NDTV Khabar

Govt jobs


'Govt jobs' - 181 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • इंजीनियरिंग में डिग्री प्राप्‍त उम्‍मीदवारों को नहीं मिल सकती जूनियर इंजीनियर की नौकरी: कोर्ट

    इंजीनियरिंग में डिग्री प्राप्‍त उम्‍मीदवारों को नहीं मिल सकती जूनियर इंजीनियर की नौकरी: कोर्ट

    इंजीनियरिंग में डिग्री प्राप्त उम्मीदवारों द्वारा दायर कई याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए अदालत ने यह आदेश पारित किया. इन उम्मीदवारों को चयन प्रक्रिया में शामिल होने की अनुमति नहीं थी.

  • मध्‍य प्रदेश में 40 की उम्र तक मिलेगी सरकारी नौकरी, सरकार ने जारी किए आदेश

    मध्‍य प्रदेश में 40 की उम्र तक मिलेगी सरकारी नौकरी, सरकार ने जारी किए आदेश

    मध्‍य प्रदेश लोक सेवा आयोग से भरे जाने वाले इन वर्गों के लिए उम्र-सीमा 21 से 45 वर्ष और लोक सेवा आयोग की परिधि के बाहर के पदों पर 18 से 45 वर्ष की उम्र सीधी भर्ती के पदों पर नियुक्ति के लिए निर्धारित की गई है.

  • गोवा में नौकरियों और शिक्षा में आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को मिलेगा आरक्षण, लागू होगा EWS कोटा

    गोवा में नौकरियों और शिक्षा में आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को मिलेगा आरक्षण, लागू होगा EWS कोटा

    गोवा सरकार (Goa Government) ने अपने सभी विभागों, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों और शैक्षणिक संस्थानों को आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों (EWS) को नौकरियों और शिक्षा में 10 प्रतिशत आरक्षण की व्यवस्था लागू करने का आदेश दिया है. सरकार ने शुक्रवार को यह आदेश जारी किया. 

  • कॉरपोरेट सेक्टर में घटी नौकरियां और सैलरी, देश छोड़ कर भागे 36 बिजनेसमैन

    कॉरपोरेट सेक्टर में घटी नौकरियां और सैलरी, देश छोड़ कर भागे 36 बिजनेसमैन

    अगर मीडिया रिपोर्ट सही है, उनसे नौजवानों ने यही कहा है तो फिर नरेंद्र मोदी का यह कमाल ही माना जाएगा कि उन्होंने बेरोज़गारों के बीच ही बेरोज़गारी का मुद्दा ख़त्म कर दिया.

  • राहुल गांधी का ऐलान- सत्ता में आए तो अगले साल 31 मार्च तक भर देंगे 22 लाख वैकेंसी

    राहुल गांधी का ऐलान- सत्ता में आए तो अगले साल 31 मार्च तक भर देंगे 22 लाख वैकेंसी

    राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने ट्वीट किया, ‘आज सरकार में 22 लाख नौकरी की रिक्तियां हैं. हम 31 मार्च 2020 तक इन रिक्तियों को भरेंगे.’ उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य, शिक्षा आदि के लिए केंद्र द्वारा प्रत्येक राज्य सरकार को धनराशि हस्तांतरण को भरे जाने वाले इन रिक्त पदों से जोड़ा जाएगा.

  • UPSSSC Chakbandi Lekhpal: यूपी सरकार ने चकबंदी लेखपाल की भर्ती की रद्द, 1364 पदों पर मांगे थे आवेदन

    UPSSSC Chakbandi Lekhpal: यूपी सरकार ने चकबंदी लेखपाल की भर्ती की रद्द, 1364 पदों पर मांगे थे आवेदन

    इन 1364 पदों में से अनारक्षित श्रेणी के 1002 पदों तथा अनुसूचित जाति श्रेणी के 362 पदों का विज्ञापन निकाला गया, उसमें अन्य पिछड़ा वर्ग श्रेणी तथा अनुसूचित जनजाति श्रेणी के लिए भी पद नहीं था. इसी को ध्यान में रखते हुए शासन ने भर्ती की प्रक्रिया को तत्काल प्रभाव से निरस्त करते हुए प्रकरण की जांच कराए जाने का निर्णय भी लिया है.

  • सरकार का 2017 से 2019 तक 3.79 लाख से अधिक नौकरियां सृजित करने का दावा...

    सरकार का 2017 से 2019 तक 3.79 लाख से अधिक नौकरियां सृजित करने का दावा...

    देश में बेरोजगारी बढ़ने पर चल रही बहस के बीच मोदी सरकार ने विभिन्न प्रतिष्ठानों में साल 2017 और 2019 के बीच 3.79 लाख से ज्यादा नौकरियां सृजित होने का दावा किया. सरकार ने कहा कि उसने 2017 और 2018 के बीच केंद्र सरकार के प्रतिष्ठानों में 2,51,279 नौकरियां सृजित की. वित्त मंत्री पीयूष गोयल द्वारा एक फरवरी को पेश किए अंतरिम बजट के दस्तावेजों के विश्लेषण से पता चलता है कि 1 मार्च 2019 तक सरकार द्वारा सृजित नौकरियां 3,79,544 से बढ़कर 36,15,770 पर पहुंच जाएंगी.

  • NDTV ने RTI के जरिए पूछा- MUDRA योजना से कितनों को मिला रोजगार? सवाल खा गई मोदी सरकार

    NDTV ने RTI के जरिए पूछा- MUDRA योजना से कितनों को मिला रोजगार? सवाल खा गई मोदी सरकार

    सरकार का दावा है कि इस योजना के तहत स्कीम शुरू होने के बाद से 7.3 लाख करोड़ रुपये के 15.56 करोड़ लोन दिए गए हैं. सार्वजनिक तौर पर जो आंकड़ा है, वह तो इससे मिल रहा है, लेकिन स्कीम के तहत कितना रोजगार पैदा हुआ इसकी सच्चाई क्या है? यह जानने के लिए एनडीटीवी ने सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय में आरटीआई फाइल करके जानकारी मांगी कि मुद्रा योजना के तहत कितना रोजगार पैदा हुआ?

  • 45 साल में सबसे ज़्यादा बेरोज़गारी की रिपोर्ट से डर गई सरकार

    45 साल में सबसे ज़्यादा बेरोज़गारी की रिपोर्ट से डर गई सरकार

    बिज़नेस स्टैंडर्ड के सोमेश झा ने इस रिपोर्ट की बातें सामने ला दी है. एक रिपोर्टर का यही काम होता है. जो सरकार छिपाए उसे बाहर ला दे. अब सोचिए अगर सरकार खुद यह रिपोर्ट जारी करे कि 2017-18 में बेरोज़गारी की दर 6.1 हो गई थी जो 45 साल में सबसे अधिक है तो उसकी नाकामियों का ढोल फट जाएगा. इतनी बेरोज़गारी तो 1972-73 में थी. शहरों में तो बेरोज़गारी की दर 7.8 प्रतिशत हो गई थी और काम न मिलने के कारण लोग घरों में बैठने लगे थे.

  • Railway Jobs: मोदी सरकार ने रेलवे में 4 लाख नौकरियों का किया ऐलान, तो कांग्रेस बोली- एक और जुमला

    Railway Jobs: मोदी सरकार ने रेलवे में 4 लाख नौकरियों का किया ऐलान, तो कांग्रेस बोली- एक और जुमला

    लोकसभा चुनाव से ठीक पहले रेल मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) की ओर से रेलवे में चार लाख भर्तियां (RRB Recruitment 2019) करने संबंधी ऐलान को कांग्रेस ने एक और जुमला बताया है.

  • चुनाव से पहले आरक्षण का मुद्दा गर्माने की तैयारी?

    चुनाव से पहले आरक्षण का मुद्दा गर्माने की तैयारी?

    नौकरियां कहां हैं, धीरे धीरे जब नौकरी का सवाल बड़ा हो रहा था, ऐसे आंकड़े आ रहे थे कि पिछले साल शहरों और गांवों में एक करोड़ लोगों की नौकरियां चली गई हैं, मोदी सरकार ने 10 फीसदी आरक्षण देने का फैसला कर लिया है, बल्कि संसद के शीतकालीन सत्र के आखिरी दिन यानी 8 जनवरी को संविधान संशोधन विधेयक भी पेश किया जाएगा.

  • आर्थिक रूप से पिछड़ों को आरक्षण, जानिए किनको मिलेगा लाभ...

    आर्थिक रूप से पिछड़ों को आरक्षण, जानिए किनको मिलेगा लाभ...

    नरेंद्र मोदी सरकार ने आर्थिक रूप से कमजोर सवर्णों को सरकारी नौकरी में आरक्षण देने का फैसला किया है. सवर्णों को सरकारी नौकरी और उच्च शिक्षण संस्थानों में प्रवेश के लिए 10 फीसदी आरक्षण मिलेगा. यह आरक्षण मौजूदा 50 फीसदी की सीमा से अलग होगा.

  • लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार का बड़ा ऐलान: गरीब सवर्णों को सरकारी नौकरी और शिक्षण संस्थानों में मिलेगा आरक्षण

    लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार का बड़ा ऐलान: गरीब सवर्णों को सरकारी नौकरी और शिक्षण संस्थानों में मिलेगा आरक्षण

    नरेंद्र मोदी सरकार ने आर्थिक रूप से कमजोर सवर्णों को सरकारी नौकरी में आरक्षण देने का फैसला किया है. ऐसे सवर्णों को सरकारी नौकरी में 10 फीसदी आरक्षण मिलेगा, यह आरक्षण 50 फीसदी की सीमा से अलग होगा. इसके लिए सरकार संविधान संशोधन बिल लेकर आएगी. संसद में संविधान संशोधन बिल मंगलवार को आ सकता है.

  • रेल भर्ती के हों या यूपी पुलिस भर्ती के, कब तक होगा ऐसा

    रेल भर्ती के हों या यूपी पुलिस भर्ती के, कब तक होगा ऐसा

    सरकारी नौकरी से संबंधित समस्याओं को देखकर लगता है कि एक समस्या खुद नौजवान भी हैं. अलग-अलग भर्ती परीक्षा के नौजवान अपनी परीक्षा के आंदोलन में तो जाते हैं मगर दूसरी परीक्षा के पीड़ित नौजवानों से कोई सहानुभूति नहीं रखते.

  • Bihar के शिक्षा मंत्री का बड़ा ऐलान, डेढ़ लाख शिक्षकों की होगी नियुक्ति, TET की पात्रता अवधि में भी होगा विस्तार

    Bihar के शिक्षा मंत्री का बड़ा ऐलान, डेढ़ लाख शिक्षकों की होगी नियुक्ति, TET की पात्रता अवधि में भी होगा विस्तार

    शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा ने कहा कि शिक्षकों के खाली करीब डेढ़ लाख पदों पर जल्द नियुक्ति की जाएगी. उन्होंने कहा कि टीईटी में सफल अभ्यर्थियों को निराश होने की जरूरत नहीं है, सुप्रीम कोर्ट में चल रहे मामले में फैसले के बाद शिक्षकों के खाली पदों पर नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू की जाएगी.

  • Bihar में 8वीं, 10वीं और ग्रेजुएट के लिए निकली बंपर वैकेंसी, 50 हजार तक होगी सैलरी

    Bihar में 8वीं, 10वीं और ग्रेजुएट के लिए निकली बंपर वैकेंसी, 50 हजार तक होगी सैलरी

    बिहार में बंपर सरकारी नौकरियां निकली हैं. स्टेट सोसाइटी फॉर अल्ट्रा पुअर एंड सोशल वेलफेयर (SAKSHAM) ने टेक्निशियन, मैनेजर, एडमिन, कुक, ड्राइवर समेत कई पदों पर भर्ती के लिए वैकेंसी निकाली हैं. उम्मीदवारों को कांट्रेट बेस पर नियुक्त किया जाएगा.

  • नौकरियों से परेशान युवा अब मुझे मैसेज भेजना बंद कर दें, प्रधानमंत्री को भेजें

    नौकरियों से परेशान युवा अब मुझे मैसेज भेजना बंद कर दें, प्रधानमंत्री को भेजें

    EPFO ने फिर से नौकरियों को लेकर डेटा जारी किया है. सितंबर 2017 से जुलाई 2018 के बीच नौकरियों के डेटा को EPFO ने कई बार समीक्षा की है. इस बार इनका कहना है कि 11 महीने में 62 लाख लोग पे-रोल से जुड़े हैं. इनमें से 15 लाख वो हैं जिन्होंने EPFO को छोड़ा और फिर कुछ समय के बाद अपना खाता खुलवा लिया. यह दो स्थिति में होता है. या तो आप कोई नई संस्था से जुड़ते हैं या बिजनेस करने लगते हैं जिसे छोड़ कर वापस फिर से नौकरी में आ जाते हैं.

  • सरकारी नौकरियों में ज्वाइनिंग में देरी क्यों?

    सरकारी नौकरियों में ज्वाइनिंग में देरी क्यों?

    मुझे पता है कि आज भी नेताओं ने बड़े-बड़े बयान दिए हैं. बहस के गरमा गरम मुद्दे दिए हैं. लेकिन मैं आज आपको सुमित के बारे में बताना चाहता हूं. इसलिए बता रहा हूं ताकि आप यह समझ सकें कि इस मुद्दे को क्यों देश की प्राथमिकता सूची में पहले नंबर पर लाना ज़रूरी है. सुमित उस भारत के नौजवानों का प्रतिनिधित्व करता है जिसकी संख्या करोड़ों में है. जिन्हें सियासत और सिस्टम सिर्फ उल्लू बनाती है. जिनके लिए पॉलिटिक्स में आए दिन भावुक मुद्दों को गढ़ा जाता है, ताकि ऐसे नौजवानों को बहकाया जा सके. क्योंकि सबको पता है कि जिस दिन सुमित जैसे नौजवानों को इन भावुक मुद्दों का खेल समझ आ गया उस दिन सियासी नेताओं का खेल खत्म हो जाएगा. मगर चिंता मत कीजिए. इस लड़ाई में हमेशा सियासी नेता ही जीतेंगे. उन्हें आप बदल सकते हैं, हरा नहीं सकते हैं. इसलिए सुमित जैसे नौजवानों को हार जाना पड़ता है.