NDTV Khabar

Burari 11 killed


'Burari 11 killed' - 13 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • बुराड़ी कांड को लेकर रिपोर्ट में बड़ा खुलासा: भाटिया परिवार के 11 लोगों की मौत की वजह आत्महत्या नहीं...

    बुराड़ी कांड को लेकर रिपोर्ट में बड़ा खुलासा: भाटिया परिवार के 11 लोगों की मौत की वजह आत्महत्या नहीं...

    पूरे देश को अचानक सकते में कर देने वाले दिल्ली के बुराड़ी कांड मामले में एक बार फिर से हैरान करने वाला खुलासा हुआ है. उत्तरी दिल्ली के बुराड़ी में जुलाई महीने में एक परिवार के 11 सदस्यों के उनके घर में मृत मिलने के मामले में मनोवैज्ञानिक ऑटोप्सी रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि उन लोगों ने खुदकुशी नहीं की थी बल्कि एक अनुष्ठान के दौरान दुर्घटनावश वे सभी मारे गये. दिल्ली पुलिस ने जुलाई में सीबीआई को साइकोलॉजिकल ऑटोप्सी करने को कहा था. उसे बुधवार शाम को यह रिपोर्ट मिली. 

  • बुराड़ी केस में 11 मौतों के 22 दिन बाद परिवार के पालतू कुत्ते की मौत, जानें, क्या थी वजह

    बुराड़ी केस में 11 मौतों के 22 दिन बाद परिवार के पालतू कुत्ते की मौत, जानें, क्या थी वजह

    बुराड़ी में भाटिया परिवार के 11 सदस्यों की मौत के बाद अब परिवार के पालतू कुत्ते की भी मौत हो गई है. परिवार के सभी सदस्यों की मौत के बाद पालतू कुत्ते 'टॉमी' को हाउस अॉफ स्ट्रे एनिमल्स (HSA) को सौंपा गया था. यहां उसकी देखभाल की जा रही थी. लेकिन रविवार यानी कल शाम को करीब 7 बजे टॉमी अचानक गिर गया.

  • बुराड़ी कांड : फांसी पर लटकने से पहले किया था टोटका, लगता था - पानी का रंग बदलेगा, हम बच जाएंगे

    बुराड़ी कांड : फांसी पर लटकने से पहले किया था टोटका, लगता था - पानी का रंग बदलेगा, हम बच जाएंगे

    परिवार के 11 लोगों का खुदकुशी का कोई इरादा नहीं था और वह ये सब तपस्या  अपने अच्छे भविष्य के लिए कर रहे थे, लेकिन एक हादसे के तौर पर उनकी मौत हो गई. इसमें सिर्फ तीन लोगों भूपी, ललित और टीना के हाथ खुले हुए थे.

  • बुराड़ी कांड: 1 आत्मा को खुश करने के चक्कर में चली गई 11 लोगों की जान, 11 बातें

    बुराड़ी कांड: 1 आत्मा को खुश करने के चक्कर में चली गई 11 लोगों की जान, 11 बातें

    दिल्ली के बुराड़ी में एक ही घर के 11 लोगों की मौत का राज़ दिल्ली पुलिस के मुताबिक खुल गया है. घर से मिली डायरी के पन्नों में मौत के इस सफ़र का एक-एक ब्योरा है्. एनडीटीवी के पास भी ये हिस्से हैं जो बताते हैं कि किस तरह इस परिवार ने ये ख़ौफ़नाक रास्ता चुना. दरअसल 11 मौतों की कहानी की शुरुआत 11 साल पहले 2007 में हुई थी जब परिवार के मुखिया भोपाल सिंह की मौत हो गई थी. उसके बाद से ही परिवार के सबसे छोटे बेटे ललित के अंदर उसके पिता की 'आत्मा' आने लगी. ललित 11 साल से पिता की आत्मा आने के बाद पिता की आवाज में परिवार से बात करता था. उन्हें क्या फैसला लेना है, वो पिता की आत्मा आने के बाद ललित ही लेता था. परिवार के 11 सदस्यों को यकीन हो चुका था कि ललित के अंदर उसके पिता की आत्मा आ जाती है. पुलिस सूत्रों ने बताया है कि उनको घर से जो 11 रजिस्‍टर मिले थे उनको पढ़ने से पाया कि परिवार का खुदकुशी करने का कोई इरादा नहीं था.

  • बुराड़ी कांड : 11 मौतों का रहस्य सुलझा; वे बरगद की शाखाएं बने थे, जान गंवा बैठे

    बुराड़ी कांड : 11 मौतों का रहस्य सुलझा; वे बरगद की शाखाएं बने थे, जान गंवा बैठे

    दिल्ली के बुराड़ी में हुई चुंडावत परिवार के 11 सदस्यों की मौत के रहस्य को क्राइम ब्रांच ने पूरी तरह सुलझा लिया है. पुलिस ने अपनी जांच लगभग पूरी कर ली है. पुलिस को घर से 11 रजिस्टर मिले हैं जिनमें मौत की पूरी स्क्रिप्ट पहले से लिखी हुई है. यह खुशहाली की तमन्ना में पूरे परिवार के जान गंवाने की त्रासदी है.

  • डायरी में 30 जून की अंतिम एंट्री ने खोला सामूहिक खुदकुशी का राज, जानिए क्या हुआ था आखिरी रात

    डायरी में 30 जून की अंतिम एंट्री ने खोला सामूहिक खुदकुशी का राज, जानिए क्या हुआ था आखिरी रात

    दिल्ली के बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 लोगों की मौत एक सुनियोजित सामूहिक आत्महत्या की घटना थी. इस मामले में सामने आ रहे विभिन्न तथ्य इसी बात की ओर इशारा कर रहे हैं. दिल्ली पुलिस ने दावा किया है कि बुराड़ी में 11 मौतों का रहस्य सुलझा लिया गया है.

  • Burari case: जब उत्तर प्रदेश के अमेठी में मिले थे 11 शव, ये हैं दिल्ली के बुराड़ी जैसे तीन मामले

    Burari case: जब उत्तर प्रदेश के अमेठी में मिले थे 11 शव, ये हैं दिल्ली के बुराड़ी जैसे तीन मामले

    बुराड़ी केस ने देश-दुनिया को दहला है. भारत में बुराड़ी केस जैसे गिने-चुने मामले ही सामने आए हैं, जिसने लोगों का ध्यान खींचा हो. आइये आपको इसी तरह के दिल दहला देने वाले कुछ मामलों के बारे में बताते हैं. 

  • बुरारी कांड: 11 पाइपों को लेकर एक और खुलासा, रिश्तेदार सुजाता ने बताई यह वजह...

    बुरारी कांड: 11 पाइपों को लेकर एक और खुलासा, रिश्तेदार सुजाता ने बताई यह वजह...

    दिल्ली के बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 लोगों की मौत की गुत्थी अब तक नहीं सुलझी है. दिल्ली पुलिस और क्राइम ब्रांच इस मामले की जांच कर रहे हैं. सभी 11 लोगों की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आ गई है. इसमें कहा गया है कि सभी की मौत फांसी के फंदे से हुई, जबकि इससे पहले कहा जा रहा था कि एक बुज़ुर्ग महिला को गला दबाकर मारा गया था. वहीं भाटिया परिवार के करीबी और रिश्तेदार ये बात मानने को तैयार नहीं कि उन लोगों ने आत्महत्या की होगी. रिश्तेदार ने 11 पाइप के एंगल को भी खारिज कर दिया है.

  • बुराड़ी केस : 11 मौतें, हत्या या आत्महत्या के बीच उलझा मामला? जानें कब क्या हुआ

    बुराड़ी केस : 11 मौतें, हत्या या आत्महत्या के बीच उलझा मामला? जानें कब क्या हुआ

    बुराड़ी केस : दिल्ली के बुराड़ी इलाके में एक ही परिवार के 11 लोगों की मौत की गुत्थी अब तक नहीं सुलझी है. दिल्ली पुलिस और क्राइम ब्रांच इस मामले की जांच कर रहे हैं. सभी 11 लोगों की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आ गई है, जिसमें कहा गया है कि सभी की मौत फांसी के फंदे से हुई जबकि इससे पहले कहा जा रहा था.जानिये बुराड़ी केस में अब तक क्या-क्या हुआ है.

  • बुराड़ी कांड: क्‍या सुलझ गई 11 लोगों की मौत की गुत्‍थी? ये हो सकता है 'मास्‍टरमाइंड'

    बुराड़ी कांड: क्‍या सुलझ गई 11 लोगों की मौत की गुत्‍थी? ये हो सकता है 'मास्‍टरमाइंड'

    किसी के शरीर पर गले के अलावा चोट का कोई निशान नहीं है. कुछ लोगों के पेट खाली मिले तो कुछ ने खाना खाया था. पुलिस ने अभी तक की जांच में किसी बाबा या तांत्रिक का नाम सामने नहीं आया है. पुलिस ने बेटे ललित को इस मास सुसाइड (सामूहिक आत्‍महत्‍या) का मास्टरमाइंड समझ रही है. 

  • बुराड़ी में 11 मौतें: 11 पाइपों के बाद रोशनदान पर 11 एंगल का क्‍या है 'राज'?

    बुराड़ी में 11 मौतें: 11 पाइपों के बाद रोशनदान पर 11 एंगल का क्‍या है 'राज'?

    दिल्ली के बुराड़़ी में एक ही घर में परिवार के 11 लोगों की मौत की गुत्थी अभी भी अनसुलझी है. सभी शवों की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आ गई है जिसके मुताबिक, 11 में से 10 लोगों की मौत फांसी के फंदे से हुई, जबकि एक बुज़ुर्ग महिला को गला दबाकर मारा गया

  • बुराड़ी कांड: 11 लोगों की मौत के मामले में 2 दिन में हुए ये 11 खुलासे

    बुराड़ी कांड: 11 लोगों की मौत के मामले में 2 दिन में हुए ये 11 खुलासे

    दिल्ली के बुराड़ी इलाके में एक ही घर में परिवार के 11 लोगों की मौत के मामले में पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आ गई है, जिसमें कहा गया है कि 11 में से 11 लोगों की मौत फांसी के फंदे से हुई जबकि इससे पहले कहा जा रहा था कि एक बुज़ुर्ग महिला को गला दबाकर मारा गया था. वहीं भाटिया परिवार के करीबी और रिश्तेदार ये बात मानने को तैयार नहीं कि उन लोगों ने आत्महत्या की होगी. पुलिस अंधविश्वास समेत सभी ऐंगल पर मामले की जांच कर रही है. इस मामले में दो दिन बाद भी पुलिस की जांच जारी है. इन 11 मौतों के मामले में दो दिन में 11 खुलासे हुए हैं. अंतिम संस्कार के लिए शव आज परिवार को सौंप दिए जाएंगे. मृतकों की पहचान नारायण देवी (77), उनकी बेटी प्रतिभा (57) और दो बेटे भावनेश (50) और ललित भाटिया (45) के रूप में हुई है. भावनेश की पत्नी सविता (48) और उनके तीन बच्चे मीनू (23), निधि (25) और ध्रुव (15), ललित भाटिया की पत्नी टीना (42) और उनका 15 वर्ष का बेटा शिवम , प्रतिभा की बेटी प्रियंका (33) भी मृत मिले. प्रियंका की पिछले महीने ही सगाई हुई थी और इस साल के अंत तक उसकी शादी होनी थी। स्थानीय लोगों का कहना है कि मीनू प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी कर रही थी जबकि निधि स्नातकोत्तर की पढ़ाई कर रही थी.

  • Burari Case: मौतों को देख एम्स के मनोचिकित्सक भी चकराए, कहा- ऐसे हो सकता है खुलासा

    Burari Case: मौतों को देख एम्स के मनोचिकित्सक भी चकराए, कहा- ऐसे हो सकता है खुलासा

    दिल्ली के बुराड़ी केस में एक ही परिवार के 11 सदस्यों की मौत पर रहस्य बना हुआ है. हत्या और आत्महत्या के बीच उलझी इस 'डेथ मिस्ट्री' में तंत्र-मंत्र और अंधविश्वास का पहलू भी नजर आ रहा है. इस पूरे मामले को देखकर मानसिक स्वास्थ्य विशेषज्ञ भी चकरा गए हैं. उनका कहना है कि सामूहिक आत्महत्या करने वाले लोगों में ‘समानताएं’ पायी जाती हैं और उन्होंने सुझाव दिया कि इस मामले के खुलासे के लिए ‘मनोवैज्ञानिक अंत्य परीक्षण’ कराया जाए.