NDTV Khabar

Gautam navlakha


'Gautam navlakha' - 9 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • NEWS FLASH: भीमा कोरेगांव मामला: पुणे की अदालत ने गौतम नवलखा की अग्रिम जमानत याचिका खारिज की

    NEWS FLASH:  भीमा कोरेगांव मामला: पुणे की अदालत ने गौतम नवलखा की अग्रिम जमानत याचिका खारिज की

    देश-दुनिया की राजनीति, खेल एवं मनोरंजन जगत से जुड़े समाचार इसी एक पेज पर जानें...

  • NEWS FLASH: महाराष्‍ट्र में शिवसेना को समर्थन देने पर कांग्रेस ने अभी फैसला नहीं लिया है : मल्लिकार्जुन खड़गे

    NEWS FLASH: महाराष्‍ट्र में शिवसेना को समर्थन देने पर कांग्रेस ने अभी फैसला नहीं लिया है : मल्लिकार्जुन खड़गे

    देश-दुनिया की राजनीति, खेल एवं मनोरंजन जगत से जुड़े समाचार इसी एक पेज पर जानें...

  • कोरेगांव-भीमा मामले में गौतम नवलखा को राहत, गिरफ्तारी से सुरक्षा की अवधि 4 हफ्ते के लिए बढ़ी

    कोरेगांव-भीमा मामले में गौतम नवलखा को राहत, गिरफ्तारी से सुरक्षा की अवधि 4 हफ्ते के लिए बढ़ी

    न्यायमूर्ति अरूण मिश्रा और न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता की पीठ ने गौतम नवलखा से कहा कि इस मामले में गिरफ्तारी से पहले जमानत के लिये वह संबंधित अदालत में जाएं. महाराष्ट्र सरकार के वकील ने जब नवलखा को और अंतरिम संरक्षण दिये जाने का विरोध किया तो पीठ ने सवाल किया कि उन्होंने एक साल से ज्यादा समय तक उनसे पूछताछ क्यों नहीं की थी. 

  • प्रधानमंत्री को खत लिखना कब गुनाह हो गया?

    प्रधानमंत्री को खत लिखना कब गुनाह हो गया?

    भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में एक आरोपी गौतम नवलखा के मामले की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में हुई. जस्टिस अरुण मिश्र और जस्टिस दीपक गुप्ता की बेंच में सुनवाई हुई. गौतम नवलखा के वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि जनवरी 2018 में जब एफआईआर हुई थी उसमें गौतम नवलखा का नाम नहीं है. अगस्त 2018 से उनकी गिरफ्तारी पर अदालत की तरफ से रोक लगी है मगर तब से लेकर अब तक पुलिस ने उनसे कोई पूछताछ नहीं की है. गौतम नवलखा हिंसा के ख़िलाफ हैं. वे सीपीआई माओइस्ट के सदस्य नहीं हैं. सिर्फ कुछ ज़ब्त काग़ज़ात के आधार पर कार्रवाई की गई है. सिंघवी ने कोर्ट से मांग की कि गौतम नवलखा को अदालत से मिला संरक्षण बढ़ाया जाना चाहिए तिस पर अदालत ने आदेश दिया है कि जब तक इस मामले की सुनवाई चल रही है, गिरफ्तारी नहीं हो.

  • जब तक सुनवाई जारी है, गौतम नवलखा को गिरफ्तार न किया जाए : सुप्रीम कोर्ट

    जब तक सुनवाई जारी है, गौतम नवलखा को गिरफ्तार न किया जाए : सुप्रीम कोर्ट

    भीमा कोरेगांव केस में सुप्रीम कोर्ट ने गौतम नवलखा को राहत देते हुए महाराष्ट्र सरकार से कहा है कि जब तक कोर्ट में सुनवाई जारी है उनको गिरफ्तार नहीं किया जाए. सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार से नवलखा के खिलाफ सबूत भी मांगे हैं. मामले की अगली सुनवाई 15 अक्टूबर को 3 बजे होगी इससे पहले महाराष्ट्र सरकार ने नवलखा की याचिका का विरोध किया था.

  • भीमा कोरेगांव हिंसा मामला: गौतम नवलखा की याचिका पर सुनवाई से जस्टिस भट्ट ने खुद को किया अलग, अब तक पांच जज हो चुके हैं अलग

    भीमा कोरेगांव हिंसा मामला: गौतम नवलखा की याचिका पर सुनवाई से जस्टिस भट्ट ने खुद को किया अलग, अब तक पांच जज हो चुके हैं अलग

    13 सितंबर को बॉम्बे हाई कोर्ट ने भीमा-कोरेगांव हिंसा और माओवादियों के साथ कथित जुड़ाव के लिए गौतम नवलखा के खिलाफ दर्ज मामले को खारिज करने से इनकार करते हुए कहा था कि मामले में प्रथम दृष्टया तथ्य दिखता है.न्यायमूर्ति रंजीत मोरे और न्यायमूर्ति भारती डांगरे की पीठ ने कहा था, मामले की व्यापकता को देखते हुए हमें लगता है कि पूरी छानबीन जरूरी है. पीठ ने कहा कि यह बिना आधार और सबूत वाला मामला नहीं है.

  • भीमा कोरेगांवः सुप्रीम कोर्ट ने दिया पांचों आरोपियों को झटका, बॉम्बे हाई कोर्ट के फैसले पर लगाई रोक

    भीमा कोरेगांवः सुप्रीम कोर्ट ने दिया पांचों आरोपियों को झटका, बॉम्बे हाई कोर्ट के फैसले पर लगाई रोक

    भीमा कोरेगांव मामले में गिरफ्तार पांच आरोपियों को सुप्रीम कोर्ट से राहत नहीं मिली है.पुणे पुलिस को चार्जशीट दाखिल करने के लिए और वक्त मिल गया है. सुप्रीम कोर्ट ने बॉम्बे हाईकोर्ट के उस फैसले पर रोक लगा दी, जिसमें  हाईकोर्ट ने पुणे पुलिस को आरोपत्र दाखिल करने के लिए 90 दिन की मोहलत देने के निचली अदालत के आदेश को रद्द कर दिया था.

  • भीमा कोरेगांव मामला : गौतम नवलखा को अाजाद करने का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा

    भीमा कोरेगांव मामला : गौतम नवलखा को अाजाद करने का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा

    भीमा कोरेगांव मामले में गौतम नवलखा को अाजाद करने का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है. दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई है. महाराष्ट्र सरकार ने इस फैसले को चुनौती दी है. ट्रांजिट रिमांड रद्द करने और हाउस अरेस्ट हटाने के फैसले को चुनौती दी गई है और याचिका में हाईकोर्ट के आदेश पर रोक लगाकर तुरंत हाउस अरेस्ट के आदेश बहाल करने की मांग है. या

  • भीमा कोरेगांव मामले में नजरबंद मानवाधिकार कार्यकर्ता गौतम नवलखा का हाउस अरेस्ट खत्म

    भीमा कोरेगांव मामले में नजरबंद मानवाधिकार कार्यकर्ता गौतम नवलखा का हाउस अरेस्ट खत्म

    भीमा-कोरेगांव हिंसा (Bhima Koregaon Case) के सिलसिले में नक्सल से जुड़े होने के आरोप में अपने घर में ही नजरबंद मानवाधिकार कार्यकर्ता गौतम नवलखा की ट्रांजिट रिमांड संबंधी याचिका खारिज हो गई. दिल्ली हाईकोर्ट ने गौतम नवलखा को नजरबंदी से मुक्त करने की इजाजत दे दी. दिल्ली हाईकोर्ट ने नवलखा को राहत देते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने पिछले हफ्ते उन्हें आगे के उपायों के लिए चार हफ्तों के अंदर उपयुक्त अदालत का रुख करने की छूट दी थी, जिसका उन्होंने उपयोग किया है. हाईकोर्ट ने निचली अदालत की ट्रांजिट रिमांड के आदेश को भी रद्द कर दिया. मामले को शीर्ष न्यायालय में ले जाए जाने से पहले इस आदेश को चुनौती दी गई थी. दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा कि नवलखा को 24 घंटे से अधिक समय हिरासत में रखा गया, जिसे उचित नहीं ठहराया जा सकता.