NDTV Khabar

Union Budget 2017


'Union Budget 2017' - 63 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • अप्रैल 2020 से पेश होगा GST रिटर्न का सरल स्वरूप: वित्तमंत्री

    अप्रैल 2020 से पेश होगा GST रिटर्न का सरल स्वरूप: वित्तमंत्री

    जीएसटी प्रणाली एक जुलाई 2017 से लागू हुई है.इस बार जनवरी में जीएसटी के तहत 1.1 लाख करोड़ रुपये से अधिक का राजस्व संग्रह हुआ. यह लगातार तीसरा महीना है जब जीएसटी से एक लाख करोड़ रुपये से अधिक का राजस्व प्राप्त हुआ है.

  • Budget 2019-20 के साथ ही साथ समझें कैसे बनाएं किचन का बजट...

    Budget 2019-20 के साथ ही साथ समझें कैसे बनाएं किचन का बजट...

    अगर आम बजट (Union Budget 2019) का नाम सुनते ही आपको अपने किचन का बजट याद आ जाता है, और आपको लगता है कि आपको भी अपने किचन और फूड बजट (Food Budget) को ठीक करने की जरूरत है...

  • बॉलीवुड की ऐसी 6 फिल्में, जिन्होंने कम खर्च करके कमाई मोटी रकम.. जानें

    बॉलीवुड की ऐसी 6 फिल्में, जिन्होंने कम खर्च करके कमाई मोटी रकम.. जानें

    फिलहाल ऐसे में हम आपको ये बताने जा रहे हैं कि आखिर कम बजट में कैसे एक मोटी कमाई वाली फिल्में बना ली जाती है.

  • Bollywood के इन गुरुओं ने सिखाया कम बजट में शानदार कमाई का फॉर्मूला, आप भी जानें

    Bollywood के इन गुरुओं ने सिखाया कम बजट में शानदार कमाई का फॉर्मूला, आप भी जानें

    कभी भी फिल्में बजट से नहीं चलतीं बल्कि उनके लिए कहानी और कंटेंट की दरकार होती है. 2017 में इन फिल्मों ने कुछ ऐसा ही कर दिखाया और 2018 में बॉलीवुड इनसे सबक ले सकता है.

  • आरबीआई के पूर्व गवर्नर के गंभीर इशारों को समझें...

    आरबीआई के पूर्व गवर्नर के गंभीर इशारों को समझें...

    इस साल के बजट के असर के बारे में कुछ सनसनीखेज बातें निकलकर आना शुरू हो गई हैं. खास तौर पर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के पूर्व गवर्नर सी रंगराजन ने बहुत ही बड़ी बात की तरफ इशारा किया है. साफ-साफ कहने के बजाए उन्होंने अपनी बात छुपाकर कही है. उन्होंने अपनी जिम्मेदारी समझते हुए ही छुपाव किया होगा. लेकिन अगर सिर्फ इशारा ही किया है तो वाकई यह भी जिम्मेदारी का निर्वाह ही है. अब यह देश के विद्वानों और जागरूक नागरिकों का काम है कि उनके इशारे की व्याख्या करें.

  • आम बजट 2017 : टैक्स कानूनों में हुए 10 अहम बदलाव, जो आप पर भी असर डालेंगे...

    आम बजट 2017 : टैक्स कानूनों में हुए 10 अहम बदलाव, जो आप पर भी असर डालेंगे...

    वित्तमंत्री अरुण जेटली ने आम बजट 2017-18 में व्यक्तिगत आयकर की सबसे छोटी स्लैब को घटाकर 5 प्रतिशत कर दिया, जिसका लाभ सिर्फ कम आय वालों को ही नहीं, ज़्यादा कमाने वालों तक भी पहुंचेगा, लेकिन वे टैक्स विशेषज्ञ निराश हैं, जिन्हें सेक्शन 80सी के तहत करमुक्त बचत सीमा में बढ़ोतरी की उम्मीद थी... 'टैक्समैन' के निदेशक राकेश भार्गव का कहना है, "इस बजट में (इनकम टैक्स एक्ट की) सेक्शन 80सी की सीमा को डेढ़ लाख से बढ़ाकर दो लाख रुपये किया जा सकता था, क्योंकि मौजूदा सीमा पीएफ, बीमा, ट्यूशन फीस जैसे सभी भुगतानों को कवर करने के लिए पर्याप्त नहीं है... इसके अलावा बच्चों के लिए पढ़ाई भत्ता, मेडिकल री-इम्बर्समेंट तथा होस्टल भत्ता जैसे कुछ भत्ते बहुत साल पहले निर्धारित किए गए थे, सो, इस बजट में उन्हें भी बढ़ाया जा सकता था..."

  • अरुण जेटली के बजट भाषण से लगा, हम भारत के लोग, टैक्स चोर हैं

    अरुण जेटली के बजट भाषण से लगा, हम भारत के लोग, टैक्स चोर हैं

    यह कहना सही नहीं लगता कि‍ नागरिक देश के लिए अपना योगदान नहीं देते. आरोप तो यह है कि देश की व्यवस्थाएं ही इस कर से देश की सेवा पूरे ईमान से नहीं कर पातीं. थोड़ा-सा व्यंग्य आपने हम पर कर दिया, चलिए, थोड़ा-सा हम भी आप पर कर देते हैं. बजट में हिसाब बराबर हुआ.

  • आम बजट 2017 के लुभावनेपन को डसता आर्थिक सर्वेक्षण का यथार्थ : 10 अहम सवाल

    आम बजट 2017 के लुभावनेपन को डसता आर्थिक सर्वेक्षण का यथार्थ : 10 अहम सवाल

    आर्थिक सर्वेक्षण में राज्य सरकारों द्वारा लोकलुभावन योजनाओं की होड़ की आलोचना करते हुए कहा गया कि भ्रष्टाचार और लालफीताशाही की वजह से गरीब जनता को सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिलता. इस बार के बजट को सरकार ने 10 हिस्सों में बांटा है, जिसमें क्रियान्वयन के अहम सवालों का जवाब फिर नदारद है...

  • इस योजना को पीएम मोदी ने बताया था कांग्रेस की विफलता का स्मारक, अब इसी से करेंगे विकास

    इस योजना को पीएम मोदी ने बताया था कांग्रेस की विफलता का स्मारक, अब इसी से करेंगे विकास

    भारत में गरीबी हटाने के लिए सबसे बड़ी योजनाओं में से एक मनरेगा को इस बजट में 48000 करोड़ रुपये के कोष का आवंटन किया गया है. यानी इस साल वित्तमंत्री अरुण जेटली ने साल 2017-18 के बजट में मनरेगा के लिए आवंटन 11 हजार करोड़ रुपए का इजाफा करते हुए इसे 48 हजार करोड़ रुपए कर दिया है. गौर करने लायक बात यह है कि मनरेगा की मोदी सरकार ने सत्ता में आते ही आलोचना की थी.

  • Budget 2017 : आरबीआई के पूर्व गवर्नर सी. रंगराजन ने कहा बजट को लेकर दी यह प्रतिक्रिया...

    Budget 2017 : आरबीआई के पूर्व गवर्नर सी. रंगराजन ने कहा बजट को लेकर दी यह प्रतिक्रिया...

    वर्ष 2017-18 के लिए पेश आम बजट को आरबीआई के पूर्व गवर्नर सी. रंगराजन ने ‘एक सामान्य बजट’ बताते हुए कहा कि तीन प्रतिशत के राजकोषीय घाटे के लक्ष्य तक पहुंचने की रूपरेखा बदलने से राजकोषीय दायित्व एवं बजट प्रबंधन (एफआरबीएम) कानून का मजाक बनेगा.

  • बजट 2017 का शेयर बाजार ने किया जोरदार स्वागत, सेंसेक्स 486 अंक उछलकर बंद हुआ

    बजट 2017 का शेयर बाजार ने किया जोरदार स्वागत, सेंसेक्स 486 अंक उछलकर बंद हुआ

    वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा बजट 2017 (Union Budget 2017) का शेयर बाजार ने जोरदार स्वागत किया. इंफ्रास्ट्रक्चर को लेकर किए गए आवंटन से उत्साही बाजार सेंसेक्स करीब 486 अंकों की तेजी के साथ बंद हुआ. बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का बेंचमार्क इंडेक्स सेंसेक्स 1.76% तेजी के साथ 28142 के स्तर पर बंद हुआ. जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का इंडेक्स निफ्टी 155 अंकों की तेजी के साथ 8716 के स्तर पर बंद हुआ.

  • बजट 2017-18: एक नजर में जानें क्या हुआ सस्ता और क्या हुआ महंगा

    बजट 2017-18: एक नजर में जानें क्या हुआ सस्ता और क्या हुआ महंगा

    केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने 2017-18 का बजट पेश किया. इस बार आम बजट और रेल बजट एक साथ पेश किया गया है. हर बार की तरह इस बार भी बजट के बाद कुछ चीजें महंगी हुई और कुछ चीजें सस्ती हुईं है. आइए जानें कि इस बार बजट में सरकार ने कौन सी चीजें सस्ती की और कौन सी चीजें महंगी.

  • यह बजट देश के विकास के लिए मजबूत कदम है : पीएम नरेंद्र मोदी

    यह बजट देश के विकास के लिए मजबूत कदम है : पीएम नरेंद्र मोदी

    वित्‍तमंत्री अरुण जेटली द्वारा संसद में बजट पेश किए जाने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि शिक्षा से लेकर स्‍वास्‍थ्‍य तक उद्यमी से लेकर उद्योग तक टैक्‍स डिडक्‍शन, हर किसी के सपने को साकर करने का ठोस कदम इस बजट में साफ-साफ नजर आता है.

  • बजट 2017 में हुईं कई नई घोषणाएं, बहुत-सी योजनाओं का भी ऐलान - पढ़ें पूरा बजट भाषण

    बजट 2017 में हुईं कई नई घोषणाएं, बहुत-सी योजनाओं का भी ऐलान - पढ़ें पूरा बजट भाषण

    व्यक्तिगत आयकर के मामले में मध्यवर्ग को राहत देते हुए वित्तमंत्री ने ढाई से पांच लाख तक की आय पर लगने वाले 10 फीसदी कर को घटाकर पांच फीसदी कर दिया है, 50 लाख से एक करोड़ रुपये तक की आय वालों पर 10 फीसदी सरचार्ज लगाने की भी घोषणा की है, जबकि एक करोड़ से अधिक आय पर लगने वाले 15 फीसदी सरचार्ज को बरकरार रखा है.

  • बजट 2017 का छिपा संदेश : मोदी सरकार गरीबों की हिमायती है, अमीरों के खिलाफ है!

    बजट 2017 का छिपा संदेश : मोदी सरकार गरीबों की हिमायती है, अमीरों के खिलाफ है!

    वित्तमंत्री अरुण जेटली ने अपना चौथा बजट पेश किया. नोटबंदी के बाद पेश किए गए बजट में सरकार का पूरा जोर गरीब, गांव, किसान और मिडिल क्लास पर रहा. सरकार ने काफी हद तक संतुलित बजट पेश करने की कोशिश की है. लगभग हर पक्ष को खुश करने का प्रयास किया गया है. विपक्षी पार्टियां मोदी सरकार पर 'सूटबूट की सरकार' और 'अमीरों के सरकार' होने का आक्षेप लगाती रही हैं. सरकार ने इस छवि से निकलने की पूरी कोशिश की है

  • बजट 2017: भीम ऐप, आईआरसीटीसी सर्विस टैक्स, और भी बहुत कुछ

    बजट 2017: भीम ऐप, आईआरसीटीसी सर्विस टैक्स, और भी बहुत कुछ

    वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार को आम बजट 2017-18 पेश किया। बजट में कई ऐसी घोषणाएं की गईं हैं जो टेक्नोलॉजी इंडस्ट्री और ग्राहकों से संबंधित हैं।

  • इनकम टैक्स में मध्यवर्ग को राहत : एक नज़र में जानें, क्या-क्या हुए हैं बदलाव...

    इनकम टैक्स में मध्यवर्ग को राहत : एक नज़र में जानें, क्या-क्या हुए हैं बदलाव...

    वित्तमंत्री अरुण जेटली ने आम बजट 2017 (Union Budget 2017-18) में इनकम टैक्स दरों में बदलाव के ज़रिये मध्यवर्ग को राहत देते हुए 2.5 लाख रुपये से लेकर 5 लाख रुपये तक की सालाना आय पर 5 फीसदी टैक्स का ऐलान किया है, जबकि अब तक यह दर 10 फीसदी थी.

  • बजट 2017 : बाजार ने किया बजट का स्वागत, सेसेंक्स में 250 से ज्यादा अंकों की उछाल

    बजट 2017 :  बाजार ने किया बजट का स्वागत, सेसेंक्स में 250 से ज्यादा अंकों की उछाल

    वित्तमंत्री अरुण जेटली बजट 2017-18 पेश कर दिया है. विशेषज्ञ इसे संतुलित बजट मान रहे हैं. शेयर बाजार ने भी बजट पर अपनी प्रतिक्रिया सकारात्मक रूप से दी है. बीएसई में 250 जबकि निफ्टी में 70 अंकों का उछाल देखने को मिला. सरकार ने कैपिटल गेन टैक्स की अवधि अब 2 साल कर दी है.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com