Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

Flashback 2018


'Flashback 2018' - 28 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • पुलवामा, ऑपरेशन बालाकोट, राष्ट्रवाद और लोकसभा चुनाव : अलविदा 2019

    पुलवामा, ऑपरेशन बालाकोट, राष्ट्रवाद और लोकसभा चुनाव : अलविदा 2019

    साल 2018 में बीजेपी लगातार कई उपचुनाव हार गई चुकी थी. राजस्थान की दो और उत्तर प्रदेश की गोरखपुर, फूलपुर जैसी सीटों के चुनाव परिणाम अगले साल यानी 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव बीजेपी के लिए खतरे के संकेत दे रहे थे.

  • Flashback 2018: पहली बार सुप्रीम कोर्ट के जज प्रेस कांफ्रेंस करने को मजबूर हुए तो CBI ने मारा CBI दफ्तर में छापा

    Flashback 2018: पहली बार सुप्रीम कोर्ट के जज प्रेस कांफ्रेंस करने को मजबूर हुए तो CBI ने मारा CBI दफ्तर में छापा

    सुप्रीम कोर्ट जैसी संवैधानिक और सीबीआई, आरबीआई जैसी संस्थाओं के लिहाज से कैसा रहा वर्ष 2018, जानिए Flashback 2018 की इस कड़ी में.

  • साल 2018 में 'विपक्षी एकता' की तस्वीरें तो खूब खिंची, लेकिन अभी तक नहीं बन पाई कोई आम राय, 10 बातें

    साल 2018 में 'विपक्षी एकता' की तस्वीरें तो खूब खिंची, लेकिन अभी तक नहीं बन पाई कोई आम राय, 10 बातें

    उत्तर प्रदेश के कैराना, फूलपुर और गोरखपुर में इस साल हुए संसदीय उपचुनावों में समाजवादी पार्टी (सपा), बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) के एकजुट होने से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को मिली हार से भाजपा विरोधी मोर्चे को अहम बढ़त हासिल हुई और 2018 के खत्म होते होते विपक्षी दल अब आगामी लोकसभा चुनाव में भाजपा के खिलाफ मैदान में उतरने के लिए जुटने लगे हैं. हिंदी भाषी राज्यों के हालिया विधानसभा चुनावों में कांग्रेस की जीत ने हालांकि कुछ महत्वाकांक्षी क्षेत्रीय दलों को हतोत्साहित कर दिया है, जो यह कहना चाहते हैं कि अगली सरकार का गठन कैसे होगा. इस संदर्भ में किसी भाजपा विरोधी मोर्चे पर ध्यान केंद्रित करने के बजाए विश्लेषकों को लगता है कि अब हालात भगवा दल को हराने के लिए राज्य स्तर के गठबंधन के लिए तैयार हैं और लोकसभा चुनाव के बाद अंतिम संख्या के सामने आने पर संघीय मोर्चा निर्भर करता है. लेकिन सवाल इस बात का है कि लोकसभा चुनाव से पहले गठबंधन नहीं हो पाया तो क्या एनडीए को हराना आसान होगा क्योंकि 'मोदी लहर' भले ही थम रही हो लेकिन उसके खिलाफ 'कांग्रेस लहर' जैसी भी बात नहीं है.

  • Flashback 2018: जब देश में पेट्रोल-डीजल की कीमतें रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंचीं, उतार-चढ़ाव से गुजरा तेल- गैस क्षेत्र

    Flashback 2018: जब देश में पेट्रोल-डीजल की कीमतें रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंचीं, उतार-चढ़ाव से गुजरा तेल- गैस क्षेत्र

    वर्ष 2018 में कच्चे तेल के दाम में उछाल के कारण पेट्रोल और डीजल की कीमतें रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंचीं.

  • FlashBack 2018: साल 2018 की वो 5 चर्चित किताबें, जो आपको जरूर पढ़नी चाहिए

    FlashBack 2018: साल 2018 की वो 5 चर्चित किताबें, जो आपको जरूर पढ़नी चाहिए

    5 Most Popular Books of 2018: साल 2018 किताबों के लिए महत्वपूर्ण रहा. इस साल कहानी, उपन्यास, कविता, कथेतर और तमाम विधाओं में किताबें प्रकाशित हुईं और इन किताबों की खूब चर्चा भी हुई.

  • Flashback 2018: बॉलीवुड के लिए शादियों का साल रहा 2018, दीपिका-रणवीर से लेकर सोनम और प्रियंका ने भी रचाई शादी

    Flashback 2018: बॉलीवुड के लिए शादियों का साल रहा 2018, दीपिका-रणवीर से लेकर सोनम और प्रियंका ने भी रचाई शादी

    दीपिका पादुकोण (Deepika Padukone) और रणवीर सिंह (Ranveer Singh) ने 14 और 15 नवंबर को इटली के लेक कोमो में कोंकणी और सिंधी रिति-रिवाज से शादी की. दोनों करीब छह साल से एक-दूसरे को डेट कर रहे थे.

  • Flashback 2018 : बीजेपी और पीएम मोदी के सामने कैसे बड़ी चुनौती के रूप में उभरे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी

    Flashback 2018 : बीजेपी और पीएम मोदी के सामने कैसे बड़ी चुनौती के रूप में उभरे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी

    कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के लिए कैसा रहा वर्ष 2018, पढ़िए Flashback 2018 में एक रिपोर्ट.

  • Flashback 2018: दुनिया भर में अपनी जमीन से जुदा होने को मजबूर हुई बड़ी आबादी

    Flashback 2018: दुनिया भर में अपनी जमीन से जुदा होने को मजबूर हुई बड़ी आबादी

    साल 2018 में पलायन (Migration) दुनिया के अलग-अलग हिस्सों में बड़ी समस्या बना रहा. कहीं युद्ध की विभीषिका ने लोगों को घर-बार छोड़कर भागने पर मजबूर किया तो कहीं प्राकृतिक विभीषिकाओं ने लोगों से उनका घर-द्वार छीन लिया. कहीं राजनीतिक कारणों से लोगों को नया आसरा तलाशना पड़ा तो कहीं विकास के नाम पर लोगों को अपनी पैतृक भूमि से जुदा होना पड़ा. यह समस्याएं दुनिया के कई देशों में अलग-अलग रूपों में सामने आईं.

  • Flashback 2018: साल 2018 में ये फिल्में रहीं ब्लॉकबस्टर, खान तिकड़ी साबित हुई फिसड्डी

    Flashback 2018: साल 2018 में ये फिल्में रहीं ब्लॉकबस्टर, खान तिकड़ी साबित हुई फिसड्डी

    वहीं आयुष्मान खुराना की 'बधाई हो' और 'अंधाधुन', राजकुमार राव की 'स्त्री', दीपिका-रणवीर की 'पद्मावत' जैसी फिल्में ही बॉक्स ऑफिस पर राज कर सकी. रणबीर कपूर की आई फिल्म संजय दत्त पर बनी बायोपिक 'संजू' पर अच्छा रिस्पॉन्स मिला. रणबीर कपूर अभिनीत "संजू" में संजय दत्त के युवा दिनों से ले कर जेल से रिहा होने तक के दिनों की यात्रा दिखाई गई है.

  • Flashback 2018: जब मूर्ति निर्माण और शहरों के नाम बदलकर विवादों मे घिरी सरकार

    Flashback 2018: जब मूर्ति निर्माण और शहरों के नाम बदलकर विवादों मे घिरी सरकार

    यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पिछले महीने अयोध्या में भगवान राम की भव्य 221 मूर्ति बनाने का ऐलान किया था. यह मूर्ति गुजरात के सरदार सरोवर में लगाई गई सरदार पटेल की मूर्ति स्टेच्यू ऑफ यूनिटी से भी ऊंची होगी. सीएम योगी के इस ऐलान का साधु-संतों ने कड़ा विरोध किया था.

  • Flashback 2018: जब बिहार की सियासत में दोस्त बने दुश्मन और दुश्मन हो गए दोस्त

    Flashback 2018: जब बिहार की सियासत में दोस्त बने दुश्मन और दुश्मन हो गए दोस्त

    बिहार की सियासत वैसे तो हर कदम अपने रंग बदलती है, मगर साल 2018 अन्य सालों की अपेक्षा थोड़ा अलग रहा. यहां की सियासत में न सिर्फ राजनीतिक छौंक दिखा, बल्कि पारिवारिक कलह भी खुलकर सामने आई. दरअसल, बिहार में साल 2018 राजनीतिक उठाक-पटक के रूप में याद किया जाएगा. 2018 के शुरुआत से ही जो नए सियासी समीकरण बनने-बिगड़ने का खेल शुरू हुआ, वह साल के अंत तक जारी रहा, जिसकी वजब से कई पुराने सियासी दोस्त दुश्मन बन गए, जबकि कई सियासी दुश्मन गलबहिया करते नजर आ आए. ऐसे में गुजरे वर्ष के सियासी समीकरणों ने देश में भी सुर्खियां बनीं. यह साल न केवल सियासी समीकरणों के उलटफेर के लिए याद किया जाएगा, बल्कि इस एक साल में राजनीतिक दोस्ती के परिवारिक संबंध बनने और उसके टूटने की कवायद के रूप में भी याद किया जाएगा.

  • बीते एक साल में आए इन बदलावों के दम पर क्या राहुल गांधी 2019 में बन पाएंगे भारत के प्रधानमंत्री

    बीते एक साल में आए इन बदलावों के दम पर क्या राहुल गांधी 2019 में बन पाएंगे भारत के प्रधानमंत्री

    तीन राज्यों में चुनाव जीतने के बाद अब कांग्रेस का आत्मविश्वास लौट आया है. कांग्रेस नेता अब 2019 के लोकसभा चुनाव में अब पीएम मोदी को हराने की रणनीति पर काम कर रहे हैं और उनको लगता है कि अब राहुल गांधी की अगुवाई में केंद्र में कांग्रेस की सरकर बन सकती है. लेकिन सवाल अभी वहीं कि क्या राहुल गांधी की फुल टाइम नेता बन गए हैं क्योंकि उनके ऊपर हमेशा से ही 'पार्ट टाइम' राजनीति का आरोप लगता रहा है.

  • Flashback 2018: इन 5 बड़े आंदोलनों ने खींचा पूरे देश का ध्यान...

    Flashback 2018: इन 5 बड़े आंदोलनों ने खींचा पूरे देश का ध्यान...

    Flashback2018: साल 2018 का समापन होने वाला है. बीते साल देश में कुछ बड़े आंदोलन हुए, जिससे कुछ बदलाव की भी झलक देखने को मिली. साल 2018 में देश के अन्नदाता कई बार सड़कों पर उतरे. कभी दिल्ली तो कभी महाराष्ट्र में किसानों ने अपनी आवाज बुलंद की. तो वहीं, SC/ST Act पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के विरोध में दलित संगठनों ने भारत बंद बुलाया, जिस दौरान 9 लोगों की मौत हो गई, वहीं कई अन्य घायल हो गए.

  • Flashback2018: बड़े रक्षा सौदे जिनसे बढ़ी भारत की ताकत

    Flashback2018: बड़े रक्षा सौदे जिनसे बढ़ी भारत की ताकत

    दुनिया में हथियार खरीदने वाले देशों में भारत का स्‍थान पहले नंबर पर आता है. इसमें सबसे बड़ा कारण भारत की भौगोलिक स्थिति है. भारत के पड़ोस में पाकिस्‍तान और चीन जैसे देश हैं. पाकिस्‍तान की तरफ से आतंकवाद के रूप में एक तरह से परोक्ष लड़ाई जारी ही रहती है तो दूसरी ओर चीन की गतिविधियां भी संदेह पैदा करती हैं. डोकलाम का मामला इसका सबसे बड़ा उदाहरण है.

  • FLASHBACK 2018: इन दस बड़े विवादों ने साल 2018 में कराई क्रिकेट की किरकिरी

    FLASHBACK 2018: इन दस बड़े विवादों ने साल 2018 में कराई क्रिकेट की किरकिरी

    विंडीज़ में खेले गए महिला वर्ल्ड T20 में सेमी-फ़ाइनल मैच के लिए दिग्गज खिलाड़ी मिताली राज को ड्रॉप किया गया तो टीम में पर्दे के पीछे चल रही परेशानियां सामने आ गई.

  • Flashback 2018: नेताओं के वो विवादित बयान, जो 2018 में बने सुर्खियां

    Flashback 2018: नेताओं के वो विवादित बयान, जो 2018 में बने सुर्खियां

    भाजपा हो या कांग्रेस, सपा हो या बसपा या कोई और दल, इस साल भी नेताओं की बदजुबानी पर लगाम नहीं लग सका. नेताओं के विवादित बोल हर तरफ चर्चा का विषय बने. भाजपा नेताओं के बिगड़े बोल पर तो खुद पीएम मोदी ने संज्ञान लिया और उन्हें फटकार लगाई. पीएम ने भाजपा नेताओं को संयम बरतने की सलाह दी, लेकिन नेताओं के विवादित बोल जारी रहे. कभी बीजेपी के सांसद अश्विनी कुमार चौबे ने पीएम मोदी की तारीफ करते-करते राहुल गांधी को 'नाली का कीड़ा' बता दिया. तो कभी सुरेंद्र सिंह ने अधिकारियों की तुलना वेश्या से की. यही हाल कांग्रेस के नेताओं का भी रहा. कभी पीएम के पिता पर सवाल उठाए तो कभी उनकी तुलना बिच्छू से की.

  • Flashback 2018: सुप्रीम कोर्ट ने 2018 में सुनाये ये 5 अहम फैसले, जो बन गए नजीर

    Flashback 2018: सुप्रीम कोर्ट ने 2018 में सुनाये ये 5 अहम फैसले, जो बन गए नजीर

    सुप्रीम कोर्ट के लिहाज से यह साल ऐतिहासिक रहा. कोर्ट के कई फैसले समानता और सशक्तिकरण की दिशा में नजीर बने. एक तरफ सुप्रीम कोर्ट ने 158 साल पुराने व्यभिचार-रोधी कानून को रद्द कर दिया है और कहा है कि व्यभिचार अपराध नहीं है. तो दूसरी तरफ धारा 377 को रद्द करते हुए कहा कि अब समलैंगिकता अपराध नहीं है.

  • Flashback 2018: यूपी में योगी आदित्यनाथ के शासनकाल में हुईं 7 घटनाएं, जिन्होंने देश को झकझोर दिया

    Flashback 2018: यूपी में योगी आदित्यनाथ के शासनकाल में हुईं 7 घटनाएं, जिन्होंने देश को झकझोर दिया

    यूपी में वर्ष 2018 में सात ऐसी घटनाएं हुईं, जिन्होंने योगी आदित्यनाथ सरकार(Yogi Adityanath Govt) में कानून-व्यवस्था को न केवल कटघरे में खड़ा किया, बल्कि पूरे देश को भी झकझोर दिया.

Advertisement