NDTV Khabar

Change


'Change' - 449 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • अरविंद केजरीवाल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से 'सी-40 जलवायु सम्मेलन' में कहा- मेरी ताकत दिल्ली के 2 करोड़ लोग

    अरविंद केजरीवाल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से 'सी-40 जलवायु सम्मेलन' में कहा- मेरी ताकत दिल्ली के 2 करोड़ लोग

    फिर भी उन्होंने शुक्रवार को अपनी उपस्तिथि दर्ज करवाई. अरविंद केजरीवाल वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शुक्रवार को सी 40 समिट को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने कहा, ''वहां आना चाहता था लेकिन किसी कारण से नहीं आ पाया. मुझे खुशी है कि 35 से ज़्यादा शहर साफ हवा कमिटमेंट से जुड़े हैं. अब दिल्ली में प्रदूषण 25% कम हो गया. इसके लिए हमने कई कदम उठाए.''

  • मंजूरी नहीं मिलने के बावजूद डेनमार्क में सी 40 जलवायु सम्मेलन में मौजूदगी दर्ज कराएंगे केजरीवाल

    मंजूरी नहीं मिलने के बावजूद डेनमार्क में सी 40 जलवायु सम्मेलन में मौजूदगी दर्ज कराएंगे केजरीवाल

    दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को डेनमार्क के कोपेनहेगन में होने वाले सी-40 जलवायु सम्मेलन (C-40 Climate Change Event) में शामिल होने के लिए भले ही विदेश मंत्रालय ने मंजूरी नहीं दी लेकिन इसके बावजूद वे वहां अपनी उपस्तिथि दर्ज कराएंगे. अरविंद केजरीवाल वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शुक्रवार को सी 40 समिट को संबोधित करेंगे. केजरीवाल इसी दिन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ही सात शहरों के संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में भी हिस्सा लेंगे. विदेश मंत्रालय ने अरविंद केजरीवाल का डेनमार्क में होने वाले C-40 सम्मेलन के लिए पॉलिटिकल क्लियरेंस खारिज कर दिया था. हालांकि इस समिट के आयोजकों के अनुरोध पर केजरीवाल वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए एक सत्र को संबोधित करने के लिए तैयार हो गए.

  • अरविंद केजरीवाल के डेनमार्क दौरे को मंजूरी नहीं मिलने पर सियासत जारी, सरकार ने क्लियरेंस नहीं देने की बताई वजह

    अरविंद केजरीवाल के डेनमार्क दौरे को मंजूरी नहीं मिलने पर सियासत जारी, सरकार ने क्लियरेंस नहीं देने की बताई वजह

    केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javedkar) ने बताया कि किस वजह से दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) के डेनमार्क (Denmark) दौरे को रद्द किया गया है.

  • दमदार! 75 वर्षीय इस बुजुर्ग ने 50 सालों में लगाए 27 हजार पेड़

    दमदार! 75 वर्षीय इस बुजुर्ग ने 50 सालों में लगाए 27 हजार पेड़

    क्लाइमेट चेंज (Climate Change) से लड़ने के लिए दुनिया भर के लोग आगे आए हैं. पर्यावरण (Environment) को लेकर जागरूकता अभियान चलाए जा रहे हैं. लेकिन इसके बावजूद भी कई जगहों पर इमारतों को बनाने के लिए पेड़ काटे जा रहे हैं. वहीं. कुछ लोग ऐसे भी है जो पेड़ों को बचाने के लिए काम कर रहे हैं. पर्यावरण के लिए पेड़ कितने जरूरी है ये तो आप सभी जानते हैं लेकिन क्या 1 साल में आप एक भी पेड़ लगाते हैं? अगर नहीं तो आपको जोधपुर के रणाराम बिश्नोई (Ranaram Bishnoi) से सीखना चाहिए.

  • केजरीवाल समेत दुनिया के 20 नेता कोपेनहेगन में अपना-अपना शहर स्वच्छ रखने की लेंगे शपथ

    केजरीवाल समेत दुनिया के 20 नेता कोपेनहेगन में अपना-अपना शहर स्वच्छ रखने की लेंगे शपथ

    मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दुनिया के उन 20 नेताओं में शामिल हैं जो डेनमार्क की राजधानी कोपनहेगन जाएंगे और प्रण लेंगे कि लघु और दीर्घकालिक प्रतिबद्धताओं से अपने-अपने शहर की हवा को स्वच्छ किया जाएगा. इस काम के लिए एक समय सीमा भी तय होगी. दिल्ली के सीएम केजरीवाल वहां पेरिस के महापौर ऐनी हिडाल्गो, लॉस एंजिल्स के मेयर एरिक गार्सेटी, कोपेनहेगन के लॉर्ड मेयर फ्रैंक जेन्सेन, पोर्टलैंड के मेयर टेड व्हीलर, जकार्ता के गवर्नर अनीस बसवदन और बार्सिलोना के मेयर एडा कोलाउ के साथ संवाददाता सम्मेलन में भी शामिल होंगे. प्रण लेने की उक्त घोषणा कोपेनहेगन में 11 अक्टूबर को सुबह 8:30 बजे सेंट्रल यूरोपियन समर टाइम (CEST) तिवोली कॉन्फ्रेंस सेंटर में होगी.

  • जिन पर 'थ्री इडियट' फिल्म बनी वे अब जलवायु परिवर्तन के खिलाफ ग्लोबल मुहिम शुरू करेंगे

    जिन पर 'थ्री इडियट' फिल्म बनी वे अब जलवायु परिवर्तन के खिलाफ ग्लोबल मुहिम शुरू करेंगे

    दो अक्टूबर को देश में सिंगल-यूज़ प्लास्टिक के खिलाफ मुहिम की शुरुआत हो रही है. उसी दिन रेमन मैगसेसे अवार्ड विजेता सोनम वांगचुक जलवायु परिवर्तन के खिलाफ एक नई ग्लोबल मुहिम "#Ilivesimply movement" की शुरुआत कर रहै हैं. वांगचुक का दावा है कि वायु प्रदूषण से दुनिया में हर साल 7 से 10 मिलियन लोग मारे जा रहे हैं. दोनों विश्व युद्धों के दौरान भी हर साल औसतन 10 मिलियन लोग मारे गए थे. गौरतलब है कि लोकप्रियता के कीर्तिमान बनाने वाली फिल्म 'थ्री इडियट' सोनम वांगचुक पर ही बनाई गई है.

  • सलमान खान ने बदला अपने ट्विटर हैंडल का नाम, वजह जान रह जाएंगे हैरान

    सलमान खान ने बदला अपने ट्विटर हैंडल का नाम, वजह जान रह जाएंगे हैरान

    बॉलीवुड के सुल्तान यानी सलमान खान (Salman Khan) वैसे तो ट्विटर पर काफी एक्टिव रहते हैं, लेकिन हाल ही में उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल का नाम ही बदल दिया है, जिससे हर कोई सकते में आ गया है.

  • BLOG: जलवायु परिवर्तन के प्रति कार्यवाही ना करने पर अमेरिका और स्वीडन पर मुकदमा क्यों नहीं?

    BLOG: जलवायु परिवर्तन के प्रति कार्यवाही ना करने पर अमेरिका और स्वीडन पर मुकदमा क्यों नहीं?

    स्वीडन की सोलह वर्षीय ग्रेटा थूनबर्ग और उसकी उम्र के कुछ और युवाओं ने तुर्की, अर्जेंटीना, ब्राजील, जर्मनी और फ़्रांस के ख़िलाफ़ तो जलवायु परिवर्तन के प्रति कार्यवाही न करने के विषय में मुक़दमा दर्ज किया है, लेकिन अमेरिका के ख़िलाफ़ नहीं, जिसका प्रति व्यक्ति हानिकारक गैस उत्सर्जन दुनिया में अधिकतम है. ये किशोर उस स्वीडन पर भी मुक़दमा नहीं कर रहे हैं जिसका प्रति व्यक्ति गैस उत्सर्जन ब्राज़ील के प्रति व्यक्ति गैस उत्सर्जन का दो-गुना है.

  • जलवायु परिवर्तन को लेकर कितनी गंभीर है सरकार?

    जलवायु परिवर्तन को लेकर कितनी गंभीर है सरकार?

    शुक्रवार को कम से कम 28 देशों के 20 लाख लोग और स्कूल छात्र अपना काम और पढ़ाई छोड़कर जलवायु परिवर्तन के खिलाफ सड़क पर उतरे. स्पेन, न्यूज़ीलैंड, नीदरलैंड्स के कुल जनसंख्या के 3.5 प्रतिशत लोग इस प्रदर्शन में हिस्सा लिए. प्रदर्शन से पहले न्यूज़ीलैंड के लोगों ने वहां के संसद के नाम एक चिट्ठी भी लिखी. इस चिट्ठी में उन्होंने मांग की कि दश में क्लाइमेट इमरजेंसी घोषित की जाए. साथ ही जलवायु परिवर्तन को रोकने के लिए अलग-अलग कॉउंसिल भी बनाई जाए. उधर, कनाडा के 85 शहर में जलवायु परिवर्तन के खिलाफ प्रदर्शन किया गया.

  • World Heart Day 2019: इन 4 लाइफ स्टाइल में बदलाव कर हार्ट के रोगों को कर सकते हैं कम

    World Heart Day 2019: इन 4 लाइफ स्टाइल में बदलाव कर हार्ट के रोगों को कर सकते हैं कम

    Heart Day: इस वर्ल्ड हार्ट डे पर डॉ. विनोद कुमार तिवारी हार्ट रोगों के जोखिम को कम करने के लिए लाइफ स्टाइल के बारे में बता रहे हैं कि कैसे रखें अपनी दिनचर्या पढ़े यहां.

  • बार-बार तूफान और पानी से जुड़ी गंभीर घटनाओं की सामने आई वजह, UN रिपोर्ट में बताया लाखों लोगों को...

    बार-बार तूफान और पानी से जुड़ी गंभीर घटनाओं की सामने आई वजह, UN रिपोर्ट में बताया लाखों लोगों को...

    संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट के अनुसार, अगर जलवायु परिवर्तन का वर्तमान रुझान लगातार बिना रुकावट के जारी रहा तो समुद्र का स्तर एक मीटर तक बढ़ सकता है. इस वजह से लाखों लोगों को 2100 तक पलायन करने को मजबूर होना पड़ सकता है. sea level may rise 1 metre by 2100 latest UN report on storm

  • ये है उत्तराखंड की रिद्धिमा पांडे, जिसने ग्रेटा थनबर्ग के साथ 5 देशों के खिलाफ UN में दर्ज की है शिकायत

    ये है उत्तराखंड की रिद्धिमा पांडे, जिसने ग्रेटा थनबर्ग के साथ 5 देशों के खिलाफ UN में दर्ज की है शिकायत

    क्लाइमेट चेंज (Climate Change) के कारण पर्यावरण को पहुंच रहे नुकसान को लेकर 16 बच्चों ने सरकारों के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र (UN) में शिकायत दर्ज करवाई है. इन 16 बच्चों द्वारा दायर की गई पिटीशन में लिखा है कि दुनिया के 5 देशों तुर्की, अर्जेंटीना, फ्रांस, जर्मनी और ब्राजील ने जलवायु संकट को रोकने के लिए पर्याप्त कदम नहीं उठाकर मानवाधिकारों का हनन किया है. इन 16 बच्चों में उत्तराखंड की रिद्धिमा पांडे (Ridhima Pandey) भी शामिल हैं.

  • बिहार विधानसभा चुनाव से पहले लोक जनशक्ति पार्टी में होंगे बड़े बदलाव, अध्यक्ष पद पर होगी नए नेता की ताजपोशी

    बिहार विधानसभा चुनाव से पहले लोक जनशक्ति पार्टी में होंगे बड़े बदलाव, अध्यक्ष पद पर होगी नए नेता की ताजपोशी

    बिहार विधानसभा चुनाव से पहले लोक जनशक्ति पार्टी में बड़े बदलाव किए जाएंगे. लोक जनशक्ति पार्टी की कमान अब राम विलास पासवान के बेटे चिराग पासवान संभालेंगे. पटना के गांधी मैदान पर 28 नवंबर को लोक जनशक्ति पार्टी के स्थापना दिवस के मौके पर चिराग को रामविलास पासवान की जगह राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया जाएगा.

  • डोनाल्ड ट्रंप ने Greta Thunberg को लेकर ट्वीट में लिखा- 'हैप्पी यंग गर्ल...', ट्रोलर्स ने यूं लगाई लताड़

    डोनाल्ड ट्रंप ने Greta Thunberg को लेकर ट्वीट में लिखा- 'हैप्पी यंग गर्ल...', ट्रोलर्स ने यूं लगाई लताड़

    अमेरिका में आयोजित हुए संयुक्त राष्ट्र के उच्चस्तरीय जलवायु सम्मेलन के दौरान 16 साल की पर्यावरणविद् ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) ने अपने भाषण दुनियाभर के लोगों को झकझोर कर रख दिया. ग्रेटा ने अपने भाषण में संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस सहित दुनिया के बड़े नेताओं को काफी लताड़ा, जिसके बाद स्पीच का वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो गया.

  • 16 साल की Greta Thunberg ने UN में अपने भाषण से नेताओं को लताड़ा, बोली- हमें धोखा देने की आपकी हिम्मत कैसे हुई?

    16 साल की Greta Thunberg ने UN में अपने भाषण से नेताओं को लताड़ा, बोली- हमें धोखा देने की आपकी हिम्मत कैसे हुई?

    स्वीडन की 16 साल की पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग ने संयुक्त राष्ट्र के उच्चस्तरीय जलवायु सम्मेलन के दौरान सोमवार को अपने भाषण से संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस सहित दुनिया के बड़े नेताओं को झकझोर दिया.

  • दलाई लामा ने पूरे विश्व में जलवायु प्रदर्शन का समर्थन किया

    दलाई लामा ने पूरे विश्व में जलवायु प्रदर्शन का समर्थन किया

    तिब्बती धार्मिक गुरु दलाई लामा ने शुक्रवार को जलवायु को बचाने के लिए आयोजित वैश्विक प्रदर्शनों का समर्थन किया और कहा कि युवा पीढ़ी भविष्य को लेकर काफी वास्तविक रुख अपना रही है. नोबेल पुरस्कार विजेता ने ट्वीट कर कहा, "यह बिल्कुल सही है कि छात्रों और आज की युवा पीढ़ी को जलवायु संकट और पर्यावरण पर इसके प्रभावों के बारे मे चिंतित होना चाहिए."

  • स्कूल में पढ़ने वाली ग्रैता तुन्बैर जलवायु संकट पर कैसे बन गईं ग्लोबल नेता

    स्कूल में पढ़ने वाली ग्रैता तुन्बैर जलवायु संकट पर कैसे बन गईं ग्लोबल नेता

    16 साल की एक लड़की ग्रैता तुनबैर हुक्मरानों के लिए चुनौती बन गई है. ग्रैता ने अपने नैतिक बल और कठोर निश्चय से सबको घेर लिया है. वह अकेली है लेकिन दुनिया भर के लिए आंदोलन बन चुकी है. एक ऐसे नए रास्ते की बुनियाद रख रही है जिसे अब बच्चे तय करेंगे. अगर बड़ों से सिर्फ बातें होती हैं तो अब उन बातों का इंतज़ार नहीं किया जा सकता. बच्चे भी सड़क पर आ सकते हैं, दुनिया भर में यात्राएं कर सकते हैं और जलवायु के सवाल को बड़ा कर सकते हैं और समाधान की मांग कर सकते हैं. ग्रेटा की कहानी को भारत के हर स्कूल में बताया जाना चाहिए और हर घर में बताया जाना चाहिए.

  • कमलनाथ सरकार को समर्थन देने वाले बीजेपी एमएलए के फिर पाला बदलने के आसार

    कमलनाथ सरकार को समर्थन देने वाले बीजेपी एमएलए के फिर पाला बदलने के आसार

    मध्यप्रदेश विधानसभा में एक विधेयक पर मत विभाजन के दौरान कमलनाथ सरकार को समर्थन करने वाले शहडोल जिले के ब्यौहारी विधानसभा क्षेत्र से बीजेपी विधायक फिर पाला बदलते नज़र आ रहे हैं. उन्होंने कहा मॉब लिंचिंग प्रस्ताव के समर्थन में उन्होंने सरकार के पक्ष में वोट किया था जिसका समर्थन उनकी पार्टी भी कर रही थी. शरद कोल ने कहा कि वे बीजेपी के विधायक हैं और रहेंगे.