NDTV Khabar

Archit gupta News in Hindi


'Archit gupta' - 186 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • RRB ALP Answer key: 18 फरवरी को जारी होगी आंसर-की, ये है लेटेस्ट अपटेड, जानिए डिटेल

    RRB ALP Answer key: 18 फरवरी को जारी होगी आंसर-की, ये है लेटेस्ट अपटेड, जानिए डिटेल

    RRB ALP Answer key का इंतजार कर रहे उम्मीदवारों के लिए खुशखबरी है. rrbthiruvananthapuram पर एक नोटिफिकेशन जारी किया गया है, जिसके मुताबिक आरआरबी आंसर-की (RRB ALP CBT Answer key) 18 फरवरी को जारी की जाएगी. आंसर-की का लिंक 18 फरवरी को 12 बजे एक्टिव किया जाएगा. ये लिंक 20 फरवरी तक एक्टिव रहेगा. उम्मीदवार आंसर-की (RRB ALP CBT 2 Answer key) पर 19 फरवरी सुबह 10 बजे से आपत्ति दर्ज करा पाएंगे. जबकि उम्मीदवार 20 फरवरी रात 11:59pm तक आपत्ति दर्ज कर सकेंगे.

  • RRB ALP Answer key: आंसर-की पर आरआरबी के अधिकारी ने दी ये जानकारी, जानिए डिटेल

    RRB ALP Answer key: आंसर-की पर आरआरबी के अधिकारी ने दी ये जानकारी, जानिए डिटेल

    RRB ALP Answer Key जल्द जारी कर दी जाएगी. कुछ वेबसाइट्स ने एएलपी, टेक्नीशियन परीक्षा की आंसर-की जारी होने की बात कही है. लेकिन बता दें कि आंसर-की अभी जारी नहीं की गई है. ऐसे में उम्मीदवारों फर्जी खबरों से सावधान रहें. आंसर-की इस सप्ताह के अंत या अगले सप्ताह की शुरुआत में जारी की जाएगी. रेलवे भर्ती बोर्ड के अधिकारी ने NDTV को यह जानकारी दी है. बता दें दूसरे स्टेज की परीक्षा की आंसर-की आरआरबी की सभी वेबसाइट्स पर जारी की जाएगी.

  • RRB NTPC Notification 2019: क्या फेक है 1 लाख 30 हजार पदों पर भर्ती का विज्ञापन? जानिए डिटेल

    RRB NTPC Notification 2019: क्या फेक है 1 लाख 30 हजार पदों पर भर्ती का विज्ञापन? जानिए डिटेल

    रेलवे भर्ती बोर्ड (Railway Recruitment Board) 1 लाख 30 हजार पदों पर भर्ती के लिए 23 फरवरी को एम्प्लॉयमेंट न्यूज (Employement News) में नोटिस जारी करेगा. सोशल मीडिया पर एक विज्ञापन वायरल हो रहा है, जिसमें RRB NTPC भर्ती से संबंधित जानकारी दी गई है. इस विज्ञापन में आवेदन शुरू होने की तारीख 28 फरवरी बताई गई है, साथ ही इसमें योग्यता, उम्र सीमा और अन्य जानकारी दी गई है.

  • RRB Group D Result Updates: कभी भी आ सकता है रिजल्ट, जानिए हर अपडेट

    RRB Group D Result Updates: कभी भी आ सकता है रिजल्ट, जानिए हर अपडेट

    रेलवे भर्ती बोर्ड (Railway Recruitment Board) किसी भी समय ग्रुप डी के 62 हजार 907 पदों पर हुई परीक्षा का रिजल्ट (RRB Group D Result) जारी कर सकता है. आरआरबी के वरिष्ठ अधिकारी ने NDTV को बताया, ''परीक्षा का रिजल्ट (Railway Group D Result) मध्य फरवरी में किसी भी दिन जारी कर दिया जाएगा. रिजल्ट (RRB Result) जारी करने को लेकर कोई तारीख तय नहीं हुई है.''

  • Exclusive: रेलवे में 1 लाख 31 हजार पदों के लिए 23 फरवरी को जारी होगा नोटिफिकेशन, जानिए डिटेल

    Exclusive: रेलवे में 1 लाख 31 हजार पदों के लिए 23 फरवरी को जारी होगा नोटिफिकेशन, जानिए डिटेल

    सरकारी नौकरी (Sarkari Naukri) की तलाश अब खत्म होने वाली है. रेलवे (Railway, RRB) जल्द ही विभिन्न पदों पर बंपर भर्तियां करने वाला है. हाल ही रेल मंत्री पीयूष गोयल(Piyush Goyal) ने ये घोषणा की थी कि रेलवे में 2 लाख 30 हजार पदों पर भर्तियां की जाएगी. रेलवे (RRB) में ये भर्ती 2 फेज में होगी. पहले फेज में 1 लाख 31 हजार 428 पदों पर भर्ती के लिए नोटिफिकेशन जारी होगा. जबकि दूसरे फेज में 99 हजार पदों पर भर्ती के लिए नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा.

  • UP Board Exam 2019: एग्जाम के दिन नहीं रखा इन बातों का ध्यान तो हो सकते हैं फेल

    UP Board Exam 2019: एग्जाम के दिन नहीं रखा इन बातों का ध्यान तो हो सकते हैं फेल

    यूपी बोर्ड (UP Board) की हाईस्कूल और इंटरमीडियट की परीक्षाएं (UP Board 10th, 12th Exam) 7 फरवरी से शुरू हो रही है. यूपी बोर्ड की परीक्षा (UP Board Exam 2019) में कुल 58 लाख 6 हजार 922 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल होंगे. उच्च शिक्षा मंत्री उपमुख्यमंत्री डॉक्टर दिनेश शर्मा ने कहा कि परीक्षाओं के लिये कुल 8354 विद्यालयों को परीक्षा केन्द्र बनाया गया है. परीक्षाओं को नकलविहीन बनाने के लिये सभी परीक्षा केन्द्रों पर सीसीटीवी कैमरे और ‘वॉयस रिकॉर्डर' लगाये गये हैं. 

  • Bihar Board Exam: 12वीं के स्टूडेंट्स इन 5 टिप्स को फॉलों कर मैथ्स में ला सकते हैं 90 फीसदी से ज्यादा नंबर

    Bihar Board Exam: 12वीं के स्टूडेंट्स इन 5 टिप्स को फॉलों कर मैथ्स में ला सकते हैं 90 फीसदी से ज्यादा नंबर

    बिहार बोर्ड (Bihar Board) की इंटरमीडिएट की परीक्षाएं (Bihar Board Exam 2019) शुरू हो गई हैं. इस साल 12वीं की परीक्षा (Bihar Board Intermediate Exam) में कुल 13,15,371 परीक्षार्थी शामिल हो रहे हैं. जिसमें से कुल 7,62,153 छात्र और 5,53,198 छात्राएं हैं. इंटरमीडिएट परीक्षा (Bihar Board 12th Exam) राज्य के अलग-अलग जिलों में कुल 1339 परीक्षा केंद्रों पर आयोजित की जा रही है.

  • CBSE Exam 2019: इन 5 टिप्स को अपनाकर मैथ्स में आप भी ला सकते हैं 90 फीसदी से ज्यादा नंबर

    CBSE Exam 2019: इन 5 टिप्स को अपनाकर मैथ्स में आप भी ला सकते हैं 90 फीसदी से ज्यादा नंबर

    सीबीएसई बोर्ड (CBSE Board) की 12वीं की परीक्षा नजदीक है. 12वीं की परीक्षा (CBSE 12th Class) 15 फरवरी से शुरू होगी. मैथ्स का पेपर (CBSE Maths Paper) 18 मार्च को होना है. मैथ्स एक ऐसा सब्जेक्ट जिससे ज्यादा तर स्टूडेंट्स घबरातें हैं. साथ ही यह ऐसा सब्‍जेक्‍ट है जो बहुत ही कम स्टूडेंट्स को पसंद होता है. लेकिन अच्छी तैयारी करने के बाद आप इस सब्जेक्ट में अच्छे नंबर ला सकते हैं.

  • पढ़ाई छोड़ PUBG खेल रहे लोग इन 5 स्टेप्स से छोड़ें गेमिंग की लत

    पढ़ाई छोड़ PUBG खेल रहे लोग इन 5 स्टेप्स से छोड़ें गेमिंग की लत

    CBSE और यूपी बोर्ड (UP Board) की परीक्षाएं नजदीक हैं, लेकिन कई स्टूडेंट्स परीक्षा की तैयारी करने की जगह ऑनलाइन गेम खेलने में लगे हुए हैं. ये गेमिंग की लत होती ही ऐसी है, एक बार गेम में मन लग जाता है, तो कहीं और मन नहीं लगता. पिछले साल ही विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने गेम खेलने की लत को मानसिक रोग की श्रेणी में शामिल किया है, जिसे 'गेमिंग डिसऑर्डर' नाम दिया गया है. ऑनलाइन गेमिंग की दुनिया में इस समय PUBG सबसे ज्यादा पाप्युलर है. ये गेम है ही इतना जबरदस्त की आप इसे खेले बिना रह नहीं सकते. गेल खेलने में कोई बुराई नहीं है लेकिन अगर आप सारा समय गेमिंग में ही खराब कर रहे हैं, तो ये आपके लिए काफी नुकसान देह और बुरा है. PUBG का मोबाइल वर्जन सबसे ज्यादा खेला जाता है. PUBG Mobile चीन में 9 फरवरी 2018 और पूरी दुनिया में 18 मार्च 2018 को लॉन्च किया गया था. देखते ही देखते ये गेम लोगों के बीच पाप्युलर हो गया. करीब 20 करोड़ से ज्यादा लोग इस गेम को डाउनलोड कर चुके हैं. इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि दुनिया की कितनी आबादी इस गेम की दिवानी है. भारत में इस गेम को खेलने वालों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती जा रही है. जिन लोगों ने कभी अपनी जिंदगी में गेम नहीं खेला वो भी इस खेम पर घंटों समय खराब कर रहे हैं. इस गेम के ग्राफिक्स बेहद कमाल के हैं और आप इस गेम को अपने दोस्तों के साथ, किसी अजनबी के साथ या अकेले खेल सकते हैं. हर उम्र के लोग इस गेम के पीछे पागल हो चुके हैं. कई स्टूडेंट्स अपनी पढ़ाई छोड़ इस गेम में लगे हुए हैं. उनमें से कई ऐसे हैं, जो ये गेम खेलना कम या खेलना बंद करना चाहते हैं, लेकिन गेमिंग के कीड़े को नहीं निकाल पा रहे हैं. ऐसे में आज हम आपको कुछ टिप्स दे रहे हैं, जिनको फॉलों कर आप गेमिंग की लत छोड़ सकते हैं. 

  • इन कारणों से महात्मा गांधी को 5 बार नामित होने के बाद भी नहीं मिला था शांति का नोबेल पुरस्कार

    इन कारणों से महात्मा गांधी को 5 बार नामित होने के बाद भी नहीं मिला था शांति का नोबेल पुरस्कार

    महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) को पूरी दुनिया में अहिंसा के सबसे बड़े पुजारी के रूप में जाना जाता है. अहिंसा के बल पर देश को आजादी दिलाने वाले गांधी जी (Gandhi ji) को 5 बार शांति के नोबेल पुरस्कार (Nobel Prize) के लिए नामित किया गया था. लेकिन बापू को 1 बार भी शांति पुरस्कार नहीं दिया गया. महात्मा गांधी  को शांति के नोबेल पुरस्कार के लिए पहली बार 1937 में नामिक किया गया था. Nobelprize.org पर दी गई जानकारी के मुताबिक 1937 में पहली बार नॉर्वे की संसद “स्टॉर्टिंग” के लेबर पार्टी सदस्य ओले कोल्बजोर्नसन ने एमके गांधी का नाम सुझाया था.

  • Mahatma Gandhi Death Anniversary: जब दांडी मार्च के दौरान बापू 24 दिनों तक रोज 16 से 19 किलोमीटर चलते थे पैदल

    Mahatma Gandhi Death Anniversary: जब दांडी मार्च के दौरान बापू 24 दिनों तक रोज 16 से 19 किलोमीटर चलते थे पैदल

    महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की आज पुण्यतिथि (Mahatma Gandhi Death Anniversary 2019) है. महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की 30 जनवरी 1948 को नाथूराम ने गोली मारकर हत्या (Mahatma Gandhi Death) कर दी थी. भारत की आजादी के लिए महात्मा गांधी ने कई आंदोलन किए थे. महात्मा गांधी को इसी कारण कई बार जेल जाना पड़ा था. महात्मा गांधी किसी साधन की बजाय पैदल चलने को तरजीह देते थे. नमक सत्याग्रह के दौरान गांधीजी ने 24 दिनों तक रोज औसतन 16 से 19 किलोमीटर पैदल यात्रा की.

  • Martyrs' Day: 30 जनवरी को क्यों मनाया जाता है शहीद दिवस?

    Martyrs' Day: 30 जनवरी को क्यों मनाया जाता है शहीद दिवस?

    शहीद दिवस (Martyrs' Day) हर साल 30 जनवरी को मनाया जाता है. नाथूराम गोडसे ने 30 जनवरी को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की गोली मार कर हत्या कर दी थी. बापू की पुण्यतिथि को हर साल शहीद दिवस के रूप में मनाया जाता है. महात्मा गांधी भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के प्रमुख नेता थे. भारत की आजादी में गांधी जी ने बेहद अहम भूमिका निभाई थी. देश की आजादी के लिए गांधी जी कई बार जेल भी गए थे. 

  • Mahatma Gandhi: महात्मा गांधी की हत्या के बाद नाथूराम गोडसे ने बापू के बेटे से कही थी ये बात

    Mahatma Gandhi: महात्मा गांधी की हत्या के बाद नाथूराम गोडसे ने बापू के बेटे से कही थी ये बात

    राष्ट्रपिता महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की 30 जनवरी 1948 को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. बापू की हत्या नाथूराम विनायक गोडसे (Nathuram Godse) ने की थी. गोडसे ने 30 जनवरी 1948 को बापू का सीना उस वक्‍त छलनी कर दिया जब वे दिल्‍ली के बिड़ला भवन में शाम की प्रार्थना सभा से उठ रहे थे. गोडसे ने बापू के साथ खड़ी महिला को हटाया और अपनी सेमी ऑटोमेटिक पिस्टल से एक बाद के एक तीन गोली मारकर उनकी हत्‍या कर दी. नाथूराम गोडसे को महात्मा गांधी की हत्या करने के तुरंत बाद ही गिरफ्तार कर लिया गया.

  • Pariksha Pe Charcha 2019: पीएम मोदी ने दिए सफलता के मंत्र, स्टूडेंट्स बेफिक्र होकर यूं करें परीक्षा की तैयारी

    Pariksha Pe Charcha 2019: पीएम मोदी ने दिए सफलता के मंत्र, स्टूडेंट्स बेफिक्र होकर यूं करें परीक्षा की तैयारी

    परीक्षा पे चर्चा की शुरुआत हो गई है. ये परीक्षा पे चर्चा का दूसरा संस्कृरण हैं. प्रधानमंत्री मोदी ने छात्रों, अभिभावकों एवं शिक्षकों से इसमें शामिल होने की अपील करते हुए कहा था कि यह प्रौद्योगिकी की ताकत का परिणाम है कि परीक्षा पे चर्चा को देशभर में स्कूलों एवं कालेजों में देखा जा सकेगा.

  • गणतंत्र दिवस 2019: क्या आप जानते हैं राष्ट्रगान और राष्ट्रगीत में अंतर?

    गणतंत्र दिवस 2019: क्या आप जानते हैं राष्ट्रगान और राष्ट्रगीत में अंतर?

    गणतंत्र दिवस (Republic Day) पर राष्ट्रपति राष्ट्र ध्वज को फहराते हैं और 21 तोपों की सलामी दी जाती है. वास्तव में वहां 21 तोपों द्वारा फायरिंग नहीं की जाती है. बल्कि भारतीय सेना की 7 तोपों (जिन्हें '25 पाउंडर्स' कहा जाता है) से सलामी दी जाती है. इन तोपों से तीन-तीन राउंड की फायरिंग की जाती है. जैसे ही राष्ट्रपति के बॉडीगार्ड के सीओ राष्ट्रपति को सलामी देते हैं, उसी समय ये तोपें फायर की जाती हैं. राष्ट्रगान शुरू होते ही पहली सलामी दी जाती है और ठीक 52 सेकंड बाद आखिरी सलामी दी जाती है.

  • 70th Republic Day 2019: 26 जनवरी को ही क्‍यों मनाया जाता है गणतंत्र दिवस?

    70th Republic Day 2019: 26 जनवरी को ही क्‍यों मनाया जाता है गणतंत्र दिवस?

    गणतंत्र दिवस (Republic Day) 26 जनवरी को मनाया जाता है. 1950 में 26 जनवरी (26 January) के दिन ही भारत सरकार अधिनियम (एक्ट) (1935) को हटाकर भारत का संविधान लागू किया गया था. 26 जनवरी 1950 को सुबह 10.18 बजे भारत एक गणतंत्र बना. इस के छह मिनट बाद 10.24 बजे राजेंद्र प्रसाद ने भारत के पहले राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली थी. इस दिन पहली बार बतौर राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद बग्गी पर बैठकर राष्ट्रपति भवन से निकले थे.

  • Republic Day 2019: जानिए कैसे होता है गणतंत्र दिवस के मुख्य अतिथि का चयन

    Republic Day 2019: जानिए कैसे होता है गणतंत्र दिवस के मुख्य अतिथि का चयन

    गणतंत्र दिवस (Republic Day) 26 जनवरी के मौके पर दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामाफोसा मुख्य अतिथि होंगे. विदेश मंत्रालय ने बताया कि रामफोसा के साथ उनकी पत्नी डॉ. शेपो मोसेपे, नौ मंत्रियों सहित उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल, वरिष्ठ अधिकारी और 50 सदस्यों का व्यावसायिक प्रतिनिधिमंडल भी होगा.

  • Republic Day 2019: जानिए गणतंत्र दिवस का इतिहास, महत्‍व और तथ्‍य

    Republic Day 2019: जानिए गणतंत्र दिवस का इतिहास, महत्‍व और तथ्‍य

    गणतंत्र दिवस (Republic Day) देश में हर साल 26 जनवरी को मनाया जाता है. 26 जनवरी 1950 को हमारे देश में संविधान लागू हुआ, जिसके उपलक्ष्य में हम 26 जनवरी (26th January) को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाते हैं. एक स्वतंत्र गणराज्य बनने के लिए भारतीय संविधान सभा द्वारा 26 नवंबर 1949 को संविधान अपनाया गया था, लेकिन इसे लागू 26 जनवरी 1950 में किया गया था.

12345»

Advertisement