NDTV Khabar

What Is Msme


'What is msme' - 3 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • MSME को लेकर चिदंबरम ने गडकरी और निर्मला सीतारमण के बयानों का जिक्र करते हुए पूछा- तो, ऋणदाता कौन और उधारकर्ता कौन ?

    MSME को लेकर चिदंबरम ने गडकरी और निर्मला सीतारमण के बयानों का जिक्र करते हुए पूछा- तो, ऋणदाता कौन और उधारकर्ता कौन ?

    बता दें कि मोदी सरकार ने सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योगों (MSME) के लिए 3 लाख करोड़ रुपये के लोन पैकेज का ऐलान किया है. इस पैकेज को लेकर कांग्रेस हमलावर है. पी चिदंबरम ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा, मंत्री गडकरी का कहना है कि सरकारों और सार्वजनिक उपक्रमों के ऊपर MSMEs का 5 लाख करोड़ रुपये बकाया है. मंत्री सीतारमण का कहना है कि वह MSMEs (45 लाख की संख्या) को 3 लाख करोड़ रुपये का बिना जमानत ऋण देगी.तो, ऋणदाता कौन है और उधारकर्ता कौन है?

  • PM Modi का क्यों है MSME पर जोर, आप इससे कैसे बन सकते हैं बिजनेसमैन, पढ़ें पूरी डिटेल

    PM Modi का क्यों है  MSME पर जोर, आप इससे कैसे बन सकते हैं बिजनेसमैन, पढ़ें पूरी डिटेल

    पीएम मोदी इस अब MSME पर जोर दे रहे हैं. यह सेक्टर उनकी मदद कर सकता है जो  बिजनेस करने का सपना देखते हैं लेकिन उनके सामने पूंजी की कमी सामने आ जाती है. अगर आपके पास कोई अच्छा बिजनेस आइडिया है और मेहनत करने का जज्बा रखते हैं तो इस समय एक मौका हो सकता है आगे बढ़ने का. क्योंकि भारत सरकार ने अपनी नीति बदलते हुए अब छोटे उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए कमर कस चुकी है. छोटे उद्योग MSME के दायरे में आते हैं. अब आप सोच रहे होंगे कि MSME  क्या है, यह सवाल कोरोना वायरस की वजह से मंदी में आई अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 20 लाख करोड़ के पैकेज का ऐलान के बाद हर कोई जानने की कोशिश कर रहा है. दरअसल  वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस पैकेज की राशि के आवंटन के लिए पहली प्रेस कांन्फ्रेंस में MSME पर खासा जोर दिया है. इसके साथ ही सरकार की आर्थिक नीतियों में बड़ा बदलाव आता दिख रहा है. पीएम मोदी ने अपील की है कि जिस तरह से देशवासियों ने उनके कहने पर खादी का सामान खरीदना शुरू कर दिया जो कि आज एक ब्रांड बन गया है उसी तरह अन्य स्थानीय और देसी चीजों को लोग खरीदना शुरू करें. पीएम मोदी ने अपने भाषण में 'वोकल फॉर लोकल'  और आत्मनिर्भर बनने का नारा दिया है. सरकार अपनी इसी नीति के तहत अब MSME पर फोकस कर रही है.

  • MSME फेडरेशन के सेक्रेटरी जनरल अनिल भारद्वाज ने कहा- RBI की घोषणाओं से छोटे उद्योगों को होने वाले लाभ पर संशय है

    MSME फेडरेशन के सेक्रेटरी जनरल अनिल भारद्वाज ने कहा- RBI की घोषणाओं से छोटे उद्योगों को होने वाले लाभ पर संशय है

    भारतीय रिजर्व बैंक (RB) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने शुक्रवार को कहा कि कोविड-19 महामारी के चलते रिजर्व बैंक आर्थिक हालात पर लगातार नजर रखे हुये है और वह आर्थिक तंत्र में पर्याप्त लिक्विडिटी बनाये रखने के लिये हर संभव कदम उठाने की तैयारी में है.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com