NDTV Khabar

Atal bihari vajpayee birth anniversary


'Atal bihari vajpayee birth anniversary' - 6 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • अटल बिहारी वाजपेयी की 94वीं जयंती पर राष्ट्र को समर्पित किया गया ‘सदैव अटल’ स्मारक

    अटल बिहारी वाजपेयी की 94वीं जयंती पर राष्ट्र को समर्पित किया गया ‘सदैव अटल’ स्मारक

    अटल बिहारी वाजपेयी का निधन लम्बी बीमारी के बाद इस साल 16 अगस्त को हो गया था. यह समाधि एक कवि, मानवतावादी राजनेता और एक महान नेता के रूप में उनके व्‍यक्तित्‍व को दर्शाती है. समाधि के केंद्रीय मंच में चौकोर और काली पॉलिश वाले ग्रेनाइट के नौ ब्‍लॉक लगे हैं, जिसके केन्‍द्र में एक दीया रखा गया है.

  • NEWS FLASH: राजस्‍थान में प्रशासनिक फेरबदल, 6868 आईएएस अधिकारियों का हुआ तबादला

    NEWS FLASH: राजस्‍थान में प्रशासनिक फेरबदल, 6868 आईएएस अधिकारियों का हुआ तबादला

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज भारत के सबसे लंबे रेल-रोड ब्रिज का उद्घाटन करेंगे. असम और अरुणाचल प्रदेश के बॉर्डर पर स्थित 4.9 किलोमीटर लंबा बोगीबील पुल ब्रह्मपुत्र के दो सिरों को आपस में जोड़ता है. इस पुल के ज़रिये दोनों राज्यों के बीच आवागमन आसान हो जाएगा.

  • Atal Bihari Vajpayee: अटल इरादों की उड़ान था पोखरण परीक्षण, जानिए 10 बातें

    Atal Bihari Vajpayee: अटल इरादों की उड़ान था पोखरण परीक्षण, जानिए 10 बातें

    आज अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) की जयंती के मौके पर पूरा देश उन्हें याद कर रहा है. अटल बिहारी वाजपेयी का जन्म (Atal Bihari Vajpayee Birthday) 25 दिसंबर 1924 को मध्य प्रदेश के ग्वालियर में हुआ था. भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी राजनेता के अलावा हिन्दी के कवि, पत्रकार, और प्रखर वक्ता थे. राजनीति में अटल बिहारी (Atal Bihari) वाजपेयी का प्रवेश 1942 में भारत छोड़ो आंदोलन में हिस्सा लेने के साथ हुआ. इस आंदोलन में हिस्सा लेने की वजह से उन्हें और उनके बड़े भाई प्रेम को 23 दिनों तक जेल में रहना पड़ा.

  • Atal Bihari Vajpayee Quotes: 'छोटे मन से कोई बड़ा नहीं होता, टूटे मन से कोई खड़ा नहीं होता'

    Atal Bihari Vajpayee Quotes: 'छोटे मन से कोई बड़ा नहीं होता, टूटे मन से कोई खड़ा नहीं होता'

    अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) की आज जयंती है. आज अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती (Atal Bihari Vajpayee Jayanti) के मौके पर पूरा देश उन्हें याद कर रहा है. अटल बिहारी वाजपेयी पूर्व प्रधानमंत्री, प्रखर राजनेता और ओजस्‍वी वक्‍ता थे. उनका जन्म (Atal Bihari Birthday) 25 दिसंबर 1924 को ग्वालियर में हुआ था. वे पहली बार साल 1996 में 16 मई से 1 जून तक, 19 मार्च 1998 से 26 अप्रैल 1999 तक और फिर 13 अक्टूबर 1999 से 22 मई 2004 तक देश के प्रधानमंत्री रहे हैं. भारतीय जनसंघ की स्थापना में भी उनकी अहम भूमिका रही.

  • पीएम मोदी ने अटल बिहारी वाजपेयी की याद में जारी किया 100 रुपए का सिक्का, कहा- विश्वास नहीं हो रहा कि वे हमारे साथ नहीं हैं

    पीएम मोदी ने अटल बिहारी वाजपेयी की याद में जारी किया 100 रुपए का सिक्का, कहा- विश्वास नहीं हो रहा कि वे हमारे साथ नहीं हैं

    100 रुपए के सिक्के में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की तस्वीर के साथ उनका नाम हिंदी और अंग्रेजी में लिखा होगा. इस सिक्के का वजन 35 ग्राम होगा. इसके साथ ही इस पर वाजपेयी के जन्मतिथि (1924) और पुण्यतिथि (2018) भी लिखी होगी. उसके साथ ही दूसरी तरफ अशोक चक्र की तस्वीर होगी और उसके नीचे 'सत्यमेव जयते' लिखा होगा.

  • एम्स के डॉक्टरों ने कैसे अटल बिहारी वाजपेयी को जेल जाने से बचाया था, पढ़ें- पूरा किस्सा

    एम्स के डॉक्टरों ने कैसे अटल बिहारी वाजपेयी को जेल जाने से बचाया था, पढ़ें- पूरा किस्सा

    Atal Bihari Vajpayee Jayanti: 25 जून 1975. इंदिरा गांधी ने देश में इमरजेंसी की घोषणा कर दी थी. हर तरफ विपक्षी नेताओं की धरपकड़ हो रही थी. अटल बिहारी वाजपेयी प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के खिलाफ मोर्चा खोले हुए थे. ऐसे में यह तय था कि उनकी भी गिरफ्तारी होनी है.