NDTV Khabar

Grand alliance


'Grand alliance' - 92 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • झारखंड चुनाव : हेमंत सोरेन होंगे महागठबंधन के सीएम पद का चेहरा, सीटों का बंटवारा हुआ

    झारखंड चुनाव : हेमंत सोरेन होंगे महागठबंधन के सीएम पद का चेहरा, सीटों का बंटवारा हुआ

    झारखंड में हेमंत सोरेन महागठबंधन के मुख्यमंत्री पद का चेहरा होंगे. महागठबंधन उनके नेतृत्व में ही चुनाव लड़ेगा. यह घोषणा कांग्रेस के महासचिव और झारखंड के प्रभारी आरपीएन सिंह ने आज एक संवाददाता सम्मेलन में की. महागठबंधन के तीनों दलों झारखंड मुक्ति मोर्चा, कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल के बीच सीटों का बंटवारा हो गया है. झारखंड के महागठबंधन में झारखंड मुक्ति मोर्चा 43, कांग्रेस 31 और राष्ट्रीय जनता दल 7 सीटों पर चुनाव लड़ेगा. राष्ट्रीय जनता दल को देवघर, गोड्डा, कोडरमा, चतरा, बरकटा, छतरपुर और हुसैनाबाद सीटें मिली हैं.

  • SP-BSP गठबंधन पर आदित्यनाथ का हमला, कहा- नंदी बाबा सपा की सभाओं में पूछते हैं कसाइयों के मित्र कहां हैं?

    SP-BSP गठबंधन पर आदित्यनाथ का हमला, कहा- नंदी बाबा सपा की सभाओं में पूछते हैं कसाइयों के मित्र कहां हैं?

    लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections 2019) के छह चरण पूरे हो चुके हैं. 7वें और अंतिम चरण से पहले सभी पार्टियां पूरे दमखम से प्रचार में जुटी हुई हैं. आखिरी चरण में कुल 59 सीटों पर मतदान होने हैं. नतीजे 23 मई को आएंगे. इन सबके बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी लगातार जारी है. इसी कड़ी में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने सोमवार को कुशीनगर में सपा-बसपा गठबंधन (SP-BSP Alliance) पर जमकर हमला बोला. हाल ही में कन्नौज में सपा-बसपा गठबंधन की रैली में सांड घुसने की घटना का जिक्र करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि नंदी बाबा भी सपा की सभा में पूछते हैं कि कसाइयों के मित्र कहां हैं, उन्हें ठीक कर देता हूं?

  • बिहार महागठबंधन ने कन्हैया कुमार को नहीं दिया 'भाव', क्या तेजस्वी यादव की है भूमिका? जानें पूरा मामला 

    बिहार महागठबंधन ने कन्हैया कुमार को नहीं दिया 'भाव', क्या तेजस्वी यादव की है भूमिका? जानें पूरा मामला 

    लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) को लेकर बिहार महागठबंधन (Bihar Mahagathbandhan) में सीटों बंटवारा हो गया. हालांकि जेएनयू (JNU) छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार (Kanhaiya Kumar News) का नाम इसमें नहीं है. ऐसी उम्मीद जताई जा रही थी कि कन्हैया कुमार (Kanhaiya Kumar) महागठबंधन की तरफ से बेगूसराय (Begusarai) से चुनाव लड़ेंगे. सीपीआई (CPI) ने बेगूसराय से कन्‍हैया कुमार को अपना उम्‍मीदवार बनाया हुआ है. लेकिन महागठबंधन ने कोई भी सीट सीपीआई (CPI) को नहीं दी है.

  • प्रशांत किशोर ने नीतीश कुमार के खिलाफ कुछ नहीं बोला? तो फिर JDU में 'हंगामा है क्यों बरपा'

    प्रशांत किशोर ने नीतीश कुमार के खिलाफ कुछ नहीं बोला? तो फिर JDU में 'हंगामा है क्यों बरपा'

    कहा जाता है कि बिहार की सियासत में अगर हवा की रफ्तार भी बदलती है तो उसमें भी उसके सियासी मायने ढूंढने की कोशिश की जाती है. यही वजह है कि बीते दिनों बिहार के मुजफ्फरपुर में प्रशांत किशोर के बयान के कई मायने निकालने की कवायद तेज हो चुकी है.

  • VIDEO: यही है प्रशांत किशोर का 'प्रधानमंत्री-मुख्यमंत्री' वाला वह बयान, जिस पर जदयू भी है खिलाफ

    VIDEO: यही है प्रशांत किशोर का 'प्रधानमंत्री-मुख्यमंत्री' वाला वह बयान, जिस पर जदयू भी है खिलाफ

    बिहार की सियासत एक बार फिर से चर्चा के केंद्र में है. बीते दिनों चुनावी रणनीतिकार और जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने एक ऐसा बयान दिया कि जदयू ही उनके बयान से इत्तेफाक रखने को तैयार नहीं है.

  • प्रशांत किशोर के बयान से JDU में खलबली: जानें नीतीश के किस सियासी फैसले को बताया 'बड़ी गलती'

    प्रशांत किशोर के बयान से JDU में खलबली: जानें नीतीश के किस सियासी फैसले को बताया 'बड़ी गलती'

    आगामी लोकसभा चुनाव से ठीक पहले रणनीतिकाकर और जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) का एक बयान सियासी भूचाल ला सकता है.

  • पुलवामा के बहाने महागठबंधन में एकजुटता की कोशिशें तेज, इन दो नेताओं ने शुरू की ममता और केजरीवाल की कांग्रेस से हाथ मिलवाने की कवायद !

    पुलवामा के बहाने महागठबंधन में एकजुटता की कोशिशें तेज, इन दो नेताओं ने शुरू की ममता और केजरीवाल की कांग्रेस से हाथ मिलवाने की कवायद !

    पुलवामा आतंकी हमले (Pulwama Terror Attack) के बाद वायुसेना (IAF) द्वारा पाकिस्तान के बालाकोट में किए गए 'सर्जिकल स्ट्राइक-2' से देश का सियासी माहौल बदल गया है. पाकिस्तान के बालाकोट में एयर स्ट्राइक के बाद मजबूती से उभरे बीजेपी का मुकाबला करने के लिए विपक्ष को 'महागठबंधन' को लेकर एक बार फिर से विचार करने पर मजबूर कर दिया है.

  • NDA की मेगा रैली से पहले तेजस्वी यादव ने साधा निशाना- मोदी जी, शहीदों की चिता भी ठंडी नहीं हुई, आप किस मुंह से बिहार आ रहे हैं?

    NDA की मेगा रैली से पहले तेजस्वी यादव ने साधा निशाना- मोदी जी, शहीदों की चिता भी ठंडी नहीं हुई, आप किस मुंह से बिहार आ रहे हैं?

    कई सफल रैलियों के गवाह रहे गांधी मैदान में पहली बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिहार में किसी चुनावी रैली को एक साथ संबोधित करेंगे. इस रैली में इन दोनों नेताओं के अलावा राजग में शामिल लोक जनशक्ति पार्टी के प्रमुख रामविलास पासवान भी संबोधित करेंगे. राजग के तीनों प्रमुख नेता राजनीतिक रूप से महत्वपूर्ण इस राज्य में लोकसभा चुनाव का बिगुल बजाएंगे जहां लोकसभा की 40 सीटें हैं.

  • 10 साल बाद राजनीतिक मंच पर पीएम मोदी और नीतीश कुमार एक साथ

    10 साल बाद राजनीतिक मंच पर पीएम मोदी और नीतीश कुमार एक साथ

    बिहार (Bihar) की राजधानी पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) रविवार को राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) की 'संकल्प रैली' (Patna Sankalp Rally) को संबोधित किया. कई सफल रैलियों के गवाह रहे गांधी मैदान में पहली बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) बिहार में किसी चुनावी रैली को एक साथ किया. इस रैली में इन दोनों नेताओं के अलावा राजग में शामिल लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के प्रमुख रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) भी मौजूद थे. राजग के तीनों प्रमुख नेता राजनीतिक रूप से महत्वपूर्ण इस राज्य में लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) का बिगुल फूंक दिया. जहां लोकसभा की 40 सीटें हैं.

  • सभी तरफ 'महामिलावट' का जमाना

    सभी तरफ 'महामिलावट' का जमाना

    देश में लोकसभा चुनाव की तैयारी राजनैतिक दलों ने युद्ध स्तर पर शुरू कर दी है और जैसे जंग के मैदान में होता है लड़ाई के लिए एक लकीर सी खींच दी गई है...दोनों तरफ गठबंधन करने की होड़ सी लगी हुई है. एक-एक दल और एक-एक राज्य के हिसाब से नफे नुकसान का जायजा लेने के बाद पार्टियां आपस में बात कर रही हैं.

  • मांझी बोले- कुशवाहा से कम नहीं चाहिए सीटें, नहीं माने तो करेंगे दूसरे विकल्प पर विचार

    मांझी बोले- कुशवाहा से कम नहीं चाहिए सीटें, नहीं माने तो करेंगे दूसरे विकल्प पर विचार

    एनडीए छोड़कर महागठबंधन में शामिल हुए मांझी से यह पूछे जाने पर कि महागठबंधन से नाता तोडने पर उनके पास दूसरा विकल्प क्या होगा, उन्होंने इस बारे में कुछ भी तत्काल कहने से इंकार करते हुए कहा, ‘विकल्प पर पार्टी के भीतर बात होगी. आगामी 18 फरवरी को पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक है.’ उन्होंने कहा कि किसी भी स्थिति में हम लोग कुशवाहा की पार्टी से अधिक सीट पाने की बात करेंगे. मांझी ने कहा, ‘कुशवाहा कुछ दिन पहले महागठबंधन में शामिल हुए हैं जबकि हम सेक्युलर पहले से महागठबंधन में शामिल है. ऐसे में अगर उनसे कम सीट पर हम सेक्युलर को चुनाव लडने के लिए कहा जाएगा तो यह कैसे संभव होगा.’ उन्होंने कहा कि यह मायने नहीं रखता, ‘हमें एक, दो या दस सीट मिलती है बल्कि हमें कुशवाहा जी से अधिक सीट मिलनी चाहिए.’

  • जब अखिलेश और डिंपल यादव को नहीं पहचान पाईं मायावती, बॉडीगार्ड ने बयां किया पूरा वाकया

    जब अखिलेश और डिंपल यादव को नहीं पहचान पाईं मायावती, बॉडीगार्ड ने बयां किया पूरा वाकया

    18 सालों तक मायावती के बॉडीगार्ड के तौर पर काम करने वाले पदम सिंह ने ऐसे किस्‍से बताए हैं जो आमतौर पर सार्वजनिक नहीं हो पाते.

  • AAP से अब तक कोई गठबंधन नहीं: शीला दीक्षित बोलीं- बीजेपी और 'आप' दोनों ही हमारे लिए चुनौती

    AAP से अब तक कोई गठबंधन नहीं: शीला दीक्षित बोलीं- बीजेपी और 'आप' दोनों ही हमारे लिए चुनौती

    दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री और अजय माकन की जगह लेने वालीं कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित (Sheila Dikshit) ने बुधवार को कहा कि अभी तक आम आदमी पार्टी से गठबंधन को लेकर कोई बातचीत नहीं हुई है.

  • SP-BSP से झटके के बाद यूपी में क्या होगी कांग्रेस की 'रणनीति', आज करेगी अपने प्लान का ऐलान

    SP-BSP से झटके के बाद यूपी में क्या होगी कांग्रेस की 'रणनीति', आज करेगी अपने प्लान का ऐलान

    यूपी में गठबंधन के इस माहौल के बीच अब कांग्रेस ने भी शनिवार को दिल्ली में यूपी को लेकर बैठक बुलाई थी. इस बैठक में यूपी के प्रभारी गुलाम नबी आजाद और प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर भी मौजूद थे. बैठक में 20 से ज्यादा जिला इकाइयों के अध्यक्ष शामिल हुए थे. बताया जा रहा है कि कांग्रेस के बड़े पदाधिकारियों ने स्थानीय इकाइयों से फीडबैक ली. इस बैठक में यूपी के बड़े कांग्रेस नेताओं में शुमार प्रमोद तिवारी, जितिन प्रसाद भी शामिल थे.

  • सपा-बसपा गठबंधन पर बोले शिवपाल यादव- यह मेरे बिना अधूरा है, भाजपा को हराने के लिए सेक्युलर फ्रंट की जरूरत

    सपा-बसपा गठबंधन पर बोले शिवपाल यादव- यह मेरे बिना अधूरा है, भाजपा को हराने के लिए सेक्युलर फ्रंट की जरूरत

    कुछ दिन पहले ही शिवपाल ने सपा में शामिल होने की संभावना से तो इनकार कर दिया था, लेकिन गठबंधन में शामिल होने की इच्छा जरूर जाहिर की थी. शिवपाल ने कहा था, ‘प्रगतिशील समाजवादी पार्टी का सपा में विलय करने या मेरी सपा में वापसी का कोई सवाल ही नहीं उठता. हालांकि, मैं भाजपा जैसी सांप्रदायिक शक्ति को सत्ता से दूर रखने के लिए समान विचारधारा वाली पार्टियों से गठबंधन करने को तैयार हूं. मगर वह भी तब होगा, जब हमें सम्मानजनक संख्या में सीटें मिलेंगी.' उन्होंने कहा कि प्रसपा के गठन के बाद उन्होंने उत्तर प्रदेश के लगभग हर जिले का दौरा किया है. उन्हें हर जगह उत्साहजनक प्रतिक्रिया मिली हैं. अगर किसी पार्टी से गठबंधन नहीं हुआ तो प्रसपा प्रदेश की सभी 80 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी.

  • चिराग पासवान बोले: सपा-बसपा एक मजबूत गठबंधन, मुंहतोड़ जवाब देने के लिए NDA को बनना होगा सुदृढ़

    चिराग पासवान बोले: सपा-बसपा एक मजबूत गठबंधन, मुंहतोड़ जवाब देने के लिए NDA को बनना होगा सुदृढ़

    2019 लोकसभा चुनाव के लिए उत्तर प्रदेश में सपा और बसपा ने शनिवार को अपने गठबंधन का औपचारिक एलान किया. दोनों पार्टियों ने कांग्रेस को साथ लिए बगैर ही आपस में गठजोड़ करने की घोषणा कर दी. इसके कुछ घंटे बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि उनकी पार्टी ‘पूरी क्षमता’ के साथ राज्य में चुनाव लड़ेगी और अपनी विचारधारा पर अडिग रहेगी. राहुल ने कहा कि उनके मन में इन दोनों दलों के नेताओं के प्रति ‘बड़ा सम्मान’ है और ‘वे जो भी चाहें, उन्हें वह करने का हक है.’

  • राहुल गांधी का सपा-बसपा गठबंधन पर बड़ा बयान-बोले यूपी में पूरी ताकत से उतरेंगे

    राहुल गांधी का सपा-बसपा गठबंधन पर बड़ा बयान-बोले यूपी में पूरी ताकत से उतरेंगे

    कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने उत्तर-प्रदेश में समाजवादी पार्टी और बसपा के बीच हुए गठबंधन को लेकर बड़ा बयान दिया है.

  • 25 साल पहले हुए गेस्ट हाउस कांड पर बोलीं मायावती- हमने देशहित में उसको किनारे रख दिया

    25 साल पहले हुए गेस्ट हाउस कांड पर बोलीं मायावती- हमने देशहित में उसको किनारे रख दिया

    यूपी की सियासत में 25 साल बाद एक बार फिर से समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी का मिलन हुआ है. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में आज यानी शनिवार को सपा प्रमुख अखिलेश यादव और बसपा प्रमुख मायावती ने संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सपा-बसपा गठबंधन का ऐलान किया और इस गठबंधन से कांग्रेस को बाहर ही रखा.