NDTV Khabar

Comgress


'Comgress' - 3 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • निर्वाचन आयोग ने 27 अगस्त को बुलाई सर्वदलीय बैठक, EVM हो सकता है सबसे बड़ा मुद्दा

    निर्वाचन आयोग ने 27 अगस्त को बुलाई सर्वदलीय बैठक, EVM हो सकता है सबसे बड़ा मुद्दा

    निर्वाचन आयोग ने अगले साल होने वाले लोकसभा चुनावों की तैयारियों पर चर्चा करने के लिए 27 अगस्त को सर्वदलीय बैठक बुलाई है. इसमें ईवीएम और उसके साथ छेड़छाड़ की आशंका का मुद्दा सबसे महत्वपूर्ण रहने की उम्मीद है. आयोग के सूत्रों का कहना है कि बैठक सिर्फ ईवीएम के संबंध में नहीं है, बल्कि यह सभी पक्षों की वार्षिक बैठक है.

  • मॉनसून सत्र: राज्‍यसभा उपसभापति के चुनाव को लेकर कांग्रेस का ये है 'प्‍लान', सरकार का इन विधेयकों को पारित कराने पर होगा जोर, 10 बातें

    मॉनसून सत्र: राज्‍यसभा उपसभापति के चुनाव को लेकर कांग्रेस का ये है 'प्‍लान', सरकार का इन विधेयकों को पारित कराने पर होगा जोर, 10 बातें

    संसद का मॉनसून सत्रबुधवार से शुरू हो रहा है. जहां सरकार सत्र को सुचारू रूप से चलाने और सत्र में हंगामे की आशंकाओं को देखते हुए सरकार ने विपक्षी दलों से तीन तलाक विधेयक, पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा प्रदान करने संबंधी विधेयक, बलात्कार के दोषियों को सख्त दंड के प्रावधान वाले विधेयक समेत कई महत्वपूर्ण विधेयकों को पारित कराने में सहयोग मांगा है. वहीं कांग्रेस ने मानसून सत्र की रणनीति तैयार करने के लिए सोमवार (आज) विपक्षी दलों की बैठक बुलाई है. इस बैठक में वे बुधवार से शुरू हो रहे मानसून सत्र के लिए अपनी रणनीति पर विचार-विमर्श करेंगे. वहीं टीडीपी ने 18 जुलाई से शुरू हो रहे मॉनसून सत्र में भी मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने का फैसला किया है. बजट सत्र में ये प्रस्ताव स्वीकार नहीं किया गया था. इसको लेकर आज टीडीपी के सांसद डीएमके, एआईडीएमके और जेडीएस के नेताओं से मुलाकात करेंगे.

  • इमरजेंसी: क्या भूलें, क्या याद करें, किन-किन ने मांगी माफ़ी?

    इमरजेंसी: क्या भूलें, क्या याद करें, किन-किन ने मांगी माफ़ी?

    फिल्म 'आंधी' 1975 में बनी थी इमरजेंसी से पहले. फिल्म में सुचित्रा सेन ने एक ऐसी नेता की भूमिका अदा की थी जो अपने पति से अलग रह रही है. बरसों बाद वे मिलते हैं और उनके बीच पुरानी स्मृतियों का रेला बहता रहता है. सुचित्रा सेन का मेकअप काफी कुछ इंदिरा गांधी जैसा था. इमरजेंसी के दौरान यह फिल्म रोक दी गई. लेकिन 1977 में इमरजेंसी खत्म होने के बाद फिल्म फिर से रिलीज हुई और बेहद कामयाब रही. राहुल देव बर्मन ने फिल्म का जो संगीत दिया था, वह आज भी हिंदी फिल्मों के बेहतरीन संगीत की विरासत है. गुलजार के लेखन और निर्देशन की जानी-पहचानी भावुकता को छूती संवेदनशीलता यहां भी मौजूद है.