NDTV Khabar

High court judgement


'High court judgement' - 5 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • जब संजय गांधी हाईकोर्ट के फैसले पर भड़क गए और कहा 'बेवकूफाना', पढ़ें- पूरा किस्सा  

    जब संजय गांधी हाईकोर्ट के फैसले पर भड़क गए और कहा 'बेवकूफाना', पढ़ें- पूरा किस्सा  

    इलाहाबाद हाईकोर्ट के फै़सले पर संजय गांधी ने कहा, 'मैं सोचता हूं कि यह बेवकूफ़ाना फैसला (स्टूपिड ज़जमेंट है)'. संजय गांधी ने कहा कि 'हम देखेंगे' और वह गेट के पीछे ग़ायब हो गए. इसके बाद जो हुआ वह सब जानते हैं. संजय गांधी ने इलाहाबाद हाईकोर्ट के जिस फ़ैसले को देखने की बात कही थी

  • नरोदा पाटिया दंगा: गुजरात हाईकोर्ट से माया कोडनानी बरी, बाबू बजरंगी की सजा बरकरार

    नरोदा पाटिया दंगा: गुजरात हाईकोर्ट से माया कोडनानी बरी, बाबू बजरंगी की सजा बरकरार

    गुजरात में 2002 के नरौदा पाटिया दंगा (नरोदा पाटिया दंगा) मामले में दायर अपीलों पर शुक्रवार को गुजरात हाईकोर्ट ने अपना फैसला सुनाया. हाईकोर्ट ने माया कोडनानी को बरी कर दिया है, वहीं बाबू बजरंगी की सजा को बरकरार रखा है. न्यायमूर्ति हर्षा देवानी और न्यायमूर्ति ए एस सुपेहिया की पीठ ने मामले में सुनवाई पूरी होने के बाद पिछले साल अगस्त में अपना आदेश सुरक्षित रख लिया था. अगस्त 2012 में एसआईटी मामलों के लिये विशेष अदालत ने राज्य की पूर्व मंत्री और भाजपा नेता माया कोडनानी समेत 32 लोगों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी. 

  • नरोदा पाटिया दंगा: 2002 नरसंहार मामले में गुजरात हाईकोर्ट आज सुना सकता है फैसला

    नरोदा पाटिया दंगा: 2002 नरसंहार मामले में गुजरात हाईकोर्ट आज सुना सकता है फैसला

    गुजरात हाईकोर्ट 2002 के नरौदा पाटिया दंगा मामले में दायर अपीलों पर शुक्रवार को अपना फैसला सुनाने की उम्मीद है. न्यायमूर्ति हर्षा देवानी और न्यायमूर्ति ए एस सुपेहिया की पीठ ने मामले में सुनवाई पूरी होने के बाद पिछले साल अगस्त में अपना आदेश सुरक्षित रख लिया था. अगस्त 2012 में एसआईटी मामलों के लिये विशेष अदालत ने राज्य की पूर्व मंत्री और भाजपा नेता माया कोडनानी समेत 32 लोगों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी. 

  • क्या अभिव्यक्ति की आजादी के मामले में नज़ीर बनेगा मुरुगन की किताब पर आया फैसला?

    क्या अभिव्यक्ति की आजादी के मामले में नज़ीर बनेगा मुरुगन की किताब पर आया फैसला?

    तमिलनाडू के लेखक पेरुमल मुरुगन के मामले में चेन्नई हाई कोर्ट का एक फैसला आया है। चेन्नई हाईकोर्ट ने अपने फैसले में जो लिखा उसे मील का पत्थर बताया जा रहा है। क्या यह फैसला उन्मुक्त अभिव्यक्ति की आजादी के मामले में नज़ीर है या इसका संदर्भ सिर्फ मुरुगन की किताब तक ही सीमित है।

  • राकेश कुमार मालवीय : पढ़े-लिखे होने का क्या मतलब?

    राकेश कुमार मालवीय : पढ़े-लिखे होने का क्या मतलब?

    हरियाणा ने पंचायत चुनाव अधिनियम में संशोधन किए हैं। अब वहां कोई भी व्यक्ति निर्धारित शिक्षा प्राप्त न होने पर चुनाव लड़ने से वंचित रहेगा। यानि यदि किसी की चुनाव लड़ने की इच्छा हो तो वह केवल इसलिए इसे पूरी नहीं कर पाएगा क्योंकि उसके पास स्कूली शिक्षा का एक ‘औपचारिक कागज’ नहीं है।

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com