NDTV Khabar

Biharassemblyelections2020


'Biharassemblyelections2020' - 292 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • बिहार: शपथ ग्रहण के दौरान नीतीश कुमार से हो गई यह बड़ी चूक, क्या हैं इसके मायने...

    बिहार: शपथ ग्रहण के दौरान नीतीश कुमार से हो गई यह बड़ी चूक, क्या हैं इसके मायने...

    Bihar Oath Ceremony: जनता दल यूनाइटेड (JDU) के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने सोमवार को भले ही सातवीं बार और लगातार चौथी टर्म के लिए बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली लेकिन फिर भी उनसे चूक हो गई. नीतीश जब एक बार, मतलब पहले पन्ने की शपथ लेने के बाद हस्ताक्षर करने पहुंच गए तो उन्हें अपनी गलती का अहसास हुआ. इसके बाद उन्होंने दोबारा गोपनीयत की शपथ ली.

  • नीतीश कुमार फिर बने सीएम तो प्रशांत किशोर का आया रिएक्शन, कहा - उन्हें भाजपा ने...

    नीतीश कुमार फिर बने सीएम तो प्रशांत किशोर का आया रिएक्शन, कहा - उन्हें भाजपा ने...

    Bihar Oath Ceremony: जनता दल यूनाइटेड (JDU) से निकाले गए चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) ने सोमवार को बिहार (Bihar) के मुख्यमंत्री के रूप में नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के सातवीं बार शपथ ग्रहण करने के बाद उन पर निशाना साधा. प्रशांत किशोर ने कहा कि उन्हें भाजपा (BJP) ने इस पद पर ‘मनोनीत’ किया है और राज्य को कुछ और सालों तक ‘एक थके हुए और राजनीतिक रूप से महत्वहीन हो गए नेता’ के प्रभावहीन शासन के लिए तैयार रहना चाहिए. 

  • मां से मिले संघ के संस्कार, अब बिहार की पहली महिला उप मुख्यमंत्री बनीं रेणु देवी

    मां से मिले संघ के संस्कार, अब बिहार की पहली महिला उप मुख्यमंत्री बनीं रेणु देवी

    Bihar Oath Ceremony: कटिहार से चौथी बार निर्वाचित विधायक तारकिशोर प्रसाद को रविवार को बीजेपी विधानमंडल दल का नेता और बेतिया से पांचवी बार विधायक चुनी गईं रेणु देवी (Renu Devi) को उपनेता चुना गया. बाद में इन दोनों को बिहार का उप मुख्यमंत्री (Deputy CM) बनाने का फैसला लिया गया. नीतीश कुमार (Nitish Kumar) नीत नई एनडीए सरकार में तारकिशोर प्रसाद (Tarkishore Prasad) और रेणु देवी ने उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. रेणु देवी अति पिछड़ा वर्ग के तहत नोनिया समुदाय से आती हैं. रेणु देवी ने शपथ लेकर बिहार की पहली महिला उप मुख्यमंत्री बनने का इतिहास रच दिया है.

  • कई उतार-चढ़ाव के बावजूद नीतीश कुमार का राजनीतिक कद लगातार बढ़ता गया

    कई उतार-चढ़ाव के बावजूद नीतीश कुमार का राजनीतिक कद लगातार बढ़ता गया

    नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने एक बार फिर मुख्यमंत्री (Chief Minister) के रूप में ताजपोशी के साथ बिहार (Bihar) की सत्ता संभाल ली है. वे पूर्व में केंद्रीय रेल मंत्री से लेकर मुख्यमंत्री पद का सफर तय कर चुके हैं. वैसे तो नीतीश कुमार 70 के दशक में छात्र जीवन में ही जयप्रकाश नारायण के संपूर्ण क्रांति आंदोलन के दौरान राजनीतिक क्षेत्र में सक्रिय हो गए थे लेकिन उन्होंने मुख्यधारा की राजनीति में साल 1985 में कदम रखा. वे इस साल पहली बार विधायक चुने गए थे. इसके बाद कई उतार-चढ़ाव के बाद भी नीतीश का राजनीतिक कद लगातार बढ़ता गया. वे सांसद बने, केंद्रीय रेल मंत्री बने और फिर बिहार के मुख्यमंत्री बने. उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में आज सातवीं बार शपथ ग्रहण की. 

  • बिहार में नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री बनाना भाजपा की मजबूरी क्यों हैं

    बिहार में नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री बनाना भाजपा की मजबूरी क्यों हैं

    इस पृष्ठभूमि में भाजपा के नेता दबी ज़ुबान से स्वीकार करते हैं कि  उनका अपने बलबूते अस्सी से नब्बे सीट जीतने का लक्ष्य एक ओर ना सिर्फ धरा का धरा रह गया बल्कि चिराग़ के माध्यम से नीतीश कुमार को तीस से पैंतीस सीट पर सिमटने की पूरा योजना भी विफल हो गई .

  • बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दिया इस्तीफा, राज्यपाल को सौंपा त्यागपत्र

    बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दिया इस्तीफा, राज्यपाल को सौंपा त्यागपत्र

    Bihar Assembly Results 2020: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया है. कैबिनेट की बैठक में विधानसभा भंग करने की सिफारिश के बाद उन्होंने अपना त्यागपत्र बिहार के राज्यपाल को दिया है.

  • बिहार के चुनाव परिणामों पर सोनू सूद ने कहा, कभी-कभी लोग आपको दूसरा मौका देते हैं

    बिहार के चुनाव परिणामों पर सोनू सूद ने कहा, कभी-कभी लोग आपको दूसरा मौका देते हैं

    Bihar Assembly Election Results: इस साल राष्ट्रव्यापी तालाबंदी से फंसे प्रवासी मजदूरों की मदद करने पर नायक के रूप में सम्मानित किए गए अभिनेता सोनू सूद (Sonu Sood) ने बुधवार को बिहार विधानसभा चुनावों के परिणामों को लेकर कहा कि बिहार के लोगों ने जरूर कुछ देखा होगा कि सरकार ने उनके लिए क्या किया है. उन्होंने कहा, "लोगों को कुछ सही दिखाई दे रहा है. भारत में लोगों को बहुत उम्मीदें हैं और वे कभी-कभी आपको दूसरा मौका या तीसरा मौका देते हैं. वे चाहते हैं कि उनका जीवन बेहतर स्थिति में आए." बिहार के चुनाव परिणाम बुधवार की सुबह घोषित किए गए.

  • क्या भाजपा का 'ऑपरेशन नीतीश' बिहार के साइलेंट वोटरों ने विफल कर दिया?

    क्या भाजपा का 'ऑपरेशन नीतीश' बिहार के साइलेंट वोटरों ने विफल कर दिया?

    बिहार में मात्र 0.2 वोटों के अंतर से नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली एनडीए, तेजस्वी यादव के अगुवाई में लड़ रहे महागठबंधन को 15 सीटों के अंतर से पराजित कर एक बार फिर सरकार बनाएगी. नीतीश बिहार की राजनीति में पहले मुख्यमंत्री हैं जिनके नाम और चेहरे पर जनता ने चार बार लगातार जनादेश दिया है.

  • प्रधानमंत्री ने कहा -लोकतंत्र के प्रति भारतीयों जैसा विश्वास किसी और देश में नहीं - 10 बातें

    प्रधानमंत्री ने कहा -लोकतंत्र के प्रति भारतीयों जैसा विश्वास किसी और देश में नहीं - 10 बातें

    बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections 2020) में एनडीए को बहुमत हासिल होने के बाद बुधवार की शाम दिल्ली के बीजेपी मुख्यालय पर पार्टी जश्न मना रही है. इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi), गृहमंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, नितिन गडकरी समेत तमाम वरिष्ठ नेता भी मौजूद रहे. इस बार के चुनाव में बीजेपी को एनडीए में अपनी सहयोगी जदयू से भी अधिक सीटे मिली है. प्रधानमंत्री के भाषण की 10 प्रमुख बातें.

  • बिहार चुनाव में बेटे की हार पर शत्रुघ्न सिन्हा का छलका दर्द, EVM को लेकर कह दी यह बात...

    बिहार चुनाव में बेटे की हार पर शत्रुघ्न सिन्हा का छलका दर्द, EVM को लेकर कह दी यह बात...

    Bihar Assembly Results 2020: बिहार विधानसभा की सभी 243 सीटों के परिणाम बुधवार को तड़के चार बजे के बाद घोषित हो गए. इस चुनाव में नेशनल डेमोक्रेटिक एलायंस (NDA) को साफ बहुमत मिल चुका है. इस बार के विधानसभा चुनाव में कई राजनेताओं के द्वारा अपने पुत्रों को मैदान में उतारा गया था. कांग्रेस, राजद, बीजेपी सहित लगभग सभी दलों से नेताओं के पुत्र मैदान में थे.

  • बिहार चुनाव में एक सीट जीतने वाली लोजपा ने दो दर्जन सीटों पर जदयू, वीआईपी को पहुंचाया नुकसान

    बिहार चुनाव में एक सीट जीतने वाली लोजपा ने दो दर्जन सीटों पर जदयू, वीआईपी को पहुंचाया नुकसान

    राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के साथ मिलकर बिहार में विधानसभा चुनाव लड़ने के मैदान में अकेले उतरी लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) को करारी हार मिली है और उसे सिर्फ एक सीट से ही संतोष करना पड़ा है.

  • बिहार चुनाव के बाद बोले चिराग पासवान- मेरा लक्ष्य था नीतीश कुमार मुख्यमंत्री न बनें लेकिन...

    बिहार चुनाव के बाद बोले चिराग पासवान- मेरा लक्ष्य था नीतीश कुमार मुख्यमंत्री न बनें लेकिन...

    बिहार के विधानसभा चुनाव में NDA बहुमत पा चुका है. NDA को 125 सीटें और महागठबंधन को 110 सीटें मिली हैं. 75 सीटों के साथ राष्ट्रीय जनता दल (RJD) सबसे बड़ी पार्टी है. लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने 130 से ज्यादा सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे, हालांकि उनका एक ही प्रत्याशी अपने सिर जीत का सेहरा बांध पाया है. चिराग ने आज (बुधवार) प्रेस कॉन्फ्रेंस की और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और तमाम नेताओं को जीत की बधाई दी.

  • बिहार चुनाव: जेडीयू ने हिलसा विधानसभा सीट महज 12 वोटों के अंतर से जीती

    बिहार चुनाव: जेडीयू ने हिलसा विधानसभा सीट महज 12 वोटों के अंतर से जीती

    Bihar Assembly Results 2020: बिहार विधानसभा चुनाव में हिलसा सीट महज 12 वोटों के अंतर से जेडीयू के खाते में चली गई. चुनाव आयोग की वेबसाइट पर मंगलवार देर रात अपडेट की गई सूचना के अनुसार, जेडीयू के कृष्ण मुरारी शरण उर्फ प्रेम मुखिया को 61,848 वोट मिले हैं जबकि निकटतम प्रतिद्वंद्वी राजद उम्मीदवार अत्री मुनि उर्फ शक्ति सिंह यादव को 61,836 वोट मिले हैं. चुनाव आयोग ने हिलसा सीट के लिए कॉलम में लिखा है ‘परिणाम घोषित’ और जीत का अंतर 12 वोटों का बताया है.

  • बिहार में बीजेपी और नीतीश कुमार का राज बरकरार, तेजस्वी की आरजेडी बनी सबसे बड़ी पार्टी

    बिहार में बीजेपी और नीतीश कुमार का राज बरकरार, तेजस्वी की आरजेडी बनी सबसे बड़ी पार्टी

    Bihar Assembly Results 2020: बिहार विधानसभा की सभी 243 सीटों के परिणाम बुधवार को तड़के चार बजे के बाद घोषित हो गए. इस चुनाव में नेशनल डेमोक्रेटिक एलायंस (NDA) को साफ बहुमत मिल चुका है. सबसे अंत में एक सीट का परिणाम घोषित हुआ जिस पर जनता दल यूनाईटेड (JDU) ने जीत हासिल की. एनडीए को 125 और महागठबंधन (Mahagathbandhan) को 110 सीटें मिली हैं. एनडीए ने 125 सीटें जीतकर बहुमत का जादुई आंकड़ा प्राप्त कर लिया. तेजस्वी यादव की आरजेडी 75 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी बन गई है. बीजेपी 74 सीटों के साथ दूसरी सबसे बड़ी पार्टी बनी है.

  • बिहार चुनाव: कांग्रेस का आरोप- मतगणना में गड़बड़ी, NDA ने किया सत्ता का दुरुपयोग

    बिहार चुनाव: कांग्रेस का आरोप- मतगणना में गड़बड़ी, NDA ने किया सत्ता का दुरुपयोग

    Bihar Assembly Results 2020: कांग्रेस (Congress) ने बिहार विधासभा चुनाव की मतगणना (Vote Counting) में गड़बड़ी किए जाने का आरोप लगाया है. उसने सत्तारूढ़ एनडीए (NDA) पर सत्ता का दुरुपयोग करने का भी आरोप लगाया है. कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि किशनगंज और सकरा में पार्टी के उम्मीदवार जीते हैं लेकिन उन्हें जीत का प्रमाण पत्र नहीं दिया गया. उन्होंने दावा किया कि किशनगंज में कांग्रेस उम्मीदवार 1,266 मतों से विजयी रहा. इससे पहले आरजेडी (RJD) सीएम नीतीश कुमार (Nitish Kumar) पर नतीजों में हेरफेर करवाने का आरोप लगा चुकी है. 

  • लोजपा नेता चिराग पासवान ने कहा, 'भाजपा के प्रति लोगो में उत्साह है'

    लोजपा नेता चिराग पासवान ने कहा, 'भाजपा के प्रति लोगो में उत्साह है'

    Bihar Assembly Results 2020 : बिहार में विधानसभा चुनाव के पूर्ण नतीजे रात 12 बजे तक भी नहीं आ सके. ताजा आंकड़ों के मुताबिक बीजेपी गठबंधन अभी भी 124 सीटों पर आगे है वहीं महागठबंधन 111 सीटों पर आगे हैं.

  • बिहार विधानसभा की 223 सीटों के नतीजे घोषित, एक घंटे में साफ हो जाएगी तस्वीर: चुनाव आयोग

    बिहार विधानसभा की 223 सीटों के नतीजे घोषित, एक घंटे में साफ हो जाएगी तस्वीर: चुनाव आयोग

    डीईसी चंद्र भूषण कुमार ने कहा कि बिहार विधानसभा की 223 सीटों के नतीजे घोषित किए जा चुके हैं और 20 सीटों पर नतीजे आने बाकी हैं. अंतिम परिणाम एक घंटे में उपलब्ध होंगे. अंतिम चरण की मतगणना प्रक्रिया चल रही है.

  • आरजेडी ने सीएम नीतीश कुमार पर चुनाव के नतीजों में हेरफेर कराने का आरोप लगाया

    आरजेडी ने सीएम नीतीश कुमार पर चुनाव के नतीजों में हेरफेर कराने का आरोप लगाया

    Bihar Assembly Results 2020: राष्ट्रीय जनता दल (RJD) ने बिहार विधानसभा चुनाव के परिणामों में हेरफेर किए जाने का आरोप लगया है. आरजेडी ने कहा है कि साज़िशन 4-5 घंटों तक एनडीए tally को 122 और  महागठबंधन को 96-100 के बीच रखा जाता रहा. इतना रोकने के बावजूद भी जब महागठबंधन बढ़त बनाने लगा तो मुख्यमंत्री आवास से हेरफेर करने के लिए सीधे जिलाधिकारियों को फोन जाने लगे. सनद रहे चुनाव करवाने वाले सभी राज्य सेवा के ही अधिकारी हैं.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com