NDTV Khabar

Bombay high court


'Bombay high court' - 301 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • हाईकोर्ट ने वरवर राव के परिवार के सदस्यों को उनसे मिलने की इजाजत दी, अस्पताल से हेल्थ रिपोर्ट मांगी

    हाईकोर्ट ने वरवर राव के परिवार के सदस्यों को उनसे मिलने की इजाजत दी, अस्पताल से हेल्थ रिपोर्ट मांगी

    बंबई हाईकोर्ट (Bombay High Court) ने कवि वरवर राव (Varavara Rao) के परिवार के सदस्यों को मुंबई के नानावती अस्पताल में उनसे मिलने की मंगलवार को अनुमति दी.

  • वोडाफोन को मिली बड़ी राहत, सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को 833 करोड़ लौटाने का आदेश दिया

    वोडाफोन को मिली बड़ी राहत, सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को 833 करोड़ लौटाने का आदेश दिया

    अदालत ने केंद्र सरकार की अपील को खारिज कर दिया, जिसने भविष्य के बकाया को देखते हुए हाईकोर्ट के आदेश को चुनौती दी थी. शीर्ष अदालत ने कहा कि आईटी विभाग के पास भविष्य की मांगों के मद्देनजर धनवापसी को रोकने का अधिकार नहीं है.

  • CISCE Board: सीआईएससीई बोर्ड ने जारी की 10वीं और 12वीं के बचे हुए पेपर के लिए Assessment Scheme, जानिए कैसे तैयार किया जाएगा Result

    CISCE Board: सीआईएससीई बोर्ड ने जारी की 10वीं और 12वीं के बचे हुए पेपर के लिए Assessment Scheme, जानिए कैसे तैयार किया जाएगा Result

    ICSE, ISC Assessment Scheme Released: काउंसिल फॉर इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (CISCE) ने 10वीं और 12वीं क्लास के बचे हुए पेपर के इवैल्यूएशन के लिए असेसमेंट स्कीम जारी कर दी है. बता दें कि 1 जुलाई से 14 जुलाई के बीच होने वाले 10वीं और 12वीं के पेपर CISCE बोर्ड ने कोरोनावायरस के खतरे के चलते कैंसिल कर दिए हैं. परीक्षाओं पर 26 जून को सुप्रीम कोर्ट में हुई सुनवाई के दौरान CISCE बोर्ड ने कहा था कि वे कैंसिल हो चुके पेपर्स के लिए असेसमेंट स्कीम (Assessment Scheme) एक सप्ताह के अंदर बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जारी करेगा. अपने बयान के अनुसार CISCE बोर्ड ने 10वीं और 12वीं के कैंसिल हो चुके पेपर के लिए असेसमेंट स्कीम जारी कर दी है. 

  • ICSE ने सुप्रीम कोर्ट में बताया- 10वीं के बच्चों को भी दिया जा सकता है बाद में परीक्षा देने का मौका

    ICSE ने सुप्रीम कोर्ट में बताया- 10वीं के बच्चों को भी दिया जा सकता है बाद में परीक्षा देने का मौका

    ICSE Board Exams 2020: सीबीएसई और आईसीएसई ने 10वीं और 12वीं की बची हुई बोर्ड परीक्षाएं रद्द कर दी हैं. सुप्रीम कोर्ट ने भी सीबीएसई के प्लान को मंजूरी दे दी है. जिसके बाद ये फाइनल हो गया है कि 1 जुलाई से 15 जुलाई के बीच रखी गईं सीबीएसई की बोर्ड परीक्षाएं (CBSE Board Exams) अब नहीं होंगी. सीबीएसई ने शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा देकर अपना पूरा प्लान बताया. रिजल्ट के फॉर्मले के साथ ही सीबीएसई ने रिजल्ट की तारीख भी बता दी है. वहीं आईसीएसई (ICSE) की तरफ से भी शुक्रवार की सुनवाई के दौरान अपना पक्ष रखा गया. आईसीएसई और सीबीएसई बोर्ड दोनों ही जुलाई के मध्य में परीक्षाओं के परिणामों की घोषणा करेंगे. दोनों ही बोर्ड ने आज सुप्रीम कोर्ट में इस बात की जानकारी दी है. 

  • सुप्रीम कोर्ट में ICSE बोर्ड ने कहा- रद्द होंगी 10वीं, 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं, बाद में परीक्षा का विकल्प नहीं दिया जाएगा

    सुप्रीम कोर्ट में ICSE बोर्ड ने कहा- रद्द होंगी 10वीं, 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं, बाद में परीक्षा का विकल्प नहीं दिया जाएगा

    सुप्रीम कोर्ट ने ICSE द्वारा आयोजित परीक्षा भी रद्द करने का आदेश दिया. ICSE ने सुप्रीम कोर्ट को कहा कि हम परीक्षा रद्द करने के लिए सहमत हैं. महाराष्ट्र राज्य ने बॉम्बे HC को बताया है कि वे परीक्षा आयोजित नहीं कर सकते. इसलिए अब ICSE बोर्ड की परीक्षाएं भी रद्द कर दी गई है. इसमें आंतरिक मूल्यांकन प्रणाली का पालन होगा. हालांकि ICSE ने बाद में परीक्षा देने का विकल्प नहीं रखा है. सॉलिसिटर जनरल ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट को आदेश पारित करना चाहिए कि इस मामले के बारे में मामला SC में आना चाहिए न कि हाईकोर्ट में.

  • ICSE Board Exams 2020: महाराष्ट्र सरकार ने HC से कहा- ICSE बोर्ड को नहीं दे सकते पेंडिंग परीक्षाएं आयोजित करने की अनुमति

    ICSE Board Exams 2020: महाराष्ट्र सरकार ने HC से कहा- ICSE बोर्ड को नहीं दे सकते पेंडिंग परीक्षाएं आयोजित करने की अनुमति

    ICSE Board Exams 2020:  महाराष्ट्र सरकार ने बुधवार को बॉम्बे हाईकोर्ट को बताया कि इंडियन सर्टिफिकेट ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (ICSE) बोर्ड को COVID-19 स्थिति के मद्देनजर जुलाई में 10वीं और 12वीं क्लास की पेंडिंग परीक्षाएं आयोजित करने की अनुमति नहीं दी जा सकती है. सरकार ने कोर्ट में अपना पक्ष रखते हुए ये भी कहा कि राज्य में स्थित यूनिवर्सिटी की फाइनल ईयर की परीक्षाएं भी कोरोनावायरस के खतरे को देखते हुए कैंसिल कर दी गई हैं. 

  • ICSE Board Exams 2020: आईसीएसई बोर्ड परीक्षाओं को लेकर बॉम्बे हाई कोर्ट का महाराष्ट्र सरकार को आदेश- स्पष्ट करें अपना स्टैंड

    ICSE Board Exams 2020: आईसीएसई बोर्ड परीक्षाओं को लेकर बॉम्बे हाई कोर्ट का महाराष्ट्र सरकार को आदेश- स्पष्ट करें अपना स्टैंड

    कोरोनावायरस महामारी के बीच बोर्ड की बची हुई परीक्षाएं आयोजित कराना एक बड़ा मसला बन गया है. महाराष्ट्र राज्य में कोरोनावायरस के तेजी से बढ़ते हुए मामले देखकर बॉम्बे हाई कोर्ट ने सोमवार को राज्य सरकार को निर्देश दिए हैं कि वो स्पष्ट करें कि राज्य में CISCE बोर्ड को 10वीं और 12वीं की पेंडिंग परीक्षाएं आयोजित करने के लिए अनुमति देते हैं या नहीं. कोर्ट ने राज्य सरकार से परीक्षाओं को लेकर उनका स्टैंड क्लियर करने के लिए कहा है.

  • CISCE Board Exams 2020: इस राज्य के स्कूल का छात्रों को आदेश, बोर्ड परीक्षा में शामिल होने के लिए दिखाएं Corona Negative रिपोर्ट

    CISCE Board Exams 2020: इस राज्य के स्कूल का छात्रों को आदेश, बोर्ड परीक्षा में शामिल होने के लिए दिखाएं Corona Negative रिपोर्ट

    कोलकाता के एक प्रतिष्ठित निजी स्कूल ने बुधवार को जुलाई में होने वाली आईसीएसई (ICSE) और आईएससी (ISC) की पेंडिंग परीक्षाओं में शामिल होने वाले उन सभी छात्रों के माता-पिता से मांग की है कि वे अपने बच्चों की कोरोनावायरस नेगेटिव रिपोर्ट जमा कराएं. दरअसल, काउंसिल फॉर इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (CISCE) बोर्ड ने 10वीं और 12वीं की पेंडिंग परीक्षाओं को लेकर हाल ही में फैसला सुनाया है कि 10वीं और 12वीं क्लास के स्टूडेंट्स अगर चाहें तो 1 जुलाई से 14 जुलाई के बीच होने वाली पेंडिंग परीक्षाओं में शामिल हो सकते हैं और अगर वे परीक्षा में शामिल नहीं होना चाहते हैं तो परीक्षा छोड़ भी सकते हैं. परीक्षा न देने का विकल्प चुनने वाले स्टूडेंट्स का रिजल्ट प्री- बोर्ड एग्जाम की परफॉर्मेंस या इंटरनल असेसमेंट के आधार पर जारी किया जाएगा.

  • अब विमान में बुक कर सकेंगे मिडिल सीट, बॉम्‍बे हाईकोर्ट ने एयरलाइंस को दी इजाजत

    अब विमान में बुक कर सकेंगे मिडिल सीट, बॉम्‍बे हाईकोर्ट ने एयरलाइंस को दी इजाजत

    इससे पहले DGCA ने इस संबंध में 31 मई को जारी किए गए दिशा-निर्देशों में कहा था कि सभी एयरलाइंस को विमान में बीच की सीट को खाली रखने का प्रयास करना चाहिए, लेकिन अगर ऐसा नहीं होता है तो मिडिल सीट के यात्री को पूरे शरीर को ढकने के लिए गाउन, मास्क और चेहरे को ढकने के लिए शील्ड मुहैया कराई जानी चाहिए.

  • ICSE Board Exams 2020: आईसीएसई के छात्रों को मिल सकता है इस साल 10वीं के बचे हुए पेपर छोड़ने का मौका

    ICSE Board Exams 2020: आईसीएसई के छात्रों को मिल सकता है इस साल 10वीं के बचे हुए पेपर छोड़ने का मौका

    आईसीएसई (ICSE) दसवीं क्लास के बचे हुए पेपर को लेकर काउंसिल फॉर इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (CISCE) ने बॉम्बे हाई कोर्ट में अपना प्रस्ताव जमा करा दिया है. इस प्रस्ताव में कहा गया है कि छात्र एग्जाम न देने का विकल्प चुन सकते हैं, ऐसी स्थिति में इंटरनल या प्री-बोर्ड मार्क्स के हिसाब से उनका रिजल्ट जारी किया जाएगा. बॉम्बे हाई कोर्ट में अभिभावक की तरफ से ICSE 10वीं बोर्ड के बचे हुए एग्जाम रद्द करने की मांग की गई थी, जिसके जवाब में काउंसिल ने अपना ये प्रस्ताव कोर्ट में जमा कराया है. 

  • हाईकोर्ट ने मध्य एशिया के तबलीगी जमात के नौ सदस्यों को जमानत दी

    हाईकोर्ट ने मध्य एशिया के तबलीगी जमात के नौ सदस्यों को जमानत दी

    बंबई उच्च न्यायालय की नागपुर पीठ ने शुक्रवार को तबलीगी जमात के उन नौ सदस्यों को जमानत दे दी, जो मध्य एशियाई देश कजाकिस्तान और किर्गिजस्तान के नागरिक हैं तथा महाराष्ट्र के गढ़चिरौली जिले में रह रहे थे. इन सभी सदस्यों को वीजा शर्तों और लॉकडाउन निषेधाज्ञा के कथित उल्लंघन के मामले में गत 29 अप्रैल को गिरफ्तार किया गया था.

  • ICSE परीक्षा रद्द करने को लेकर बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दाखिल

    ICSE परीक्षा रद्द करने को लेकर बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दाखिल

    बॉम्बे हाईकोर्ट ने शुक्रवार को जुलाई महीने में होने वाली आईसीएसई की 10वीं और 12वीं कक्षा की परीक्षाओं को रद्द करने की अपील पर दाखिल याचिका पर सुनवाई शुरू की. याचिकाकर्ता का कहना है कि महाराष्ट्र में कोरोना के कारण हालात खराब हैं और ऐसे में परीक्षा आयोजित करना सही नहीं है.

  • 23 हफ्ते की गर्भवती महिला को मुंबई हाईकोर्ट ने गर्भपात की दी अनुमति

    23 हफ्ते की गर्भवती महिला को मुंबई हाईकोर्ट ने गर्भपात की दी अनुमति

    बॉम्बे हाई कोर्ट ने एक अविवाहित महिला को 23 सप्ताह की गर्भावस्था को समाप्त करने की अनुमति दी है, यह देखते हुए कि इस हालत में बच्चे को जन्म देने से उसकी मानसिक और शारीरिक पीड़ा होगी.

  • सुप्रीम कोर्ट ने बांद्रा कब्रिस्तान में कोरोना से मृत लोगों को दफनाने का मामला वापस बॉम्बे हाईकोर्ट भेजा

    सुप्रीम कोर्ट ने बांद्रा कब्रिस्तान में कोरोना से मृत लोगों को दफनाने का मामला वापस बॉम्बे हाईकोर्ट भेजा

    Coronavirus: कोरोनावायरस की वजह से जान गंवाने वालों के शवों को दफनाने के लिए ''बांद्रा कब्रिस्तान'' का इस्तेमाल करने की बीएमसी की अनुमति को चुनौती देने वाले मामले को सुप्रीम कोर्ट ने वापस बॉम्बे हाईकोर्ट को भेज दिया है.

  • Yes बैंक संकट के बीच महाराष्ट्र के वित्त मंत्री अजि‍त पवार ने राज्‍य सरकार के पैसों को लेकर कही यही बात...

    Yes बैंक संकट के बीच महाराष्ट्र के वित्त मंत्री अजि‍त पवार ने राज्‍य सरकार के पैसों को लेकर कही यही बात...

    महाराष्ट्र सरकार अपना कोष सिर्फ सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में रखेगी. राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मुख्य सचिव को निर्देश दिया है कि सरकार का पैसा सिर्फ राष्ट्रीयकृत बैंकों में जमा कराया जाए, निजी क्षेत्र के बैंकों में नहीं.

  • पायल तड़वी सुसाइड केस : आरोपियों को पोस्ट ग्रेजुएशन पूरा करने की इजाजत नहीं मिली

    पायल तड़वी सुसाइड केस : आरोपियों को पोस्ट ग्रेजुएशन पूरा करने की इजाजत नहीं मिली

    बंबई हाईकोर्ट ने पायल तड़वी आत्महत्या मामले में आरोपी तीन महिला डॉक्टरों को यहां बीवाईएल नायर अस्पताल से पोस्ट ग्रेजुएशन (स्नातकोत्तर) की पढ़ाई पूरी करने की अनुमति देने से शुक्रवार को इनकार कर दिया. तीनों महिलाओं पर तड़वी को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप है.

  • बॉम्बे हाईकोर्ट ने भीम आर्मी को संघ मुख्यालय के पास बैठक करने की दी इजाजत

    बॉम्बे हाईकोर्ट ने भीम आर्मी को संघ मुख्यालय के पास बैठक करने की दी इजाजत

    अदालत ने अपने आदेश में कहा, "शर्तों के साथ अनुमति दी जाती है. यह केवल कार्यकर्ताओं की बैठक होगी. यह धरना अथवा प्रदर्शन में तब्दील नहीं होना चाहिए, वहां कोई भडकाऊ भाषण नहीं होना चाहिए और वातावरण शांतिपूर्ण बना रहना चाहिए. इसके अलावा चंद्रशेखर आजाद को उपर्युक्त शर्तों पर एक हलफनामा देना चाहिए.

  • पायल तड़वी खुदकुशी मामला: आरोपियों की पढ़ाई पूरी करने की अपील पर अदालत शुक्रवार को सुनाएगी फैसला

    पायल तड़वी खुदकुशी मामला: आरोपियों की पढ़ाई पूरी करने की अपील पर अदालत शुक्रवार को सुनाएगी फैसला

    बॉम्बे हाईकोर्ट ने कहा कि महाराष्ट्र में अपनी जूनियर सहकर्मी पायल तड़वी को खुदकुशी के लिए उकसाने की आरोपी तीन वरिष्ठ महिला डॉक्टरों की अपील पर वह शुक्रवार को फैसला सुनाएगा. इन आरोपी डॉक्टरों ने सरकारी बीवाईएल नायर अस्पताल से अपनी पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी करने की इजाजत मांगी है.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com