NDTV Khabar

Dainik hindustan


'Dainik hindustan' - 10 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • पत्रकार हत्याकांड : सीबीआई ने अदालत से मोहम्मद शहाबुद्दीन से पूछताछ की इजाजत मांगी

    पत्रकार हत्याकांड : सीबीआई ने अदालत से मोहम्मद शहाबुद्दीन से पूछताछ की इजाजत मांगी

    सीबीआई ने सिवान की एक अदालत से पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड से जुड़ी अपनी जांच के सिलसिले में राजद के बाहुबली नेता मोहम्मद शहाबुद्दीन से पूछताछ की इजाजत मांगी है, जो एक अन्य मामले में फिलहाल दिल्ली के तिहाड़ जेल में कैद है.  समाचार पत्र दैनिक हिन्दुस्तान के सिवान ब्यूरो प्रमुख रंजन की 13 मई, 2016 को अज्ञात अपराधियों ने हत्या कर दी थी.

  • अखबारों में आज- शहीद की बेटी ने मांगे एक के बदले 50 सिर और टूट गया 'विश्वास'

    अखबारों में आज- शहीद की बेटी ने मांगे एक के बदले 50 सिर और टूट गया 'विश्वास'

    भारतीय सैनिकों पर पाकिस्तान के कायरतापूर्ण हमले की चौतरफा निंदा हो रही है. पूरे देश में आक्रोश है. आज के अखबारों की बड़ी खबर यही हैं. शहीदों को भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई. भारी संख्या में लोग उमड़े. सभी अखबारों ने इसी खबर को लीड बनाया है. पूरे देश से बदला लेने के लिए आवाज उठ रही हैं.

  • अखबारों में आज की सुर्खियां : अयोध्‍या मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला | लाल बत्‍ती पर लगी लगाम

    अखबारों में आज की सुर्खियां : अयोध्‍या मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला | लाल बत्‍ती पर लगी लगाम

    20 अप्रैल को प्रमुख हिंदी अखबारों के राजधानी संस्‍करणों में अयोध्‍या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के अहम फैसले को लीड बनाया गया है.

  • अखबारों की सुर्खियां : कांग्रेस को लगा जोर का झटका-लवली बीजेपी में पहुंचे, माल्‍या महज तीन घंटे के लिए गिरफ्तार

    अखबारों की सुर्खियां : कांग्रेस को लगा जोर का झटका-लवली बीजेपी में पहुंचे, माल्‍या महज तीन घंटे के लिए गिरफ्तार

    18 अप्रैल के हिंदी के प्रमुख अखबरों के दिल्‍ली संस्‍करण में एमसीडी चुनाव से पहले कांग्रेस के यहां के दिग्‍गज नेता अरविंदर लवली के बीजेपी में शामिल होने की खबर को दैनिक जागरण ने मुख्‍य खबर बनाया है.

  • अखबारों में आज : 9 गोलियां खाने और दो महीने कोमा में रहने के बाद चीता ने मौत की जीता

    अखबारों में आज : 9 गोलियां खाने और दो महीने कोमा में रहने के बाद चीता ने मौत की जीता

    आज के दिल्ली से प्रकाशित सभी अखबारों ने जम्मू-कश्मीर के बांदीपुरा में आतंकियों से मुठभेड़ में 9 गोलियां खाने और दो महीने कोमा में रहने के बाद स्‍वस्‍थ हुए सीआरपीएफ के कमांडेंट चेतन चीता को अस्‍पताल से छुट्टी मिलने की खबर को प्रमुखता से छापा है. एम्स के ट्रॉमा सेंटर में जब उन्हें लाया गया था, तब उनकी हालत बेहद गंभीर थी. उनके सिर में गंभीर चोटें थी. शरीर के ऊपरी हिस्से में कई जगहों पर फ्रैक्चर भी हुआ था. दाईं आंख भी चली गई.

  • अखबारों में आज : यूपी किसानों के 'अच्छे दिन', अन्य राज्य भी बढ़ाएंगे कर्ज माफी की ओर कदम

    अखबारों में आज :   यूपी किसानों के 'अच्छे दिन', अन्य राज्य भी बढ़ाएंगे कर्ज माफी की ओर कदम

    उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने अपने मंत्रिमंडल की पहली बैठक में प्रदेश के दो करोड़ से अधिक किसानों को फायदा देते हुए उनका एक लाख रुपये तक का कर्जा माफ करने का अहम फैसला लिया. इस खबर को आज यानी 5 अप्रैल 2017 के लगभग सभी बड़ें अखबारों ने यूपी के किसानों के कर्ज माफी की खबर को लीड के तौर पर प्रकाशित किया है.

  • अखबारों में आज : आईआईसी देश का सर्वश्रेष्ठ संस्थान, खबरों में रहा JNU को मिला दूसरा स्थान

    अखबारों में आज : आईआईसी देश का सर्वश्रेष्ठ संस्थान, खबरों में रहा JNU को मिला दूसरा स्थान

    मंगलवार 4 अप्रैल को दिल्ली से प्रकाशित प्रमुख हिंदी अख़बारों ने कई मुद्दों को सुर्खी बनाया है लेकिन ज्यादातर अखबारों ने सरकार द्वारा उच्च शैक्षिक संस्थाओं की रैंक सूची को प्रमुखता दी है. जनसत्ता, दैनिक भास्कर, दैनिक जागरण और अमर उजाला ने इस खबर को प्रमुखता से छापा है. इस सूची में सबसे चौंकाने वाला नाम पिछले कुछ समय से कथित 'राष्ट्रविरोधी' नारों को लेकर खबरों में रहे दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) और कोलकाता का जाधवपुर विश्वविद्यालय रहा.

  • अखबारों में आज : चुनावी बिसात पर किसानों, वरिष्ठ नागरिकों और IIM छात्रों को सौगात

    अखबारों में आज : चुनावी बिसात पर किसानों, वरिष्ठ नागरिकों और IIM छात्रों को सौगात

    मोदी सरकार ने चुनाव से पहले एक तीर से कई निशाने साधने की कोशिश की है. मंगलवार को हुई मोदी सरकार की कैबिनेट की बैठक में कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए. केंद्र सरकार ने फसल ऋण पर दो महीने की ब्याज को माफ कर दिया है. यह राशि 660 करोड़ रुपये बताई जा रही है. सरकार का मानना है कि नोटबंदी से रबी सीजन की बुआई किसान ठीक से नहीं कर पाए जिससे वे सहकारी बैंकों से लिए गए कर्ज को नहीं भर पाए. अब सरकार ने कुछ चुनावी चाश्नी में राहत की बौछार की है.

  • अखबारों में आज : सुप्रीम कोर्ट की निजी स्कूलों को दो टूक - फीस बढ़ाना है तो जमीन लौटाएं

    अखबारों में आज : सुप्रीम कोर्ट की  निजी स्कूलों को दो टूक - फीस बढ़ाना है तो जमीन लौटाएं

    मंगलवार 24 जनवरी को दिल्ली से प्रकाशित प्रमुख हिंदी अख़बारों ने कई मुद्दों को सुर्खी बनाया है लेकिन ज्यादातर अखबारों ने फीस बढ़ाने के मुद्दे पर निजी स्कूलों पर की गई सुप्रीम कोर्ट की तल्ख टिप्पणी को प्रमुखता से छापा है. जनसत्ता, दैनिक हिंदुस्तान और अमर उजाल ने इसी खबर को अपने अखबार की लीड बनाया है. वहीं, दैनिक भास्कर ने चेन्नई में जल्लीकट्टू के दौरान हुई हिंसा को लीड खबर के तौर पर प्रकाशित किया है. दूसरी ओर दैनिक जागरण और नवभारत टाइम्स ने पूर्व सीबीआई चीफ रंजीत सिन्हा के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट द्वारा जांच का आदेश दिए जाने की खबर को प्रमुखता से पहले पन्ने पर छापा है.

  • अखबारों में छाया कालेधन पर सरकार का 'वार' और मुलायम-अखिलेश के बीच 'रार'

    अखबारों में छाया कालेधन पर सरकार का 'वार' और मुलायम-अखिलेश के बीच 'रार'

    9 जनवरी को प्रकाशित हिन्दी के तमाम प्रमुख अख़बार 'मुलायम-अखिलेश की रार' और कालेधन पर केंद्र सरकार की नोटबंदी की बाद खातों की जांच के 'नए वार' की ख़बरों से रंगे हुए हैं.

Advertisement