NDTV Khabar

Flag march


'Flag march' - 7 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • दिल्ली हिंसा: दूध लेने गया था बेटा, उपद्रवियों ने घर में लगाई आग, 85 साल की बुजुर्ग मां की जलकर हुई मौत

    दिल्ली हिंसा: दूध लेने गया था बेटा, उपद्रवियों ने घर में लगाई आग, 85 साल की बुजुर्ग मां की जलकर हुई मौत

    उत्तरपूर्वी दिल्ली के दंगाग्रस्त इलाकों में हिंसा की छिटपुट घटनाएं दर्ज की गई. जाफराबाद, मौजपुर, चांदबाग, गोकुलपुरी और आसपास के इलाकों में शांति रही लेकिन खौफ और दहशत का माहौल अभी बना हुआ. बृहस्पतिवार को मरने वाले लोगों की संख्या 34 पर पहुंच गई. ज्यादातर दुकानें बंद रही और उनके दरवाजों पर हिंसा के निशान साफ देखे जा सकते हैं जिसने पिछले कुछ दिनों से लोगों को खौफजदा कर दिया है. हिंसा की घटनाओं में एक घटना ऐसी भी थी, जहां घर जलाने पर एक बुजुर्ग महिला की जलकर मौत हो गई. 

  • नॉर्थ ईस्ट दिल्ली हिंसा: किसी का ऑटो जला तो कोई घर छोड़कर चला गया, लोगों ने सुनाई अपनी-अपनी आपबीती

    नॉर्थ ईस्ट दिल्ली हिंसा: किसी का ऑटो जला तो कोई घर छोड़कर चला गया, लोगों ने सुनाई अपनी-अपनी आपबीती

    राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के उत्तर पूर्व क्षेत्र में दो दिन की सांप्रदायिक हिंसा में अब तक 32 लोगों की मौत हो गयी है और बुधवार को शांति रही लेकिन कुछ स्थानों पर दुकानों में आग लगा दी गयी.

  • नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में हिंसाग्रस्त कुछ इलाकों में शांति, 32 मौत, 200 घायल, PM मोदी की अपील- 10 बड़ी बातें

    नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में हिंसाग्रस्त कुछ इलाकों में शांति, 32 मौत, 200 घायल, PM मोदी की अपील- 10 बड़ी बातें

    राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के उत्तर पूर्व क्षेत्र में दो दिन की सांप्रदायिक हिंसा में 32 लोगों की मौत हो गयी है और बुधवार को शांति रही लेकिन कुछ स्थानों पर दुकानों में आग लगा दी गयी और गुप्तचर ब्यूरो के एक कर्मचारी का शव नाले से बरामद किया गया. पुलिस ने फ्लैग मार्च किया और सोमवार की रात से भड़की हिंसा पर लगाम लगाने के लिए राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के उत्तर पूर्व क्षेत्र में सुरक्षा बल चारों ओर फैल गए. दिल्ली में हिंसा की घटनाओं के बाद अपनी पहली प्रतिक्रिया में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को लोगों से शांति एवं भाईचारा बनाये रखने की अपील की. प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने राष्ट्रीय राजधानी में वर्तमान स्थिति की गहन समीक्षा की है. उन्होंने कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि जल्दी शांति एवं सामान्य स्थिति बहाल हो.

  • उत्तर-पूर्वी दिल्ली में सुरक्षा बलों का फ्लैग मार्च, 27 की मौत, दिन भर की शांति के बाद देर शाम को फिर बढ़ा तनाव

    उत्तर-पूर्वी दिल्ली में सुरक्षा बलों का फ्लैग मार्च, 27 की मौत, दिन भर की शांति के बाद देर शाम को फिर बढ़ा तनाव

    उत्तर-पूर्वी दिल्ली के बिगड़े माहौल में अब सुधार हो रहा है. हालांकि बुधवार को दिन भर शांति के बाद देर शाम को कुछ जगहों पर हिंसक झड़पें हुईं. इलके के मौजपुर-करावल नगर में हिंसा की खबरें आई हैं. शेरपुर चौक पर भी हिंसा की ख़बर है. सूचना मिलते ही पांच स्थानों पर पुलिस पहुंची. उत्तर-पूर्वी दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाकों में पुलिस की पेट्रोलिंग और फ्लैग मार्च जारी है. दिन भर आगजनी और पथराव की घटना नहीं हुई लेकिन देर शाम को फिर तनाव बढ़ गया. हिंसा में अब तक 27 लोगों की मौत हो चुकी है. दिल्ली में हिंसा की घटनाओं को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी ने बुधवार को ट्वीट किया और लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की. उन्होंने कहा है कि हालात की गहन समीक्षा की गई है. माहौल का सामान्य होना बहुत महत्वपूर्ण है.दिल्ली में हिंसा को लेकर गृहमंत्री अमित शाह ने 24 घंटे में तीन बैठकें कीं. राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने प्रभावित इलाके का दौरा किया.

  • नागरिकता कानून का विरोध : गोरखपुर में कई स्थानों पर प्रदर्शन के बाद पुलिस ने किया फ्लैग मार्च

    नागरिकता कानून का विरोध : गोरखपुर में कई स्थानों पर प्रदर्शन के बाद पुलिस ने किया फ्लैग मार्च

    संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ गोरखपुर में कई स्थानों पर प्रदर्शन के बाद बुधवार को पुलिस ने शहर के कई इलाकों में फ्लैग मार्च किया. वहीं, जिलाधिकारी ने लोगों से सोशल मीडिया पर भ्रामक संदेश नहीं भेजने की अपील की.

  • शिलांग में फिर भड़की हिंसा : सेना ने किया फ्लैग मार्च, केंद्र ने अतिरिक्त बलों को रवाना किया

    शिलांग में फिर भड़की हिंसा : सेना ने किया फ्लैग मार्च, केंद्र ने अतिरिक्त बलों को रवाना किया

    यह कदम रविवार रात सीआरपीएफ के शिविर पर प्रदर्शनकारियों के हमला करने के बाद उठाया गया.

  • शिलांग में कर्फ्यू के बाद भी कई इलाकों में भड़की हिंसा, सेना ने 500 से ज्यादा लोगों को बचाया

    शिलांग में कर्फ्यू के बाद भी कई इलाकों में भड़की हिंसा, सेना ने 500 से ज्यादा लोगों को बचाया

    गौरतलब है कि हिंसा के दौरान उग्र भीड़ ने एक दुकान और एक मकान को आग के हवाले कर दिया और कम से कम पांच वाहनों को क्षति भी पहुंचाई. हिंसा में एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के भी घायल होने की खबर है. रक्षा विभाग के प्रवक्ता रत्नाकर सिंह ने कहा कि राज्य सरकार ने सेना से आग्रह किया कि प्रभावित इलाकों में फ्लैग मार्च करें. अभी तक सेना ने प्रभावित इलाकों से 500 लोगों को बाहर सुरक्षित निकाला है इनमें 200 महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं.  

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com