NDTV Khabar

Andhra pradesh special status


'Andhra pradesh special status' - 27 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • Article 371: इन राज्यों के पास अभी भी है विशेष दर्जा, यहां नहीं खरीद सकते हैं जमीन

    Article 371: इन राज्यों के पास अभी भी है विशेष दर्जा, यहां नहीं खरीद सकते हैं जमीन

    जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) में धारा 370 (Article 370) हटाए जाने के साथ ही इसे मिला विशेष दर्जा भी खत्म कर दिया गया है. जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) अकेला ऐसा राज्य नहीं था जिसे विशेष दर्जा दिए गया था. भारतीय संविधान में अन्य राज्यों के लिए भी इस तरह के प्रावधान हैं. कई राज्यों को अभी भी भारतीय संविधान के अनुसार विशेष दर्जा (Special Status) प्राप्त हैं. भारतीय संविधान के अनुच्छेद 371 के तहत पूर्वोत्तर में  कई राज्यों तो  विशेष दर्जा प्राप्त है. जहां भी 371 लागू है वहां बाकी भारतीय जमीन नहीं खरीद सकते हैं.

  • लोकसभा चुनाव 2019: आंध्र की जनता से राहुल गांधी का वादा, सत्ता में आए तो देंगे 'विशेष राज्य' का दर्जा

    लोकसभा चुनाव 2019: आंध्र की जनता से राहुल गांधी का वादा, सत्ता में आए तो देंगे 'विशेष राज्य' का दर्जा

    आंध्रप्रदेश के तिरुपति में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने शुक्रवार को एक रैली में मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला. इसके साथ ही उन्होंने आंध्रप्रदेश की जनता से राज्य को 'विशेष दर्जा' (Special Status) देने का वादा भी किया. राहुल गांधी ने कहा कि अगर 2019 में केंद्र में हमारी सरकार आई तो हम सबसे पहले आंध्रप्रदेश को 'विशेष राज्य' का दर्जा देंगे.'

  • अमित शाह ने चंद्रबाबू नायडू के नाम लिखा खुला खत, आंध्र प्रदेश के लिए केंद्र सरकार के कामों को गिनाया

    अमित शाह ने चंद्रबाबू नायडू के नाम लिखा खुला खत, आंध्र प्रदेश के लिए केंद्र सरकार के कामों को गिनाया

    सोमवार को चंद्रबाबू नायडू दिल्ली में एक दिन की भूख हड़ताल पर बैठे थे. इस दौरान उन्होंने मोदी सरकार जमकर निशाना साधा. इसके जवाब में अमित शाह ने आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू के नाम 9 पन्नों का खुला खत लिखा है. अपने खत में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने न सिर्फ सिलसिलेवार तरीके से चंद्रबाबू नायडू के आरोपों जवाब दिया है, बल्कि मोदी सरकार द्वारा राज्य के लिए किए गए कामों को भी गिनाया.

  • केजरीवाल का हमला, 'प्रधानमंत्री दूसरे राज्यों के साथ ऐसा व्यवहार करते हैं जैसे वह पाकिस्तान के PM हों...

    केजरीवाल का हमला, 'प्रधानमंत्री दूसरे राज्यों के साथ ऐसा व्यवहार करते हैं जैसे वह पाकिस्तान के PM हों...

    आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू (Chandrababu Naidu) विशेष राज्य के दर्जे को लेकर दिल्ली में अनशन पर बैठे हैं. केंद्र से राज्य को विशेष दर्जा (Special Status) देने और 2014 में इसके विभाजन से पहले किए सभी वादों को पूरा करने की मांग को लेकर एक दिवसीय अनशन पर बैठे नायडू के धरने को कई विपक्षी पार्टियों का समर्थन मिला है.

  • दिल्‍ली : आंध्र प्रदेश के मुख्‍यमंत्री व टीडीपी प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू ने तोड़ा उपवास

    दिल्‍ली : आंध्र प्रदेश के मुख्‍यमंत्री व टीडीपी प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू ने तोड़ा उपवास

    एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि नायडू सोमवार को सुबह आठ बजे से रात आठ बजे तक आंध्र भवन में भूख हड़ताल पर बैठेंगे. वह 12 फरवरी को राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद को एक ज्ञापन भी सौंपेंगे. मुख्यमंत्री अपने मंत्रियों, पार्टी के विधायकों, एमएलसी और सांसदों के साथ धरना देंगे. राज्य कर्मचारी संघों, सामाजिक संगठनों और छात्र संगठनों के सदस्य भी इसमें शामिल होंगे. इसके अलावा वह आज दिल्ली में दीक्षा रैली भी करेंगे. नायडू की रैली में शामिल होने के लिए देश के कई हिस्सों से लोग दिल्ली पहुंच रहे हैं. नायडू का कहना है कि केंद्र सरकार ने राज्य को लेकर अन्य और भी कई वादे किए थे और उन्हें पूरा करने में भी असफल रही है.

  • आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू आज दिल्ली में धरने पर बैठेंगे, विपक्षी दलों से मांगा सहयोग

    आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू आज दिल्ली में धरने पर बैठेंगे, विपक्षी दलों से मांगा सहयोग

    तेलगू देशम पार्टी के प्रमुख और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू अपने राज्य को विशेष दर्जा दिलाने और राज्य पुनर्गठन अधिनियम, 2014 के तहत केंद्र द्वारा किए गए वादों को पूरा करने की मांग को लेकर सोमवार को दिल्ली में एक दिन की भूख हड़ताल पर बैठेंगे. नायडू सोमवार को सुबह आठ बजे से रात आठ बजे तक आंध्र भवन में भूख हड़ताल पर बैठेंगे. इसके अलावा नायडू 12 फरवरी को राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद को एक ज्ञापन भी सौंपेंगे.

  • आंध प्रदेश को विशेष राज्य के दर्जे की मांग, भगवान शंकर का वेश धारण कर संसद पहुंचे सांसद एन शिवप्रसाद

    आंध प्रदेश को विशेष राज्य के दर्जे की मांग, भगवान शंकर का वेश धारण कर संसद पहुंचे सांसद एन शिवप्रसाद

    आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जे  की मांग को लेकर तेलुगू देसम पार्टी के सांसद हर बार कुछ नए अंदाज में प्रदर्शन करते हैं. संसद के शीतकालनीन सत्र में भी पार्टी के सभी सांसद जोर-शोर से इस मांग को उठा रहे हैं.

  • BJP की पूर्व सहयोगी पार्टी का ऐलान: भाजपा संपर्क भी करेगी तो हम 2019 के लिए NDA में शामिल नहीं होंगे

    BJP की पूर्व सहयोगी पार्टी का ऐलान: भाजपा संपर्क भी करेगी तो हम 2019 के लिए NDA में शामिल नहीं होंगे

    आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री और टीडीपी के अध्यक्ष एन चंद्रबाबू नायडू ने शनिवार को कहा कि भाजपा अगर 2019 के आम चुनाव के लिए संपर्क करे तब भी उनकी पार्टी राजग में शामिल नहीं होगी. उन्होंने साथ ही कहा कि राजग सरकार के खिलाफ लाया गया अविश्वास प्रस्ताव ‘नैतिकता बनाम बहुमत’ की लड़ाई थी. नायडू ने कहा कि तेदेपा राज्य के लोगों के लिए न्याय सुनिश्चित करने की खातिर 2014 में राजग में शामिल हुई थी और ‘हम सत्ता के भूखे नहीं है. हमें कभी भी कैबिनेट सीटों की आकांक्षा नहीं रही.’ उन्होंने कहा , ‘हमने आंध्र प्रदेश को न्याय दिलाने के लिए उनके (भाजपा सरकार) साथ चार साल इंतजार किया लेकिन उन्होंने राज्य के लोगों के साथ धोखा किया। हम कैसे यकीन कल लें कि वे दोबारा ऐसा नहीं करेंगे.’

  • इतिहास के पन्नों को उलट PM मोदी ने बताया, आखिर क्यों वह कांग्रेस से नहीं मिलाना चाहते हैं आंखें

    इतिहास के पन्नों को उलट PM मोदी ने बताया, आखिर क्यों वह कांग्रेस से नहीं मिलाना चाहते हैं आंखें

    ससंद के मॉनसून सत्र का तीसरा दिन कई मायनों में खास और यादगार रहा. विपक्ष और सरकार के बीच आरोप-प्रत्यारोप के बाण तो चले ही, मगर कई ऐसे नजारे देखने को मिले, जिस पर सहसा विश्वास नहीं किया जा सकता. अविस्वास प्रस्ताव के पक्ष में एक ओर जहां कांग्रेस ने पीएम मोदी और उनकी सरकार पर कई आरोप लगाए और सवालों की बौछारें कीं, वहीं पीएम मोदी और मोदी सरकार की ओर से कांग्रेस के सवालों और आरोपों पर जवाब दिये गये और कई समस्याओं को लेकर कांग्रेस को ही जिम्मेदार ठहराया गया. लोकसभा में कांग्रेस की ओर से राहुल गांधी ने ताबड़तोड़ हमले किये और रोजगार से लेकर एमसएपी और राफेल पर मोदी सरकार को घेरा. मगर बाद में जब पीएम मोदी की बारी आई, तो उन्होंने भी राहुल गांधी के सवालों का जमकर जवाब दिया. इतना ही नहीं, राहुल गांधी के आंख मिलाने वाली बात पर पीएम मोदी ने कांग्रेस पर हमला बोला और इतिहास बोध कराते हुए कांग्रेस को ही कठघरे में ला खड़ा किया. 

  • VIDEO : जब पीएम मोदी से गले मिलने से पहले राहुल गांधी ने कहा- आपके लिए मैं 'पप्पू' हूं....

    VIDEO : जब पीएम मोदी से गले मिलने से पहले राहुल गांधी ने कहा- आपके लिए मैं 'पप्पू' हूं....

    शुक्रवार को संसद में अविश्वास प्रस्ताव के दौरान चर्चा के बीच अगर मोदी सरकार और विपक्ष में तीखे हमले देखने को मिले, तो कुछ ऐसे भी नजारे देखने को मिले जो अमूमन राजनीतिक परिदृश्य में देखने को नहीं मिलते हैं. प्रधानमंत्री मोदी अपनी मुलाकातों के दौरान अकसर सामने वाले से गले मिलने के लिए जाने जाते हैं, मगर उनसे इस तरह कोई गले मिलेगा इसकी उम्मीद उन्होंने नहीं की थी. 

  • साथियों की परीक्षा लेने के लिए अविश्वास प्रस्ताव नहीं लाया जाना चाहिए : लोकसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

    साथियों की परीक्षा लेने के लिए अविश्वास प्रस्ताव नहीं लाया जाना चाहिए : लोकसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

    लोकसभा में अविश्‍वास प्रस्‍ताव पर चर्चा के दौरान विपक्ष द्वारा लगाए गए आरोपों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जवाब देते हुए कहा,

  • ...जब सदन में पीएम मोदी से गले मिल राहुल गांधी ने दी 'जादू की झप्पी', देखें VIDEO

    ...जब सदन में पीएम मोदी से गले मिल राहुल गांधी ने दी 'जादू की झप्पी', देखें VIDEO

    लोकसभा में मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में बोलते हुए राहुल गांधी ने एक ऐसा नजारा दिखाया, जिसे देखने वाले हैरान रह गये. राहुल गांधी अपने संबोधन के बाद पीएम मोदी से गले मिले और उनसे हाथ मिलाया. इस दौरान राहुल ने कहा कि आपके अंदर मेरे लिए गुस्सा हूं, आप मुझे गाली दे सकते हैं, आप मुझे पप्पू कह सकते हो, मगर मैं कभी घृणा नहीं करूगां. मैं आपके भीतर प्यार भर दूंगा. 

  • बीजेपी सासंद राकेश सिंह का हमला: कांग्रेस ने 'स्कैम की राजनीति' की, हमने ने 'स्कीम' की, 12 बातें

    बीजेपी सासंद राकेश सिंह का हमला: कांग्रेस ने 'स्कैम की राजनीति' की, हमने ने 'स्कीम' की, 12 बातें

    संसद के मॉनसून सत्र के तीसरे दिन मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर सरकार और विपक्ष में बहस जारी है. लोकसभा में चर्चा होने के बाद शाम में वोटिंग होगी. मगर उससे पहले एक दूसरे के खिलाफ सदन में जुबानी जंग जारी है. अविश्वास प्रस्ताव पर मोदी सरकार की ओरर से बोलते हुए बीजेपी सांसद राकेश सिंह ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला. साथ ही उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने सिर्फ स्कैम्स की राजनीति की और सिर्फ परिवार की राजनीति की, मगर मोदी सरकार ने स्कीम्स की राजनीति की है. उन्होंने कई मुद्दों पर कांग्रेस पर बारी-बारी से हमला किया. तो चलिए जानते हैं राकेश सिन्हा के सदन में दिये गये भाषण के महत्वपूर्ण बातों को....

  • ... जब 15 साल पहले अटल सरकार के खिलाफ लाया गया था अविश्वास प्रस्ताव

    ... जब 15 साल पहले अटल सरकार के खिलाफ लाया गया था अविश्वास प्रस्ताव

    मोदी सरकार आज विपक्ष के द्वारा लाए गये अविश्वास प्रस्ताव का सामना कर रही है. संसद के मॉनसून सत्र के तीसरे दिन लोकसभा में विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव पर बहस हो रही है. यह बीते 15 सालों में ऐसा पहली बार है, जब संसद में सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया गया हो. इससे पहले साल 2003 में तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस नीत विपक्ष ने अटल बिहारी वाजपेयी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया था और उस पर वोटिंग भी हुई थी. अगर आज विपक्ष का अविश्वास प्रस्ताव फेल होता है, तो मोदी सरकार भी अटल सरकार की तरह ही सरकार बचाने में कामयाब हो जाएगी. हालांकि, मोदी सरकार के पास जितनी संख्या है, उससे सरकार के ऊपर किसी तरह का खतरा नहीं है. 

  • मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर 'कभी हां, कभी ना' के बाद शिवसेना ने लिया यह 'अनोखा' फैसला

    मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर 'कभी हां, कभी ना' के बाद शिवसेना ने लिया यह 'अनोखा' फैसला

    संसद के मॉनसून सत्र में मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर कभी हां, कभी ना जैसा रुख अपनाने वाली शिवसेना ने सत्र शुरू होने से महज कुछ समय पहले ही एक अनोखा फैसला लेकर सबको चौंका दिया. शिवसेना ने पार्टी नेताओं के साथ बैठक के बाद यह स्पष्ट कर दिया कि वह अविश्वास प्रस्ताव पर होने वाली वोटिंग में हिस्सा नहीं लेगी.

  • PM मोदी को चुनौती देने के बाद पहली बार संसद में बोलेंगे राहुल गांधी, क्या सच में आएगा भूकंप?

    PM मोदी को चुनौती देने के बाद पहली बार संसद में बोलेंगे राहुल गांधी, क्या सच में आएगा भूकंप?

    संसद के मॉनसून सत्र के तीसरे दिन लोकसभा में मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर बहस को लेकर अब सब कुछ तय हो गया है. लोकसभा स्पीकर की ओर से सभी पार्टियों को उनकी संख्या के आधार पर समय बांट दिये गये हैं. वहीं, बीजेपी ने भी अपनी ओर से लोकसभा में पार्टी की ओर से बोलने वाले वक्ताओं की लिस्ट जारी कर दी है. मगर आज लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर बहस के दौरान सबकी नजरें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के भाषण पर होगी. क्योंकि जब से उन्होंने मोदी सरकार से संसद में 15 मिनट बोलने का समय मांगा है, तब से यह पहली बार होगा जब राहुल गांधी लोकसभा में बोलेंगे. यानी पीएम मोदी को चुनौती देने के बाद यह पहला मौका होगा, जब राहुल गांधी संसद में बोलेंगे. राहुल गांधी का लोकसभा में संबोधन इसलिए भी अहम है क्योंकि उन्होंने सार्वजनिक मंचों से बार-बार कहा था कि जब वह संसद में 15 मिनट बोलेंगे तो भूकंप आ जाएगा. 

  • मोदी सरकार के खिलाफ चार साल में लाया गया पहला अविश्वास प्रस्ताव गिरा

    मोदी सरकार के खिलाफ चार साल में लाया गया पहला अविश्वास प्रस्ताव गिरा

    मोदी सरकार के खिलाफ विपक्ष के पहला अविश्वास प्रस्ताव (No-confidence motion) गिर गया है. अविश्वास प्रस्ताव पर आज लगभग 12 घंटे की चर्चा के बाद हुए मत-विभाजन में 451 सदस्यों ने हिस्सा लिया जिसमें अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में 126 वोट पड़े जबकि विरोध में 325 मत पड़े.

  • अविश्वास प्रस्ताव पर बहस से पहले बोले PM मोदी : लोकतंत्र के लिए आज का दिन अहम, भारत हमें करीब से देख रहा है

    अविश्वास प्रस्ताव पर बहस से पहले बोले PM मोदी : लोकतंत्र के लिए आज का दिन अहम, भारत हमें करीब से देख रहा है

    संसद के मॉनसून सत्र का तीसरा दिन काफी अहम है. आज लोकसभा में मोदी सरकार के खिलाफ विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव पर बहस होगी. पूरे देश की निगाहें इस बात पर टिकी हैं कि आज लोकसभा में क्या होगा और कांग्रेस और सरकार को जो समय दिये गये हैं, उनमें किस तरह की बातों को उठाया जाएगा. हालांकि, अविश्वास प्रस्ताव पर बहस से पहले पीएम मोदी ने रचनात्मक और व्यवधान मुक्त बहस की उम्मीद जताई है.