NDTV Khabar

Agriculture


'Agriculture' - 140 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • 2500 टन प्याज पहुंचा बंदरगाह पर, 3000 टन रास्ते में, दाम पर लगेगी लगाम

    2500 टन प्याज पहुंचा बंदरगाह पर, 3000 टन रास्ते में,  दाम पर लगेगी लगाम

    प्याज की बढ़ती कीमतों को रोकने के लिए सरकार तेजी से आयात के जरिए आपूर्ति बढ़ा रही है. 2500 टन प्याज जहां बंदरगाह पर पहुंच चुका है.

  • खेतों की मिट्टी को सेहतमंद बनाने की कोशिश में जुटी झारखंड सरकार

    खेतों की मिट्टी को सेहतमंद बनाने की कोशिश में जुटी झारखंड सरकार

    मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बुधवार को कहा कि मिट्टी को मिले जान, बढ़े झारखंड की शान, समृद्ध हों किसान. खेत की मिट्टी को सेहतमंद बनाने में राज्य सरकार जुट गई है. यही वजह है कि आज मिट्टी की डॉक्टर दीदियों को पहचान पत्र व मिट्टी जांच के लिए मिनी लैब किट दिया जा रहा है. ताकि किसानों के खेतों की मिट्टी की जांच उनकी ही पंचायत व गांव में हो सके. किसानों को उस मिट्टी में किस फसल की खेती करनी चाहिए, कौन से खनिज की मात्रा बढ़ानी चाहिए, इसकी जानकारी मिट्टी की डॉक्टर दीदियां उपलब्ध कराएंगी. उन्होंने कहा कि इसके दो फायदे हैं पहला किसानों के खेतों की उत्पादकता बढ़ेगी, जिससे किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य पूरा कर सकेंगे. वहीं दूसरी ओर डॉक्टर दीदियों के आर्थिक स्वावलंबन का मार्ग प्रशस्त होगा. इस कार्य से हर माह डॉक्टर दीदियां करीब 14 हजार रुपये कमा सकेंगी.

  • ICAR Result 2019: जारी हुआ आईसीएआर एआईईईए रिजल्ट, एक क्लिक में करें चेक

    ICAR Result 2019: जारी हुआ आईसीएआर एआईईईए रिजल्ट, एक क्लिक में करें चेक

    नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने इंडियन काउंसिल ऑफ एग्रीकल्चरल रीसर्च (ICAR) की ऑल इंडिया एंट्रेंस एग्जामिनेशन फॉर एडमिशन परीक्षा का रिजल्ट जारी कर दिया है. उम्मीदवार एंट्रेंस परीक्षा का रिजल्ट ऑफिशियल वेबसाइट ntaicar.nic.in पर जाकर चेक कर सकते हैं. रिजल्ट चेक करने के लिए उम्मीदवारों को रजिस्ट्रेशन नंबर और जन्मतिथि सबमिट करनी होगी. इस साल एंट्रेंस परीक्षा 1 जुलाई को आयोजित की गई थी. प

  • Budget 2019 Highlights: सरकार ने कृषि मंत्रालय के लिए आवंटन को 78 फीसदी तक बढ़ाया 

    Budget 2019 Highlights: सरकार ने कृषि मंत्रालय के लिए आवंटन को 78 फीसदी तक बढ़ाया 

    केंद्र ने चालू वित्त वर्ष में कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय के लिए आवंटन को 78 प्रतिशत बढ़ाकर 1.39 लाख करोड़ रुपये कर दिया है. इसमें से 75,000 करोड़ रुपये की राशि सरकार की महत्वाकांक्षी पीएम-किसान योजना के लिए आबंटित की गयी है. सरकार ने वित्त वर्ष 2018-19 के संशोधित बजट अनुमान में इसके लिए 77,752 करोड़ रुपये का आवंटन किया था.

  • NDTV Exclusive: महाराष्ट्र में गंभीर सूखे के आसार, सेंट्रल वाटर कमीशन ने चेताया

    NDTV Exclusive: महाराष्ट्र में गंभीर सूखे के आसार, सेंट्रल वाटर कमीशन ने चेताया

    मानसून के आने में पांच दिन की देरी के पूर्वानुमान के बीच सेन्ट्रल वाटर कमीशन ने सूखे से जूझ रही महाराष्ट्र सरकार को एडवाइजरी जारी कर दी है. एनडीटीवी से एक्सक्लूसिव बातचीत में कमीशन के चेयरमैन एस मसूद हुसैन ने कहा कि महाराष्ट्र में हालात चिंताजनक हैं.

  • कैसी है किसानों की स्थिति और उनके परिवारों का हाल, 2013 के बाद सरकार ने नहीं किया कोई सर्वे

    कैसी है किसानों की स्थिति और उनके परिवारों का हाल, 2013 के बाद सरकार ने नहीं किया कोई सर्वे

    किसानों की स्थिति को लेकर देश में जारी बहस के बीच पिछले पांच वर्षो में कृषि परिवारों की आय में वृद्धि का कोई तुलनात्मक अनुमान उपलब्ध नहीं है.

  • कृषि अनुसंधान की खस्ता हालत पर शरद पवार ने पीएम मोदी को चिट्ठी लिखी

    कृषि अनुसंधान की खस्ता हालत पर शरद पवार ने पीएम मोदी को चिट्ठी लिखी

    एनसीपी अध्यक्ष और पूर्व कृषि मंत्री शरद पवार ने देश में कृषि अनुसंधान की खस्ता हालत पर सवाल उठाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखी है.

  • अंधेर नगरी चौपट खेती, टके सेर झांसा, टके सेर जुमला, खेती में फेल मोदी सरकार

    अंधेर नगरी चौपट खेती, टके सेर झांसा, टके सेर जुमला, खेती में फेल मोदी सरकार

    मोदी कहते हैं कि 2024 तक वही प्रधानमंत्री होंगे. होंगे तो उनके कार्यकाल के दूसरे हिस्से में भी खेती की असफलता मुंह बाये खड़ी रहेगी. किसान हाहाकार कर रहे होंगे. उन्हें भटकाने के लिए युद्ध का उन्माद रचा जा रहा होगा या सांप्रदायिकता का ऊबाल पैदा किया जा रहा होगा. तब किसान दस साल के व्हाट्स एप मेसेज पलट कर देख रहे होंगे कि उन्होंने अपने जीवन का एक दशक किन बातों में निकाल दिया.

  • मोदी सरकार का एक और बड़ा फैसला: ग्रामीण कृषि बाजारों के विकास पर खर्च करेगी 2000 करोड़ रुपये

    मोदी सरकार का एक और बड़ा फैसला: ग्रामीण कृषि बाजारों के विकास पर खर्च करेगी 2000 करोड़ रुपये

    लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार ने कृषि बाजार के विकास के लिए एक और बड़ा फैसला लिया है.

  • आम बजट से पहले केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह का बड़ा बयान, किसानों को लेकर कही यह बात...

    आम बजट से पहले केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह का बड़ा बयान, किसानों को लेकर कही यह बात...

    क्रॉप केयर फेडरेशन ऑफ इंडिया (सीसीएफआई) द्वारा आयोजित एक सम्मेलन में यहां कृषि मंत्री ने कहा, "गर्व की बात है कि विभिन्न कृषि परियोजनाओं के लागू होने से भारत कृषि क्षेत्र में अग्रणी अर्थव्यवस्थाओं में शुमार हो गया है."

  • किसानों के आंदोलन से सरकार चिंतित, फसल बीमा योजना का मूल्यांकन शुरू हुआ

    किसानों के आंदोलन से सरकार चिंतित, फसल बीमा योजना का मूल्यांकन शुरू हुआ

    दिल्ली में किसानों के आंदोलन से सरकार चिंतित हो गई है. किसानों के आंदोलन के दो दिन भी पूरे नहीं हुए कि कृषि मामलों की संसदीय समिति ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का मूल्यांकन शुरू कर दिया है.

  • Top 5 News : नोटबंदी पर कृषि मंत्रालय का यू-टर्न, संसद की स्थायी समिति के सामने पेश हुए उर्जित पटेल

    Top 5 News : नोटबंदी पर कृषि मंत्रालय का यू-टर्न, संसद की स्थायी समिति के सामने पेश हुए उर्जित पटेल

    कृषि मंत्रालय (Agriculture Ministry) ने जो नया बैकग्राउंड नोट पेश किया है, उसमें दावा किया गया है कि नोटबंदी का खेती सेक्टर पर अच्छा असर पड़ा. वहीं उर्जित पटेल ने कहा कि नोटबंदी का प्रभाव क्षणिक था.

  • नोटबंदी पर कृषि मंत्रालय का यू-टर्न, पहले माना किसानों पर पड़ा बुरा असर, अब कही यह बात...

    नोटबंदी पर कृषि मंत्रालय का यू-टर्न, पहले माना किसानों पर पड़ा बुरा असर, अब कही यह बात...

    खेती और किसानों पर नोटबंदी (Demonetization) के असर को लेकर अपने पहले के रुख पर कृषि मंत्रालय (Agriculture Ministry) ने यू-टर्न ले लिया है. मंत्रालय ने जो नया बैकग्राउंड नोट पेश किया है, उसमें दावा किया गया है कि नोटबंदी का खेती सेक्टर पर अच्छा असर पड़ा. नोट के अनुसार बीज की बिक्री बढ़ी, खाद की बिक्री में इज़ाफ़ा हुआ और 2016 में रबी का रकबा भी बढ़ा. सूत्रों के मुताबिक मंत्रालय ने वित्त पर स्थायी समिति को सूचित किया है कि डाटा तैयार करने में गलती की वजह से पहले नोट में गड़बड़ी हुई. बता दें कि पहले के नोट में कहा गया था नोटबंदी की वजह से खेती सेक्टर में नकदी की कमी आई और कई किसान बीजे और खाद खरीदने में नाकाम रहे.

  • कृषि मंत्रालय ने माना, नोटबंदी का किसानों पर पड़ा बुरा असर

    कृषि मंत्रालय ने माना, नोटबंदी का किसानों पर पड़ा बुरा असर

    नोटबंदी का असर किसानों पर बुरा पड़ा है. कृषि मंत्रालय ने वित्तीय मामलों की संसदीय समिति के सामने मानी है. हालांकि जब यह खबर छपी तो कृषि मंत्री ने फ़ौरन इसका खंडन किया.

  • आखिर क्या हैं किसानों की मांगें और क्या कहा सरकार ने? जानिए...

    आखिर क्या हैं किसानों की मांगें और क्या कहा सरकार ने? जानिए...

    दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर मंगलवार को हजारों किसान अपनी 15 सूत्रीय मांगों के साथ धरने पर बैठे रहे. हालांकि इस दौरान केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री गजेंद्र शेखावत इस आंदोलन को खत्म करवाने के लिए आए और उन्होंने किसानों को बहुत से आश्वासन भी दिए और दावा किया कि किसानों की ज़्यादातर मांगें सरकार मान रही है. लेकिन लगभग 15 मिनट के केंद्रीय मंत्री के भाषण के बावजूद किसान आंदोलन खत्म करने को तैयार नहीं हुए.

  • तिलहन की सरकारी खरीद के लिए पेश हो सकती है 10,000 करोड़ रुपये की योजना

    तिलहन की सरकारी खरीद के लिए पेश हो सकती है 10,000 करोड़ रुपये की योजना

    रसोई में प्रयुक्त होने वाले खाद्य तेलों के लिए आयात पर बढ़ती निर्भरता से निपटने के लिए सरकार 10,000 करोड़ रुपये से अधिक की योजना घोषित कर सकती है. इसके तहत तिलहन फसलों की कीमत न्यूनतम समर्थन मूल्य से नीचे गिरने पर किसानों को उसका मुआवजा दिया जाएगा.

  • मोदी सरकार के खिलाफ देश भर के किसान-मजदूरों का ने रामलीला मैदान से संसद तक किया पैदल मार्च

    मोदी सरकार के खिलाफ देश भर के किसान-मजदूरों का ने रामलीला मैदान से संसद तक किया पैदल मार्च

    आज देश की राजधानी दिल्ली में वाम दलों के समर्थन में आज यानी बुधवार को किसान और मजदूर सगंठन मोदी सरकार के खिलाफ हल्ला बोल रहे हैं. वाम दलों के समर्थन वाले किसान एवं मजदूर संगठनों की ओर से बुधवार को दिल्ली के रामलीला मैदान में रैली का आयोजन किया गया है. ऐसा पहली बार हो रहा है जब किसान एवं मजदूर किसी एक रैली में एकजुट होकर हिस्सा ले रहे हैं. आज सुबह से ही दिल्ली की सड़कों पर किसानों और मजदूरों की रैली का प्रभाव दिखना शुरू हो गया है. दरअसल, किसानों और मजदूरों की मांग है कि महंगाई पर लगाम लगाई जाए. काम के सही दाम मिले. साथ ही मजदूरों के लिए न्यूनतम मजदूरी भत्ता तय किया जाए. किसानों के लिए स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिशों को लागू किया जाए और गरीब खेतीहर मजदूर और किसानों के कर्ज माफ हो आदि. 

  • उत्तर प्रदेश में अक्टूबर में होगा कृषि कुंभ, उद्यमिता को मिलेगा बढ़ावा

    उत्तर प्रदेश में अक्टूबर में होगा कृषि कुंभ, उद्यमिता को मिलेगा बढ़ावा

    उत्तर प्रदेश में 26 अक्टूबर से होने वाले कृषि-कुंभ के लिए सूबे के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने देश की राजधानी नई दिल्ली में इस कार्यक्रम का अनावरण किया. तीन दिनों तक चलने वाले इस कृषि मेला का मुख्य मकसद राज्य में कृषि उद्यमिता को प्रोत्साहन देना है.