NDTV Khabar

Ajit doval


'Ajit doval' - 105 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • कश्मीर घाटी में 11 दिन बिताने के बाद दिल्ली लौटे अजित डोभाल

    कश्मीर घाटी में 11 दिन बिताने के बाद दिल्ली लौटे अजित डोभाल

    डोभाल जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा वापस लिये जाने के बाद योजनाओं का सुचारू क्रियान्वयन सुनिश्चित करने के लिए कश्मीर घाटी में थे. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. अधिकारियों ने बताया कि डोभाल यहां छह अगस्त को आये थे और उन्होंने सुरक्षा और विकास परक गतिविधियों का जिम्मा संभाला.

  • 15 अगस्त तक घाटी में ही रहेंगे PM के सबसे भरोसेमंद 'लेफ्टिनेंट' अजित डोभाल

    15 अगस्त तक घाटी में ही रहेंगे PM के सबसे भरोसेमंद 'लेफ्टिनेंट' अजित डोभाल

    जिस दिन केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने अनुच्छेद 370 से जुड़ा बिल राज्यसभा में पेश किया था, उसी दिन राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल भारतीय वायुसेना (IAF) के विमान के ज़रिये श्रीनगर पहुंच गए थे. अब नौ दिन बीतने के बाद भी वह घाटी में ही डेरा डाले हुए हैं, और प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) को लाइव अपडेट भेज रहे हैं.

  • Top 5 News: घाटी में 'खामोशी' के माहौल में मनी ईद, मीका सिंह पर भड़के प्रशंसक

    Top 5 News: घाटी में 'खामोशी' के माहौल में मनी ईद, मीका सिंह पर भड़के प्रशंसक

    ईद के मौके पर घाटी में सुरक्षाबल पूरी तरह मुस्तैद हैं. जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में सड़कें सोमवार को सुनसान दिखीं, क्योंकि श्रीनगर में कड़ी सुरक्षा प्रतिबंधों के तहत ईद-अल-अजहा मनाया जा रहा है. वहीं,  जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370   हटाने के बाद से घाटी में तनाव के बीच राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल ने समूचे श्रीनगर शहर, पुलवामा, अवन्तीपुरा, पाम्पोर, बडगाम के हालात का जायजा लिया.

  • NSA अजित डोभाल ने श्रीनगर, पुलवामा, अवन्तीपुरा, पाम्पोर, बडगाम में हालात का जायज़ा लिया

    NSA अजित डोभाल ने श्रीनगर, पुलवामा, अवन्तीपुरा, पाम्पोर, बडगाम में हालात का जायज़ा लिया

    जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाने के बाद से घाटी में तनाव के बीच राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल ने समूचे श्रीनगर शहर, पुलवामा, अवन्तीपुरा, पाम्पोर, बडगाम में हालात का जायज़ा लिया. इससे पहले भी उनके दो वीडियो सामने आ चुके हैं जिसमें एक में वह स्थानीय लोगों के साथ खाना खा रहे हैं और दूसरे वीडियो में वह हालचाल पूछ रहे हैं. गौरतलब है कि अजित डोभाल केंद्र सरकार के आंख-कान बनकर जम्मू-कश्मीर में डटे हुए हैं और हालात पर पैनी नजर बनाए हुए हैं.

  • ईद के मद्देनजर जम्मू कश्मीर में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था, प्रशासन ने किए ये खास इंतजाम

    ईद के मद्देनजर जम्मू कश्मीर में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था, प्रशासन ने किए ये खास इंतजाम

    देशभर में आज ईद की खुशियां मनाई जा रही हैं. जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) में ईद-उल-अजहा (Eid Ul Adha) के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की गई है. ईद पर नमाज के दौरान कड़ी सुरक्षा रहेगी.

  • घाटी में सरकार का खास इंतजाम, घर तक पहुंचाये जा रहे राशन, 300 स्पेशल फोन बूथ भी लगाए गए

    घाटी में सरकार का खास इंतजाम, घर तक पहुंचाये जा रहे राशन, 300 स्पेशल फोन बूथ भी लगाए गए

    जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से ज़्यादातर इलाके में धारा 144 है. हालांकि हालात सुधर रहे हैं. शुक्रवार को जुमे की नमाज़ से पहले घाटी और पूरे कश्मीर में धारा 144 में ढील दी गई.

  • कश्मीर में अगले 3 दिन रुकेंगे NSA अजीत डोभाल, आम लोगों से मिलते नजर आए

    कश्मीर में अगले 3 दिन रुकेंगे NSA अजीत डोभाल, आम लोगों से मिलते नजर आए

    इसके साथ ही सरकार सोमवार को आने वाले बकरीद पर मौजूदा सुरक्षा व्यवस्था पर ही भरोसा कर रही है. डोभाल के लिए व्यक्तिगत रूप से और आधिकारिक रूप से बहुत कुछ दांव पर लगा है. अब तक लॉकडाउन एक बड़ी सफलता रही है और स्थानीय आबादी और पाकिस्तान के बीच संपर्क को तोड़कर भारत ने एक बड़ी राजनीतिक और कूटनीतिक जीत हासिल की है.

  • जब अनंतनाग में NSA अजीत डोभाल ने लोगों से पूछा-कोई तकलीफ तो नहीं है? तो मिला ये जवाब, देखें- VIDEO

    जब अनंतनाग में NSA अजीत डोभाल ने लोगों से पूछा-कोई तकलीफ तो नहीं है? तो मिला ये जवाब, देखें- VIDEO

    एक युवा कारोबारी ने डोभाल को बताया कि उसने कारगिल के द्रास से यह भेड़ लाई है. उसने उनसे पूछा, ‘क्या आपको पता है कि द्रास कहां है.’ डोभाल (Ajit Doval) कुछ जवाब देते, उससे पहले अनंतनाग के उपायुक्त खालिद जहांगीर ने युवा कारोबारी से कहा कि जिस व्यक्ति से वह बात कर रहा है, वह राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार हैं. 

  • जम्मू-कश्मीर सरकार ने NSA अजीत डोवाल से ली सीख, अधिकारियों से कहा कि हर दिन...

    जम्मू-कश्मीर सरकार ने NSA अजीत डोवाल से ली सीख, अधिकारियों से कहा कि हर दिन...

    राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल द्वारा श्रीनगर में स्थानीय लोगों से की जा रही लगातार मेल-मुलाकात से सीख लेते हुए जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने अपने सभी अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे प्रतिनिदिन कम से कम 20 परिवारों से मुलाकात करें. 

  • धारा 370 हटाए जाने पर बोले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कर्ण सिंह- मैं पूरी तरह फैसले के विरोध में नहीं, इसके कई फायदे हैं

    धारा 370 हटाए जाने पर बोले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कर्ण सिंह- मैं पूरी तरह फैसले के विरोध में नहीं, इसके कई फायदे हैं

    जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 की अधिकतर धाराएं हटाए जाने से जुड़े सरकार के कदम को लेकर कांग्रेस नेताओं के बीच मतभेद खुलकर सामने आने की पृष्ठभूमि में कांग्रेस ने नौ अगस्त को अपने महासचिवों-प्रभारियों, प्रदेश अध्यक्षों, राज्यों में विधायक दल के नेताओं, पार्टी के विभाग प्रमुखों और सांसदों की बैठक बुलाई है. बैठक में इस विषय पर चर्चा की जाएगी. सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों को पत्र लिखकर बैठक की जानकारी दी है. यह बैठक नौ अगस्त की शाम 15 गुरुद्वारा रकाबगंज रोड स्थित पार्टी के वाररूम में प्रस्तावित है.

  • जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के बाद बौखलाए पाकिस्तान को भारत का जवाब- यह हमारा आतंरिक मामला है

    जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के बाद बौखलाए पाकिस्तान को भारत का जवाब- यह हमारा आतंरिक मामला है

    विदेश मंत्रालय ने कहा कि हमने उन खबरों को देखा है जिनमें कहा गया है कि पाकिस्तान ने भारत के साथ द्विपक्षीय संबंधों को लेकर कुछ एकतरफा फैसला किया है. इसमें हमारे राजनयिक संबंधों के स्तर में कटौती करना शामिल है. मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तान की ओर से उठाये गए इन कदमों का मकसद स्पष्ट रूप से दुनिया के सामने हमारे द्विपक्षीय संबंधों के लेकर चिंताजनक तस्वीर पेश करना है. पाकिस्तान ने जो कारण बताये हैं, वे जमीनी हकीकत के साथ मेल नहीं खाते.

  • कश्मीर दौरे पर गए कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद को श्रीनगर एयरपोर्ट रोका गया

    कश्मीर दौरे पर गए कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद को श्रीनगर एयरपोर्ट रोका गया

    जम्मू-कश्मीर दौरे पर गए कांग्रेस सांसद गुलाम नबी आजाद को श्रीनगर एयरपोर्ट पर रोक लिया गया है. जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के बाद से वहां पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था है. कई इलाकों में धारा 144 लगाई गई है. केंद्र सरकार ने धारा 370 हटाने के साथ ही जम्मू-कश्मीर को दो हिस्सों में बांटते हुए जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश घोषित कर दिया गया.

  • कश्मीर से रिपोर्टर का ब्लॉग : कर्फ्यू पास के बिना चेकपोस्टों के बीच भटकती जिन्दगी...

    कश्मीर से रिपोर्टर का ब्लॉग : कर्फ्यू पास के बिना चेकपोस्टों के बीच भटकती जिन्दगी...

    दो-देशों की थ्योरी को खारिज करने और भारतीय संघ से जुड़ने के फैसले के तहत लोगों को संवैधानिक गारंटियां दी गई थीं, वे अब नदारद हो गई हैं. भारत और पाकिस्तान के संप्रभु राष्ट्र बनने से भी पहले से संप्रभु राष्ट्र के रूप में मौजूद कश्मीर अब संप्रभु नहीं रहा है- वह अब एक केंद्रशासित प्रदेश है. रातोंरात इसने अपना झंडा, संविधान और दंड संहिता - रणबीर दंड संहिता (RPC) खो दिए हैं.

  • कश्मीर में लोगों के साथ बात करते NSA डोभाल की तस्वीर पर बोले आजाद, 'पैसे देकर आप किसी को साथ ले सकते हो'

    कश्मीर में लोगों के साथ बात करते NSA डोभाल की तस्वीर पर बोले आजाद, 'पैसे देकर आप किसी को साथ ले सकते हो'

    संसद ने मंगलवार को जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने संबंधी अनुच्छेद 370 के कई प्रावधानों को समाप्त करने के प्रस्ताव वाले संकल्प और जम्मू कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू कश्मीर तथा लद्दाख में विभाजित करने वाले विधेयक को मंजूरी दे दी. उधर, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को निरस्त करने वाले प्रस्ताव को बुधवार को स्वीकृति प्रदान की.

  • कश्मीर पहुंचे NSA अजीत डोभाल का VIDEO हुआ वायरल, आम लोगों के साथ सीढ़ियों पर बैठकर खाना खाते दिखे

    कश्मीर पहुंचे NSA अजीत डोभाल का VIDEO हुआ वायरल, आम लोगों के साथ सीढ़ियों पर बैठकर खाना खाते दिखे

    जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद-370 को हटाये जाने के बाद राज्य में धारा 144 लागू है. कश्मीर में सड़कों पर भारी संख्या में सुरक्षाबल नजर आ रहे हैं. राज्य में पहले से ही 25 हजार से अधिक अतिरिक्त सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है. इन सबके बीच राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल (Ajit doval) कश्मीर पहुंचे और उन्होंने वहां के हालात का जायजा लिया.

  • कुछ ऐसा है अजीत डोभाल के जासूस से NSA बनने तक का सफर, जानिए 10 खास बातें

    कुछ ऐसा है अजीत डोभाल के जासूस से NSA बनने तक का सफर, जानिए 10 खास बातें

    जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) से अनुच्छेद 370 (Article 370) हटाए जाने के बाद घाटी की सुरक्षा की समीक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल (Ajit doval) वहां मौजूद हैं. अजित डोभाल श्रीनगर में हैं और हालात पर नजर बनाए हुए हैं. अजीत डोभाल के कंधों पर देश की सुरक्षा की बड़ी जिम्मेदारी है. अजीत डोभाल (Ajit doval) सर्जिकल स्‍ट्राइक के मास्‍टर माइंड माने जाते हैं. वह सैन्य सम्मान कीर्ति चक्र पाने वाले पहले पुलिस अफसर हैं. राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल (Ajit doval) पर फिल्म निर्देशक नीरज पांडे एक फिल्म बनाने जा रहे हैं जिसमें अक्षय कुमार मुख्य भूमिका निभाते नजर आएंगे. डोभाल को प्रधानमंत्री नरेंद्र का खास माना जाता है. डोभाल की पहचान एक तेज़-तर्रार जासूस की रही है. लोग उन्हें भारत का जेम्स बॉन्ड भी कहते हैं. सर्जिकल स्ट्राइक में अजीत डोभाल की अहम भूमिका रही है. उरी में हुए आंतकी हमले का बदला लेने के लिए भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा पार कर पाकिस्तान में आतंकवादियों के लॉच पैड को ध्वस्त किया था. वहीं, इससे पहले मणिपुर में हुए आतंकवादी हमलों का जवाब देने के लिए भारतीय सेना ने म्यांमार सीमा पर करीब दो किलोमीटर घुसकर सैन्य कार्रवाई की थी. देश की सुरक्षा को लेकर अजीत डोभाल ने कई बड़े कदम उठाए और दुश्मनों को ये संदेशा दिया कि भारत अब आक्रामक रक्षा नीति अपना चुका है. अजीत डोभाल से जुडे़ कई किस्से काफी मशहूर हैं. आइए जानते हैं अजीत डोभाल के जीवन और उनसे जुड़े कुछ रोमांचक किस्सों के बारे में: 

  • अजीत डोभाल पर बनने जा रही है फिल्म, अक्षय कुमार करेंगे लीड रोल

    अजीत डोभाल पर बनने जा रही है फिल्म, अक्षय कुमार करेंगे लीड रोल

    अक्षय कुमार (Akshay Kumar) फिल्म निर्देशक नीरज पांडे (Neeraj Pandey) के साथ मिलकर हर बार बॉक्स ऑफिस पर अपनी छाप छोड़ कर जाते हैं.

  • अनुच्छेद 370 जम्मू-कश्मीर से हटा : श्रीनगर में मौजूद हैं अजीत डोभाल और गृह सचिव राजीव गौबा, 10 बड़ी बातें

    अनुच्छेद 370 जम्मू-कश्मीर से हटा :  श्रीनगर में मौजूद हैं अजीत डोभाल और गृह सचिव राजीव गौबा, 10 बड़ी बातें

    अनुच्छेद 370 (Article 370) हटाए जाने के फैसले के बाद कश्मीर घाटी में सुरक्षा की समीक्षा के लेकर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार और गृह सचिव राजीव गौबा श्रीनगर पहुंच गए हैं. वहीं योजना आयोग ने जानकारी दी है कि जम्मू-कश्मीर में तीन महीने का खाने-पीने का स्टॉक जमा कर दिया गया है. वहीं डोभाल और राजीव गौबा हर जानकारी केंद्र सरकार को दे रहे हैं. राज्य में पहले ही अतिरिक्त अर्धसैनिक बलों की तैनाती की गई थी. सोमवार रात राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने सुरक्षा हालात की समीक्षा की है. उन्होंने किसी भी हालात से निपटने के लिए निरंतर सतर्कता बरतने और तैयारी की आवश्यकता पर ज़ोर दिया. साथ ही घाटी में बिजली, पानी की आपूर्ति और स्वास्थ्य सेवाओं समेत लोगों को विभिन्न सार्वजनिक सेवाओं की आवश्यक आपूर्ति और वितरण के बारे में जानकारी दी. जम्मू और श्रीनगर में लगातार धारा 144 लागू है. ऐसे में घाटी के ज़्यादातर शहरों में सड़कों पर सन्नाटा पसरा है. इक्का-दुक्का लोग नज़र आ रहे हैं. साथ ही बाज़ार भी बंद हैं. बड़ी संख्या में सुरक्षाबल की तैनाती है जो लगातार चप्पे-चप्पे पर नज़र बनाए हुए हैं. वहीं अनुच्छेद 370 (Article 370) हटाए जाने के फ़ैसले के बाद पूर्व मुख्यमंत्री मुफ़्ती और उमर अब्दुल्ला को गिरफ़्तार किया गया है. पीडीपी नेता महबूबा मुफ़्ती और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला की गिरफ़्तारी के बाद श्रीनगर के सरकारी गेस्ट हाउस में ले जाया गया है. कश्मीर में सुरक्षा जिस कदर बढ़ाई गई है उससे लगता है कि लॉक डाउन की स्थिति लंबी चलने वाली है