NDTV Khabar

Birthday special


'Birthday special' - 2 वीडियो रिजल्ट्स

'Birthday special' - 104 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • राजेश खन्ना इस तरह बने थे Bollywood के पहले सुपरस्टार, अमिताभ पर कसा था तंज, 10 बातें...

    राजेश खन्ना इस तरह बने थे Bollywood के पहले सुपरस्टार, अमिताभ पर कसा था तंज, 10 बातें...

    बॉलीवुड में सभी प्यार से राजेश खन्ना (Rajesh Khanna) को ‘काका (Kaka)’ के नाम से बुलाते थे. उन्होंने अपने फिल्मी करियर में बहुत सारी हिट फिल्में दी हैं. एक कलाकार के रूप में राजेश खन्ना (Rajesh Khanna) ने जो अपनी छाप छोड़ी, लोग उसे आज भी याद करते हैं.

  • Rajinikanth Birthday Special: कुली, बस कंडक्टर के बाद यूं सुपरस्टार बन गए रजनीकांत, ये है असली कहानी

    Rajinikanth Birthday Special: कुली, बस कंडक्टर के बाद यूं सुपरस्टार बन गए रजनीकांत, ये है असली कहानी

    फिलहाल आइए बात करते हैं उनके जीवन की फर्श से अर्श तक की उठने की कहानी. रजनीकांत (Rajinikanth) आज इतने बड़े सुपरस्टार होने के बावजूद जमीन से जुड़े हुए हैं. वह फिल्मों के बाहर असल जिंदगी में एक सामान्य व्यक्ति की तरह ही दिखते हैं और उनके प्रशंसक उन्हें प्यार ही नहीं करते बल्कि उन्हें पूजते हैं.

  • Birthday Special: जब सोमनाथ मंदिर बना डॉ. राजेंद्र प्रसाद और जवाहरलाल नेहरू के बीच तकरार की वजह, जानें- पूरा किस्सा

    Birthday Special: जब सोमनाथ मंदिर बना डॉ. राजेंद्र प्रसाद और जवाहरलाल नेहरू के बीच तकरार की वजह, जानें- पूरा किस्सा

    पटेल के निधन के साल भर के अंदर ही पंडित नेहरू और डॉ. प्रसाद (Rajendra Prasad) के बीच मतभेद सतह पर आ गए. इसके पीछे था सोमनाथ मंदिर. 1951 में जब मंदिर का पुननिर्माण पूरा हुआ तो राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद (Rajendra Prasad) को मंदिर का उद्घाटन करने का न्योता दिया गया और उन्होंने इसे स्वीकार भी लिया, लेकिन जवाहरलाल नेहरू को यह पसंद नहीं आया.  

  • Birthday Special: चीन से हार के बाद जवाहरलाल नेहरू ने क्या कहा था?

    Birthday Special: चीन से हार के बाद जवाहरलाल नेहरू ने क्या कहा था?

    जब जवाहरलाल नेहरू (Jawaharlal Nehru) ने बोलना शुरू किया तो करीब डेढ़ घंटे बोलते रहे. प्रेस कांफ्रेंस में चीनी प्रधानमंत्री के प्रति उन्होंने अपनी भड़ास जमकर निकाली'. हार पर नेहरू ने कहा, 'चीन एक सैनिक मानसिकता का राष्ट्र है जो हमेशा सैन्य साजो-सामान को मजबूत करने पर जोर देता है....यह उनके अतीत के गृहयुद्ध की ही एक निरंतरता है. इसलिये आमतौर पर वे मजबूत स्थिति में हैं'. नेहरू ने अपनी प्रेस कांफ्रेंस में विपक्षी नेताओ पर भी निशाना साधा और यहां तक कह डाला कि 'हमारे विपक्षी नेताओं की आदत है कि वे बिना किसी सिद्धांत के हर किसी से गठजोड़ कर लेते हैं. ऐसा भी हो सकता है कि वे चीनियों से गठजोड़ कर लें'.

  • Birthday Special: 86 साल के हुए पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, आधार से न्यूक्लियर डील तक, पढ़ें उनके 5 काम

    Birthday Special: 86 साल के हुए पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, आधार से न्यूक्लियर डील तक, पढ़ें उनके 5 काम

    आज सुप्रीम कोर्ट ने आधार कार्ड पर अपना ऐतिहासिक फैसला सुनाया. आधार कार्ड को लागू करने वाले मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) ही थे. यूएन ने भी इस योजना की तारीफ की थी. आइये नजर डालते हैं डॉ. मनमोहन सिंह के उन 5 बड़े कामों पर, जिसने लोगों का ध्यान खींचा. 

  • Birthday Special: वह नौकरशाह, जिसे देख घरों में छिप जाते थे पुरानी दिल्ली के लोग

    Birthday Special: वह नौकरशाह, जिसे देख घरों में छिप जाते थे पुरानी दिल्ली के लोग

    संजय गांधी ने दिल्ली, खासकर पुरानी दिल्ली झु्ग्गी-बस्तियों को हटाने का ऐलान किया. इस काम के लिए सबसे पहले उनकी निगाह जिस अधिकारी पर गई, वे जगमोहन मल्होत्रा थे. पुरानी दिल्ली में जब अवैध झुग्गियों को हटाने का सिलसिला शुरू हुआ तो सबसे पहला हथौड़ा इस रेस्टोरेंट पर गिरा. झुग्गियों को तोड़ने का सिलसिला जैसे-जैसे आगे बढ़ा, स्थानीय लोगों में जगमोहन मल्होत्रा को लेकर दहशत का माहौल बन गया. तमाम तरह की अफवाहें भी उड़ने लगी.

  • Birthday Special: अपने जीवन का इकलौता चुनाव क्यों हार गए थे पंडित दीनदयाल उपाध्याय, जानें पूरा किस्सा

    Birthday Special: अपने जीवन का इकलौता चुनाव क्यों हार गए थे पंडित दीनदयाल उपाध्याय, जानें पूरा किस्सा

    दीनदयाल उपाध्याय की जीत लगभग तय मानी जा रही थी. इसकी दो वजहें थी. एक तो खुद उनका कद और दूसरा जौनपुर सीट से 62 के आम चुनाव में जनसंघ के ही प्रत्याशी ब्रम्हजीत सिंह ने बाजी मारी थी, लेकिन उनका अचानक देहांत हो गया. जनसंघ मानकर चल रही थी कि जौनपुर में पार्टी का मजबूत जनाधार है और उप चुनाव में इसका फायदा मिलेगा. 

  • Birthday Special: भीकाजी कामा के अंतिम संस्कार में क्यों शामिल नहीं हुए थे उनके पति, जानें पूरा किस्सा

    Birthday Special: भीकाजी कामा के अंतिम संस्कार में क्यों शामिल नहीं हुए थे उनके पति, जानें पूरा किस्सा

    भीकाजी कामा (Bhikaiji Cama) और उनके पति रुस्तमजी कामा के राजनीतिक विचारों में जमीन-आसमान का अंतर था. बकौल डॉ. निर्मला जैन, रुस्तमजी कामा ब्रिटिश राज की उदारता के विश्वासी और हिमायती थे. उनका ख़्याल था कि भारत का हित ब्रिटिश शासन में ही है और वे यहां सौ साल और रहें. मतभेद गहराता गया और कुछ सालों बाद ही भीकाजी कामा अपने पति से अलग हो गईं.

  • Birthday Special: जब नेहरू की मौजूदगी में फिरोज गांधी ने पत्नी इंदिरा को कहा फासीवादी, पढ़ें पूरा किस्सा

    Birthday Special: जब नेहरू की मौजूदगी में फिरोज गांधी ने पत्नी इंदिरा को कहा फासीवादी, पढ़ें पूरा किस्सा

    इंदिरा और फिरोज गांधी (Feroze Gandhi) के बीच तनातनी तब शुरू हुई जब इंदिरा अपने दोनों बच्चों को लेकर लखनऊ स्थित अपना घर छोड़ कर पिता के घर इलाहाबाद आ गईं. बाद में जब फिरोज ने पार्टी के भीतर भ्रष्टाचार का मुद्दा उठाया तो दोनों के रिश्ते और तल्ख़ हो गए. 

  • अक्षय कुमार हुए 51 साल के, जानें किसने दिए Birthday Bumps

    अक्षय कुमार हुए 51 साल के, जानें किसने दिए Birthday Bumps

    Akshay Kumar Birthday Special: अक्षय कुमार ने अपना जन्मदिन करीबी दोस्तों के साथ शनिवार रात सेलिब्रेट किया. उन्हें मुंबई की एक होटल के बाहर पत्नी ट्विंकल खन्ना, बॉबी देओल, तान्या देओल, सनी दीवान और अनु दीवान के साथ देखा गया...

  • Gulzar Ki Shayari:आप के बाद हर घड़ी हम ने, आप के साथ ही गुज़ारी है, पढ़ें गुलजार की शायरी

    Gulzar Ki Shayari:आप के बाद हर घड़ी हम ने, आप के साथ ही गुज़ारी है, पढ़ें गुलजार की शायरी

    Gulzar के Birthday के मौके पर पढ़िए उनकी लिखी हुई कुछ सबसे खूसबूरत शायरी.

  • Gulzar Birthday Special: मशहूर शायर गुलजार का ये है असली नाम, इन 10 बातों को जरूर जानना चाहिए

    Gulzar Birthday Special: मशहूर शायर गुलजार का ये है असली नाम, इन 10 बातों को जरूर जानना चाहिए

    उनका जन्म 18 अगस्त, 1934 को झेलम जिले के दीना गांव में हुआ था जो अब पाकिस्‍तान में है. वे फिल्मों में आने से पहले गैराज मकेनिक का काम किया करते थे. गुलजार कम उम्र में ही लिखने लग थे लेकिन उनके पिता को यह पसंद नहीं था, लेकिन उन्होंने लिखना जारी रखा और एक दिन अपनी मेहनत के दम पर बॉलीवुड का बड़ा नाम बन गए.

  • दलाई लामा के 83वें जन्मदिन पर लेह में हुईं विशेष प्रार्थनाएं

    दलाई लामा के 83वें जन्मदिन पर लेह में हुईं विशेष प्रार्थनाएं

    जम्मू एवं कश्मीर के लेह जिले में तिब्बती आध्यात्मिक नेता दलाई लामा के शुक्रवार को जन्मदिन के मौके पर विशेष प्रार्थनाओं का आयोजन किया गया. यहां दलाई लामा ने प्रार्थनाओं में शिरकत की और लोगों को आशीर्वाद दिया.

  • Birthday Special: जब 'पत्रकार' बन लालू यादव ने लालकृष्ण आडवाणी को करवाया गिरफ्तार

    Birthday Special: जब 'पत्रकार' बन लालू यादव ने लालकृष्ण आडवाणी को करवाया गिरफ्तार

    रात करीब दो बजे लालू यादव ने पत्रकार बनकर सर्किट हाउस में फोन किया. ताकि पता लगाया जा सके कि आडवाणी के साथ कौन-कौन है. फोन आडवाणी के एक सहयोगी ने उठाया और बताया कि वो सो रहे हैं और सारे समर्थक जा चुके हैं. आडवाणी को गिरफ्तार करने का यह सबसे मुफीद मौका था और लालू यादव ने इसमें देरी नहीं की. 25 सितंबर को सोमनाथ से शुरू हुई आडवाणी की रथयात्रा 30 अक्टूबर को अयोध्या पहुंचनी थी, लेकिन 23 अक्टूबर को आडवाणी को बिहार में गिरफ्तार कर लिया गया.

  • खोला केक और निकली छिपकली, जन्मदिन पर इन्होंने उड़ाए Neha Kakkar के होश

    खोला केक और निकली छिपकली, जन्मदिन पर इन्होंने उड़ाए Neha Kakkar के होश

    बॉलीवुड की पॉपुलर सिंगर नेहा कक्कड़ 30 साल की हो चुकी हैं. जन्मदिन के मौके पर अनु मलिक और विशाल ददलानी ने सिंगर को ऐसा डरावना सरप्राइज दिया, जिसे वह कभी भूल नहीं पाएंगी!

  • Happy Birthday Neha Kakkar: आधी रात को 'बॉयफ्रेंड' ने दिया ऐसा सरप्राइज, मची खूब धमाचौकड़ी

    Happy Birthday Neha Kakkar: आधी रात को 'बॉयफ्रेंड' ने दिया ऐसा सरप्राइज, मची खूब धमाचौकड़ी

    बॉलीवुड की पॉपुलर और सेंसेशनल सिंगर नेहा कक्कड़ 30 साल की हो चुकी हैं. नेहा का जन्म 6 जून, 1988 को ऋषिकेश में हुआ था.

  • Birthday Special: वो 'सबक' जिसने बना दिया योगी आदित्यनाथ को 'फायरब्रांड' नेता

    Birthday Special: वो 'सबक' जिसने बना दिया योगी आदित्यनाथ को 'फायरब्रांड' नेता

    देश-दुनिया में हिंदुत्व के 'फायर ब्रांड' नेता के तौर पर अपनी पहचान बनाने वाले योगी आदित्यनाथ यूं ही यहां तक नहीं पहुंचे. इसके पीछे एक लंबी कहानी है और एक सबक, जो योगी आदित्यनाथ को वर्ष 1999 के लोकसभा चुनावों में मिला था.

  • Birthday Special: ऐसे संन्यासी से सीएम बने योगी आदित्यनाथ, 10 बड़ी बातें

    Birthday Special: ऐसे संन्यासी से सीएम बने योगी आदित्यनाथ, 10 बड़ी बातें

    आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का जन्मदिन है. वे अपना 46वां जन्मदिन मना रहे हैं.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत तमाम नेताओं ने उन्हें जन्मदिन की बधाई दी है. मात्र 26 साल की उम्र में पहली बार संसद पहुंचने वाले योगी आदित्यनाथ की कहानी दिलचस्प है. उत्तराखंड (तत्कालीन उत्तर प्रदेश) के पौड़ी जिले के छोटे से गांव पंचूर के राजपूत परिवार में जन्मे अजय सिंह बिष्ट ने मात्र 22 साल की उम्र में ही सांसारिक मोह माया त्याग कर संन्यासी का जीवन धारण कर लिया और अजय सिंह बिष्ट से नाम बदलकर योगी आदित्यनाथ कर लिया. इसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा. गोरखपुर के गोरक्षपीठ के पीठाधीश्वर से यात्रा शुरू हुई. हिंदू युवा वाहिनी बनाई. संसद पहुंचे और आज देश के सबसे बड़े सूबे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं. आइये योगी आदित्यनाथ के जन्मदिन के मौके पर आपको उनसे जुड़े 10 दिलचस्प किस्से बताते हैं. 

Advertisement