NDTV Khabar

Atal bihari vajpayee cremation


'Atal bihari vajpayee cremation' - 16 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • राजद ने भाजपा नेताओं से पूछा-अटलजी की याद में मुंडन कब कराएंगे ?

    राजद ने भाजपा नेताओं से पूछा-अटलजी की याद में मुंडन कब कराएंगे ?

    अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के बाद उनकी अस्थियों की बीजेपी की ओर से देश भर में  यात्रा निकाले जाने पर विपक्ष निशाना साध रहा है. राष्ट्रीय जनता दल(राजद) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने भाजपा नेताओं से पूछा है कि अटल जी की अस्थि प्रवाह के बाद अब दस कर्म तथा मुंडन संस्कार कब कराएंगे ?

  • पूर्व पीएम वाजपेयी के अंतिम संस्कार में पहुंचा आतंकी डेविड हेडली का सौतेला भाई, पाकिस्तानी दल का था हिस्सा

    पूर्व पीएम वाजपेयी के अंतिम संस्कार में पहुंचा आतंकी डेविड हेडली का सौतेला भाई, पाकिस्तानी दल का था हिस्सा

    पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के अंतिम संस्कार में आए पाकिस्तानी दल को लेकर विवाद खड़ा हो गया है. 5 सदस्यों के इस दल में 26/11 के मुंबई आतंकी हमले के आरोपी डेविड हेडली का सौतेला भाई दानियाल गिलानी भी शामिल था. दानियाल पाकिस्तानी सिविल सर्वेंट है और वो खुद के डेविड हेडली से रिश्तों को नकारता रहा है.

  • अंतिम यात्रा नहीं सियासी दस्तावेज थी अटल जी की विदाई...

    अंतिम यात्रा नहीं सियासी दस्तावेज थी अटल जी की विदाई...

    मेरी निगाह बरबस सड़क के उस पार एक मस्जिद के किनारे खड़े तमाम मुस्लिम नौजवानों और बच्चों पर पड़ी. सिर पर झक सफेद टोपी लगाए वे 'अटल जिंदाबाद' के नारे लगा रहे थे. मोबाइल से अंतिम यात्रा की तस्वीरें लेने का प्रयास कर रहे थे. फूल बरसा रहे थे. ये महज दो दृश्य नहीं थे. इसे भाजपा की सियासी यात्रा का दस्तावेज भी कह सकते हैं.

  • दूसरों को छोटे होने का एहसास नहीं होने देते थे वाजपेयी...

    दूसरों को छोटे होने का एहसास नहीं होने देते थे वाजपेयी...

    आज वाजपेयी बहुत याद आते हैं. और बहुत सी यादें ऐसी हैं जिन्‍हें याद कर के यकीन नहीं होता कि क्‍या वाकई ये सब हुआ था? 2004 में लोकसभा चुनाव हो रहे थे. वाजपेयी लखनऊ से चुनाव जीत कर तीसरी बार पीएम थे. वो फिर यहां से लोकसभा उम्‍मीदवार थे. लखनऊ के राजभवन में उनकी प्रेस कॉन्‍फ्रेंस थी. इस बार उनकी प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के लिए सिक्‍योरिटी काफी सख्‍त थी.

  • वाजपेयी सरकार में शत्रुघ्न सिन्हा को मिली थी बड़ी जिम्मेदारी, निधन पर बोले, 'मैं अनाथ महसूस कर रहा'

    वाजपेयी सरकार में शत्रुघ्न सिन्हा को मिली थी बड़ी जिम्मेदारी, निधन पर बोले, 'मैं अनाथ महसूस कर रहा'

    राजनीति के अजातशत्रु कहे जाने वाले पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी अब नहीं रहे. उनके निधन पर हर कोई उन्हें अपने-अपने तरीके से याद कर रहा है. इस मौके पर भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने भी उन्हें याद करते हुए श्रद्धांजलि दी. उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vaajpayee) के निधन की खबर सुनकर उन्हें लगा कि वह 'अनाथ' हो गए हैं, क्योंकि उन्होंने उनके अभिभावकत्व में 'अच्छी राजनीति की कला' सीखी थी. पटना साहिब से बीजेपी सांसद शत्रुघ्न ने वाजपेयी को 'पिता सरीखे' बताया. अटल बिहारी वाजपेयी का लंबी बीमारी के बाद गुरुवार शाम दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में निधन हो गया था. 

  • यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने यह फोटो ट्वीट कर अटल जी को किया याद...

    यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने यह फोटो ट्वीट कर अटल जी को किया याद...

    देश के पूर्व प्रधानमंत्री और भारतीय राजनीति के अजातशत्रु कहे जाने वाले अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vaajpayee) पंचतत्व में विलीन हो गए. पूरे राजकीय सम्मान के साथ राष्ट्रीय स्मृति स्थल पर उनका अंतिम संस्कार किया गया. वाजपेयी के निधन पर सत्ता पक्ष के साथ-साथ विपक्ष और देश की जनता में शोक की लहर है. हर कोई उन्हें अलग-अलग तरीकों से याद कर रहा है. उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि दी. 

  • अटल की शक्ति अटल की सीमा...

    अटल की शक्ति अटल की सीमा...

    कुछ लोगों के व्यक्तित्व में अपनी तरह की एक ऊष्मा होती है. अटल बिहारी वाजपेयी का व्यक्तित्व कुछ ऐसा ही था. एक बड़प्पन उनकी शख्सियत में था. वे जवाहरलल नेहरू की तारीफ़ कर सकते थे, इंदिरा गांधी को बांग्लादेश युद्ध के बाद दुर्गा बता सकते थे और विपक्ष के बहुत सारे नेताओं से ऐसे दोस्ताना संबंध रख सकते थे जो दलगत राजनीति से ऊपर हों.

  • संघ प्रमुख मोहन भागवत बोले: अटल जैसे व्यक्ति बार-बार नहीं मिलते, युगों में एक होते हैं

    संघ प्रमुख मोहन भागवत बोले: अटल जैसे व्यक्ति बार-बार नहीं मिलते, युगों में एक होते हैं

    पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी आज पंचतत्व में विलीन हो जाएंगे. आज शाम चार बजे उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा. अटल जी का जाना राजनीति में एक युग के अंत के समान है. अटल जी की मौत से पूरा देश शोक की लहर में डूब गया है. देश भर से अटल जी को श्रद्धांजलि दी जा रही है. पीएम मोदी से लेकर संघ प्रमुख मोहन भागवत तक ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है. पीएम मोदी ने अटल जी की निधन पर कहा कि उनके माथे से पितातुल्य अटल जी का साया उठ गया है. 

  • जब राजमाता सिंधिया ने भिजवाई थी कार, तो अटलजी ने दिया था ये जवाब

    जब राजमाता सिंधिया ने भिजवाई थी कार, तो अटलजी ने दिया था ये जवाब

    वाजपेयी जी का जन्म मध्यवर्गीय ब्राह्मण परिवार में शिंदे की छावनी इलाके में हुआ था. मां कृष्णा देवी और पिता कृष्ण बिहारी वाजपेयी. अटलजी लश्कर में स्थित गोरखी माध्यमिक विद्यालय में पढ़े ये वही स्कूल था जहां 1935 से 1937 तक उनके पिता प्राचार्य रहे.

  • पूर्व पीएम अटल जी को श्रद्धांजलि देने पहुंचे स्वामी अग्निवेश के साथ बीजेपी मुख्यालय में हाथापाई, बोले- मुझे गद्दार कहा गया

    पूर्व पीएम अटल जी को श्रद्धांजलि देने पहुंचे स्वामी अग्निवेश के साथ बीजेपी मुख्यालय में हाथापाई, बोले- मुझे गद्दार कहा गया

    दिल्ली में बीजेपी मुख्यालय में स्वामी अग्निवेश के साथ हाथापाई की बात सामने आई है. स्वामी अग्निवेश ने कहा कि मेरे साथ हाथापाई हुई है और मुझे अपमानित किया गया है. 

  • अटल बिहारी वाजेपयी : अवसान एक युग का...

    अटल बिहारी वाजेपयी : अवसान एक युग का...

    जिन्हें नहीं देखा, नहीं देखा, परन्तु राजनीति की मुझे समझ आने के बाद राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय राजनीति में यही एकमात्र नाम है, जिसे आदर्श राजनेता मान पाया हूं... जिसे विजय पर घमंड नहीं, पराजय से खीझ नहीं... विपक्ष में रहो, तो सत्ता से लड़ते हुए भी उसे सम्मान दो... सत्ता में रहो, तो विपक्ष को पूरा मान दो...

  • 'पितातुल्य' अटल जी को याद कर पीएम नरेंद्र मोदी ने लिखा भावुक ब्लॉग- 'मेरे अटल जी'

    'पितातुल्य' अटल जी को याद कर पीएम नरेंद्र मोदी ने लिखा भावुक ब्लॉग- 'मेरे अटल जी'

    भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन से देश में शोक की लहर है. आज पूर्व पीएम अटल जी पंचतत्व में विलीन हो जाएंगे. अटल बिहारी वाजपेयी भारतीय राजनीति के अजातशत्रु कहे जाते हैं, लिहाजा उनका निधन देश के लिए और राजनीति के लिए बड़े नुकसान से कम नहीं है. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का जाना राजनीति के एक युग के अंत के समान है. यही वजह है कि इस मौके पर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक लेख के जरिये पूर्व पीएम अटल जी को श्रद्धांजलि दी है. इस लेख में उन्होंने अटल जी के साथ के पल को याद किया है और साथ ही अटल जी ने देश के लिए जो किया है, उसका बखान किया है. 

  • पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का अंतिम सफर, तस्‍वीरों में देखें

    पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का अंतिम सफर, तस्‍वीरों में देखें

    नयी दिल्ली के लुटियंस जोन में कृष्णा मेनन मार्ग पर स्थित बंगला नंबर 6-ए के आसपास सुरक्षा का भारी बंदोबस्त है.

  • अटल जी के अंतिम दर्शन को उमड़ी समर्थकों की भीड़, इतनी किमी लगी लंबी लाइन

    अटल जी के अंतिम दर्शन को उमड़ी समर्थकों की भीड़, इतनी किमी लगी लंबी लाइन

    पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी आज पंचतत्व में विलीन हो जाएंगे. दोपहर 1 बजे बीजेपी मुख्यालय से उनकी अंतिम यात्रा शुरू होगी और शाम 4 बजे राष्ट्रीय स्मृति स्थल पर उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा. फिलहाल अटल जी के अंतिम दर्शन के लिए दिल्ली के कृष्णा मेनन मार्ग स्थित घर के बाहर लगी 1 किमी लंबी लाइन लगी है. सुरक्षा जांच के बाद अटल जी के समर्थकों को अंदर जाने दिया जा रहा है. लगभग 8:30 बजे तक आम जनता को अटल जी के अंतिम दर्शन कराए जाएंगे. लगभग 9 बजे अटल जी के पार्थिव शरीर को बीजेपी दफ़्तर ले जाया जाएगा. इस बीच अटल बिहारी वाजेपयी के घर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह भी पहुंच गये हैं. अटल जी की अंतिम यात्रा में क़रीब 5 लाख लोगों के जुटने की उम्मीद है. जिसके मद्देनज़र सुबह आठ बजे से देर शाम तक दिल्ली की 25 सड़कें बंद रहेंगी. 

  • लाखों लोगों की उपस्थिति में आज पंचतत्व में विलीन होंगे अटल जी, जानें अंतिम यात्रा से जुड़ी हर बातें

    लाखों लोगों की उपस्थिति में आज पंचतत्व में विलीन होंगे अटल जी, जानें अंतिम यात्रा से जुड़ी हर बातें

    देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजेपयी अब हमारे बीच नहीं रहे. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी आज पंचतत्व में विलीन हो जाएंगे. दोपहर 1 बजे बीजेपी मुख्यालय से उनकी अंतिम यात्रा शुरू होगी और शाम 4 बजे राष्ट्रीय स्मृति स्थल पर उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा.

  • इन सड़कों से गुजरेगी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अंतिम यात्रा

    इन सड़कों से गुजरेगी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अंतिम यात्रा

    सुबह 9 बजे उनके पार्थिव शरीर को दीनदयाल उपाध्याय मार्ग स्थित बीजेपी मुख्यालय ले जाया जाएगा. जहां दोपहर 1 बजे तक लोग अटल जी के अंतिम दर्शन कर सकेंगे.

Advertisement