पैतृक संपत्ति नष्ट हो गई. उसने 8 पुलिसवालों को भी मारा, जो एक अक्षम्य पाप था. प्रशासन ने ठीक किया है. अगर वो ऐसा नहीं करते तो कल कोई और ऐसी हरकत करता.'

  • ग्राउंड जीरो रिपोर्ट : उज्जैन से जब STF निकली तो टाटा सफारी में बैठा था विकास दुबे, एक्सीडेंट हुआ TUV का!

    ग्राउंड जीरो रिपोर्ट : उज्जैन से जब STF निकली तो टाटा सफारी में बैठा था विकास दुबे, एक्सीडेंट हुआ TUV का!

    यूपी के मोस्टवांटेड और 8 पुलिसकर्मियों के हत्या के आरोपी विकास दुबे को कानपुर के पास पुलिस एनकाउंटर में ढेर कर दिया गया,पुलिस का दावा है कि कार पलटने के बाद विकास ने भागने की कोशिश की लेकिन एनकाउंटर के तरीके को देखें तो खुद समझ आ जायेगा कि ये एनकाउंटर कितना नाटकीय था.  उज्जैन से जब विकास दुबे को यूपी एसटीएफ लेकर निकली तो उसके काफिले में 3 गाड़ियां थीं ,टाटा सफारी की पिछली सीट पर वो बैठा था ,उसके अगल बगल 2 पुलिसकर्मी बैठे थे ,काफिले की ये तस्वीरें 2 टोल नाकों पर कैद हुईं.

  • राहुल गांधी का ट्वीट - 'कई जवाबों से अच्छी है ख़ामोशी उसकी', क्या विकास दुबे मुठभेड़ की ओर है इशारा...?

    राहुल गांधी का ट्वीट - 'कई जवाबों से अच्छी है ख़ामोशी उसकी', क्या विकास दुबे मुठभेड़ की ओर है इशारा...?

    कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक ट्वीट किया है, जिसे इसी मामले से जोड़कर देखा रहा है. राहुल गांधी ने इशारों-इशारों में विकास दुबे का एनकाउंटर करके कई लोगों को बचाने का आरोप लगाया है.

  • विकास दुबे के साथ ही UP पुलिस ने ढेर किया कानपुर का रहने वाला एक और बदमाश, सिर पर था 50 हजार का इनाम

    विकास दुबे के साथ ही UP पुलिस ने ढेर किया कानपुर का रहने वाला एक और बदमाश, सिर पर था 50 हजार का इनाम

    समाचार एजेंसी भाषा के अनुसार उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले में 50 हजार का इनामी बदमाश शुक्रवार को पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारा गया. पुलिस अधिकारी ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी. अपर पुलिस महानिदेशक (Law and Order) प्रशांत कुमार ने बताया कि "गोरखपुर के रहने वाले पन्ना यादव उर्फ सुमन यादव को हरदी इलाके के अहिरनपुरवा गांव में STF और स्थानीय पुलिस ने घेर लिया था, जिसके बाद मुठभेड़ में वह मारा गया." यादव कानपुर का रहने वाला था और वह हत्या, लूट, डकैती जैसे दर्जनों मामलों में वांछित था. 

  • Vikas Dubey Encounter: मायावती ने की पूरे मामले पर सुप्रीम कोर्ट से की जांच की अपील, कहा- इसलिए जरूरी ये जांच ताकि...

    Vikas Dubey Encounter: मायावती ने की पूरे मामले पर सुप्रीम कोर्ट से की जांच की अपील, कहा- इसलिए जरूरी ये जांच ताकि...

    Vikas Dubey Encounter: मायावती (Mayawati) ने इस मामले में सीधे सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) का दखल मांगा है. उन्होंने कहा कि इस पूरे मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए ताकि कानपुर मुठभेड़ (Kanpur) में जान गंवाने वाले आठ पुलिसकर्मियों के परिवारवालों को न्याय मिल सके. उन्होंने लिखा कि  कानपुर पुलिस हत्याकाण्ड की तथा साथ ही इसके मुख्य आरोपी दुर्दान्त विकास दुबे (Vikas Dubey) को मध्यप्रदेश से कानपुर लाते समय आज पुलिस की गाड़ी के पलटने व उसके भागने पर यूपी पुलिस द्वारा उसे मार गिराए जाने आदि के समस्त मामलों की माननीय सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में निष्पक्ष जांच होनी चाहिए. 

  • विकास दुबे ढेर: 'आज ही के दिन हुआ मेरा भाई शहीद, आज ही अपराधी मारा गया' शहीद राहुल की बहन ने कहा...

    विकास दुबे ढेर: 'आज ही के दिन हुआ मेरा भाई शहीद, आज ही अपराधी मारा गया' शहीद राहुल की बहन ने कहा...

    Vikas Dubey Encounter: कुख्यात अपराधी विकास दुबे (Vikas Dubey) की मौत से उन लोगों को शांति मिली है जो कहीं न कहीं इस दुर्दांत अपराधी के शिकार हुए थे. कानपुर (Kanpur) में विकास दुबे और उसकी गैंग द्वारा जिन पुलिस कर्मियों की हत्या की गई थी उनमें औरेया निवासी राहुल भी शामिल थे. शहीद राहुल की बहन नंदिनी ने कहा कि आज हमारे भाई का शांति हवन है. आज के दिन ही  हमारा भाई शहीद हुआ था आज के ही दिन वह भी मारा गया है. इससे हमारे भाई की आत्मा को शांति मिलेगी और जो उसके संगी साथी हो पकड़े जाएं उनकी जांच होनी चाहिए उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए.

  • Vikas Dubey Encounter: शहीद पुलिस वालों के परिजनों ने जताई खुशी, कहा- मिला न्याय

    Vikas Dubey Encounter: शहीद पुलिस वालों के परिजनों ने जताई खुशी, कहा- मिला न्याय

    Vikas Dubey Encounter: शहीद  जितेंद्र पाल के पिता ने कहा कि विकास दुबे के मारे जाने की खबर सुनने के बाद हमें संतुष्टि मिली. वहीं शहीद की माता ने योगी सरकार का धन्यवाद देते हुए कहा कि हमें न्याय मिला. उन्होंने कहा कि जिसने हमारे बेटे को मारा था, उसके मारे जाने की खबर मिलने पर शांति मिली. 

  • कानपुर के गैगंस्टर विकास दुबे का एनकाउंटर : ये 10 सवाल जिनका जवाब बहुतों को 'वास्तव' में ले डूबता

    कानपुर के गैगंस्टर विकास दुबे का एनकाउंटर :  ये 10 सवाल जिनका जवाब बहुतों को 'वास्तव' में ले डूबता

    गैंगस्टर विकास दुबे( Vikas Dubey) को पुलिस ने कानपुर से 30 किलोमीटर दूर भौंती नाम की जगह पर मार गिराया है. पुलिस के मुताबिक उज्जैन से उसे सड़क के रास्ते लाया जा रहा था तभी काफिल में शामिल एक वाहन पलट गया इसका फायदा उठाकर उसने भागने की कोशिश जिसमें पुलिस ने उसे मार गिराया है. लेकिन पुलिस की इस थ्योरी पर सवाल उठ रहे हैं. जब विकास दुबे ने बड़े आराम से खुद को सरेंडर किया और उसे पता था कि अब उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा यानी एनकाउंटर का खतरा टल चुका था तो भागने की कोशिश क्यों करेगा. गौरतलब है कि विकास दुबे के मामले में पुलिस की भूमिका शुरू से ही संदिग्ध रही है और उसके एक गुर्गे ने कैमरे के सामने बोला है कि उसे पकड़ने के लिए पुलिस आ रही है इसकी सूचना उसे थाने से ही दी गई है. दूसरी ओर कुछ मीडिया रिपोर्टस की मानें तो उज्जैन में जब उससे पूछताछ की जा रही थी तो वहां भी उसने कबूला था कि उसकी मदद में कई पुलिस चौकियां शामिल थीं. कुल मिलाकर विकास दुबे के खत्म होते ही ये सवाल भी हमेशा के लिए दफन हो गए.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com