NDTV Khabar

Confidence


'Confidence' - 112 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • ऐतिहासिक ऊंचाई पर है निवेशकों का भरोसा : इन्फोसिस के सह-संस्थापक एन.आर. नारायणमूर्ति

    ऐतिहासिक ऊंचाई पर है निवेशकों का भरोसा : इन्फोसिस के सह-संस्थापक एन.आर. नारायणमूर्ति

    इन्फोसिस के सह-संस्थापक एन.आर. नारायणमूर्ति ने गुरुवार को कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था इस साल छह से सात फीसदी की दर से बढ़ रही है, और 'निवेशकों का भरोसा ऐतिहासिक ऊंचाई पर है...' गोरखपुर में आयोजित एक कार्यक्रम में एन.आर. नारायणमूर्ति ने कहा, "भारत दुनिया का सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट केंद्र बन चुका है... हमारा विदेशी मुद्रा भंडार 400 अरब डॉलर पार कर चुका है..."

  • कश्मीर : कार्रवाई या कोरी अफवाहें...

    कश्मीर : कार्रवाई या कोरी अफवाहें...

    दिल्ली से लेकर मुंबई तक आज आप किसी से भी कश्मीर के बारे में पूछें तो वह यही कहेगा कि वहां कुछ होने वाला है. कश्मीर में रहने वाले लोगों से बात करें तो वे भी यही कहेंगे कि कुछ बड़ा होने वाला है. सुरक्षा बलों से बात करें तो उनका कहना है कि हमें तो जैसा ऊपर से आदेश मिलेगा हम उस पर अमल करेंगे. रही सही कसर अमरनाथ यात्रा को 15 दिन पहले खत्म करने और पर्यटकों को कश्मीर छोड़ने की हिदायत देने से पूरी हो गई है.

  • कर्नाटक: विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने पर विचार कर रही है बीजेपी

    कर्नाटक:  विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने पर विचार कर रही है बीजेपी

    सत्ता में आने के एक दिन बाद बीजेपी इस बात पर विचार कर रही है कि अगर विधानसभा अध्यक्ष के. आर. रमेश कुमार ने खुद पद नहीं छोड़ा तो वह उनके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी.

  • कर्नाटक में चल रहे 'नाटक' के सूत्रधार दिल्ली में, वही तय कर रहे अगला सीन

    कर्नाटक में चल रहे 'नाटक' के सूत्रधार दिल्ली में, वही तय कर रहे अगला सीन

    कर्नाटक का नाटक रचा जा रहा है दिल्ली में. वहां की विधानसभा में जो कुछ भी हो रहा है, या कहें कर्नाटक के नेता जो कुछ भी कर रहे हैं, वह उनसे करवाया जा रहा है जिसमें महामहिम राज्यपाल भी शामिल हैं. ये सभी उस नाटक के पात्र हैं जिसकी पटकथा दिल्ली में लिखी जा रही है. इसमें जेडीएस-कांग्रेस सरकार की तरफ से विधानसभा अध्यक्ष, या कहें वहां के स्पीकर अहम पात्र हैं, तो केन्द्र सरकार की तरफ से हैं राज्यपाल बजू भाई वाला. यह वही शख्स हैं जिन्होंने एक वक्त में विधानसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए अपनी सीट छोड़ दी थी. अब यहां सब अपने-अपने आकाओं के हितों की रक्षा करते नजर आ रहे हैं. किसी को संविधान की रक्षा करने की फिक्र नहीं है.

  • कर्नाटक में गुरुवार को हो जाएगा फैसला, एचडी कुमारस्‍वामी CM रहेंगे या जाएंगे?

    कर्नाटक में गुरुवार को हो जाएगा फैसला, एचडी कुमारस्‍वामी CM रहेंगे या जाएंगे?

    वहीं कर्नाटक के पांच और बागी विधायकों की अर्जी पर मंगलवार को सुनवाई के लिए उच्चतम न्यायालय सहमत हो गई है. इनकी सुनवाई भी इस्तीफों को स्वीकार करने की मांग कर रहे 10 अन्य विधायकों की अर्जी के साथ ही होगी.

  • Karnataka Political Crisis LIVE Updates: कर्नाटक में गुरुवार को होगा फ्लोर टेस्ट, बैठक के बाद सिद्धारमैया ने दी जानकारी

    Karnataka Political Crisis LIVE Updates: कर्नाटक में गुरुवार को होगा फ्लोर टेस्ट, बैठक के बाद सिद्धारमैया ने दी जानकारी

    कर्नाटक में चल रही राजनीतिक उठा-पटक के बीच सोमवार यानि आज विधानसभा स्पीकर रमेश कुमार विश्वास मत पर फैसला ले सकते हैं. वहीं मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी विश्वास मत से पहले इस्तीफा देने वाले कुछ विधायकों को मनाने की कोशिश में जुटे हैं.

  • ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरेसा मे के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव गिरा, 325 सांसदों ने किया सरकार का समर्थन

    ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरेसा मे के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव गिरा, 325 सांसदों ने किया सरकार का समर्थन

    मुश्किलों में घिरीं ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरेसा मे के खिलाफ बुधवार को संसद में लाया गया अविश्वास प्रस्ताव गिर गया. इससे एक दिन पहले यूरोपीय संघ के साथ ब्रेक्जिट समझौते को लेकर संसद में उनकी ऐतिहासिक हार हुई थी. 325 सांसदों ने उनकी सरकार का समर्थन किया जबकि 306 सांसदों ने संसद में लाए गए अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में मतदान किया.

  • EDMC कमिश्नर को हटाने के लिए आज लाया जाएगा अविश्वास प्रस्ताव, AAP ने BJP पर लगाया यह आरोप

    EDMC कमिश्नर को हटाने के लिए आज लाया जाएगा अविश्वास प्रस्ताव, AAP ने BJP पर लगाया यह आरोप

    पूर्वी दिल्ली नगर निगम यानी EDMC के कमिश्नर डॉ. रणबीर सिंह को हटाने के लिए सोमवार को पूर्वी दिल्ली नगर निगम की विशेष बैठक बुलाई गई है. बैठक में नगर निगम कमिश्नर को हटाने के लिए अविश्वास प्रस्ताव लाया जाएगा. अविश्वास प्रस्ताव पास होने के बाद उपराज्यपाल अनिल बैजल के पास जाएगा और अनिल बैजल उसको गृह मंत्रालय के पास भेजेंगे.

  • जब पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की 'मौत से ठन गई'!

    जब पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की 'मौत से ठन गई'!

    पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee Critical) की हालत बेहद नाज़ुक है. एम्स (AIIMS) में उन्हें लाइफ सपोर्ट पर रखा गया है. एम्स की तरफ से जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार बीते 24 घंटे में उनकी हालात और बिगड़ी है. पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी को देखने के लिए नेताओं का आना-जाना लगा हुआ है. मोदी कैबिनेट के अधिकतर मंत्री एम्स में मौजूद हैं. अटल बिहारी वाजपेयी को गुर्दा (किडनी) की नली में संक्रमण, छाती में जकड़न, मूत्रनली में संक्रमण आदि के बाद 11 जून को एम्स में भर्ती कराया गया था.

  • ...जब एक वोट से गिर गई थी अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार

    ...जब एक वोट से गिर गई थी अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार

    इस बार संसद के मॉनसून सत्र में विपक्ष द्वारा लाए गये अविश्वास प्रस्ताव की चर्चा जोरों पर रही और मोदी सरकार काफी आसानी से विश्वास मत हासिल करने में कामयाब रही. मगर एक वक्त ऐसा भी था, जब अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व में एनडीए सरकार को सदन में बहुमत साबित करना पड़ा था और इस अग्नि परीक्षा में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार विफल साबित हुई थी और महज एक वोट से उनकी सरकार गिर गई थी. बात दरअसल, 1999 में की है, जब तमिलनाडु की तत्कालीन मुख्यमंत्री जयललिता ने अपनी पार्टी को एनडीए से अलग कर लिया था और वाजपेयी सरकार विश्वास मत साबित करने के लिए मजबूर हो गई थी.

  • राहुल का रुपये की ऐतिहासिक गिरावट के लिए PM मोदी पर तंज, 'सुप्रीम लीडर' को लगा अविश्वास का झटका

    राहुल का रुपये की ऐतिहासिक गिरावट के लिए PM मोदी पर तंज, 'सुप्रीम लीडर' को लगा अविश्वास का झटका

    कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने डॉलर के मुकाबले रुपये की कीमत अब तक सबसे निचले स्तर पर चले जाने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि इस ऐतिहासिक गिरावट के साथ रुपये ने 'सुप्रीम लीडर' को अविश्वास का झटका दिया है. राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी का एक वीडियो शेयर करते हुए ट्वीट किया, 'भारतीय रुपये ने सुप्रीम लीडर को ऐतिहासिक गिरावट के साथ 'वोट ऑफ नो कांफिडेंस' दिया है. सर्वोच्च नेता का अर्थव्यवस्था पर महाज्ञान इस वीडियो में सुनिए. इसमें वह रुपये के लगातार अवमूल्यन के कारण समझा रहे हैं.'

  • जानें, संसद में राहुल गांधी के गले मिलने के अंदाज पर पहली बार पीएम मोदी ने क्या कहा

    जानें, संसद में राहुल गांधी के गले मिलने के अंदाज पर पहली बार पीएम मोदी ने क्या कहा

    संसद के मॉनसून सत्र के दौरान जब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में अपनी बात रखते हुए अचानक पीएम मोदी से गले जाकर मिले थे, तो उसके बाद भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने कड़ी प्रतिक्रिया दर्ज कराई थी. हालांकि, उस घटना पर पीएम मोदी ने कुछ नहीं कहा था. मगर अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राहुल के गले मिलने वाली घटना पर चुप्पी तोड़ी है. समाचार एजेंसी एएनआई को दिये इंटरव्यू के दौरान एक प्रश्न के जवाब में पीएम मोदी ने राहुल के गले मिलने वाली घटना का जिक्र किया है और इसे बच्चों वाली हरकत बताया है. 

  • संसद में पीएम मोदी से गले मिले राहुल गांधी, अब कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने शुरू किया ये 'खास अभियान'

    संसद में पीएम मोदी से गले मिले राहुल गांधी, अब कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने शुरू किया ये 'खास अभियान'

    संसद के मॉनसून सत्र (Monsoon session of parliament)  में अविश्वास प्रस्ताव के दौरान राहुल गांधी का पीएम मोदी से गले मिलने की घटना को कांग्रेस पूरी तरह से अपने फायदे के लिए भुनाने की जुगत में जुट गई है. कांग्रेस कार्यकर्ता अब गले मिलने की घटना को अपना एक कैंपेन बना चुके हैं और घृणा की राजनीति के खिलाफ इसका इस्तेमाल करने लगे हैं. दरअसल, मंगलवारर को दिल्ली के कनॉट प्लेस इलाके में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने 'फ्री हग' कैंपेन चलाया और लोगों में घृणा को खत्म करने की अपील की. 

  • पीएम मोदी से गले मिलने का महीनों से इंतजार कर रहे थे राहुल गांधी!

    पीएम मोदी से गले मिलने का महीनों से इंतजार कर रहे थे राहुल गांधी!

    कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का पीएम मोदी से गले मिलना अभी भी लोगों के जहन से मिटा नहीं है. संसद के मॉनसून सत्र के तीसरे दिन अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान जब राहुल गांधी भाषण देते वक्त अचानक पीएम मोदी से जाकर गले मिले, तो लोगों को अपनी आंखों पर विश्वास नहीं हो रहा था कि आखिर संसद में यह अचानक हुआ कैसे? मगर सूत्रों की मानें तो राहुल गांधी के जिस गले मिलने वाले प्रकरण की चर्चा चहुंओर हो रही है, उसके इंतजार में राहुल गांधी करीब कई महीनों से थे. दरअसल, शुक्रवार को अविश्वास प्रस्ताव के दौरान राहुल गांधी के गले मिलने वाली घटना ने मीडिया में काफी लाइमलाइट पाया था. मगर सूत्रों की मानें तो राहुल गांधी का यह फैसला त्वरित और स्वत: स्फूर्त नहीं था, बल्कि इसकी ताक में वह काफी पहले से थे. राहुल गांधी करीब तीन महीने से इस पल का इंतजार कर रहे थे कि पीएम मोदी को कैसे सार्वजनिक तौर पर गले लगाया जाए और एक खास तरह का संदेश दिया जाए. 

  • PM मोदी से राहुल के गले मिलने वाली तस्वीर का मुंबई कांग्रेस ने किया कुछ इस तरह इस्तेमाल... दीवारों पर सटे पोस्टर

    PM मोदी से राहुल के गले मिलने वाली तस्वीर का मुंबई कांग्रेस ने किया कुछ इस तरह इस्तेमाल... दीवारों पर सटे पोस्टर

    संसद के मॉनसून सत्र (Monsoon session of parliament) में अविस्वास प्रस्ताव के ऊपर चर्चा के दौरान राहुल गांधी का पीएम मोदी से अचानक गले मिलने की बात सबकी जुबां पर है. विपक्ष जहां इसकी तारीफ कर रहा है, वहीं मोदी सरकार और बीजेपी इसकी आलोचना कर रही है. मगर मुंबई कांग्रेस ने राहुल गांधी का पीएम मोदी से गले लगने की तस्वीर का एक अलग तरह से इस्तेमाल किया है. कांग्रेस ने अब दीवारों पर इसके पोस्टर लगाने शुरू कर दिये हैं, जो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. बता दें कि शुक्रवार को संसद में अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में चर्चा के दौरान राहुल गांधी ने पीएम मोदी को गले लगाया था. 

  • पीएम मोदी ने बताया- राहुल गांधी ने संसद में उन्हें क्यों लगाया था गले, जानें वजह

    पीएम मोदी ने बताया- राहुल गांधी ने संसद में उन्हें क्यों लगाया था गले, जानें वजह

    पीएम मोदी ने विपक्ष पर अविश्वास प्रस्ताव के मुद्दे पर निशाना साधा और राहुल गांधी द्वारा गले लगाने पर भी टिप्पणी की. पीएम मोदी ने कहा कि, ''संसद में मैंने उनसे पूछा कि इस अविश्वास प्रस्ताव को लाने का कारण बताइये...लेकिन जब वे कोई कारण नहीं बता सके तो वो गले पड़ गए. हालांकि कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दिया''.

  • BJP की पूर्व सहयोगी पार्टी का ऐलान: भाजपा संपर्क भी करेगी तो हम 2019 के लिए NDA में शामिल नहीं होंगे

    BJP की पूर्व सहयोगी पार्टी का ऐलान: भाजपा संपर्क भी करेगी तो हम 2019 के लिए NDA में शामिल नहीं होंगे

    आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री और टीडीपी के अध्यक्ष एन चंद्रबाबू नायडू ने शनिवार को कहा कि भाजपा अगर 2019 के आम चुनाव के लिए संपर्क करे तब भी उनकी पार्टी राजग में शामिल नहीं होगी. उन्होंने साथ ही कहा कि राजग सरकार के खिलाफ लाया गया अविश्वास प्रस्ताव ‘नैतिकता बनाम बहुमत’ की लड़ाई थी. नायडू ने कहा कि तेदेपा राज्य के लोगों के लिए न्याय सुनिश्चित करने की खातिर 2014 में राजग में शामिल हुई थी और ‘हम सत्ता के भूखे नहीं है. हमें कभी भी कैबिनेट सीटों की आकांक्षा नहीं रही.’ उन्होंने कहा , ‘हमने आंध्र प्रदेश को न्याय दिलाने के लिए उनके (भाजपा सरकार) साथ चार साल इंतजार किया लेकिन उन्होंने राज्य के लोगों के साथ धोखा किया। हम कैसे यकीन कल लें कि वे दोबारा ऐसा नहीं करेंगे.’

  • राहुल गांधी ने बेहतरीन मौका गंवा दिया, भारतीय राजनीतिज्ञ की छवि को गंभीर नुकसान पहुंचाया : जेटली

    राहुल गांधी ने बेहतरीन मौका गंवा दिया, भारतीय राजनीतिज्ञ की छवि को गंभीर नुकसान पहुंचाया : जेटली

    राहुल गांधी पर फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के साथ बातचीत की कहानी गढ़ने का आरोप लगाते हुए केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने शनिवार को कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने विश्व के समक्ष किसी भारतीय राजनीतिज्ञ की छवि को गंभीर नुकसान पहुंचाया है.

Advertisement