NDTV Khabar

Farmers


'Farmers' - 551 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • किसानों से किए गए वादे कितने पूरे होते हैं?

    किसानों से किए गए वादे कितने पूरे होते हैं?

    हमने पिछले कई सालों में किसानों के कई आंदोलन देखे. 29-30 इस आंदोलन के केंद्र में दो मुद्दे प्रमुख रूप से रहे. फसलों का सही दाम दिया जाए और फसल बिकने की व्यवस्था सही की जाए. मोदी सरकार ने न्यूनतम समर्थन मूल्य को अपने वादे के हिसाब से लागत से डेढ़ गुना देने का दावा करती है लेकिन तथ्य कुछ दूसरे भी होते हैं.

  • उत्तर प्रदेश : अफसरशाही मस्ती में, बांदा में किसान 24 घंटे से धरने पर

    उत्तर प्रदेश : अफसरशाही मस्ती में, बांदा में किसान 24 घंटे से धरने पर

    बांदा जिले के पैलानी तहसील क्षेत्र के करीब 500 किसान बिजली की समस्या के निस्तारण की मांग को लेकर जसपुरा के बिजली उपकेंद्र में पिछले 24 घंटे से बेमियादी धरने पर बैठे हैं.

  • गुजरात : CM विजय रूपाणी के कार्यक्रम में दुखी किसान ने की आत्महत्या की कोशिश, जानें वजह...

    गुजरात : CM विजय रूपाणी के कार्यक्रम में दुखी किसान ने की आत्महत्या की कोशिश, जानें वजह...

    पुलिस अधीक्षक ने कहा, ‘‘किसान की कृषि भूमि के बाहर पंचायती प्लॉट पर किसी ने अवैध कब्जा कर लिया है. इस कारण उसके लिए अपने खेत में प्रवेश करना मुश्किल हो गया है. अतिक्रमण हटाने के लिए कलेक्टर द्वारा पहले ही आदेश दिया जा चुका है, लेकिन स्थानीय अधिकारियों ने इस पर कार्रवाई नहीं की.’’ 

  • KBC 10: किसान ने अमिताभ बच्चन को सुनाई दुख भरी दास्तां, भावुक होकर लिया ये बड़ा फैसला

    KBC 10: किसान ने अमिताभ बच्चन को सुनाई दुख भरी दास्तां, भावुक होकर लिया ये बड़ा फैसला

    इसने बॉलीवुड के सबसे बड़े मेगास्टार अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) को परेशान कर दिया और उन्होंने लोगों से सामने आने और किसानों की किसी भी तरह से मदद करने का आग्रह किया. प्रतियोगी अनंत कुमार खंके ने अपनी वार्षिक आय पर कुछ प्रकाश डाला जो लगभग रु. 60,000 है, केवल तभी अगर उन्हें बरसात का एक अच्छा मौसम मिले.

  • PM मोदी बोले - खेत में कोई चीज बेकार नहीं होती, कचरे को भी कंचन बनाया जा सकता है

    PM मोदी बोले - खेत में कोई चीज बेकार नहीं होती, कचरे को भी कंचन बनाया जा सकता है

    उन्होंने इस संबंध में कहा कि उनका यह स्पष्ट मत है कि किसान को कोई आगे नहीं ले जाता बल्कि किसान ही देश को आगे ले जाता है.

  • मध्यप्रदेश सरकार की भावांतर योजना किसानों के लिए 'भंवर' बनी

    मध्यप्रदेश सरकार की भावांतर योजना किसानों के लिए 'भंवर' बनी

    मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान खुद को किसानों का सबसे बड़ा हमदर्द बताते हैं. उनके नेतृत्व में दाल उत्पादन में अगुआ मध्यप्रदेश गेंहू में भी रिकॉर्ड बनाने लगा. लेकिन यह वह राज्य भी है जो किसानों की खुदकुशी के मामले में तीसरे नंबर पर है. जहां किसानों की नाराज़गी हिंसक हुई, 6 किसान पुलिस की गोली से मरे. जहां राज्य सरकार किसानों के लिए भावांतर की सौगात लाई, लेकिन इसे किसान भंवर समझ रहे हैं.

  • क्या दिल्ली में फिर होगा किसान आंदोलन? इस तारीख को दिल्ली में जुटेंगे देश भर के किसान

    क्या दिल्ली में फिर होगा किसान आंदोलन? इस तारीख को दिल्ली में जुटेंगे देश भर के किसान

    देश भर के किसान अपनी मांगों को लेकर एक बार फिर दिल्ली का रुख करेंगे. अखिल भारतीय किसान संघर्ष समिति के बैनर तले दिल्ली के रामलीला मैदान में दो दिवसीय किसान महासम्मेलन का आयोजन किया गया है. यह सम्मेलन 29 और 30 नवंबर को होगा. समिति के अध्यक्ष वीएम सिंह ने गुरुवार को यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि तीन दिन के इस आंदोलन के दौरान 28 नवंबर को सभी किसान संगठनों के प्रतिनिधि दिल्ली के सीमीवर्ती शहरों फरीदाबाद, गाजियाबाद और गुरुग्राम में एकत्र होंगे. इसके बाद सभी किसान संगठन दो दिवसीय किसान महासम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए पैदल मार्च कर रामलीला मैदान पहुंचेंगे.

  • महाराष्ट्र : किसानों की विधवाओं ने तनुश्री के खिलाफ किया प्रदर्शन, तस्वीरें जलाईं

    महाराष्ट्र : किसानों की विधवाओं ने तनुश्री के खिलाफ किया प्रदर्शन, तस्वीरें जलाईं

    बॉलीवुड एक्ट्रेस तनुश्री दत्ता द्वारा अभिनेता नाना पाटेकर पर साल 2008 में एक फिल्म के सेट पर अभद्र व्यवहार किए जाने के आरोप के खिलाफ महाराष्ट्र के यवतमाल जिले में किसानों की विधवाओं ने प्रदर्शन किया. दूसरी तरफ तनुश्री दत्ता ने नाना पाटेकर के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है.

  • मोदीनगर के किसानों ने केंद्र सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन

    मोदीनगर के किसानों ने केंद्र सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन

    राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) के उपाध्यक्ष जयंत चौधरी के नेतृत्व में मोदीनगर क्षेत्र के सैकड़ों किसानों ने भाजपा सरकार के खिलाफ शनिवार को एक विरोध रैली निकाली.

  • सरकार के लिए नया सिर दर्द, अब RSS से जुड़े किसान संगठन ने दी हड़ताल की धमकी, कहा...

    सरकार के लिए नया सिर दर्द, अब RSS से जुड़े किसान संगठन ने दी हड़ताल की धमकी, कहा...

    दिल्ली में किसानों का आंदोलन समाप्त हुए अभी 4 दिन भी नहीं बीते हैं, लेकिन अब सरकार के सामने एक और समस्या खड़ी हो सकती है. दरअसल, अब राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ यानी RSS से संबद्ध भारतीय किसान संघ (बीकेएस) ने हड़ताल की चेतावनी दी है.

  • किसानों की समस्या पर सरकार कितनी गंभीर?

    किसानों की समस्या पर सरकार कितनी गंभीर?

    कायदे से 2 अक्तूबर को ऐसा नहीं होना चाहिए था मगर दिल्ली यूपी बॉर्डर पर किसानों को रोकने गई पुलिस के कारण हम सबको ये देखने को मिला. किसान किसी भी हाल पर राजघाट जाना चाहते थे. 2 अक्तूबर के पूरे दिन दिल्ली की इस सीमा पर टकराव और तनाव में बीता.

  • किसानों के प्रदर्शन के बाद सरकार ने रबी फसलों का MSP बढ़ाया, इंदौर-भोपाल में मेट्रो को मिली हरी झंडी

    किसानों के प्रदर्शन के बाद सरकार ने रबी फसलों का MSP बढ़ाया, इंदौर-भोपाल में मेट्रो को मिली हरी झंडी

    किसानों के प्रदर्शऩ के बाद केंद्रीय मंत्रिमंडल ने एक बड़ा फैसला किया है. केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 2018-19 वर्ष के लिए गेहूं के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) में 105 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी कर इसे 1,840 रुपये प्रति क्विंटल करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को रबी फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्यों (एमएसपी) को मंजूरी दी. फसल वर्ष 2017-18 में गेहूं का एमएसपी 1,735 रुपये प्रति क्विंटल था. एमएसपी को कृषि सलाहकार निकाय सीएसीपी की सिफारिशों के अनुसार बढ़ा दिया गया है और यह फसलों के उत्पादन लागत से कम से कम 50 प्रतिशत ऊंचा मूल्य दिलाने के सरकार की घोषणा के अनुरूप है.

  • स्वामीनाथन कमेटी की 8 मुख्य सिफारिशें, जिसकी चर्चा हर किसान आंदोलन के समय होती है

    स्वामीनाथन कमेटी की 8 मुख्य सिफारिशें, जिसकी चर्चा हर किसान आंदोलन के समय होती है

    दिल्ली में किसानों का आंदोलन समाप्त हो गया है. राजधानी कूच करने वाले किसान दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर अपनी 15 सूत्रीय मांगों के साथ धरने पर बैठे थे. जिसमें बिजली और डीजल की दरों में रियायत, किसानों को सामाजिक सुरक्षा, न्यूनतम समर्थन मूल्य को वैधानिक दर्जा और 10 साल से ज्यादा पुराने ट्रैक्टरों के इस्तेमाल की छूट के साथ-साथ स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिशों को लागू करना शामिल था. देश में जब-जब किसानों का प्रदर्शन होता है और वे सड़क पर आते हैं तब-तब स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिशों की चर्चा होती है. आइये आपको बताते हैं स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिशें क्या हैं. 

  • किसानों के सामने कौन सा मुंह लेकर जाएंगे?

    किसानों के सामने कौन सा मुंह लेकर जाएंगे?

    नाबार्ड के सर्वे में जो सबसे चौंकाने वाली बात है वह यह कि 87 फीसद किसानों की आय 2436 रुपये के आसपास है. हम मान लें कि एक परिवार में न्यूनतम 5 लोग होंगे तो एक सदस्य के हिस्से 500 रुपये से भी कम आएगा. किसान दिल्ली आए थे, अब दिल्ली के 'चश्मे' से इस आंकड़े को देखें. 500 रुपये में आप क्या-क्या कर लेंगे? दो वक्त लंच और डिनर, या सिर्फ लंच या डिनर या एक चाय/कॉफी या शायद इतना टिप ही दे दें.

  • किसानों का आंदोलन खत्म, कोलकाता मेडिकल कॉलेज में आग, पढ़ें अब तक की 5 बड़ी खबरें

    किसानों का आंदोलन खत्म, कोलकाता मेडिकल कॉलेज में आग, पढ़ें अब तक की 5 बड़ी खबरें

    दिल्ली-एनसीआर निवासियों के लिए राहत की खबर है. किसानों ने अपना आंदोलन (Farmer Agitation Delhi) खत्म कर दिया है. NH 24 को दोनों तरफ वाहनों के लिए खोल दिया गया है. वहीं कोलकाता मेडिकल कॉलेज में आग लगने की सूचना है.

  • दिल्ली में प्रवेश की इजाजत मिलने के बाद किसानों ने कहा- हमारी जीत हुई, आंदोलन समाप्त

    दिल्ली में प्रवेश की इजाजत मिलने के बाद किसानों ने कहा- हमारी जीत हुई, आंदोलन समाप्त

    केंद्र सरकार ने किसानों को बुधवार को तड़के राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में प्रवेश करने की इजाजत दे दी. इससे पुलिस कर्मियों और किसानों के बीच चल रहा गतिरोध समाप्त हो गया. आंदोलनकारियों के दिल्ली के किसान घाट पहुंचने के साथ ही किसानों का आंदोलन खत्म हो गया.

  • आखिर क्या हैं किसानों की मांगें और क्या कहा सरकार ने? जानिए...

    आखिर क्या हैं किसानों की मांगें और क्या कहा सरकार ने? जानिए...

    दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर मंगलवार को हजारों किसान अपनी 15 सूत्रीय मांगों के साथ धरने पर बैठे रहे. हालांकि इस दौरान केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री गजेंद्र शेखावत इस आंदोलन को खत्म करवाने के लिए आए और उन्होंने किसानों को बहुत से आश्वासन भी दिए और दावा किया कि किसानों की ज़्यादातर मांगें सरकार मान रही है. लेकिन लगभग 15 मिनट के केंद्रीय मंत्री के भाषण के बावजूद किसान आंदोलन खत्म करने को तैयार नहीं हुए.

  • किसान आंदोलन के चलते बुधवार को गाजियाबाद के सभी स्कूल, कॉलेज बंद रहेंगे

    किसान आंदोलन के चलते बुधवार को गाजियाबाद के सभी स्कूल, कॉलेज बंद रहेंगे

    किसान आंदोलन (Farmers Agitation) के मद्देनजर गाजियाबाद के सभी स्कूल और कॉलेज बुधवार को बंद रहेंगे. हजारों की संख्या में किसानों को राजधानी दिल्ली में घुसने नहीं दिया गया. इसके बाद किसानों ने रात में गाजीपुर मंडी इलाके में ही धरना दे दिया. इसे देखते हुए ही गाजियाबाद प्रशासन ने स्कूलों और कॉलेजों को बंद रखने का आदेश जारी किया. इससे पहले उत्तर प्रदेश और दिल्ली की सीमा पर हजारों किसानों के आंदोलन ने मंगलवार को उस समय हिंसक रूप धारण कर लिया, जब उन्होंने बेरीकेडिंग तोड़ने और अपने ट्रैक्टरों से राष्ट्रीय राजधानी में प्रवेश करने की कोशिश की. इसके बाद उन्हें खदेड़ने के लिए पुलिस को पानी की बौछारों और आंसू गैस के गोलों का उपयोग करना पड़ा.

Advertisement