NDTV Khabar

Bsp


'Bsp' - 594 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • तीन राज्यों में कांग्रेस के सीएम लेंगे शपथ, समारोह से दूरी बनाए रखने वाले नेताओं पर रहेगी नजर, पढ़ें 10 बड़ी बातें 

    तीन राज्यों में कांग्रेस के सीएम लेंगे शपथ, समारोह से दूरी बनाए रखने वाले नेताओं पर रहेगी नजर, पढ़ें 10 बड़ी बातें 

    मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में आज कांग्रेस के सीएम मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. कांग्रेस ने तीनों ही राज्य में बीजेपी को पटखनी दी है. बता दें कि लोकसभा चुनाव से पहले पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव को सेमीफाइनल की तरह देखा जा रहा था. तीनों राज्यों में होने में वाले शपथ ग्रहण समारोह के मौके पर विपक्षी एकता भी दिख सकती है. कांग्रेस पार्टी ने सभी विपक्षी दलों को इन समारोह में शामिल होने के लिए आमंत्रण दिया है. ऐसे में उन विपक्षी दल के नेताओं पर सबकी नजर रहेगी जो खुदको इस समारोह से दूर रखते हैं. 

  • विपक्षी एकता को झटका देने की तैयारी में मायावती और अखिलेश यादव?

    विपक्षी एकता को झटका देने की तैयारी में मायावती और अखिलेश यादव?

    मायावती के अलावा टीएमसी प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी शपथ ग्रहण समारोह में नहीं दिखेंगी. हालांकि, ममता बनर्जी ने कहा है कि वह पारिवारिक मजबूरियों के चलते शामिल नहीं हो पाएंगी, लेकिन उनकी तरफ से उनके प्रतिनिधि वहां मौजूद होंगे. पर मायावती और अखिलेश ने शामिल नहीं होने के लिए अभी तक कोई वजह नहीं बताई है.

  • समर्थन देने के बाद मायावती ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- जनता ने दिल पर पत्थर रखकर जिताई हैं इतनी सीटें

    समर्थन देने के बाद मायावती ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- जनता ने दिल पर पत्थर रखकर जिताई हैं इतनी सीटें

    मायावती ने कहा कि यदि इस मामले में राजस्थान में भी कांग्रेस को बसपा के समर्थन जरूरत महसूस हुई तो वहां भी भाजपा को सत्ता में आने से रोकने के लिए कांग्रेस को समर्थन दिया जा सकता है. बता दें कि मध्य प्रदेश और राजस्थान में भाजपा व कांग्रेस में से किसी दल को पूर्ण बहुमत नहीं मिला है. इन राज्यों में बसपा को मध्य प्रदेश में दो और राजस्थान में छह सीटें मिली है. वहीं मध्य प्रदेश में सामान्य बहुमत के जादुई आंकड़े से महज दो सीट पीछे रही कांग्रेस को 114 और भाजपा को 109 सीट मिली हैं जबकि राजस्थान में कांग्रेस ने 99 और भाजपा ने 73 सीटें जीती हैं.

  • जीएसटी, नोटबंदी समेत इन कारणों से राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में डूबी BJP की लुटिया

    जीएसटी, नोटबंदी समेत इन कारणों से राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में डूबी BJP की लुटिया

    जाहिर सी बात है कि बीजेपी भी उन कमियों की तलाश में होगी, जिसकी वजह से उसे इतनी ब़ड़ी हार मिली और एक ही झटके में तीन बड़े राज्य उसके हाथ से चले गए. इसके अलावा, अब सबके मन में हार-जीत के कारणों को जानने की इच्छा होगी. आखिर क्या वजह रही कि बिना गठबंधन के भी कांग्रेस ने इन राज्यों में जीत दर्ज की है. पिछले एक साल से अब तक क्या बदला है..क्या वो फैक्टर्स हैं जिन्होंने बीजेपी को नुकसान पहुंचाया, तो चलिए जानते हैं...

  • क्या राहुल गांधी होंगे महागठबंधन का चेहरा? NDTV ने पूछा विपक्षी दलों से सवाल, जानें- क्या है उनकी राय

    क्या राहुल गांधी होंगे महागठबंधन का चेहरा? NDTV ने पूछा विपक्षी दलों से सवाल, जानें- क्या है उनकी राय

    विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की जीत के बाद महागठबंधन पर भी चर्चा होना शुरू हो गई. इसके बाद सवाल उठने लगा कि क्या राहुल गांधी महागठबंधन का चेहरा होंगे? क्या राहुल गांधी के नेतृत्व में साल 2019 के लोकसभा चुनाव में विपक्षी दल पीएम नरेंद्र मोदी सरकार को टक्कर देंगे? ऐसे सवालों के जवाब जानने के लिए एनडीटीवी ने विपक्षी दलों के नेताओं से बातचीत की. हम आपको बता रहे हैं कि विपक्षी दलों की महागठबंधन के चेहरे पर क्या राय है?

  • 'मामा' शिवराज सिंह चौहान को सत्ता से बेदखल करने में कांग्रेस को आया पसीना, ये हैं कारण..

    'मामा' शिवराज सिंह चौहान को सत्ता से बेदखल करने में कांग्रेस को आया पसीना, ये हैं कारण..

    मध्‍यप्रदेश में इस बार हुए रिकॉर्ड मतदान के बाद ही कांग्रेस एक तरह से 'विनिंग मोड' में थी. 'एंटी इनकंबेसी' फैक्‍टर और एग्जिट पोल में अपने पक्ष में आए ज्‍यादातर रुझान को वह जीत का आधार मान रही थी लेकिन इस चुनावी समर में शिवराज सिंह 'धरती पकड़' साबित हुए. अंत में बाजी भले ही कांग्रेस के पक्ष में आई लेकिन शिवराज भी 'विजेता' से कम साबित नहीं हुए.

  • मध्यप्रदेश में कमलनाथ का पलड़ा भारी, लेकिन राहुल गांधी लेंगे अंतिम फैसला

    मध्यप्रदेश में कमलनाथ का पलड़ा भारी, लेकिन राहुल गांधी लेंगे अंतिम फैसला

    चुनावी नतीजों के बाद मध्य प्रदेश में कांग्रेस विधायक दल के नेता का चुनाव पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर छोड़ा गया है. बैठक में कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक आरिफ अकील ने कहा कि परंपरा रही है आलाकमान तय करे. वहीं, दूसरे विधायक और वरिष्ठ नेता गोविंद सिंह ने इसका समर्थन किया. इसके बाद सभी विधायकों ने हामी भरी, यानि अब आलाकमान ही तय करेगा मुख्यमंत्री का चेहरा.

  • मध्य प्रदेश में कांग्रेस का सियासी वनवास खत्म, मगर किसका होगा राजतिलक, अब भी बड़ा सवाल

    मध्य प्रदेश में कांग्रेस का सियासी वनवास खत्म, मगर किसका होगा राजतिलक, अब भी बड़ा सवाल

    मध्य प्रदेश विधानसभा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरने के साथ ही कांग्रेस ने अपना सियासी वनवास खत्म कर लिया है. राज्य में करीब 15 साल तक सत्ता से बाहर रही कांग्रेस लिए यह जश्न का वक्त है क्योंकि बसपा और सपा के साथ मिलकर कांग्रेस सरकार बनाती दिख रही है. मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में सभी 230 सीटों के परिणाम आने के बाद 114 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी कांग्रेस ने प्रदेश में सरकार बनाने का दावा पेश किया है. हालांकि, कांग्रेस की सरकार मध्य प्रदेश में बनती तो दिख रही है, जिसके लिए कांग्रेस ने राज्यपाल से मिलने का समय मांगा है और राजभवन ने अपनी सहमति भी जता दी है. मगर अभी बड़ा सवाल है कि आखिर कांग्रेस मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री के तौर पर किसका राजतिकल करेगी. मध्य प्रदेश की ताज का सरताज कौन होगा यह अब भी बड़ा सवाल है. क्योंकि दावेदार दो बताए जा रहे हैं- कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया. 

  • मायावती ने पहले कांग्रेस को फटकारा, फिर समर्थन देने का किया एलान, कहा- भाजपा को सत्ता से दूर रखना है

    मायावती ने पहले कांग्रेस को फटकारा, फिर समर्थन देने का किया एलान, कहा- भाजपा को सत्ता से दूर रखना है

    मायावती ने मध्य प्रदेश और राजस्थान में कांग्रेस को समर्थन देने का एलान किया. उन्होंने कहा, 'भाजपा को सत्ता से बाहर रखने के लिए हमारी पार्टी ने यह चुनाव लड़ा था. दुख की बात है कि हमारी पार्टी इसमें उस तरह से कामयाब नहीं हो पाई. भाजपा अभी भी सत्ता में आने के लिए जोर-तोड़ कर रही है. इसलिए हमने कांग्रेस पार्टी को सरकार बनाने के लिए समर्थन देने का फैसला किया है. भाजपा को सत्ता से दूर रखने का यही तरीका है. अगर राजस्थान में भी जरूरत हुई, तो वहां भी भाजपा को सत्ता से दूर रखने के लिए बसपा समर्थन दे सकती है.'

  • मध्य प्रदेश में ना कांग्रेस और ना ही बीजेपी को बहुमत, अब सरकार बनाने में इनकी होगी अहम भूमिका

    मध्य प्रदेश में ना कांग्रेस और ना ही बीजेपी को बहुमत, अब सरकार बनाने में इनकी होगी अहम भूमिका

    5 साल से सत्ता पर काबिज बीजेपी के खाते में 109 सीटें आई हैं. वहीं, मायावती की बहुजन समाजवादी पार्टी  को 2, अखिलेश यादव नीत समाजवादी पार्टी को 1 और चार निर्दलीय उम्मीदवारों को भी चुनाव में जीत हासिल हुई है.

  • मध्यप्रदेश : राजधानी भोपाल की सीटों पर आ सकते हैं चौंकाने वाले चुनाव परिणाम

    मध्यप्रदेश : राजधानी भोपाल की सीटों पर आ सकते हैं चौंकाने वाले चुनाव परिणाम

    मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल की सीटों पर इस बार का विधानसभा चुनाव काफी फेरबदल करा सकता है. बीजेपी का गढ़ बन चुकीं छह सीटों पर जहां कांग्रेस ने इस बार जोर लगाया वहीं आम आदमी पार्टी ने भी दम लगाया है. इसके अलावा सपा, बसपा समेत कई छोटे दल चुनाव में जोरआजमाइश कर चुके हैं. बीजेपी हो या कांग्रेस, इस बार इन दोनों प्रमुख दलों के लिए बागी प्रत्याशी भी परेशानी का कारण बने रहे हैं.

  • विपक्षी दलों की बैठक आज: क्या महागठबंधन की कवायद को मायावती दे सकती हैं झटका

    विपक्षी दलों की बैठक आज: क्या महागठबंधन की कवायद को मायावती दे सकती हैं झटका

    बैठक में बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती नदारद रह सकती हैं. सूत्रों के मुताबिक मायावती कांग्रेस से नाराज चल रही है, जिसकी वजह से वह इस बैठक से दूर रह सकती हैं. ऐसे में सवाल यह उठता है कि क्या मायावती महागठबंधन की कवायद को झटका देने की तैयारी में हैं? वहीं दूसरी ओर आम आदमी पार्टी के प्रमुख और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जो कि हमेशा ऐसी बैठकों से दूर रहते हैं, वह इस बार शामिल होने के लिए मान गए हैं. बताया जा रहा है कि राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बसपा के साथ सीटों के बंटवारे पर बात नहीं बन पाने के बाद मायावती कांग्रेस से नाराज चल रही हैं.

  • विपक्षी दलों की बैठक आज: क्या महागठबंधन की कवायद को मायावती दे सकती हैं झटका

    विपक्षी दलों की बैठक आज: क्या महागठबंधन की कवायद को मायावती दे सकती हैं झटका

    बैठक में बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती नदारद रह सकती हैं. सूत्रों के मुताबिक मायावती कांग्रेस से नाराज चल रही है, जिसकी वजह से वह इस बैठक से दूर रह सकती हैं. ऐसे में सवाल यह उठता है कि क्या मायावती महागठबंधन की कवायद को झटका देने की तैयारी में हैं? वहीं दूसरी ओर आम आदमी पार्टी के प्रमुख और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जो कि हमेशा ऐसी बैठकों से दूर रहते हैं, वह इस बार शामिल होने के लिए मान गए हैं. बताया जा रहा है कि राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बसपा के साथ सीटों के बंटवारे पर बात नहीं बन पाने के बाद मायावती कांग्रेस से नाराज चल रही हैं.

  • Exit Polls: कांग्रेस राजस्थान में किसे बनाएगी मुख्यमंत्री, MP और छत्तीसगढ़ में बुरी तरह फंसी बीजेपी, 10 बातें

    Exit Polls: कांग्रेस राजस्थान में किसे बनाएगी मुख्यमंत्री, MP और छत्तीसगढ़ में बुरी तरह फंसी बीजेपी, 10 बातें

    मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग का दौर खत्म हो चुका है और अब उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम में कैद है. मगर परिणाम से पहले टीवी चैनलों के एग्जिट पोल ने इस बात के संकेत दे दिए हैं कि किस राज्य में कौन सी पार्टी बहुमत में आएगी और कौन सी पार्टी सत्ता से बेदखल होगी. राजस्थान और तेलंगाना में वोटिंग खत्म होने के बाद शुक्रवार को आए एग्जिट पोल के नतीजों के देखें तो बीजेपी के लिए ये संकेत अच्छे नहीं हैं. एनडीटीवी के पोल ऑफ एग्जिट पोल्स में बीजेपी मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बुरी तरह फंस गई है और राजस्थान में बाजी कांग्रेस के खेमे में पलट गई है. एनडीटीवी के पोल ऑफ एग्जिट पोल्स के मुताबिक, मध्य प्रदेश में बीजेपी भले ही कांग्रेस पार्टी से एक सीट अधिक हो, मगर वह वहां बुरी तरह फंसी हुई नजर आ रही है. मध्य प्रदेश में बीजेपी को 110 और कांग्रेस को 109 सीटें मिलती नजर आ रही है. वहीं, कांग्रेस प्लस को राजस्थान में 110 और बीजेपी को 78 सीटें मिलती नजर आ रही हैं. वहीं, छत्तीसगढ़ में भी बीजेपी फंस चुकी है. बीजेपी को 41 और कांग्रेस को 42 सीटें मिलती दिख रही हैं. बहुजन समाज पार्टी व उसके सहयोगी दलों को 4 और अन्य को 3 सीटें मिलती दिख रही हैं. तो चलिए जानते हैं एग्गिट पोल की 10 अहम बातों को....

  • बसपा प्रमुख मायावती ने किया बीजेपी पर हमला, कहा- देवताओं को जाति में बांटने वालों से जनता सावधान रहे

    बसपा प्रमुख मायावती ने किया बीजेपी पर हमला, कहा- देवताओं को जाति में बांटने वालों से जनता सावधान रहे

    उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के भगवान हनुमान को दलित समुदाय का बताने वाले कथित बयान का जिक्र करते हुए कहा था कि वोट और चुनावी स्वार्थ की राजनीति में भाजपा के वरिष्ठ नेतागण इतना गिर गये हैं कि अब वे हिन्दू देवी-देवताओं और आस्थाओं को भी नहीं बख्श रहे हैं.

  • विधानसभा चुनाव : मध्यप्रदेश और मिजोरम में आज मतदान, कड़े सुरक्षा इंतजाम किए गए

    विधानसभा चुनाव : मध्यप्रदेश और मिजोरम में आज मतदान, कड़े सुरक्षा इंतजाम किए गए

    मध्यप्रदेश और मिजोरम में बुधवार को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होगा. इसके लिए प्रशासन ने कड़े सुरक्षा इंतजाम किए हैं. मध्यप्रदेश में विधानसभा की सभी 230 सीटों के लिए और मिजोरम की सभी 40 सीटों के लिए मतदान होगा.

  • केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने की उद्धव ठाकरे की तारीफ, बोलीं- राम मंदिर पर भाजपा का पेटेंट नहीं, भगवान राम सबके हैं

    केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने की उद्धव ठाकरे की तारीफ, बोलीं- राम मंदिर पर भाजपा का पेटेंट नहीं, भगवान राम सबके हैं

    उमा भारती ने कहा, 'उद्धव ठाकरे की कोशिश की सराहना करती हूं. राम मंदिर पर भाजपा का पेटेंट नहीं है, भगवान राम सबके हैं. मैं सपा, बसपा, अकाली दल, ओवैसी और आजम खान जैसों लोगों से राम मंदिर निर्माण के लिए आगे आने की अपील करती हूं.' बता दें, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे रविवार को अयोध्या पहुंचे थे. अयोध्या में उन्होंने राम मंदिर निर्माण को लेकर सरकार पर निशाना साधा.

  • मायावती बोलीं- विपक्ष के इशारों पर काम कर रहे हैं भीम आर्मी जैसे संगठन, राम मंदिर पर भी दिया बड़ा बयान

    मायावती बोलीं- विपक्ष के इशारों पर काम कर रहे हैं भीम आर्मी जैसे संगठन, राम मंदिर पर भी दिया बड़ा बयान

    मायावती ने इसके अलावा पीएम नरेंद्र मोदी पर भी जमकर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार को सत्ता में रहते हुए लगभग पांच साल पूरे होने वाले हैं और लोकसभा 2019 का चुनाव भी नजदीक आ गया है, लेकिन पीएम मोदी ने सत्ता में आने से पहले लोगों से जो वादे किए थे उनमें से 50 फीसदी वादा उन्होंने पूरा नहीं किया.

Advertisement