NDTV Khabar

Epf


'Epf' - 63 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • EPFO अंशधारकों को साल 2018-19 में मिलेगा 8.65 फीसदी की दर से ब्याज, अधिसूचना जारी

    EPFO अंशधारकों को साल 2018-19 में मिलेगा 8.65 फीसदी की दर से ब्याज, अधिसूचना जारी

    एक सूत्र ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी देते हुए कहा कि बढ़ी हुई ब्याज दर कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के छह करोड़ से अधिक अंशधारकों के खातों में डाली जाएगी. ईपीएफओ फिलहाल निकासी दावों का निपटान 2017-18 के लिये निर्धारित 8.55 प्रतिशत ब्याज पर कर रहा था.

  • EPFO सदस्यों को 2018-19 के लिए मिलेगा 8.65 प्रतिशत ब्याज: श्रम मंत्री

    EPFO सदस्यों को 2018-19 के लिए मिलेगा 8.65 प्रतिशत ब्याज: श्रम मंत्री

    ईपीएफओ के लिए निर्णय लेने वाले शीर्ष निकाय केंद्रीय न्यासी बोर्ड ने इस साल फरवरी में बीते वित्त वर्ष के लिए 8.65 प्रतिशत की दर से ब्याज देने की अनुमति दी थी.

  • सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से लाखों निजी कर्मचारियों की तीन सौ प्रतिशत तक बढ़ जाएगी पेंशन!

    सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से लाखों निजी कर्मचारियों की तीन सौ प्रतिशत तक बढ़ जाएगी पेंशन!

    Employee's Pension Scheme (EPS):सुप्रीम कोर्ट(Supreme Court) ने केंद्र सरकार को बड़ा झटका देते हुए निजी सेक्टर( Private Employee's) के लाखों कर्मचारियों को भारी राहत दी है. सुप्रीम कोर्ट के फैसले से कर्मचारी भविष्य निधि(EPF) में अंशदान करने वाले लाखों कर्मचारियों की पेंशन(Pension) एक झटके में कई गुना तक बढ़ सकती है.

  • नौकरी बदलने पर खुद-ब-खद होगा ईपीएफ ट्रांस्फर, ईपीएफओ कर रहा तैयारी

    नौकरी बदलने पर खुद-ब-खद होगा ईपीएफ ट्रांस्फर, ईपीएफओ कर रहा तैयारी

    कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के सदस्यों को अगले वित्त वर्ष से नौकरी बदलने पर ईपीएफ राशि स्थानांतरण करने का अनुरोध करने की आवश्यकता नहीं होगी. इस प्रक्रिया को स्वचालित बनाने पर काम चल रहा है. श्रम मंत्रालय के एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी. अभी ईपीएफओ के सदस्यों को सार्वभौमिक खाता संख्या (यूएएन) रखने के बाद भी ईपीएफ स्थानांतरण करने के लिये अलग से अनुरोध करना पड़ता है.

  • लोकसभा चुनाव से पहले नौकरीपेशा लोगों के लिए खुशखबरी, PF खाते पर अब मिलेगा इतना ब्‍याज

    लोकसभा चुनाव से पहले नौकरीपेशा लोगों के लिए खुशखबरी, PF खाते पर अब मिलेगा इतना ब्‍याज

    लोकसभा चुनाव से पहले कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन (EPFO) ने कर्मचारी प्रॉविडेंट फंड पर साल 2018-19 के लिए ब्‍याज की दर 8.55% से बढ़ाकर 8.65% की. सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टी ने इसे मंजूरी दे दी है. श्रम मंत्री संतोष कुमार गंगवार ने इसकी जानकारी दी.

  • लोकसभा चुनाव से पहले EPFO आज ब्याज दर पर कर सकता है बड़ा ऐलान

    लोकसभा चुनाव से पहले EPFO आज ब्याज दर पर कर सकता है बड़ा ऐलान

    इसके लिए श्रम मंत्रालय में आज तीन बजे सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज की बैठक होगी. इससे पहले सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज की फाइनेंस एंड इंवेस्टमेंट कमेटी की एक अहम बैठक हो रही है. इसमें ईपीएफओ के वित्तिय हालत की समीक्षा की जा रही है. ईपीएफओ के पास सरप्लस फंड की उपलब्धता के आधार पर कमेटी नए वित्त वर्ष के लिए ब्याज दर पर पनी सिफारिश सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज के सामने रखेगी.

  • UMANG ऐप की मदद से स्मार्टफोन पर ऐसे चेक करें अपना PF बैलेंस

    UMANG ऐप की मदद से स्मार्टफोन पर ऐसे चेक करें अपना PF बैलेंस

    उमंग ऐप (UMANG App) के जरिए PF बैलेंस चेक करने का तरीका क्या है। आइए आपको इस बात की जानकारी देते हैं।

  • नौकरी पेशे वालों को नए साल का तोहफा, पीएफ खाताधारकों को मिल सकता है यह फायदेमंद विकल्प

    नौकरी पेशे वालों को नए साल का तोहफा, पीएफ खाताधारकों को मिल सकता है यह फायदेमंद विकल्प

    भविष्य निधि खाता धारकों के लिए नए साल में अच्छी खबर मिल सकती है. कर्मचारियों के रिटायरमेंट फंड का इंतजाम करने वाली कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) नये साल में अपने अंशधारकों को अपने फंड से शेयर बाजार में किए जाने वाले निवेश को बढ़ाने या घटाने का विकल्प दे सकता है.

  • Advance PF पाने का ऑनलाइन तरीका

    Advance PF पाने का ऑनलाइन तरीका

    आज हम आपको अपने लेख द्वारा कुछ ऐसी परिस्थितियों जिनमें पीएफ राशि का एक निश्चित हिस्सा निकाला जा सकता है और साथ ही ऑनलाइन तरीके के बार में बताएंगे।

  • देश में रोज़गार के दावों पर गंभीर सवाल

    देश में रोज़गार के दावों पर गंभीर सवाल

    सरकार ईपीएफओ यानी कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के आंकड़ों को इस तरह पेश करती है कि रोज़गार बढ़ा है. 20 जुलाई को लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर बोलते हुए प्रधानमंत्री ने रोज़गार के कई आंकड़े दिए जिसमें ईपीएफओ का भी आंकड़ा था. अब प्रधानमंत्री ने लोकसभा में तो बोल दिया कि संगठित क्षेत्र में 45 लाख नौकरियां बनी हैं, लेकिन जब ईपीएफओ ने समीक्षा की तो इसमें 6 लाख नौकरियां कम हो गईं.

  • EPFO सबस्क्राइबरों की संख्या 44 लाख से घटाकर 39.2 लाख की गई

    EPFO सबस्क्राइबरों की संख्या  44 लाख से घटाकर 39.2 लाख की गई

    प्रधानमंत्री ने 20 जुलाई 2018 को अविश्वास प्रस्ताव के दौरान अपने भाषण में कहा था कि सितंबर 2017 से मई 2018 के बीच लगभग 45 लाख नए नेट सबस्क्राइबर EPFO से जुड़े. लेकिन एक महीने बाद अब ईपीएफओ ने इसे घटा दिया है.

  • EPFO ने जमा और निकासी करने के नियमों में हाल में किए ये बदलाव

    EPFO ने जमा और निकासी करने के नियमों  में हाल में किए ये बदलाव

    रिटायरमेंट से जुड़े कर्मचारियों के फंड की रखरखाव करने वाली संस्था ईपीएफओ यानी कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ने हाल ही में अपने कुछ नियमों में बदलाव किया. खाताधारकों को पीएफ (PF) अंशधारकों के लिए ईपीएफओ (EPFO) द्वारा समय समय पर जारी किए जाने वाले निर्देश और नियमों में बदलावों से अवगत रहना बहुत जरूरी होता है. इससे समय पड़ने पर दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ता.

  • नौकरी पेशा को क्यों खुलवाना चाहिए PPF खाता, और उठाना चाहिए यह बड़ा लाभ

    नौकरी पेशा को क्यों खुलवाना चाहिए PPF खाता, और उठाना चाहिए यह बड़ा लाभ

    भविष्य निधि के जरिए सरकार हर नौकरीपेशा का पैसा जमा कर उस पर ब्याज देती रही है. यह पैसा हमेशा से नौकरी पेशा को समय पर एकमुश्त रकम देता है जो वह रिटायरमेंट के बाद या फिर नौकरी छोड़ने के बाद प्रयोग में लाता है. सरकार इस प्रकार के फंड में पैसा जमा कराने का एक और रास्ता उपलब्ध कराती है. यह है पीपीएफ. पब्लिक प्रॉविडेंट फंड (पीपीएफ) कई दशकों से निवेशकों के लिए बचत और बचत को ब्याज के माध्यम से बढ़ाने का अच्छा माध्यम है.

  • नौकरी पेशा को क्यों खुलवाना चाहिए PPF खाता, और उठाना चाहिए यह बड़ा लाभ

    नौकरी पेशा को क्यों खुलवाना चाहिए PPF खाता, और उठाना चाहिए यह बड़ा लाभ

    भविष्य निधि के जरिए सरकार हर नौकरीपेशा का पैसा जमा कर उस पर ब्याज देती रही है. यह पैसा हमेशा से नौकरी पेशा को समय पर एकमुश्त रकम देता है जो वह रिटायरमेंट के बाद या फिर नौकरी छोड़ने के बाद प्रयोग में लाता है. सरकार इस प्रकार के फंड में पैसा जमा कराने का एक और रास्ता उपलब्ध कराती है. यह है पीपीएफ. पब्लिक प्रॉविडेंट फंड (पीपीएफ) कई दशकों से निवेशकों के लिए बचत और बचत को ब्याज के माध्यम से बढ़ाने का अच्छा माध्यम है.

  • ईपीएफ पर ब्याज को लेकर वित्त मंत्रालय के साथ कोई विवाद नहीं : गंगवार

    ईपीएफ पर ब्याज को लेकर वित्त मंत्रालय के साथ कोई विवाद नहीं : गंगवार

    गौरतलब है कि ईपीएफओ के निर्णय लेने वाले शीर्ष निकाय केंद्रीय न्यासी बोर्ड ( सीबीटी ) ने 21 फरवरी , 2018 को ईपीएफ पर 8.55 प्रतिशत का ब्याज देने का फैसला किया था और इस प्रस्ताव को वित्त मंत्रालय के पास भेजा गया था.

  • एक मिस्ड कॉल से जानें PF बैलेंस और उससे जुड़ी पूरी जानकारी, SMS सेवा भी उपलब्ध

    एक मिस्ड कॉल से जानें PF बैलेंस और उससे जुड़ी पूरी जानकारी, SMS सेवा भी उपलब्ध

    इन नम्बर के अलावा पीएफ का बैलेंस और इसमें आखिरी योगदान की जानकारी उमंग मोबाइल एप पर भी उपलब्ध है.

  • पीएफ पर क्यों घटी ब्याज दर और केजरीवाल के सलाहकार ने कहा- देखा है मारपीट, पढ़ें अब तक की 5 बड़ी खबरें

    पीएफ पर क्यों घटी ब्याज दर और केजरीवाल के सलाहकार ने कहा- देखा है मारपीट, पढ़ें अब तक की 5 बड़ी खबरें

    ईपीएफ पर क्यों कम कर दी गईं ब्याज दरें? सीएम केजरीवाल के सलाहकार ने बयान दिया है कि उन्होंने विधायकों को मारपीट करते देखा है. लखनऊ में आयोजित इन्वेस्टर मीट की साज-सज्जा में खर्च कर दिए गए करोडों बिपाशा बसु  ने कैसे मनाया करण सिंह ग्रोवर का जन्मदिन और टीम इंडिया में जल्द ही शामिल हो सकता है ये क्रिकेटर. पढ़ें अब तक की 5 बड़ी खबरें

  • EPF का खेल : सरप्लस पॉजिटिव में लेकिन फिर भी ब्याज दर में कटौती, आखिर क्यों?

    EPF का खेल : सरप्लस पॉजिटिव में लेकिन फिर भी ब्याज दर में कटौती, आखिर क्यों?

    बुधवार को कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ने ईपीएफ पर मिलने वाली ब्याज दर को कम कर दिया. 2016-17 में ब्याज दर 8.65 प्रतिशत थी जबकि 2017-18 के लिए इसे कम करके 8.55 प्रतिशत कर दिया गया है. यह प्राइवेट सेक्टर में काम करने वाले करोड़ कर्मचारियों के लिए बुरी खबर है.

Advertisement