NDTV Khabar

Cbse board


'Cbse board' - 274 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • CBSE Passing Marks: 10वीं और 12वीं में नहीं आए इतने नंबर तो हो जाएंगे फेल, जानिए डिटेल

    CBSE Passing Marks: 10वीं और 12वीं में नहीं आए इतने नंबर तो हो जाएंगे फेल, जानिए डिटेल

    CBSE Passing Criteria: सीबीएसई बोर्ड (CBSE Board) ने 2020 सत्र से सभी विषयों के अंक पैटर्न (CBSE Passing Marks Pattern) में बदलाव किया है. सीबीएसई ने एक नया सर्कुलर जारी किया है जिसमें पासिंग क्राइटेरिया दिया गया है. नए सर्कुलर के मुताबिक 10वीं कक्षा में पास होने के लिए हर सब्जेक्ट में प्रैक्टिकल व थ्योरी में मिलाकर 33 प्रतिशत अंक लाने होंगे. लेकिन 12वीं में ऐसा नहीं है.

  • CBSE Board: 10वीं-12वीं परीक्षा की डेटशीट अगले महीने में हो सकती है जारी, जानिए डिटेल

    CBSE Board: 10वीं-12वीं परीक्षा की डेटशीट अगले महीने में हो सकती है जारी, जानिए डिटेल

    CBSE Exam Date शीट दिसंबर में जारी होने की उम्मीद है. सीबीएसई की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं (CBSE Class 10,12 Exam) दूसरी बार फरवरी में शुरू होने वाली हैं. 2018 से पहले बोर्ड की परीक्षा मार्च में होती थी और परीक्षा की डेट शीट (CBSE Exam Date Sheet) जनवरी में जारी की जाती थी.

  • CBSE Practical Exam Dates: सीबीएसई की 10वीं और 12वीं की प्रैक्टिकल परीक्षाओं की तारीखें जारी, जानिए डिटेल

    CBSE Practical Exam Dates: सीबीएसई की 10वीं और 12वीं की प्रैक्टिकल परीक्षाओं की तारीखें जारी, जानिए डिटेल

    CBSE Practical Exam Dates: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने 10वीं और 12वीं की प्रैक्टिकल परीक्षाओं का शेड्यूल (CBSE Practical Schedule) जारी कर दिया है. सीबीएसई बोर्ड (CBSE Board) की प्रैक्टिकल परीक्षाएं 1 जनवरी से 7 फरवरी तक आयोजित की जाएगी. बोर्ड ने कहा कि प्रैक्टिकल एग्जाम के बाद स्किल सब्जेक्ट्स के थ्योरी पेपर 15 फरवरी से शुरू होंगे. CBSE बोर्ड ने स्कूलों से प्रैक्टिकल परीक्षाओं के तुरंत बाद अंक दिए गए लिंक पर अपलोड करने के लिए कहा है.

  • CBSE ने स्कूलों को अगले 3 साल में जल सक्षम बनने को कहा

    CBSE ने स्कूलों को अगले 3 साल में जल सक्षम बनने को कहा

    देश में अनेक क्षेत्रों में जल संकट गहराने के बीच केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने स्कूलों से अगले तीन वर्ष में अनिवार्य रूप से जल सक्षम बनने को कहा है और इस संबंध में जल प्रबंधन नीति लागू करने तथा नियमित रूप से जल आडिट कराने को कहा है. बोर्ड की ओर से तैयार जल संरक्षण दिशानिर्देश में कहा गया है कि स्कूलों को जल से जुड़ी पुरानी सुविधाओं, उपकरणों को दुरूस्त बनाना चाहिए तथा सेंसर युक्त आटोमेटिक नल, व्यवस्थित टैंक स्थापित करना चाहिए. इसके साथ ही नियमित रूप से लीकेज की जांच करानी चाहिए एवं उनके रखरखाव की ठोस व्यवस्था करनी चाहिए.

  • CBSE ने विभिन्न पदों पर निकाली सीधी भर्ती, यहां जानिए हर डिटेल

    CBSE ने विभिन्न पदों पर निकाली सीधी भर्ती, यहां जानिए हर डिटेल

    Sarkari Naukri: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने विभिन्न पदों पर भर्ती के लिए वैकेंसी निकाली हैं. CBSE Board ने भर्ती के संबंध में एक नोटिस अपनी वेबसाइट cbse.nic.in पर जारी कर दिया है. सीधी भर्ती के तहत सीबीएसई असिस्टेंट सेक्रेटरी, असिस्टेंट सेक्रेटरी (आईटी), एनालिस्ट (आईटी), जूनियर हिन्दी ट्रांसलेटर, सीनियर असिस्टेंट, स्टेनोग्राफर, अकाउंटेंट, जूनियर असिस्टेंट और जूनियर अकाउंटेंट के पद पर भर्तियां करेगा.

  • CBSE Board Exam 2020: ये है सीबीएसई 10वीं साइंस पेपर का पैटर्न, यहां से डाउनलोड करें सैंपल पेपर

    CBSE Board Exam 2020: ये है सीबीएसई 10वीं साइंस पेपर का पैटर्न, यहां से डाउनलोड करें सैंपल पेपर

    सीबीएसई 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन फरवरी-मार्च में आयोजित करेगा. 10वीं के स्टूडेंट्स पर बोर्ड परीक्षा का प्रेशर सबसे ज्यादा रहता है, लेकिन स्टूडेंट्स को प्रेशर न लेकर अपनी तैयारी पर ध्यान देना चाहिए. कई स्टूडेंट्स के लिए साइंस (CBSE Science Paper) कठिन सब्जेक्ट होता है. ऐसे में स्टूडेंट्स के लिए परीक्षा के पैटर्न और मार्किंग स्कीम को समझना बेहद जरूरी है.

  • CBSE Exam: सीबीएसई 12वीं मैथ्स पेपर पैटर्न में हुआ बदलाव, ये है 10वीं और 12वीं के सैंपल पेपर्स

    CBSE Exam: सीबीएसई 12वीं मैथ्स पेपर पैटर्न में हुआ बदलाव, ये है 10वीं और 12वीं के सैंपल पेपर्स

    CBSE Exam 2019-20: सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) ने 10वीं और 12वीं क्लास के सैंपल पेपर जारी कर चुका है. 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं फरवरी-मार्च में होनी हैं. CBSE ने मैथ्स के पेपर पैटर्न में भी बदलाव किया है. 12वीं में पहले मैथ्स का पेपर (CBSE Maths Paper) 100 अंकों का होता था, लेकिन अब मैथ्स का पेपर 80 अंकों का होगा और स्टूडेंट्स को 20 अंक प्रोजेक्ट के मिलेंगे.

  • CBSE से अलग दिल्‍ली का होगा अपना शिक्षा बोर्ड : मनीष सिसोदिया

    CBSE से अलग दिल्‍ली का होगा अपना शिक्षा बोर्ड : मनीष सिसोदिया

    दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि जल्द ही दिल्ली का अपना शिक्षा बोर्ड होगा लेकिन वह सीबीएसई का स्थान नहीं लेगा,बल्कि यह अगली पीढ़ी का बोर्ड होगा जो जेईई और नीट जैसी प्रवेश परीक्षाओं की तैयारियों में छात्रों की मदद करेगा. उप मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली सरकार बोर्ड को ऐसे रूप में देखती है जो वर्तमान हालात का निदान होगा. वर्तमान में छात्र स्कूलों की मदद से बोर्ड परीक्षाओं की तैयार करते हैं ,लेकिन उन्हें इंजीनियरिंग और मेडिकल की प्रवेश परीक्षा पास करने के लिए कोचिंग सेन्टरों का सहारा लेना पड़ता है.

  • CBSE ने 10वीं और 12वीं बोर्ड के पेपर पैटर्न में किए ये बड़े बदलाव, आसान होगा एग्जाम, आएंगे अच्छे नंबर

    CBSE ने 10वीं और 12वीं बोर्ड के पेपर पैटर्न में किए ये बड़े बदलाव, आसान होगा एग्जाम, आएंगे अच्छे नंबर

    सीबीएसई (CBSE) ने 2020 की बोर्ड परीक्षा में शामिल होने वाले स्टूडेंट्स को बड़ी राहत दी है. सीबीएसई बोर्ड (CBSE Board) परीक्षा 2020 का पैपर आसाना होने वाला है. CBSE ने ट्वीट कर जानकारी दी कि 10वीं और 12वीं के विषयों में डिस्क्रिपटिव क्वेश्चन की संख्या कम की गई है. कक्षा 10 के कई विषयों में डिस्क्रिपटिव क्वेश्चन की संख्या कम कर दी गई है.

  • मनीष सिसोदिया का बड़ा ऐलान, दिल्ली के सरकारी स्कूलों के छात्रों को नहीं देनी होगी सीबीएसई एग्जाम फीस

    मनीष सिसोदिया का बड़ा ऐलान, दिल्ली के सरकारी स्कूलों के छात्रों को नहीं देनी होगी सीबीएसई एग्जाम फीस

    दिल्ली सरकार (Delhi Government) के स्कूलों और सहायता प्राप्त स्कूलों में छात्रों को सीबीएसई (CBSE) की कक्षा 10वीं और 12वीं की परीक्षा के लिए कोई शुल्क (CBSE Exam Fee) नहीं देना होगा और राज्य सरकार पूरा खर्च वहन करेगी. दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बुधवार को यह घोषणा की. केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) द्वारा शुल्क वृद्धि की घोषणा के बाद दिल्ली सरकार ने यह निर्णय लिया

  • CBSE ने एग्जाम फीस में दी राहत, दिल्ली के एससी/एसटी छात्रों को देने होंगे पहले की तरह 50 रुपये

    CBSE ने एग्जाम फीस में दी राहत, दिल्ली के एससी/एसटी छात्रों को देने होंगे पहले की तरह 50 रुपये

    केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने दिल्ली के सरकारी स्कूलों के एससी/एसटी छात्रों को राहत दी है. सीबीएसई बोर्ड (CBSE Board) ने ये साफ कर दिया है कि सरकारी स्कूलों के स्टूडेंट्स को पहले की तरह पूरी एग्जाम फीस (CBSE Exam Fee) नहीं देनी होगी. सीबीएसई बोर्ड की पीआरओ रमा शर्मा ने बताया दिल्ली के सरकारी और सहायता प्राप्त स्कूलों के एससी और एसटी स्टूडेंट्स से पिछले साल की तरह 50 रुपये ही फीस ली जाएगी. शेष राशि के लिए, सीबीएसई उम्मीदवारों की सूची को अंतिम रूप देने के बाद दिल्ली सरकार को भेजेगी और बाकी का पैसा दिल्ली सरकार चुकाएगी. इसकी सूचना दिल्ली सरकार को दे दी गई है. 

  • CBSE ने बढ़ाई एग्जाम फीस, परीक्षा में बैठने के लिए देनी होगी दोगुनी रकम

    CBSE ने बढ़ाई एग्जाम फीस, परीक्षा में बैठने के लिए देनी होगी दोगुनी रकम

    केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने अनुसूचित जाति (SC) और अनुसूचित जनजाति (ST) छात्रों के लिए 10वीं और 12वीं कक्षा के बोर्ड परीक्षा शुल्क में वृद्धि की है. अब इस वर्ग के छात्रों को 750 रुपये के बजाय 1200 रुपये का शुल्क देना होगा.

  • दिल्‍ली सरकार की नई पहल, 10वीं और 12वीं बोर्ड के बच्‍चों को दी जाएगी स्‍पेशल कोचिंग

    दिल्‍ली सरकार की नई पहल, 10वीं और 12वीं बोर्ड के बच्‍चों को दी जाएगी स्‍पेशल कोचिंग

    दिल्‍ली सरकार की योजना है कि बोर्ड में जिन विषयों में स्‍टूडेंट्स ने सबसे कम नंबर हासिल किए हैं, उन पर विशेष ध्यान देने के लिए स्‍पेशल क्‍लास लगाई जाएंगी ताकि रिजल्‍ट सुधारा जा सके.

  • परीक्षा में बेटे के आए 60 प्रतिशत तो मां ने फेसबुक पर ऐसे मनाया जश्न, लोगों ने कहा- ऐसी मां को सलाम

    परीक्षा में बेटे के आए 60 प्रतिशत तो मां ने फेसबुक पर ऐसे मनाया जश्न, लोगों ने कहा- ऐसी मां को सलाम

    सीबीएसई 10वीं का रिजल्ट (CBSE 10th Result 2019) घोषित हो चुका है. एक फेसबुक पोस्ट वायरल हो रही है. जिसको 5 हजार से ज्यादा शेयर्स मिल चुके हैं. बेटे के 60 प्रतिशत आने के बाद भी मां वंदना सूफिया कटोच बहुत खुश है.

  • CBSE Board: 12वीं के बाद ये कोर्स हैं आपके लिए बेस्ट, जानिए डिटेल में

    CBSE Board: 12वीं के बाद ये कोर्स हैं आपके लिए बेस्ट, जानिए डिटेल में

    CBSE Board 10वीं और 12वीं का रिजल्ट जारी कर चुका है. सीबीएसई 10वीं (Cbse Class 10 Result) में इस साल 13 बच्चों ने पहली रैंक हालिस की. 10वीं का रिजल्ट (CBSE Result) 6 मई को जारी किया गया. वहीं 12वीं का रिजल्ट (CBSE Board Result) 2 मई को जारी कर दिया गया था. 12वीं का रिजल्ट (CBSE Board 12th Result) आते ही स्टूडेंट्स के ऊपर करियर ऑप्शन (Career Option) चुनने का प्रेशर आ जाता है. कई स्टूडेंट्स ने पहले ही सोच रखा होता है कि आगे उन्हें क्या करना है.

  • TOP 5 NEWS: बीजेपी को बहुमत मिलने को लेकर राम माधव ने कही यह बात और सीएम ममता ने पीएम मोदी को बताया 'एक्सपायरी PM'

    TOP 5 NEWS: बीजेपी को बहुमत मिलने को लेकर राम माधव ने कही यह बात और सीएम ममता ने पीएम मोदी को बताया 'एक्सपायरी PM'

    सीबीएसई की 10वीं की परीक्षा का रिजल्ट (CBSE Class 10 Result) जारी कर दिया गया है. सीबीएसई (CBSE Board) 10वीं के स्टूडेंट्स का इंतजार अब खत्म हो गया है. 10वीं का रिजल्ट (CBSE Board Result 2019) बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट cbse.nic.in और cbseresults.nic.in पर जारी किया गया है.  पिछली बार की तुलना में इस बार पासिंग पर्सेंटेज 4.40 फीसदी रहा. इस बार कुल 91.10 फीसदी स्‍टूडेंट पास होने में सफल रहे, जबकि साल 2018 में पार्सिंग पर्सेंटेज 86.70 था.

  • CBSE Board 10th Result: लड़कियों ने फिर मारी बाजी, 92.4 फीसदी छात्राएं हुई पास

    CBSE Board 10th Result: लड़कियों ने फिर मारी बाजी, 92.4 फीसदी छात्राएं हुई पास

    CBSE Board ने 10वीं का रिजल्ट (CBSE 10th Result 2019) जारी कर दिया है. इस बार एक-दो नहीं बल्‍कि कुल 13 बच्‍चों ने 10वीं में टॉप किया है. सभी को 500 में 499 अंक मिले हैं. वहीं दूसरे स्थान पर 25 बच्चें हैं. इस बार कुल 91.10 फीसदी स्‍टूडेंट पास होने में सफल रहे, जबकि साल 2018 में पार्सिंग पर्सेंटेज 86.70 था. हर बार की तरह इस बार भी लड़कियों का प्रदर्शन शानदार रहा. इस बार लड़कों की तुलना में 2.31 फीसदी लड़कियां अधिक पास हुईं हैं. लड़कियां का पासिंग पर्सेंटेज 92.45 फीसदी रहा.

  • CBSE Class 10 Result 2019: एक नहीं 13 बच्चों ने किया टॉप, मिले 499 अंक, ज्यादातर टॉपर UP से

    CBSE Class 10 Result 2019: एक नहीं 13 बच्चों ने किया टॉप, मिले 499 अंक, ज्यादातर टॉपर UP से

    CBSE ने 10वीं बोर्ड का रिजल्‍ट (CBSE Board 10th Result) जारी कर दिया है. सीबीएसई 10वीं का रिजल्ट (CBSE Class 10 Result) cbseresults.nic.in पर जारी किया गया है. पिछली बार की तुलना में इस बार पासिंग पर्सेंटेज 4.40 फीसदी रहा. इस बार कुल 91.10 फीसदी स्‍टूडेंट पास होने में सफल रहे, जबकि साल 2018 में पार्सिंग पर्सेंटेज 86.70 था. 12वीं की तरह 10वी में भी त्रिवेंद्रम का प्रदर्शन सबसे अच्‍छा रहा. त्रिवेंद्रम में कुल 99.85 फीसदी बच्‍चे पास हुए.