NDTV Khabar

Bihar rain


'Bihar rain' - 118 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • बिहार में बाढ़ के बाद अब डेंगू बनी बड़ी समस्या, 1400 से ज्यादा मामले आए सामने

    बिहार में बाढ़ के बाद अब डेंगू बनी बड़ी समस्या, 1400 से ज्यादा मामले आए सामने

    बता दें कि प्रशासन की तरफ से जारी आंकड़ों के अनुसार राज्यभर में डेंगू से प्रभावित मरीजों में 20 फीसदी मरीज की उम्र 17 साल या इससे कम है. राज्य सरकार की तरफ से खासतौर पर छात्रों के लिए एक एडवाइजरी भी जारी की गई है. जिसमें उनसे पूरे बाजू का शर्ट पहनने को कहा गया है. 

  • Patna जल जमाव पर सियासत: दो महीने पहले जिस पूर्व कमिश्नर के काम की मंत्री कर रहे थे तारीफ, अब उसी को बताया जिम्मेदार

    Patna जल जमाव पर सियासत: दो महीने पहले जिस पूर्व कमिश्नर के काम की मंत्री कर रहे थे तारीफ, अब उसी को बताया जिम्मेदार

    वीडियो में मंत्री कह रहे है कि पिछले दो साल का वर्क रिकॉर्ड अच्छा रहा है. मैं मेयर से अपील करता हूं कि नगर निगम के कमिश्नर अनुपम सुमन के अच्छे काम के लिए तालियां बजाएं. जब मैं शहरी विकास मंत्री बना तो पटना बहुत खराब था. मैं इसके स्मार्ट सिटी बनने के बारे में सोच भी नहीं सकता था. लेकिन मेयर और पटना नगर निगम कमिश्नर ने शहर को बदल दिया.

  • करीब एक महीने की देरी के बाद 10 अक्टूबर से लौटेगा मानसून: आईएमडी

    करीब एक महीने की देरी के बाद 10 अक्टूबर से लौटेगा मानसून: आईएमडी

    मौसम विभाग ने एक पूर्वानुमान में कहा, 'राजस्थान में औसत समुद्र तल से करीब डेढ़ किमी ऊपर छह अक्टूबर के आस-पास हवा के उच्च दबाव का क्षेत्र बनने के कारण उत्तर पश्चिमी भारत से 10 अक्तूबर के करीब दक्षिण-पश्चिम मानसून की वापसी शुरू होने की उम्मीद है.' 

  • Bihar: बाढ़ के बाद महामारी की आशंकाओं के बीच अस्पताल अलर्ट पर, जारी किए टोल फ्री नंबर

    Bihar: बाढ़ के बाद महामारी की आशंकाओं के बीच अस्पताल अलर्ट पर, जारी किए टोल फ्री नंबर

    पूरे प्रदेश में डेंगू और चिकनगुनया से प्रभावित लोगों की संख्या 900 के पार पहुंच गई है. जिसमें अकेले पटना में क़रीब 520 मामले हैं. शनिवार को डेंगू के 120 मामले पॉजिटिव पाए गए. जबकि चिकनगुनिया के भी 70 से ज़्यादा मामले सामने आ चुके हैं. महामारी की आशंकाओं के बीच बिहार सरकार ने सभी अस्पतालों को अलर्ट पर रखते हुए सभी सुविधाओं को जनता के लिए उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं.

  • बिहार में बाढ़ और बारिश के बाद अब डेंगू-चिकनगुनिया की मार, मरीजों की संख्या 900 के पार पहुंची

    बिहार में बाढ़ और बारिश के बाद अब डेंगू-चिकनगुनिया की मार, मरीजों की संख्या 900 के पार पहुंची

    बिहार में बाढ़, बारिश और जल जमाव से बुरे हालात हैं. राज्य में 160 से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है जबकि अब महामारी का ख़तरा मंडरा रहा है. पूरे प्रदेश में डेंगू और चिकनगुनया से प्रभावित लोगों की संख्या 900 के पार पहुंच गई है. जिसमें अकेले पटना में क़रीब 520 मामले हैं. शनिवार को डेंगू के 120 मामले पॉजिटिव पाए गए. जबकि चिकनगुनिया के भी 70 से ज़्यादा मामले सामने आ चुके हैं. वहीं पटना में हुई बाढ़ से दुदर्शा के बाद चारो ओर से घिरे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान का साथ मिला है.  हालांकि पासवान ने पटना का जल जमाव का कोई ज़िक्र तो नहीं किया लेकिन उन्होंने शनिवार को एक ट्वीट कर ज़रूर कहा कि राज्य के मुखिया के तौर पर आपने सुशासन की नयी परिभाषा लिखी है.   

  • भाजपा जलजमाव के बहाने आख़िर नीतीश कुमार को निशाने पर क्यों रख रही है?

    भाजपा जलजमाव के बहाने आख़िर नीतीश कुमार को निशाने पर क्यों रख रही है?

    बिहार की राजधानी पटना में जलजमाव के बहाने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को जितना विपक्षी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) की आलोचना का सामना नहीं करना पड़ रहा है उससे कहीं अधिक आलोचना उनको अपने सहयोगी भाजपा के नेताओं की झेलनी पड़ रही है जिसका नेतृत्व केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह कर रहे हैं.

  • पटना की मेयर जलजमाव के मुद्दे पर संवाददाता सम्मेलन में क्यों पानी पानी हो गयीं? देखें VIDEO

    पटना की मेयर जलजमाव के मुद्दे पर संवाददाता सम्मेलन में क्यों पानी पानी हो गयीं? देखें VIDEO

    पटना शहर में जल जमाव को लेकर प्रभावित इलाकों में सभी जनप्रतिनिधियों के खिलाफ गुस्‍सा है फिर चाहे वो मंत्री हों, विधायक या मेयर. इसका अंदाज़ा इन सबों को है लेकिन अब अपनी गलतियों को स्वीकार करने की बजाय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर सारा ठीकरा फ़ोड़ने की एक रणनीति के तहत ये लोग बारी-बारी से संवादाता सम्मेलन कर रहे हैं.

  • Bihar Floods: पटना में अब भी कई जगह जलजमाव, अब डेंगू और चिकनगुनिया का बढ़ा खतरा

    Bihar Floods: पटना में अब भी कई जगह जलजमाव, अब डेंगू और चिकनगुनिया का बढ़ा खतरा

    राजधानी पटना में बारिश थमने के बाद भी कई इलाकों में अभी भी पानी जमा है. कुछ इलाकों में पानी निकाला गया है जहां अब महामारी का ख़तरा बन गया है.

  • पटना की ऐसी दुर्दशा करने का आखिर कौन है जिम्मेदार? क्या यही हैं वो 6 'खलनायक'

    पटना की ऐसी दुर्दशा करने का आखिर कौन है जिम्मेदार? क्या यही हैं वो 6 'खलनायक'

    पटना शहर में बहुत कुछ विचित्र हो रहा है. शहर में एक हफ़्ते में केंद्र, राज्य और अन्य एजेंन्सी मिलकर भी बारिश के जमा पानी निकाल नहीं पाये हैं. आपको जानकर हैरानी होगी कि न पटना नगर निगम और न पानी निकालने का ज़िम्मा जिस  एजेंसी को दिया गया है उसके पास शहर के नालों का कोई नक़्शा है.  हद तो तब हो गई शहर के रख रखाव और बाहर से पानी की निकासी कैसे हो जिसका ज़िम्मा जिन लोगों के ऊपर था वे ही अब आक्रमक तरीके से दोषियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई हो राग छेड़ दिया है. मतलब आप ठीक समझे जो BJP के नेता हैं ख़ासकर बिहार BJP के नवनियुक्त अध्यक्ष संजय जयसवाल पटना कि मेयर सीता साहू ये अब मांग कर रहे हैं कि दोषियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई हो जबकि उन्हें मालूम है कि अधिकांश दोषी कोई और नहीं इनके अपने मंत्री विधायक और मेयर हैं जिन्होंने अपना काम और दायित्व ठीक से नहीं निभाया. 

  • सड़कों पर पानी भरने से पटना की जनता परेशान, JDU और BJP के नेता एक-दूसरे पर डाल रहे जिम्मेदारी

    सड़कों पर पानी भरने से पटना की जनता परेशान, JDU और BJP के नेता एक-दूसरे पर डाल रहे जिम्मेदारी

    इस बात में कोई संदेह नहीं कि बिहार की राजधानी पटना अगर पिछले 7 दिन से जल जमाव से परेशान और तबाह है तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी समेत सभी लोग जिम्मेदार हैं. लेकिन दोनो दलों के नेताओं के बीच अब बयानों के माध्यम से जो हो रहा है, उससे तो लगता है कि जनता के बीच एक दूसरे को विलेन घोषित करने के लिए ये कोई मौका नहीं गंवाना चाहते. सबसे पहले जल जमाव के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को जिम्मेदार ठहराने का सिलसिला भाजपा की तरफ से शुरू हुआ और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने इसकी शुरुआत की.

  • पटना में फिर दो दिनों के लिए आ सकता है बारिश का दौर, मौसम विभाग ने कहा घबराने की जरूरत नहीं

    पटना में फिर दो दिनों के लिए आ सकता है बारिश का दौर, मौसम विभाग ने कहा घबराने की जरूरत नहीं

    बिहार की राजधानी पटना में पानी तो घट रहा है लेकिन बाढ़ जैसे हालात बने हुए हैं. वहीं मौसम विभाग ने भी दो दिन तक बारिश का अलर्ट जारी किया है. हालांकि मौसम विभाग ने यह भी कहा है कि बारिश बहुत तेज नहीं होगी इसलिए किसी को भी घबराने की जरूरत  नहीं है.

  • पटना में आई बाढ़ को लेकर छलका ऋतिक रोशन का दर्द, कहा- एक हफ्ते से...Tweet हुआ वायरल

    पटना में आई बाढ़ को लेकर छलका ऋतिक रोशन का दर्द, कहा- एक हफ्ते से...Tweet हुआ वायरल

    देश के दो राज्यों उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) और बिहार (Bihar) में बीते कुछ दिनों से हो रही लगातार बारिश ने आम लोगों की समस्या को बढ़ा दिया है. राज्य के हर गली-कूचे में पानी भर गया है. मौसम विभाग के अनुसार मॉनसून ने करीब 25 साल का रिकॉर्ड तोड़ा है.अब इस पर एक्टर ऋतिक रोशन ने एक ट्वीट किया है.

  • Rain News: दिल्ली में शाम तक हल्की बारिश, मध्य प्रदेश में बादलों का डेरा, जानें अन्य राज्यों का हाल

    Rain News: दिल्ली में शाम तक हल्की बारिश, मध्य प्रदेश में बादलों का डेरा, जानें अन्य राज्यों का हाल

    मौसम विभाग ने शाम तक दिल्ली  में हल्की बारिश होने की संभावना जताई है. मौसम विभाग के अधिकारी ने बताया कि सुबह साढ़े आठ बजे न्यूनतम तापमान 23.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो कि सामान्य से एक डिग्री अधिक था. आर्द्रता 85 प्रतिशत रही. मौसम विभाग ने शाम को बादल छाए रहने के साथ हल्की बारिश का अनुमान जताया है.

  • पटना बाढ़: रेस्क्यू के बाद महिला का छलका दर्द, कहा- कभी सोचा तक नहीं था कि..., देखें VIDEO

    पटना बाढ़: रेस्क्यू के बाद महिला का छलका दर्द, कहा- कभी सोचा तक नहीं था कि..., देखें VIDEO

    सीएम नीतीश कुमार ने बाढ़ के बाद बने हालात का मंगलवार रात को निरीक्षण किया. बता दें कि भारी बारिश से मरने वाले 42 लोगों में भागलपुर में दस, गया में छह, पटना एवं कैमूर में चार-चार, खगड़िया एवं भोजपुर में तीन-तीन, बेगूसराय, नालंदा एवं नवादा में दो-दो, पूर्णिया, जमुई, अरवल, बांका, सीतामढी और कटिहार में एक-एक व्यक्ति शामिल हैं.

  • नीतीश कुमार को गुस्सा क्यों आता है

    नीतीश कुमार को गुस्सा क्यों आता है

    इस बात में कोई विवाद नहीं हैं कि जलजमाव के बहाने चमकी बुखार की तरह नीतीश कुमार को मीडिया का एक तबका जिसकी भक्ति उनके सहयोगी भाजपा सरकारों और नेताओं के लिए जगज़ाहिर हैं के निशाने पर वो एक बार फिर हैं. नीतीश सरकार ने पटना के टाउन प्लानिंग की अपने शासन काल में जमकर उपेक्षा की इस बात पर कोई दो मत नहीं हैं. इसका खामियाजा पटना के लोगों को उठाना पड़ रहा है. लेकिन यह भी सच है कि जिस नगर विकास विभाग, नगर निगम या अन्य संस्थाओं ( जिनका जिम्मेदारी राजधानी पटना का विकास करना है) के बॉस भाजपा के लोग रहे. खासकर उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी. पटना में सभी विधायक भाजपा के हैं.

  • पटना में आई बाढ़ तो गिरिराज सिंह ने एक बार फिर सहयोगी नीतीश कुमार पर बोला हमला, दिया यह बयान

    पटना में आई बाढ़ तो गिरिराज सिंह ने एक बार फिर सहयोगी नीतीश कुमार पर बोला हमला, दिया यह बयान

    भारतीय जनता पार्टी (BJP) के वरिष्ठ नेता गिरिराज सिंह (Giriraj Singh) ने बाढ़ और पटना में जलजमाव (Patna Flood) को लेकर बिहार की नीतीश सरकार को घेरा है.

  • पटना के ड्रेनेज सिस्‍टम पर कितना ध्‍यान दिया गया?

    पटना के ड्रेनेज सिस्‍टम पर कितना ध्‍यान दिया गया?

    आप चैनलों पर बाढ़ का कवरेज देख रहे होंगे. लेकिन थोड़ा ध्यान से देखिए. आप देख रहे होंगे कि नाव पर रिपोर्टर है जो पानी दिखा रहा है. परेशान लोग चीख रहे हैं और सरकार को कोस रहे हैं. मंत्री बादलों को कोस रहे हैं और आश्वासन दे रहे हैं. स्क्रीन पर सरकार को कोसने वाले नारे लिखे गए हैं. कहां हैं सरकार से लेकर शर्म करो नीतीश कुमार तक. यहां तक बिल्कुल ठीक है और लोगों की परेशानी को सामने लाना बेहद ज़रूरी भी लेकिन सुबह से शाम तक इसी तरह रिपोर्टिंग देखते देखते क्या आप जान पाते हैं कि पटना शहर में नगर विकास को लेकर पिछले दिनों क्या हुआ, क्या यह सिर्फ प्रकृति की मार थी या अफसरों और योजना बनाने वालों की लापरवाही थी. इस संकट का ज़िम्मेदार कौन है?

  • गृह राज्य मंत्री किशन रेड्डी ने बिहार की बाढ़ पर जताई चिंता, कहा- जरूरत पर रवानगी के लिए तैयार हैं अर्द्धसैनिक बल

    गृह राज्य मंत्री किशन रेड्डी ने बिहार की बाढ़ पर जताई चिंता, कहा- जरूरत पर रवानगी के लिए तैयार हैं अर्द्धसैनिक बल

    केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने बिहार में बाढ़ की स्थिति को गंभीर बताते हुए राज्य को हर संभव मदद का आश्वासन दिया.