NDTV Khabar

Flood in bihar


'Flood in bihar' - 79 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • सीएम नीतीश कुमार ने पटना में भारी बारिश से हुये जलजमाव की उच्चस्तरीय समीक्षा की

    सीएम नीतीश कुमार ने पटना में भारी बारिश से हुये जलजमाव की उच्चस्तरीय समीक्षा की

    उन्होंने बताया कि एक कार्यकारी अभियंता को प्रशासनिक आधार पर तबादला कर दिया गया है. मुख्यमंत्री ने बताया कि इसके अलावा कई अन्य अधिकारियों को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया गया है व वेतन भुगतान बंद कर दिया गया है. कुमार ने बताया कि आज की बैठक में यह निर्णय लिया गया कि विकास आयुक्त की अध्यक्षता में एक कमेटी का गठन किया जाएगा जो एक महीने के अंदर जल जमाव से संबधित रिपोर्ट पेश करेगी. 

  • बिहार में बाढ़ के बाद अब डेंगू बनी बड़ी समस्या, 1400 से ज्यादा मामले आए सामने

    बिहार में बाढ़ के बाद अब डेंगू बनी बड़ी समस्या, 1400 से ज्यादा मामले आए सामने

    बता दें कि प्रशासन की तरफ से जारी आंकड़ों के अनुसार राज्यभर में डेंगू से प्रभावित मरीजों में 20 फीसदी मरीज की उम्र 17 साल या इससे कम है. राज्य सरकार की तरफ से खासतौर पर छात्रों के लिए एक एडवाइजरी भी जारी की गई है. जिसमें उनसे पूरे बाजू का शर्ट पहनने को कहा गया है. 

  • करीब एक महीने की देरी के बाद 10 अक्टूबर से लौटेगा मानसून: आईएमडी

    करीब एक महीने की देरी के बाद 10 अक्टूबर से लौटेगा मानसून: आईएमडी

    मौसम विभाग ने एक पूर्वानुमान में कहा, 'राजस्थान में औसत समुद्र तल से करीब डेढ़ किमी ऊपर छह अक्टूबर के आस-पास हवा के उच्च दबाव का क्षेत्र बनने के कारण उत्तर पश्चिमी भारत से 10 अक्तूबर के करीब दक्षिण-पश्चिम मानसून की वापसी शुरू होने की उम्मीद है.' 

  • NEWS FLASH: उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी घोषित, OBC वैश्य समाज के अजय कुमार लल्लू होंगे अध्यक्ष

    NEWS FLASH: उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी घोषित, OBC वैश्य समाज के अजय कुमार लल्लू होंगे अध्यक्ष

    देश-दुनिया की राजनीति, खेल एवं मनोरंजन जगत से जुड़े समाचार इसी एक पेज पर जानें...

  • Bihar: बाढ़ के बाद महामारी की आशंकाओं के बीच अस्पताल अलर्ट पर, जारी किए टोल फ्री नंबर

    Bihar: बाढ़ के बाद महामारी की आशंकाओं के बीच अस्पताल अलर्ट पर, जारी किए टोल फ्री नंबर

    पूरे प्रदेश में डेंगू और चिकनगुनया से प्रभावित लोगों की संख्या 900 के पार पहुंच गई है. जिसमें अकेले पटना में क़रीब 520 मामले हैं. शनिवार को डेंगू के 120 मामले पॉजिटिव पाए गए. जबकि चिकनगुनिया के भी 70 से ज़्यादा मामले सामने आ चुके हैं. महामारी की आशंकाओं के बीच बिहार सरकार ने सभी अस्पतालों को अलर्ट पर रखते हुए सभी सुविधाओं को जनता के लिए उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं.

  • बिहार में बाढ़ और बारिश के बाद अब डेंगू-चिकनगुनिया की मार, मरीजों की संख्या 900 के पार पहुंची

    बिहार में बाढ़ और बारिश के बाद अब डेंगू-चिकनगुनिया की मार, मरीजों की संख्या 900 के पार पहुंची

    बिहार में बाढ़, बारिश और जल जमाव से बुरे हालात हैं. राज्य में 160 से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है जबकि अब महामारी का ख़तरा मंडरा रहा है. पूरे प्रदेश में डेंगू और चिकनगुनया से प्रभावित लोगों की संख्या 900 के पार पहुंच गई है. जिसमें अकेले पटना में क़रीब 520 मामले हैं. शनिवार को डेंगू के 120 मामले पॉजिटिव पाए गए. जबकि चिकनगुनिया के भी 70 से ज़्यादा मामले सामने आ चुके हैं. वहीं पटना में हुई बाढ़ से दुदर्शा के बाद चारो ओर से घिरे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान का साथ मिला है.  हालांकि पासवान ने पटना का जल जमाव का कोई ज़िक्र तो नहीं किया लेकिन उन्होंने शनिवार को एक ट्वीट कर ज़रूर कहा कि राज्य के मुखिया के तौर पर आपने सुशासन की नयी परिभाषा लिखी है.   

  • भाजपा जलजमाव के बहाने आख़िर नीतीश कुमार को निशाने पर क्यों रख रही है?

    भाजपा जलजमाव के बहाने आख़िर नीतीश कुमार को निशाने पर क्यों रख रही है?

    बिहार की राजधानी पटना में जलजमाव के बहाने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को जितना विपक्षी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) की आलोचना का सामना नहीं करना पड़ रहा है उससे कहीं अधिक आलोचना उनको अपने सहयोगी भाजपा के नेताओं की झेलनी पड़ रही है जिसका नेतृत्व केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह कर रहे हैं.

  • पटना की मेयर जलजमाव के मुद्दे पर संवाददाता सम्मेलन में क्यों पानी पानी हो गयीं? देखें VIDEO

    पटना की मेयर जलजमाव के मुद्दे पर संवाददाता सम्मेलन में क्यों पानी पानी हो गयीं? देखें VIDEO

    पटना शहर में जल जमाव को लेकर प्रभावित इलाकों में सभी जनप्रतिनिधियों के खिलाफ गुस्‍सा है फिर चाहे वो मंत्री हों, विधायक या मेयर. इसका अंदाज़ा इन सबों को है लेकिन अब अपनी गलतियों को स्वीकार करने की बजाय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर सारा ठीकरा फ़ोड़ने की एक रणनीति के तहत ये लोग बारी-बारी से संवादाता सम्मेलन कर रहे हैं.

  • Bihar Floods: पटना में अब भी कई जगह जलजमाव, अब डेंगू और चिकनगुनिया का बढ़ा खतरा

    Bihar Floods: पटना में अब भी कई जगह जलजमाव, अब डेंगू और चिकनगुनिया का बढ़ा खतरा

    राजधानी पटना में बारिश थमने के बाद भी कई इलाकों में अभी भी पानी जमा है. कुछ इलाकों में पानी निकाला गया है जहां अब महामारी का ख़तरा बन गया है.

  • पटना में जलजमाव को लेकर बोले केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह- जो बाढ़ आया उसके लिए जनता नहीं हम जिम्मेदार

    पटना में जलजमाव को लेकर बोले केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह- जो बाढ़ आया उसके लिए जनता नहीं हम जिम्मेदार

    बेगूसराय में बुधवार को पत्रकारों से बात करते हुए गिरिराज ने कहा ''मैं बेगूसराय से जनप्रतिनिध हूं अगर यहां कुछ नहीं होता है तो कमियों को हम स्वीकारेंगे और जनता से क्षमा याचना करेंगे. राजग का हिस्सा होने के साथ पटना में भी भाजपा के कई सांसद हैं और वहां की जनता ने हमपर भरोसा किया. जो बाढ़ आया उसके लिए जनता नहीं हम जिम्मेदार हैं.

  • बिहार में बारिश रुकने के बाद जलजमाव बनी आफत, सीएम नीतीश कुमार ने किया प्रभावित इलाकों में निरीक्षण 

    बिहार में बारिश रुकने के बाद जलजमाव बनी आफत, सीएम नीतीश कुमार ने किया प्रभावित इलाकों में निरीक्षण 

    मुख्यमंत्री ने श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में चलाये जा रहे आपदा राहत बचाव कार्य के लिये राहत सामग्री आपूर्ति, भंडारण, पैकेटिंग एवं निर्गत केन्द्र का भी जायजा लिया. उन्होंने इसके पश्चात सैदपुर के जलजमाव वाले क्षेत्रों का जायजा लिया और अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये.

  • नीतीश कुमार को गुस्सा क्यों आता है

    नीतीश कुमार को गुस्सा क्यों आता है

    इस बात में कोई विवाद नहीं हैं कि जलजमाव के बहाने चमकी बुखार की तरह नीतीश कुमार को मीडिया का एक तबका जिसकी भक्ति उनके सहयोगी भाजपा सरकारों और नेताओं के लिए जगज़ाहिर हैं के निशाने पर वो एक बार फिर हैं. नीतीश सरकार ने पटना के टाउन प्लानिंग की अपने शासन काल में जमकर उपेक्षा की इस बात पर कोई दो मत नहीं हैं. इसका खामियाजा पटना के लोगों को उठाना पड़ रहा है. लेकिन यह भी सच है कि जिस नगर विकास विभाग, नगर निगम या अन्य संस्थाओं ( जिनका जिम्मेदारी राजधानी पटना का विकास करना है) के बॉस भाजपा के लोग रहे. खासकर उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी. पटना में सभी विधायक भाजपा के हैं.

  • पटना के ड्रेनेज सिस्‍टम पर कितना ध्‍यान दिया गया?

    पटना के ड्रेनेज सिस्‍टम पर कितना ध्‍यान दिया गया?

    आप चैनलों पर बाढ़ का कवरेज देख रहे होंगे. लेकिन थोड़ा ध्यान से देखिए. आप देख रहे होंगे कि नाव पर रिपोर्टर है जो पानी दिखा रहा है. परेशान लोग चीख रहे हैं और सरकार को कोस रहे हैं. मंत्री बादलों को कोस रहे हैं और आश्वासन दे रहे हैं. स्क्रीन पर सरकार को कोसने वाले नारे लिखे गए हैं. कहां हैं सरकार से लेकर शर्म करो नीतीश कुमार तक. यहां तक बिल्कुल ठीक है और लोगों की परेशानी को सामने लाना बेहद ज़रूरी भी लेकिन सुबह से शाम तक इसी तरह रिपोर्टिंग देखते देखते क्या आप जान पाते हैं कि पटना शहर में नगर विकास को लेकर पिछले दिनों क्या हुआ, क्या यह सिर्फ प्रकृति की मार थी या अफसरों और योजना बनाने वालों की लापरवाही थी. इस संकट का ज़िम्मेदार कौन है?

  • गृह राज्य मंत्री किशन रेड्डी ने बिहार की बाढ़ पर जताई चिंता, कहा- जरूरत पर रवानगी के लिए तैयार हैं अर्द्धसैनिक बल

    गृह राज्य मंत्री किशन रेड्डी ने बिहार की बाढ़ पर जताई चिंता, कहा- जरूरत पर रवानगी के लिए तैयार हैं अर्द्धसैनिक बल

    केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने बिहार में बाढ़ की स्थिति को गंभीर बताते हुए राज्य को हर संभव मदद का आश्वासन दिया.

  • पटना बाढ़ में फंसा मिला रिक्शावाला, बॉलीवुड एक्ट्रेस ने वीडियो शेयर कर उतारा गुस्सा- इसे देखकर भी आंख...

    पटना बाढ़ में फंसा मिला रिक्शावाला, बॉलीवुड एक्ट्रेस ने वीडियो शेयर कर उतारा गुस्सा- इसे देखकर भी आंख...

    उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) और बिहार (Bihar) में बीते कुछ दिनों से हो रही लगातार बारिश ने आम लोगों की समस्या को बढ़ा दिया है. राज्य के हर गली-कूचे में पानी भर गया है. मौसम विभाग के अनुसार मॉनसून ने करीब 25 साल का रिकॉर्ड तोड़ा है. इससे पहले साल 1994 में भी मॉनसून ने अपना कहर दिखाया था.

  • बाढ़ के बीच लड़की ने ऐसे कराया Photoshoot, लोग बोले- 'पटना को गोवा बना दिया...' देखें VIDEO

    बाढ़ के बीच लड़की ने ऐसे कराया Photoshoot, लोग बोले- 'पटना को गोवा बना दिया...' देखें VIDEO

    बिहार (Bihar) की राजधानी पटना (Patna) सहित राज्य के कई जिलों के हजारों लोग भले ही बाढ़ और बारिश के पानी में घिरे हों, परंतु पटना की सड़कों पर पानी में नेशनल इंस्टीटयूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी की एक छात्रा अदिति सिंह अपना फोटो शूट कराकर चर्चा बटोर रही हैं.

  • बिहार के पानी-पानी होने की कहानी

    बिहार के पानी-पानी होने की कहानी

    गनीमत है कि बगल की गंगा के कारण पटना में पानी नहीं जमा है. आप सोच रहे होंगे कि इस तबाही के बाद पटना गंभीर हो जाएगा तो आप फणीश्वर नाथ रेणु को पढ़िए. बाढ़ पर उससे अच्छी रिपोर्टिंग आपको नहीं मिलेगी. 1975 की बाढ़ का रिपोर्ताज ऋणजल धनजल नाम से प्रकाशित है. उसमें जो पटना दिख रहा है वो आज भी वैसा ही है. समय की सारी अवधारणाओं को ध्वस्त करते हुए अपनी अव्यवस्थाओं से परे पटना के लोग लाचार सरकार की तरफ नहीं

  • बिहार में बाढ़, फिर कहां गायब हो गए विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव?

    बिहार में बाढ़, फिर कहां गायब हो गए विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव?

    बिहार में जब भी कोई त्रासदी होती है तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार की खिंचाई करने के साथ-साथ एक सवाल पूछा जाता है, कहां हैं विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव? लोकसभा चुनाव के बाद यह सिलसिला, चमकी बुखार, विधानसभा सत्र और जुलाई महीने में बाढ़ के समय से जो शुरू हुआ तो खत्म होने का नाम नहीं ले रहा. जब राजधानी पटना शहर पानी में डूबा हुआ है, एक बार फिर तेजस्वी यादव नदारद हैं. तेजस्वी हालांकि एक के बाद एक ट्वीट कर सरकार पर हमला कर रहे हैं, लेकिन उनकी पार्टी के नेता भी इस सवाल का जवाब देने में अब हाथ खड़े कर देते हैं कि आखिर तेजस्वी कहां हैं, और पटना कब आएंगे?

Advertisement