NDTV Khabar

Cji ranjan gogoi


'Cji ranjan gogoi' - 114 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • TOP 5 NEWS: राम जन्मभूमि पर बनेगा आसमान छूने वाला मंदिर, पूर्व CJI ने खाली किया लुटियंस वाला बंगला

    TOP 5 NEWS: राम जन्मभूमि पर बनेगा आसमान छूने वाला मंदिर, पूर्व CJI ने खाली किया लुटियंस वाला बंगला

    राम जन्मभूमि पर आसमान छूने वाला मंदिर बनेगा. अमित शाह ने यह बात भगवान बिरसा मुंडा की धरती मनिका, लातेहार में अपनी चुनावी रैली के दौरान कही. उन्‍होंने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी न्यायालय में केस ही नहीं चलने देती थी. अभी उच्चतम न्यायालय ने सर्वानुम​ति से यह निर्णय कर दिया है. राम जन्मभूमि पर आसमान छूने वाला मंदिर बनेगा.

  • पूर्व चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने रिटायरमेंट के दो दिन बाद ही खाली किया अपना लुटियंस वाला बंगला

    पूर्व चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने रिटायरमेंट के दो दिन बाद ही खाली किया अपना लुटियंस वाला बंगला

    पूर्व चीफ जस्टिस (Former Chief Justice) रंजन गोगोई (Ranjan Gogoi) ने बंगला खाली करने की समय सीमा से एक महीने पहले ही बंगला खाली कर दिया है. आमतौर पर बंगला खाली करने के लिए पूर्व न्यायाधीशों को एक महीना मिलता है.

  • शारीरिक रूप से यहां मौजूद न रहूं लेकिन मेरा एक हिस्सा हमेशा सुप्रीम कोर्ट में रहेगा : जस्टिस रंजन गोगोई

    शारीरिक रूप से यहां मौजूद न रहूं लेकिन मेरा एक हिस्सा हमेशा सुप्रीम कोर्ट में रहेगा : जस्टिस रंजन गोगोई

    चीफ जस्टिस रंजन गोगोई दो दिन बाद सेवानिवृत्त हो जाएंगे. आज सुप्रीम कोर्ट में उनको विदाई देने के लिए समारोह आयोजित किया गया. इस मौके पर चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कोई भाषण नहीं दिया. उन्होंने एक लिखित संदेश दिया जो कि इस समारोह में पढ़ा गया. जस्टिस गोगोई ने इस संदेश में कहा है कि 'भले ही मैं शारीरिक रूप से यहां मौजूद न रहूं लेकिन मेरा एक हिस्सा हमेशा सुप्रीम कोर्ट में रहेगा.'

  • सीजेआई रंजन गोगोई ने कहा- जजों को अपनी आजादी बनाए रखने के लिए मौन रहना चाहिए

    सीजेआई रंजन गोगोई ने कहा- जजों को अपनी आजादी बनाए रखने के लिए मौन रहना चाहिए

    सीजेआई रंजन गोगोई ने मीडिया को इंटरव्यू देने के मुद्दे पर बयान दिया. उन्होंने कहा, 'जबकि वकीलों को बोलने की स्वतंत्रता है, बेंच को स्वतंत्रता का प्रयोग करते समय मौन बनाए रखने के लिए न्यायाधीशों की आवश्यकता होती है. कड़वा सच यादों में रहना चाहिए. मैंने एक ऐसे संस्थान से ताल्लुक रखा है जिसकी ताकत जनता के भरोसे और विश्वास में है. जजों को अपनी आजादी बनाए रखने के लिए मौन रहना चाहिए. इसका मतलब ये नहीं कि वो बोलेंगे नहीं लेकिन उन्हें कार्य से संबंधी जरूरतों पर चुप रहना चाहिए. सीजेआई ने कहा, 'प्रेस मेरे कार्यकाल के दौरान मेरे कार्यालय और संस्थान के लिए दयालु रहा है.'

  • Ayodhya Case: अयोध्या पर फैसले के लिए सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ जजों ने की CJI रंजन गोगोई की तारीफ

    Ayodhya Case: अयोध्या पर फैसले के लिए सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ जजों ने की CJI रंजन गोगोई की तारीफ

    न्यायमूर्ति बोबडे ने कहा, ‘मैं स्वयं को न्यायमूर्ति गोगोई के साथ काम करने का अवसर मिलने के लिए सौभाग्यशली मानता हूं, जिनका धैर्य, साहस और चरित्र इतना मजबूत है कि कुछ भी गलत होना मुश्किल है.’ उन्होंने कहा, ‘लोकतंत्र सभी नागरिकों के कल्याण के लिए बनाया गया है और एक स्वतंत्र न्यायपालिका इस उद्देश्य को पूरा करने वाले उपकरणों में से एक है.’

  • अयोध्या फैसला: कुमार विश्वास ने की शांति की अपील, कहा- धार्मिक कट्टरता ठीक नहीं, भारतीय होने से है हमारी पहचान

    अयोध्या फैसला: कुमार विश्वास ने की शांति की अपील, कहा- धार्मिक कट्टरता ठीक नहीं, भारतीय होने से है हमारी पहचान

    अयोध्या मामले को लेकर हिंदी के कवि कुमार विश्वास ने भी देशवासियों से शांति की अपील की है. उन्होंने दोनों ही धर्म के लोगों से कहा कि शनिवार को जो भी निर्णय आए उसे सर माथे रखकर स्वीकार करना चाहिए.

  • अयोध्या मामले में फैसले से पहले आज होगी कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक

    अयोध्या मामले में फैसले से पहले आज होगी कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक

    कांग्रेस के शीर्ष नेता अयोध्या मामले में उच्चतम न्यायालय का फैसला आने के मद्देनजर शनिवार सुबह बैठक करेंगे और अपनी आगे की रणनीति पर विचार विमर्श करेंगे

  • अयोध्या फैसला: जामिया मिल्लिया में आज नहीं होगी कोई क्लास, कुलपति ने की शांति रखने की अपील

    अयोध्या फैसला:  जामिया मिल्लिया में आज नहीं होगी कोई क्लास, कुलपति ने की शांति रखने की अपील

    नई दिल्ली स्थित जामिया मिल्लिया इस्लामिया ने शुक्रवार रात कहा कि विश्वविद्यालय में शनिवार को कोई ‘क्लास’ नहीं होगी. सभी विभागों के साथ-साथ लाइब्रेरी भी बंद रहेंगी.

  • Live Ayodhya case Verdict: अयोध्या मामले पर फैसले के चलते यूपी, दिल्ली समेत कई राज्यों में बंद रहेंगे स्कूल-कॉलेज

    Live Ayodhya case Verdict: अयोध्या मामले पर फैसले के चलते यूपी, दिल्ली समेत कई राज्यों में बंद रहेंगे स्कूल-कॉलेज

    अयोध्या मामले पर आज (शनिवार) आने वाले फैसले के मद्देनजर उत्तर प्रदेश, दिल्ली, मध्य प्रदेश, जम्मू और कर्नाटक में स्कूल और शैक्षणिक संस्थान बंद करने के निर्देश दिए गए हैं.

  • अयोध्या पर फैसले से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अपील, कहा- जीत-हार से न जोड़ा जाए

    अयोध्या पर फैसले से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  की अपील, कहा- जीत-हार से न जोड़ा जाए

    मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रशासन सभी की सुरक्षा व प्रदेश में कानून-व्यवस्था को बनाए रखने के लिए कटिबद्ध है. कोई भी व्यक्ति यदि कानून-व्यवस्था के साथ खिलवाड़ करने की कोशिश करेगा, तो उसके विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी.

  • जानें, अयोध्या मामले पर 17 नवंबर के बजाय 9 नवंबर को ही क्यों आ रहा है फैसला

    जानें, अयोध्या मामले पर 17 नवंबर के बजाय 9 नवंबर को ही क्यों आ रहा है फैसला

    इस मामले की सुनवाई पूरी करने के बाद देश की शीर्ष अदालत ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था. तभी से यह अनुमान लगाया जा रहा था कि CJI रंजन गोगोई के रिटायर होने से पहले इस मामले में फैसला आ जाएगा. चीफ जस्टिस गोगोई 17 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं. वैसे तो कोर्ट किसी भी दिन बैठ सकती है, मामले को सुन सकती है और फैसला दे सकती है लेकिन फिर भी 17 नवंबर को रविवार है और सामान्यत: इतने बड़े मामलों में फैसला अवकाश के दिन नहीं आया करता.

  • जिस अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट सुनाएगा फैसला, जानें उसका इतिहास, अब तक क्या-क्या हुआ?

    जिस अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट सुनाएगा फैसला, जानें उसका इतिहास, अब तक क्या-क्या हुआ?

    सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) राजनीतिक दृष्टि से संवेदनशील अयोध्या विवाद (Ayodhya Case) मामले में शनिवार को फैसला सुनायेगा. चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया रंजन गोगोई (CJI Ranjan Gogoi), जस्टिस एस ए बोबडे, जस्टिस धनन्जय वाई चन्द्रचूड़ , जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस एस अब्दुल नजीर की 5 सदस्यीय बेंच शनिवार की सुबह साढ़े दस बजे यह फैसला सुनाएगी.

  • 10 दिन में 'अयोध्या' सहित 4 ऐतिहासिक फैसले सुनाकर CJI रंजन गोगोई बहुत कुछ बदल सकते हैं भारत में

    10 दिन में 'अयोध्या' सहित 4 ऐतिहासिक फैसले सुनाकर  CJI रंजन गोगोई बहुत कुछ बदल सकते हैं भारत में

    सुप्रीम कोर्ट के प्रधान न्यायाधीश जस्टिस रंजन गोगोई 17 नवंबर को रिटायर हो जाएंगे और उनकी जगह पर 18 नवंबर को जस्टिस शरद  अरविंद बोबडे भारत के नए प्रधान न्यायाधीश बन जाएंगे. लेकिन इन 10 दिनों में जस्टिस गोगोई को कई ऐसे फैसले सुनाने हैं जिससे भारत में बहुत कुछ बदल जाएगा या इन फैसलों का असर काफी 'प्रभावकारी' हो सकता है. जब हम नवंबर महीने में आने वाले सुप्रीम कोर्ट के फैसलों की बात करते हैं तो सबसे पहले दिमाग में अयोध्या विवाद आता है

  • चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने NRC को बताया भविष्य का आधार दस्तावेज

    चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने NRC को बताया भविष्य का आधार दस्तावेज

    प्रधान न्यायाधीश (सीजेआई) रंजन गोगोई ने असम में राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) की मौजूदा कवायद का रविवार को जोरदार बचाव करते हुए कहा कि इससे पहले राज्य में अवैध प्रवासियों की संख्या को लेकर अनुमान लगाया जाता था जिससे ‘‘भय, घबराहट और हिंसा तथा अराजकता के दुष्चक्र को बल मिलता था.

  • CJI रंजन गोगोई ने केंद्र सरकार को लिखी चिट्ठी, नए चीफ जस्टिस के लिए एसए बोबडे का नाम किया प्रस्तावित

    CJI रंजन गोगोई ने केंद्र सरकार को लिखी चिट्ठी, नए चीफ जस्टिस के लिए एसए बोबडे का नाम किया प्रस्तावित

    CJI ने चिट्ठी लिख कर यह जानकारी केंद्र को दी. वर्तमान चीफ जस्टिस रंजन गोगोई 17 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं. साल 1956 में जन्मे एसए बोबडे ने बीए एलएबी की डिग्री नागपुर से हासिल की है. 1978 में वह बार काउंसिल के सदस्य बने और बॉम्बे हाईकोर्ट की नागपुर बेंच में प्रैक्टिस करने लगे. साल 2010 में उन्हें बॉम्बे हाईकोर्ट का अतिरिक्त जज बनाया गया. साल 2012 मे वह मध्य प्रदेश के हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश बने. साल 2013 में उनको सुप्रीम कोर्ट में जज बने. वह 23 अप्रैल 2021 को रिटायर हो जाएंगे.

  • Ayodhya Case: जौनपुर के रहने वाले हैं जस्टिस अशोक भूषण, जानिए संविधान पीठ में शामिल जजों के बारे में

    Ayodhya Case: जौनपुर के रहने वाले हैं  जस्टिस अशोक भूषण, जानिए संविधान पीठ में शामिल जजों के बारे में

    अयोध्या में राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद के ज़मीन विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई बुधवार को पूरी हो चुकी है. इस पर 17 नंवबर से पहले फ़ैसला सुनाया जा सकता है क्योंकि इसी तारीख को सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई रिटायर हो रहे हैं. प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अगुवाई में 5 जजों की संविधान पीठ इस मामले ने लगातार 40 दिन तक सुनवाई की है. इस बेंच में CJI रंजन गोगाई  के अलावा जस्टिस एसए बोबडे, जस्टिस डीवाय चंद्रचूड़, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस  एसए नज़ीर शामिल हैं. यह संविधान पीठ इलाहाबाद हाइकोर्ट के 2010 में दिए गए उस फ़ैसले को  चुनौती देने वाली याचिकाओं की सुनवाई कर रही थी.

  • Ayodhya Case: कैसा है अयोध्या का माहौल, 10 प्वाइंट्स में जानिए

    Ayodhya Case: कैसा है अयोध्या का माहौल, 10 प्वाइंट्स में जानिए

    सुप्रीम कोर्ट, अयोध्या मामले (Ayodhya Case Hearing) में बुधवार को आखिरी सुनवाई करेगा. मंगलवार को हुई सुनवाई के दौरान एक हिन्दू पक्ष ने दलील दी कि भारत विजय के बाद मुगल शासक बाबर द्वारा करीब 433 साल पहले अयोध्या में भगवान राम के जन्म स्थान पर मस्जिद का निर्माण कर ‘ऐतिहासिक भूल' की गयी थी और अब उसे सुधारने की आवश्यकता है. अयोध्या मामले अभी तक 39 दिन सुनवाई चली है. बता दें, सीजेआई रंजन गोगोई ने उम्मीद जताई थी कि 17 अक्टूबर तक इस मामले में सुनवाई पूरी कर ली जाएगी और 17 नवंबर को अयोध्या मसले पर फैसला सुना दिया जाएगा. 17 नवंबर को ही सीजेआई रंजन गोगोई रिटायर हो रहे हैं.

  • Ayodhya Case Updates: राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद जमीन विवाद में नवंबर में आएगा फैसला

    Ayodhya Case Updates: राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद जमीन विवाद में नवंबर में आएगा फैसला

    अयोध्या मामले (Ayodhya Case) में सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ आखिरी सुनवाई बुधवार को शाम चार बजे पूरी कर ली. सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ ने अयोध्या के राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद जमीन विवाद मामले की सुनवाई पूरी करने के पश्चात अपना फैसला सुरक्षित रख लिया.