NDTV Khabar

Farmer News in Hindi


'Farmer' - more than 1000 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • किसान बिल को लेकर फूटा सपना चौधरी का मीडिया पर गुस्सा, बोलीं- सुशांत सिंह राजपूत केस को लेकर जैसे...

    किसान बिल को लेकर फूटा सपना चौधरी का मीडिया पर गुस्सा, बोलीं- सुशांत सिंह राजपूत केस को लेकर जैसे...

    संसद में पास हो चुके दो किसान बिलों (Kisaan Bill 2020) के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन की हलचल पूरे देश में फैल रही है. कांग्रेस सहित कई विपक्षी पार्टियां इस मुद्दे पर सरकार के खिलाफ लामबंद हो चुकी हैं. कई राज्यों के किसान इन बिलों का विरोध कर रहे हैं.

  • किसान बिलों को लेकर विपक्षी पार्टियों ने कसी कमर, देशव्यापी प्रदर्शन की तैयारी, पढ़ें 10 बातें

    किसान बिलों को लेकर विपक्षी पार्टियों ने कसी कमर, देशव्यापी प्रदर्शन की तैयारी, पढ़ें 10 बातें

    संसद में पास हो चुके दो किसान बिलों के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन की हलचल पूरे देश में फैल रही है. कांग्रेस सहित कई विपक्षी पार्टियां इस मुद्दे पर सरकार के खिलाफ लामबंद हो चुकी हैं. कई राज्यों के किसान इन बिलों का विरोध कर रहे हैं. हालांकि, ये बिल संसद के दोनों सदनों में पास हो चुके हैं. लेकिन अभी राष्ट्रपति ने इन विधेयकों पर हस्ताक्षर नहीं किया है, जिससे कि यह अभी कानून नहीं बने हैं. लेकिन विपक्ष इन विधेयकों के बिल्कुल खिलाफ है. विपक्षी सांसद लगातार दो दिनों से राज्यसभा में हंगामा कर रहे हैं. यहां तक कि सोमवार को आठ सांसदों को निलंबित कर दिया गया था, जिसके बाद से वो संसद के लॉन में रातभर बैठकर प्रदर्शन करते रहे हैं. विपक्ष की ओर से इसपर जबरदस्त सक्रियता देखने को मिल रही है.

  • क्यों राजनीतिक दल और किसान कर रहे हैं कृषि विधेयकों का विरोध? 10 प्वाइंट्स में समझें

    क्यों राजनीतिक दल और किसान कर रहे हैं कृषि विधेयकों का विरोध? 10 प्वाइंट्स में समझें

    New Farm Bill: रविवार को राज्यसभा में जोरदार हंगामे के बीच कृषि से संबंधित दो विवादित बिलों को मंजूरी दे दी गई. जिसके बाद देश के कई किसान संगठन और राजनीतिक दल विरोध में सड़कों पर उतर आए. मोदी सरकार जहां इन विधेयकों (New Farm Bill) को किसानों को सशक्त बनाने का माध्यम बता रही है तो वहीं विपक्ष और लाखों की संख्या में किसान यह मानकर विरोध कर रहे हैं कि इस विधेयक के बाद किसान कॉरपोरेट घरानों के आगे मजबूर हो जाएंगे. वहीं कुछ किसान ऐसे भी जो इस पूरे मामले के राजनीतिकरण से कंफ्यूज हैं, उनकी मांग है कि सरकार आगे आए और किसानों की आशंकाओं को दूर करे और बताए कि किसानों को इस बिल से क्या फायदा.

  • केंद्र सरकार की तरफ से MSP की घोषणा को अमरिंदर सिंह ने किसानों के आंदोलन का 'मखौल' बताया

    केंद्र सरकार की तरफ से MSP की घोषणा को अमरिंदर सिंह ने किसानों के आंदोलन का 'मखौल' बताया

    कृषि सुधार (Agriculture Reform) को लेकर राज्यसभा (Rajya Sabha) में पारित विधेयकों को लेकर जारी घमासान के बीच केंद्र सरकार रबी फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) घोषित कर दिया है. सरकार की तरफ से समय से पहले ही इसकी घोषणा की गयी है. लेकिन पंजाब और हरियाणा में किसान नेताओं की तरफ से जारी विरोध लगातार तेज होता जा रहा है. देश भर में इन्हीं दो राज्योें में इस बिल का सबसे अधिक विरोध देखा जा रहा है. 

  • प्रवासी मजदूरों की मौत के बाद, अब सरकार के पास किसानों की आत्महत्या के आंकड़े भी नहीं

    प्रवासी मजदूरों की मौत के बाद, अब सरकार के पास किसानों की आत्महत्या के आंकड़े भी नहीं

    मंत्रालय ने कहा कि मजदूरों के परिवारों को मुआवजा देने का "सवाल ही नहीं उठता" क्योंकि कोई डेटा नहीं था. सरकार ने आलोचना के बाद स्पष्ट किया कि जिलों में इस तरह के आंकड़े एकत्र करने के लिए "कोई तंत्र" नहीं था.

  • कृषि विधेयकों का किसान और विपक्षी पार्टियां इसलिए कर रहीं विरोध, मामले से जुड़ी 10 बातें

    कृषि विधेयकों का किसान और विपक्षी पार्टियां इसलिए कर रहीं विरोध, मामले से जुड़ी 10 बातें

    विपक्षी सदस्‍यों के भारी हंगामे के बीच राज्‍यसभा ने रविवार को भारत के कृषि सेक्‍टर से संबंधित तीन विवादित बिलों में से दो को मंजूरी दे बिल के विरोध में देश में कई किसान संगठन प्रदर्शन कर रहे हैं. पंजाब और हरियाणा जैसे कृषि प्रधान राज्‍य में में किसानों ने इन बिलों के विरोध में आवाज बुलंद की है.गौरतललब है कि विपक्षी दलों ने इन बिलों को किसान विरोधी करार दिया है और केंद्र सरकार में अकाली दल के कोटे से मंत्री बनीं हरसिमरत कौर भी इन बिल के विरोध में इस्‍तीफा दे चुकी हैं. दूसरी ओर, केंद्र सरकार ने इन बिलों को ऐतिहासिक बताया है.

  • कृषि सुधार के लिए लाए गए विधेयकों पर मध्यप्रदेश के किसानों की राय बंटी हुई

    कृषि सुधार के लिए लाए गए विधेयकों पर मध्यप्रदेश के किसानों की राय बंटी हुई

    केंद्र सरकार खेती-किसानी के क्षेत्र में सुधार के लिए तीन विधेयक (Agri Reform Bills) लाई है, जो लोकसभा-राज्यसभा से पारित हो चुके हैं. इन विधेयकों से पंजाब और हरियाणा समेत कुछ राज्यों में किसान नाराज हैं. उन्हें अपनी उपज पर मिलने वाले न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP)  की चिंता है. मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के मुख्यमंत्री कह चुके हैं कि जो विरोध कर रहे हैं वो जबरन किसानों को भड़का रहे हैं. ऐसे में मध्यप्रदेश के किसान क्या सोचते हैं? 

  • मैं भी किसान हूं, मैं नहीं मानता कि सरकार कभी किसानों को नुकसान पहुंचाएगी : राजनाथ सिंह

    मैं भी किसान हूं, मैं नहीं मानता कि सरकार कभी किसानों को नुकसान पहुंचाएगी : राजनाथ सिंह

    हरसिमरत कौर के इस्तीफे पर राजनाथ ने कहा, "समझाने की कोशिश सबको हो रही है, हर व्यक्ति के फैसले लेने के पीछे कुछ राजनीति कारण होते हैं.  उन्होंने क्यों ये फैसला लिया इस मैं कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता हूं."

  • अकाली दल की BJP को चेतावनी- 'पंजाब के किसानों को कमजोर समझने की भूल न करें'

    अकाली दल की BJP को चेतावनी- 'पंजाब के किसानों को कमजोर समझने की भूल न करें'

    रविवार को किसानों से जुड़े तीन विधेयकों में से दो को राज्यसभा में रखा गया है. अकाली दल के नेता नरेश गुजराल ने विधेयक को सेलेक्ट कमेटी के पास भेजने की मांग की है ताकि सभी हितधारक इस पर पक्ष रख सकें.

  • जबर्दस्त हंगामे के बीच किसान बिल राज्यसभा में पास, उप सभापति के सामने फाड़ी गई रूल बुक, जानिए- 10 बड़ी बातें

    जबर्दस्त हंगामे के बीच किसान बिल राज्यसभा में पास, उप सभापति के सामने फाड़ी गई रूल बुक, जानिए- 10 बड़ी बातें

    जबर्दस्त हंगामे और विवाद के बीच राज्य सभा में दो किसान बिल (Farmers Bills) पास हो गया है. इस दौरान विपक्ष ने सदन में जमकर नारेबाजी की. सदन में टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने उप सभापति के आसन के पास पहुंचकर रूल बुक फाड़ दिया और आरोप लगाया कि सदन की कार्यवाही नियमों के खिलाफ हुई है. ब्रायन ने इसे लोकतंत्र की नृशंस हत्या करार दिया. विपक्षी सांसदों ने हंगामा करते हुए उप सभापति की माइक भी तोड़ने की कोशिश की. इससे पहले देखा गया कि बीजेपी सांसद भूपेंद्र यादव ने उप सभापति के आसन के पास पहुंचकर उनके कान में कुछ कहा. दोनों बिल लोकसभा से पहले ही पास हो चुके हैं. अब ये बिल राष्ट्रपति के पास भेजे जाएंगे.

  • कृषि बिल के खिलाफ सड़कों पर हरियाणा के किसान, ट्रैक्टर-झंडों-नारेबाजी कर अन्नदाता का 'हल्ला बोल'

    कृषि बिल के खिलाफ सड़कों पर हरियाणा के किसान, ट्रैक्टर-झंडों-नारेबाजी कर अन्नदाता का 'हल्ला बोल'

    हरियाणा (Haryana) के किसानों ने (Farmers Protest) कृषि बिल (Farm Bills) के खिलाफ अपना विरोध प्रदर्शन तेज कर दिया है. कई किसान संगठनों ने आज (रविवार) प्रदर्शन बुलाया है. 'सड़क रोको' आंदोलन के तहत किसानों ने हाईवे ब्लॉक करने का ऐलान किया था. इस घोषणा के तहत आज सैकड़ों की संख्या में किसान अम्बाला में सड़कों पर उतर आए. किसान ट्रैक्टर लेकर सड़कों पर उतरे और बिल के विरोध में नारेबाजी की. इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने झंडे और बैनर भी दिखाए.

  • दो दिन पहले तक सत्ता में थे साथ-साथ, आज दे रहे चेतावनी- 'किसानों को कमजोर समझने की भूल न करे सरकार'

    दो दिन पहले तक सत्ता में थे साथ-साथ, आज दे रहे चेतावनी- 'किसानों को कमजोर समझने की भूल न करे सरकार'

    लॉकडाउन के दौरान केंद्र सरकार द्वारा इन्हीं मुद्दों पर लाए गए अध्यादेश का अकाली दल ने समर्थन किया था लेकिन जब पंजाब में किसानों ने आंदोलन तेज कर दिया, तब अकाली दल को अपनी गलती का अहसास हुआ

  • 'किसान बिल का समर्थन करना किसानों के डेथ वारंट पर दस्तखत करना होगा', कांग्रेस का सदन में पुरजोर विरोध

    'किसान बिल का समर्थन करना किसानों के डेथ वारंट पर दस्तखत करना होगा', कांग्रेस का सदन में पुरजोर विरोध

    उन्होंने कहा, "अब किसान अनपढ़ नहीं रहे. वो समझ रहे हैं कि इसके जरिए आप उनसे न्यूनतम समर्थन मूल्य छीनना चाह रहे हैं. अगर यह बिल एक बार पास हो गया तो पूंजीपति उनके खेतों पर कब्जा जमा लेंगे."

  • किसान बिल को लेकर मोदी सरकार पर बरसे राहुल गांधी, कहा- किसानों को पूंजीपतियों का गुलाम...

    किसान बिल को लेकर मोदी सरकार पर बरसे राहुल गांधी, कहा- किसानों को पूंजीपतियों का गुलाम...

    Rahul Gandhi on Farm Bills: राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसानों को पूंजीपतियों का 'गुलाम' बना रहे हैं. किसान बिल पर राज्यसभा में बहस के बीच राहुल गांधी ने रविवार अपने ट्वीट में लिखा, " मोदी सरकार के कृषि-विरोधी ‘काले क़ानून’ से किसानों को: 1. APMC/किसान मार्केट ख़त्म होने पर MSP कैसे मिलेगा? 2. MSP की गारंटी क्यों नहीं?

  • हरियाणा : कृषि विधेयक पर रार, किसानों के प्रदर्शन के मद्देनजर भारी संख्या में पुलिसबल तैनात

    हरियाणा : कृषि विधेयक पर रार, किसानों के प्रदर्शन के मद्देनजर भारी संख्या में पुलिसबल तैनात

    किसान बिल (Farm Bills) के विरोध में कई राज्यों के किसान (Farmers Protest) लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं. बीते हफ्ते पंजाब में प्रदर्शन कर रहे एक किसान ने बिल के विरोध में जहर खा लिया था. इलाज के दौरान अस्पताल में उनकी मौत हो गई. हरियाणा (Haryana Farmers Protest) में अम्बाला से सटे सादोपुर बॉर्डर पर आज (रविवार) किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए भारी संख्या में पुलिसबल की तैनाती की गई है. अम्बाला के एसपी अभिषेक जोरवाल ने कहा, 'भारतीय किसान यूनियन ने प्रदर्शन बुलाया है. इसको देखते हुए बैरिकेडिंग की गई है. हमारे पास यहां पर पर्याप्त सुरक्षाबल है.'

  • किसान बिल पर बोले दलेर मेहंदी- पीएम मोदी ने खुशहाल बनाने का काम किया तो विपक्षी दलों में क्यों हाहाकार?

    किसान बिल पर बोले दलेर मेहंदी- पीएम मोदी ने खुशहाल बनाने का काम किया तो विपक्षी दलों में क्यों हाहाकार?

    दलेर ने किसानों से अपील की है कि वो बिल का विरोध न करें और किसी भी तरह की अफवाह का शिकार न बनें.

  • 'किसान होंगे बर्बाद, पर कॉरपोरेट्स मालामाल', जयराम रमेश ने बताया क्यों कर रहे बिल का विरोध?

    'किसान होंगे बर्बाद, पर कॉरपोरेट्स मालामाल', जयराम रमेश ने बताया क्यों कर रहे बिल का विरोध?

    कांग्रेस नेता ने कहा कि ये बिल देश में पिछले 50 से अधिक वर्षों में स्थापित हुई कृषि व्यवस्था को बर्बाद कर देंगे. उन्होंने कहा कि नए कानून से देश में कॉन्ट्रैक्ट और प्राइवेट फार्मिंग को बढ़ावा मिलेगा.

  • किसान बिल के राज्यसभा में पास होने का ये है गणित, BJP की इन दलों पर नजर; जानें 10 बड़ी बातें

    किसान बिल के राज्यसभा में पास होने का ये है गणित, BJP की इन दलों पर नजर; जानें 10 बड़ी बातें

    Farm Bills: कृषि सुधार से जुड़े तीन विधेयकों में से दो विधेयकों को आज राज्यसभा पेश किया गया. केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने विधेयकों को सदन में रखा. किसान बिल पर राज्यसभा में बहस चल रही है. विपक्ष ने कहा कि सरकार कृषि विधेयकों को लेकर जल्दबाजी दिखा रही है. सरकार के लिए विधेयकों को राज्यसभा में पास करवाना बड़ी चुनौती है. विपक्षी पार्टियां किसान बिल के विरोध में एक साथ आ सकती हैं. बीजेडी, वाईएसआर कांग्रेस और तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) बिल को पारित कराने में अहम भूमिका निभा सकते हैं. एनडीए की पुरानी सहयोगी दल शिरोमणि अकाली दल के विरोध के बाद सरकार को आंतरिक और बाहरी मोर्चे पर विरोध का सामना करना पड़ रहा है. राज्यसभा में बिल पारित कराने के लिए बीजेपी ने अपने सभी सांसदों को व्हिप जारी करके सदन में मौजूद रहने का निर्देश दिया है. सरकार ने किसान बिल को पास करवाने के लिए समर्थन जुटाने के खातिर विपक्षी दलों से भी मोर्चा बंदी शुरू कर दी है. 245 सदस्यों वाली राज्य सभा में सरकार के पास बहुमत नहीं है. फिलहाल दो स्थान खाली हैं. ऐसे में बहुमत का आंकड़ा 122 है. 

12345»

Advertisement

Farmer वीडियो

Farmer से जुड़े अन्य वीडियो »

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com