NDTV Khabar

Assembly election results 2018


'Assembly election results 2018' - 258 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • नीतीश के बदले रुख पर शिवानंद तिवारी ने कहा- चूहे जहाज छोड़ने लगें तो उसका डूबना तय

    नीतीश के बदले रुख पर शिवानंद तिवारी ने कहा- चूहे जहाज छोड़ने लगें तो उसका डूबना तय

    राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने बिहार के सीएम नीतीश कुमार के हालिया बदले हुए रुख को लेकर कहा है कि चूहे जब जहाज छोड़ने लगें तो उसके डूबने का अनुमान आप सहजता से लगा सकते हैं.

  • 3 राज्यों के बाद अब कांग्रेस ने झारखंड में भी लहराया जीत का परचम

    3 राज्यों के बाद अब कांग्रेस ने झारखंड में भी लहराया जीत का परचम

    हत्या के एक मामले में झारखंड पार्टी के विधायक एनोस एक्का के सजा पाने के बाद खाली हुई कोलेबीरा विधानसभा सीट पर यह उपचुनाव कराए गए थे.

  • भूपेश बघेल ने ली छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री पद की शपथ, राहुल गांधी सहित कई बड़े नेता मौजूद

    भूपेश बघेल ने ली छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री पद की शपथ, राहुल गांधी सहित कई बड़े नेता मौजूद

    भूपेश बघेल (​Bhupesh Baghel) छत्तीसगढ़ के तीसरे मुख्यमंत्री बन गए हैं. राज्यपाल आनंदीबेन पटेल (Anandiben Patel) ने उन्हें पद और गोपनियता की शपथ दिलाई. भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel Oath Ceremony) राज्य के तीसरे मुख्यमंत्री हैं. इससे पहले रविवार को छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस प्रमुख भूपेश बघेल ने विधायक दल का नेता चुने जाने पर राजभवन जाकर सरकार गठन का दावा पेश किया था. राज्यपाल के प्रतिनिधि के तौर पर राज्यपाल के सचिव सुरेंद्र कुमार जायसवाल ने बघेल का दावापत्र ग्रहण किया. उसके बाद राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने 17 दिसंबर को भूपेश बघेल को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के लिए आमंत्रित किया था.

  • अशोक गहलोत तीसरी बार बने राजस्थान के सीएम, शपथ ग्रहण समारोह में दिखी विपक्ष की एकजुटता

    अशोक गहलोत तीसरी बार बने राजस्थान के सीएम, शपथ ग्रहण समारोह में दिखी विपक्ष की एकजुटता

    गहलोत तीसरी बार राजस्थान के मुख्यमंत्री बने हैं. राज्य में तीसरी बार मुख्यमंत्री बनने वाले वह चौथे नेता हैं. गहलोत से पहले भैंरो सिंह शेखावत और हरिदेव जोशी तीन-तीन बार मुख्यमंत्री रहे. हालांकि मोहन लाल सुखाड़िया सबसे अधिक चार बार इस पद पर रहे. गहलोत 1998 में पहली बार और 2008 में दूसरी बार मुख्यमंत्री बने थे. इंदिरा गांधी के समय से राजनीति में सक्रिय गहलोत केंद्र में मंत्री भी रहे हैं. राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी में कई अहम पदों पर रह चुके गहलोत तीन बार कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष रहे हैं. गहलोत ने राजनीति के अलावा 1971 में बांग्लादेश के मुक्ति संग्राम के दौरान पश्चिम बंगाल में बांग्लादेशी शरणार्थियों के शिविरों में काम किया और कई सामाजिक गतिविधियों में शामिल रहे.

  • अशोक गहलोत, कमलनाथ और भूपेश बघेल आज लेंगे CM पद की शपथ, विपक्षी एकता का होगा प्रदर्शन

    अशोक गहलोत, कमलनाथ और भूपेश बघेल आज लेंगे CM पद की शपथ, विपक्षी एकता का होगा प्रदर्शन

    मध्यप्रदेश में कांग्रेस विधायक दल के नेता कमलनाथ सोमवार को यहां एक भव्य समारोह में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. कमलनाथ दोपहर 1 बजे शपथ लेंगे.

  • बीजेपी शासन के दौरान 6 महीने जेल में रहा यह किसान नेता, अब बीजेपी प्रत्याशी को ही दी चुनाव में पटखनी

    बीजेपी शासन के दौरान 6 महीने जेल में रहा यह किसान नेता, अब बीजेपी प्रत्याशी को ही दी चुनाव में पटखनी

    बलवान पूनिया ने राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले के भद्रा विधान सभा क्षेत्र से बीजेपी प्रत्याशी संजीव कुमार को लगभग 23 हजार वोटों से मात दी है. आपको बता दें कि संजीव कुमार 2013 में बीजेपी टिकट से यहां चुनाव जीते थे, जबकि 1998 में कांग्रेस केे टिकट से जीत हासिल की थी, लेकिन इस बार बलवान पूनिया ने धूल चटा दी. 

  • छत्तीसगढ़ के तीसरे सीएम भूपेंद्र बघेल: बड़े नेताओं की मौत के बाद नेतृत्व संकट से जूझ रही कांग्रेस के खेवनहार

    छत्तीसगढ़ के तीसरे सीएम भूपेंद्र बघेल: बड़े नेताओं की मौत के बाद नेतृत्व संकट से जूझ रही कांग्रेस के खेवनहार

    छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के परिणामों के ऐलान के बाद छठवें दिन भूपेश बघेल का नाम मुख्यमंत्री के रूप में तय हो गया. रविवार को छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel)  को मुख्यमंत्री चुना गया. बघेल बतौर सीएम सोमवार शाम करीब 4.30 बजे मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. हाालंकि, अभी कुछ देर में कांग्रेस आधिकारिक तौर पर इसकी घोषणा करेगी. मुख्यमंत्री की रेस में बघेल के अलावा टीएस सिंहदेव, ताम्रध्वज साहू और चरण दास महंत थे. भूपेश बघेल का सियासी सफर काफी रोमांचक और उठा-पटक वाला रहा है. एक बार तो उन्हें जेल भी जाना पड़ा. 

  • तीन राज्यों में बीजेपी की हार पर बोले पार्टी नेता- कुछ लोग पार्टी में तानाशाह हो गए थे, प्रभु सद्‌बुद्धि दें

    तीन राज्यों में बीजेपी की हार पर बोले पार्टी नेता- कुछ लोग पार्टी में तानाशाह हो गए थे, प्रभु सद्‌बुद्धि दें

    राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनावों में बीजेपी की हार पर यूपी के वरिष्ठ नेता आईपी सिंह ने कुछ पार्टी नेताओं को तानाशाह बताते हुए कहा- प्रभु उन्हें सद्बुद्धि दें.

  • सबसे धनी उम्मीदवार वोटों के मामले में साबित हुई कंगाल, जमानत भी नहीं बचा पाई

    सबसे धनी उम्मीदवार वोटों के मामले में साबित हुई कंगाल, जमानत भी नहीं बचा पाई

    इस बार विधानसभा चुनाव में सबसे अमीर प्रत्याशी जमींदारा पार्टी की कामिनी जिंदल (घोषित आय 287 करोड़ रुपए) थीं. पिछली विधानसभा में सबसे धनी विधायक रही कामिनी गंगानगर सीट पर इस बार अपनी जमानत तक नहीं बचा सकीं. केवल 4887 मतों के साथ वे छठे स्थान पर रहीं. रोचक बात यह है कि गंगानगर की चर्चित सीट पर निर्दलीय राजकुमार गौड़ विजयी रहे जो कांग्रेस के बागी हैं.

  • राहुल गांधी को निशाना बना कैलाश विजयवर्गीय का विवादित ट्वीट- विदेशी स्त्री की संतान देशभक्त नहीं हो सकती

    राहुल गांधी को निशाना बना कैलाश विजयवर्गीय का विवादित ट्वीट- विदेशी स्त्री की संतान देशभक्त नहीं हो सकती

    विजयवर्गीय ने ट्वीट करते हुए लिखा था, 'विदेशी स्त्री से उत्पन्न संतान कभी देश हित और राष्ट्र प्रेम का अनुगामी नहीं हो सकता.' इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर यूजर्स ने उन्हें निशाने पर ले लिया था. राहुल गांधी की मां सोनिया गांधी इटालियन मूल की हैं, लेकिन वे हमेशा से भारत को अपना 'असली मुल्क' करार देती रही हैं. हालांकि, विरोध के बाद विजयवर्गीय ने वह ट्वीट हटा लिया, लेकिन अभी तक उस पर माफी नहीं मांगी है.

  • भोपाल के जम्बूरी मैदान में 17 दिसंबर को भव्य समारोह में कमलनाथ अकेले लेंगे शपथ

    भोपाल के जम्बूरी मैदान में 17 दिसंबर को भव्य समारोह में कमलनाथ अकेले लेंगे शपथ

    मध्यप्रदेश के मनोनीत मुख्यमंत्री कमलनाथ अकेले सोमवार 17 जनवरी को भोपाल के जम्बूरी मैदान में एक भव्य समारोह में मुख्यमंत्री के पद और गोपनीयता की शपथ लेंगे. प्रदेश में 15 साल बनने जा रही कांग्रेस की सरकार में फिलहाल मुख्यमंत्री को शपथ दिलायी जाएगी जबकि मंत्रिमंडल के अन्य सदस्यों का शपथ ग्रहण बाद में होगा.

  • योगी सरकार के मंत्री ने बताया, तीन राज्यों में क्यों हारी बीजेपी

    योगी सरकार के मंत्री ने बताया, तीन राज्यों में क्यों हारी बीजेपी

    ओम प्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) ने कहा कि मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ व राजस्थान में भाजपा को एससी/एसटी कानून व लम्बे समय तक सरकार में रहने का खामियाजा भुगतना पड़ा है. आपको बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी का 29 दिसंबर को गाजीपुर में महाराज सुहेलदेव की स्मृति में डाक टिकट जारी करने का कार्यक्रम प्रस्तावित है.  

  • अशोक गहलोत होंगे राजस्थान के मुख्यमंत्री, सचिन पायलट चुने गए डिप्टी सीएम

    अशोक गहलोत होंगे राजस्थान के मुख्यमंत्री, सचिन पायलट चुने गए डिप्टी सीएम

    राजस्थान में कांग्रेस की जीत के बाद से ही इस बात पर सबकी नजरें टिकीं थीं कि आखिर राजस्थान का सीएम कांग्रेस किसे बनाती है. मगर अब राजस्थान के सीएम पर से सस्पेंस खत्म हो गया है. राहुल गांधी ने अशोक गहलोत के नाम पर मंजूरी दे दी है.

  • BJP कहीं पलट न दे बाजी, इसलिए कांग्रेस ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को नहीं बनाया MP का सीएम!

    BJP कहीं पलट न दे बाजी, इसलिए कांग्रेस ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को नहीं बनाया MP का सीएम!

    मध्य प्रदेश में सत्ता से दूर रहने का वनवास खत्म होने के बाद बीजेपी को हराने वाली कांग्रेस के सामने सबसे बड़ी चुनौती थी कि आखिर वह सूबे का मुख्यमंत्री किसे बनाए? मगर काफी माथापच्ची और सियासी बैठकों के बाद आखिरकार गुरुवार की रात यह फैसला हो गया कि कमलनाथ ही राज्य के मुख्यमंत्री होंगे. दरअसल, मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री पद के दो दावेदार थे. एक कमलनाथ और दूसरे ज्योतिरादित्य सिंधिया. मगर कांग्रेस हाईकमान ने काफी सोच-समझने के बाद कमलनाथ के नाम पर मंजूरी दे दी. हालांकि, ऐसा माना जा रहा है कि कांग्रेस ने यह फैसला आगे की रणनीति को भी ध्यान में रखकर लिया है. 

  • मुख्यमंत्री पर मंथन : राजस्थान के मुख्यमंत्री होंगे अशोक गहलोत, सचिन पायलट डिप्टी सीएम, छत्तीसगढ़ पर सस्‍पेंस

    मुख्यमंत्री पर मंथन : राजस्थान के मुख्यमंत्री होंगे अशोक गहलोत, सचिन पायलट डिप्टी सीएम, छत्तीसगढ़ पर सस्‍पेंस

    मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में मुख्यमंत्री के नाम पर बना सस्पेंस खत्म हो गया है और लोकसभा चुनाव 2019 से पहले अनुभव को तरजीह देते हुए कांग्रेस ने कमलनाथ के नाम को मुख्यमंत्री पद लिए हरी झंडी दे दी है. हालांकि, राजस्थान (Rajasthan) और छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) पर फैसला अभी भी बाकी है. राजस्थान में मुख्यमंत्री के नाम को लेकर सुबह से शुरू हुआ सियासी ड्रामा देर रात तक चला. मगर तब भी किसी एक नाम पर सहमति नहीं बनी. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राजस्थान और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्रियों पर फैसला शुक्रवार के लिए टाल दिया है क्योंकि वह इस विषय पर पार्टी नेताओं से और चर्चा करना चाहते हैं. सूत्रों के अनुसार गांधी ने छत्तीसगढ़ के नये मुख्यमंत्री पर फैसला करने के लिए गुरुवार को प्रदेश के पार्टी नेताओं से चर्चा की मगर दावेदारों से और चर्चा करने के लिए फैसला शुक्रवार के लिए टाल दिया. कांग्रेस अध्यक्ष ने राजस्थान के मुख्यमंत्री पद के दावेदारों अशोक गहलोत और सचिन पायलट के साथ कई बैठकें कीं, लेकिन उनके बीच कोई सहमति नहीं बन पायी. पायलट ने इस शीर्ष पद के लिए दावा किया. राहुल गांधी के निवास के बाहर पायलट के समर्थकों ने उनके समर्थन में नारे भी लगाए.

  • कांग्रेस में किसी ने नहीं सोचा था कि राजस्थान व मध्य प्रदेश में इतनी आसान जीत मिलेगी : पी चिदंबरम 

    कांग्रेस में किसी ने नहीं सोचा था कि राजस्थान व मध्य प्रदेश में इतनी आसान जीत मिलेगी : पी चिदंबरम 

    विधानसभा चुनावों (Assembly Election Results 2018) में कांग्रेस की जीत पर चिदंबरम (P.Chidambaram) ने कहा कि कांग्रेस में किसी ने नहीं सोचा था कि राजस्थान या मध्य प्रदेश में इतनी आसान जीत मिलेगी. पार्टी ने वोट शेयर, वोटों की संख्या के मामले भाजपा से अच्छा प्रदर्शन किया है. उन्होंने कहा कि भाजपा के धोखे को समाज के विभिन्न वर्गों, किसानों, युवाओं, स्वरोजगार लोगों, कारोबारियों, दलितों और अल्पसंख्यकों ने पहचान लिया है.

  • NEWS FLASH: 54वें ज्ञानपीठ पुरस्‍कार से सम्‍मानित किए गए लेखक अमिताभ घोष

    NEWS FLASH: 54वें ज्ञानपीठ पुरस्‍कार से सम्‍मानित किए गए लेखक अमिताभ घोष

    देश-दुनिया की राजनीति, खेल एवं मनोरंजन जगत से जुड़े समाचार इसी एक पेज पर जानें...

  • भावुक हुए शिवराज सिंह, कहा- जीना यहां-मरना यहां; मध्यप्रदेश वासियों को मुझसे कष्ट हुआ तो क्षमा करें

    भावुक हुए शिवराज सिंह, कहा- जीना यहां-मरना यहां; मध्यप्रदेश वासियों को मुझसे कष्ट हुआ तो क्षमा करें

    मध्यप्रदेश के निवृत्तमान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह पद छोड़ने के बाद से काफी भावुक नजर आए. बुधवार को गवर्नर को इस्तीफा सौंपने के बाद उन्होंने चुनाव में बीजेपी की हार के लिए सिर्फ खुद को जिम्मेदार माना. उन्होंने बुधवार को सोशल मीडिया (ट्विटर और फेसबुक) पर कई संदेश दिए और लोगों के संदेशों के उत्तर दिए जिनमें वे काफी भावुक दिखे.