NDTV Khabar

Delhi rape


'Delhi rape' - 591 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • अदालत ने बलात्कार के आरोप से शख्स को किया बरी, कहा- "महिला उस दिन आरोपी की पत्नी थी"

    अदालत ने बलात्कार के आरोप से शख्स को किया बरी, कहा-

    बाद में व्यक्ति दिल्ली पहुंचा और महिला को विश्वास दिलाया कि वह अब सुधर जाएगा. इसके बाद दंपति ने साथ रहना शुरू कर दिया. इसके बाद आरोपी ने महिला के दो लाख रुपये चुरा लिए.

  • निर्भया मामले में दोषियों के कानूनी दांव-पेंच से परेशान केंद्र सरकार पहुंची सुप्रीम कोर्ट

    निर्भया मामले में दोषियों के कानूनी दांव-पेंच से परेशान केंद्र सरकार पहुंची सुप्रीम कोर्ट

    मौत की सजा के केसों को लेकर केंद्र सरकार सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई है. केंद्र ने अपनी अर्जी में कहा है कि मौत की सजा के मामलों में पीड़ितों को केंद्र में रखकर गाइडलाइन बनाई जानी चाहिए. केंद्र ने कहा है कि फिलहाल सुप्रीम कोर्ट की जो गाइडलाइन है वह फिलहाल ‘दोषी केंद्रित’ है. इसके चलते दोषी कानून से खेलते हैं और मौत की सजा से बचते रहते हैं. केंद्र सरकार ने शत्रुघ्न चौहान मामले में सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन पर ये अर्जी दी है.

  • गुड़िया गैंगरेप केस में दोनों आरोपी दोषी करार, एक ने की मीडिया पर हमले की कोशिश

    गुड़िया गैंगरेप केस में दोनों आरोपी दोषी करार, एक ने की मीडिया पर हमले की कोशिश

    दिल्ली के गुड़िया गैंग रेप केस में आरोपी मनोज शाह और प्रदीप को कड़कड़डूमा कोर्ट ने दोषी करार दिया है. पांच साल की बच्ची को अगवा करके 24 घंटों से ज्यादा तक बंधक बनाकर दुष्कर्म करने की यह वारदात साल 2013 में हुई थी. अदालत दोषियों की सजा का ऐलान 30 जनवरी को करेगी. दोनों आरोपियों को दोषी करार दिए जाने के बाद कोर्ट के बाहर दोषी प्रदीप ने मीडिया पर हमला करने की कोशिश की.

  • दिल्ली के गुड़िया गैंगरेप केस में आज आ सकता है फैसला, 7 साल पहले हुई थी घटना

    दिल्ली के गुड़िया गैंगरेप केस में आज आ सकता है फैसला, 7 साल पहले हुई थी घटना

    दिल्ली के गुड़िया गैंगरेप केस में कड़कड़डूमा कोर्ट आज फ़ैसला सुना सकती है. वारदात के वक़्त गुड़िया सिर्फ़ 5 साल की थी. गैंगरेप के बाद 2 आरोपियों ने उसे जान से मारने की भी कोशिश की थी. इस मामले में पुलिस ने आरोपियों के ख़िलाफ़ जान से मारने की कोशिश, गैंगरेप, किडनेपिंग, सबूत मिटाने और पोक्सो के तहत केस दर्ज किया था. बता दें कि निर्भया केस के तुरंत बाद दिल्ली के दूसरे चर्चित गुड़िया केस में दिल्ली का कड़कड़डूमा कोर्ट में फैसला सुना सकती है.

  • दिल्ली के गुड़िया गैंगरेप केस में फैसला आज आएगा, मामले में दो आरोपी

    दिल्ली के गुड़िया गैंगरेप केस में फैसला आज आएगा, मामले में दो आरोपी

    निर्भया केस के तुरंत बाद दिल्ली के दूसरे चर्चित गुड़िया केस में दिल्ली का कड़कड़डूमा कोर्ट शनिवार को फैसला सुनाएगा. इस केस में कुल 59 गवाहियां हुई हैं. मामले में दो आरोपी हैं प्रदीप और मनोज. दोनों के खिलाफ पुलिस ने जान से मारने की कोशिश, गैंगरेप, किडनेपिंग, सबूत मिटाने और पोक्सो के तहत मुकदमा दर्ज किया था. गुड़िया के साथ जिस समय दुष्कर्म हुआ था वो 5 साल की मासूम थी.

  • उन्नाव रेप केस: दिल्ली HC ने दोषी कुलदीप सेंगर द्वारा 25 लाख का मुआवजा देने की मियाद 60 दिन बढ़ाई

    उन्नाव रेप केस: दिल्ली HC ने दोषी कुलदीप सेंगर द्वारा 25 लाख का मुआवजा देने की मियाद 60 दिन बढ़ाई

    उन्नाव रेप केस में दिल्ली हाईकोर्ट ने दोषी कुलदीप सिंह सेंगर द्वारा 25 लाख का मुआवजा देने की मियाद 60 दिन और बढ़ा दी है. हाईकोर्ट ने सेंगर की याचिका पर सीबीआई को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है. सेंगर ने तीसहजारी हजारी कोर्ट के फैसले को दिल्ली हाईकोर्ट में चुनौती दी है. तीस हजारी कोर्ट ने सेंगर को उम्र कैद की सजा सुनाई थी. इसके साथ ही कोर्ट ने उस पर 25 लाख का जुर्माना लगाया था.

  • निर्भया मामला: HC ने दोषी मुकेश की डेथ वॉरंट को चुनौती देने वाली याचिका का किया निपटारा, ट्रायल कोर्ट जाने की दी मंजूरी

    निर्भया मामला: HC ने दोषी मुकेश की डेथ वॉरंट को चुनौती देने वाली याचिका का किया निपटारा, ट्रायल कोर्ट जाने की दी मंजूरी

    NDTV के अनुसार हाईकोर्ट ने सुनवाई के दौरान दोषी मुकेश को ट्रायल कोर्ट में जाने को कहा है.

  • निर्भया केस के चारों दोषी नहीं कर पाएंगे अंगदान, पढ़ें- कोर्ट ने क्या कहा

    निर्भया केस के चारों दोषी नहीं कर पाएंगे अंगदान, पढ़ें- कोर्ट ने क्या कहा

    निर्भया सामूहिक दुष्कर्म और हत्या मामले में फांसी की सजा पाए चारों दोषी अंगदान नहीं कर पाएंगे. दिल्ली की एक अदालत ने चारों दोषियों के अंगदान कराने की अनुमति के लिए दायर की गई याचिका खारिज कर दी है.

  • निर्भया मामला: डेथ वारंट जारी होने के बाद दिल्ली के इस इलाके में फैल गया सन्नाटा

    निर्भया मामला: डेथ वारंट जारी होने के बाद दिल्ली के इस इलाके में फैल गया सन्नाटा

    दिल्ली की एक अदालत ने निर्भया बलात्कार मामले के दोषियों के खिलाफ मंगलवार को मौत का वारंट जारी किया जिसके बाद पूरे देश ने निर्भया को न्याय मिलने पर राहत की सांस ली, लेकिन इसी के बीच कुछ जगहें ऐसी भी हैं जहां इस फैसले के बाद से सन्नाटा पसरा है और यह वह स्थान है जहां दोषियों के परिजन रहते हैं.

  • निर्भया कांड : दोषियों को फांसी पर लटकाने के साथ बन जाएगा इतिहास, क्योंकि ऐसा पहले कभी नहीं हुआ

    निर्भया कांड : दोषियों को फांसी पर लटकाने के साथ बन जाएगा इतिहास, क्योंकि ऐसा पहले कभी नहीं हुआ

    निर्भया कांड की बदौलत ही क्यों न सही, आज गुलाम और आजाद हिंदुस्तान में फांसी के इतिहास की किताबों के पीले पड़ चुके पन्नों को पलटकर पढ़ने का दिन है, क्योंकि आजाद भारत के करीब 72-73 साल पुराने इतिहास के पन्ने इस बात के गवाह हैं कि दिसंबर, 2012 में जमाने को झकझोर देने वाली हिंदुस्तान की राजधानी में घटी निर्भया हत्याकांड की घटना कोई आम घटना नहीं थी. अब मंगलवार 7 जनवरी, 2020 को जब दिल्ली की अदालत ने निर्भया के चारों हत्यारों की फांसी का वारंट जारी कर दिया. फांसी पर लटकाने की तारीख 22 जनवरी, 2020 और वक्त सुबह 7 बजे मुकर्रर कर दिया. जगह तय की गई है दिल्ली की तिहाड़ जेल नंबर-3 में मौजूद फांसीघर.

  • निर्भया केस: दोषी पवन कुमार गुप्ता अर्जी पर कोर्ट ने पहले टाली सुनवाई, फिर कहा- नहीं आज ही होगी

    निर्भया केस: दोषी पवन कुमार गुप्ता अर्जी पर कोर्ट ने पहले टाली सुनवाई, फिर कहा- नहीं आज ही होगी

     निर्भया के घरवालों के विरोध के बाद दिल्ली हाईकोर्ट ने मामले पर सुनवाई गुरुवार को ही करने का फैसला लिया है.कोर्ट मास्टर को कहा गया है कि वो पवन गुप्ता के वकीलों को अदालत में बुलाए.

  • निर्भया गैंग रेप और हत्या के दोषियों के पास आखिरी मौका, जेल प्रशासन ने नोटिस दिया

    निर्भया गैंग रेप और हत्या के दोषियों के पास आखिरी मौका, जेल प्रशासन ने नोटिस दिया

    कोर्ट के आदेश के बाद तिहाड़ जेल प्रशासन ने निर्भया रेप और हत्या के मामले में चारों दोषी अक्षय, पवन, विनय और मुकेश को सात दिन का नोटिस दिया है. यह नोटिस उन्हें राष्ट्रपति के समक्ष मर्सी पिटीशन लगाने के लिए दिया गया है. इसके पहले 29 अक्टूबर को भी तिहाड़ जेल प्रशासन ने चारों दोषियों को नोटिस दिया था. तब एक आरोपी ने दया याचिका के लिए राष्ट्रपति को लिखा था.

  • आज मिलेगी कुलदीप सिंह सेंगर को बुरे कर्म की सजा, पढ़ें पूरे केस का ब्यौरा

    आज मिलेगी कुलदीप सिंह सेंगर को बुरे कर्म की सजा, पढ़ें पूरे केस का ब्यौरा

    उन्नाव रेप मामले में दोषी कुलदीप सिंह सेंगर की सज़ा के बिंदु पर आज फैसला हो सकता है. दिल्ली की तीस हज़ारी कोर्ट ने पूर्व बीजेपी विधायक को दोषी ठहराया था. चार्जशीट दायर करने में देरी पर सीबीआई को भी फटकार लगाई थी. कुलदीप सिंह सेंगर को रेप(376) और पॉक्सो एक्ट में दोषी ठहराया है. अभी 3 और मामलों में दिल्ली की विशेष सीबीआई कोर्ट में ट्रायल चल रहा है. कोर्ट ने कहा कि पीड़िता वारदात के वक्त नाबालिग थी. उसके साथ सेक्सुअल असॉल्ट हुआ. पीड़िता डरी हुई थी और उसके परिवार को जान का खतरा था. वो पावरफुल पर्सन से लड़ रही थी. पीड़ित के परिवार पर फर्जी केस लगाए गए. सीबीआई ने गैंगरेप केस में चार्जशीट पेश करने में 1 साल लगा दिया. सीबीआई पर भी जज ने सवाल खड़े किए. सीबीआई ने पीड़िता को बयान दर्ज करने के लिए कई बार बुलाया, जबकि सीबीआई को पीड़िता के पास जाना चाहिए था. 

  • उन्नाव रेप मामला: कोर्ट ने BJP के पूर्व MLA कुलदीप सिंह सेंगर को दिया दोषी करार, शशि सिंह को किया बरी

    उन्नाव रेप मामला: कोर्ट ने BJP के पूर्व MLA कुलदीप सिंह सेंगर को दिया दोषी करार, शशि सिंह को किया बरी

    उन्नाव रेप मामले (Unnao Rape Case) में भारतीय जनता पार्टी (BJP) से के पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर (Kuldeep Singh Sengar) को सीबीआई की विशेष अदालत ने सोमवार को दोषी करार दिया है. वहीं, शशि सिंह को कोर्ट ने बरी कर दिया. सेंगर पर अपहरण और हत्या समेत कई मामले दर्ज हैं. केस की सुनवाई खत्म होने के बाद जिला जज धर्मेश शर्मा ने कहा था कि वह 16 दिसंबर को अपना फैसला सुनाएंगे. सु्प्रीम कोर्ट के निर्देश पर इस केस को लखनऊ से दिल्ली ट्रांसफर किया गया था. ट्रांसफर होने के बाद 5 अगस्त से रोजाना इस मामले की सुनवाई हो रही थी.

  • उन्नाव रेप केस : कुलदीप सेंगर को सजा या राहत, कुछ देर में होगा फैसला, पीड़िता को इंसाफ की आस

    उन्नाव रेप केस : कुलदीप सेंगर को सजा या राहत, कुछ देर में होगा फैसला, पीड़िता को इंसाफ की आस

    पीड़िता को अगवा कर रेप का यह मामला साल 2017 का है. उस समय पीड़िता नाबालिग थी. विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर यह आरोप लगे. शशि सिंह इस केस में सह आरोपी हैं. शशि ही पीड़िता को सेंगर के पास लेकर गई थीं. सेंगर चार बार से उत्तर प्रदेश के बांगरमऊ से विधायक चुने जा रहे हैं. 2017 के विधानसभा चुनाव में वह बीजेपी के टिकट से विधानसभा पहुंचे थे.

  • निर्भया केस का एक माह में हो निपटारा, याचिका में सुप्रीम कोर्ट से फांसी के लाइव प्रसारण की मांग

    निर्भया केस का एक माह में हो निपटारा, याचिका में सुप्रीम कोर्ट से फांसी के लाइव प्रसारण की मांग

    निर्भया (Nirbhaya) के गुनाहगारों की फांसी की सजा पर जल्द से जल्द अमल की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में याचिका दायर की गई है. याचिका में कहा गया है कि दोषियों की ओर से रिव्यू पिटीशन और आगे क्यूरेटिव पिटीशन का एक महीने के अंदर निपटारा कर देना चाहिए. एक महीने में फांसी की सजा पर अमल हो जाना चाहिए. याचिकाकर्ता पेशे से वकील संजीव कुमार ने फांसी की सजा के सजीव प्रसारण की भी मांग की है.

  • राहुल गांधी ने शेयर किया PM नरेंद्र मोदी का पुराना वीडियो, कहा - इस भाषण के लिए माफी मांगें प्रधानमंत्री

    राहुल गांधी ने शेयर किया PM नरेंद्र मोदी का पुराना वीडियो, कहा - इस भाषण के लिए माफी मांगें प्रधानमंत्री

    कांग्रेस सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के एक चुनावी भाषण पर बवाल मचा हुआ है. राहुल ने झारखंड के गोड्डा में एक रैली में देश में हो रही रेप की घटनाओं को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोला था. उनके भाषण पर शुक्रवार को लोकसभा और राज्यसभा में हंगामा हो गया. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) सहित कई बीजेपी महिला सांसदों ने संसद में राहुल से माफी की मांग की. इसको लेकर सदन की कार्यवाही हंगामे की भेंट चढ़ गई. कांग्रेस सांसद ने पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के एक भाषण का जिक्र किया और कहा कि वह कुछ देर में उनका (नरेंद्र मोदी) एक वीडियो शेयर करेंगे जिसमें वह दिल्ली को रेप कैपिटल बता रहे हैं.

  • निर्भया की मां ने SC में हस्तक्षेप याचिका दायर की, कहा- दोषी कानूनी दांवपेंच खेलकर सजा से बच रहे

    निर्भया की मां ने SC में हस्तक्षेप याचिका दायर की, कहा- दोषी कानूनी दांवपेंच खेलकर सजा से बच रहे

    निर्भया की मां आशा देवी की तरफ से दायर याचिका में कहा गया है कि दोषी कानूनी दांवपेंच खेलकर सजा से बच रहे हैं, पहले ही इस मामले को सात साल हो चुके हैं. गौरतलब है कि निर्भया (Nirbhaya) के दोषियों में से एक अक्षय कुमार सिंह (Akshay Kumar Singh)  की पुनर्विचार याचिका पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने 17 दिसंबर को सुनवाई करने का फैसला किया है.