NDTV Khabar

Great britain


'Great britain' - 5 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • जो ग्रेट ब्रिटेन ने 150 सालों में हासिल किया, भारत ने 30 साल में ही कर लिया : क्रूगमैन

    जो ग्रेट ब्रिटेन ने 150 सालों में हासिल किया, भारत ने 30 साल में ही कर लिया : क्रूगमैन

    नोबेल पुरस्कार विजेता अमेरिकी अर्थशास्त्री पॉल क्रूगमैन ने शनिवार को कहा कि आर्थिक मोर्चे पर भारत ने तेजी से प्रगति की है लेकिन देश में कायम आर्थिक असमानता एक मुद्दा है. क्रूगमैन ने कहा कि भारत हालांकि, पहले की तुलना में 'व्यापार करने के लिए ज्यादा बेहतर स्थान' बन गया है, लेकिन नौकरशाही बाधाएं अभी भी पूर्ण रूप से नहीं गई हैं, हां इसमें कमी जरूर आई है.

  • ब्रिटेन ने ऑस्ट्रेलिया के हराकर 23 साल बाद अजलान शाह कप जीता

    ब्रिटेन ने ऑस्ट्रेलिया के हराकर 23 साल बाद अजलान शाह कप जीता

    ग्रेट ब्रिटेन ने शनिवार को फाइनल में गत चैम्पियन ऑस्ट्रेलिया पर 4-3 से जीत दर्ज कर 23 साल के बाद सुल्तान अजलान शाह कप खिताब अपने नाम किया. ग्रेट ब्रिटेन ने 1994 में एकमात्र खिताब हासिल किया था, उसने तब से पहली बार फाइनल में प्रवेश किया और आठवें मिनट में ही बढ़त हासिल कर ली. ब्रिटेन ने भारत के अंतिम लीग मैच में मलेशिया के खिलाफ शुक्रवार को खराब प्रदर्शन के कारण फाइनल में प्रवेश किया.

  • रियो ओलिंपिक : ब्रिटेन से 0-3 से हारी भारतीय महिला हॉकी टीम

    रियो ओलिंपिक : ब्रिटेन से 0-3 से हारी भारतीय महिला हॉकी टीम

    रियो ओलिंपिक में सोमवार को भारतीय महिला हॉकी टीम पूल-बी के मुकाबले में ब्रिटेन के हाथों 0-3 से हार गई. भारतीय महिलाएं जरा भी लय में नजर नहीं आईं और गेंद अपने पास रखने के लिए संघर्ष करती दिखीं.

  • वर्ल्ड हॉकी लीग : बड़ी बात है ग्रेट ब्रिटेन को हराकर सेमीफाइनल में पहुंचना

    वर्ल्ड हॉकी लीग : बड़ी बात है ग्रेट ब्रिटेन को हराकर सेमीफाइनल में पहुंचना

    भारत ने एक लंबे वक्त के बाद ग्रेट ब्रिटेन को 2-1 से हराकर वर्ल्ड हॉकी लीग फाइनल्स टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। मैच से पहले जानकार और आंकड़े ज़रूर इस मुकाबले में इंग्लैंड का पलड़ा भारी मान रहे थे, लेकिन टीम हॉकी इंडिया ने इसे ग़लत साबित कर दिया।

  • मैं शादी के विरुद्ध नहीं : अभय देओल

    मैं शादी के विरुद्ध नहीं : अभय देओल

    अभय ने बताया, 'मैं विवाह विरोधी नहीं हूं। मैं शादी को एक सांस्कृतिक घटना मानता हूं, न कि एक प्राकृतिक घटना। मैं नहीं मानता कि जितना प्रतिबद्ध मैं पहले से हूं उससे अधिक प्रतिबद्ध कागज के एक टुकड़े पर हस्ताक्षर करके हो जाऊंगा।'