NDTV Khabar

Hydroxychloroquine


'Hydroxychloroquine' - 36 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • दिल के लिए खतरनाक हो सकती हैं हाइड्रोक्‍सीक्‍लोरोक्‍वीन और क्‍लोरोक्‍वीन

    दिल के लिए खतरनाक हो सकती हैं हाइड्रोक्‍सीक्‍लोरोक्‍वीन और क्‍लोरोक्‍वीन

    हाइड्रोक्‍सीक्‍लोरोक्‍वीन और क्‍लोरोक्‍वीन दवा इंसान के दिल के लिए खतरनाक साबित हो सकती है. यह दिल से संबंधी समस्‍याओं को बढ़ा सकती हैं. इन दवाओं का प्रचलन कोविड-19 के इलाज में इस्तेमाल किए जाने के बाद बढ़ गया था.

  • भारत से आई Hydroxychloroquine लेकर बेहतर महसूस कर रहे हैं ब्राजील के कोरोना पॉजिटिव प्रेसीडेंट बोलसोनारो, कही यह बात...

    भारत से आई Hydroxychloroquine लेकर बेहतर महसूस कर रहे हैं ब्राजील के कोरोना पॉजिटिव प्रेसीडेंट बोलसोनारो, कही यह बात...

    ब्राजील के राष्‍ट्रपति ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो (Jair Bolsonaro) खुद इस समय कोरोनावायरस (Coronavirus) से संक्रमित हैं. वे भी हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन टेबलेट का सेवन कर रहे हैं. उन्‍हें इसे कोरोना के लिहाज से फायेदमंद बताया है. ब्राजील के राष्‍ट्रपति ने एक वीडियो जारी कर इस टेबलेट की प्रशंसा की है.

  • कोविड-19: अमेरिका ने एंटी मलेरिया दवा HCQ के आपात इस्तेमाल की मंजूरी वापस ली

    कोविड-19: अमेरिका ने एंटी मलेरिया दवा HCQ के आपात इस्तेमाल की मंजूरी वापस ली

    फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) के मुख्य वैज्ञानिक डेनिस हिंटन ने एक पत्र में लिखा है, "यह मानना उचित नहीं है कि एचसीक्यू और सीक्यू के ओरल फॉर्मूलेशन कोविड-19 के इलाज में प्रभावी हो सकते हैं. और न ही यह मानना उचित है कि इन उत्पादों के ज्ञात और संभावित लाभ उनके ज्ञात और संभावित जोखिम को पछाड़ते हैं.

  • Covid-19 Critical Patients के इलाज में इस्तेमाल हो रही हैं ये दवाएं! इस दवा का उपयोग हुआ बंद

    Covid-19 Critical Patients के इलाज में इस्तेमाल हो रही हैं ये दवाएं! इस दवा का उपयोग हुआ बंद

    31 मई को जारी क्लीनिकल प्रबंधन दिशानिर्देश में गहन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) में रखे जाने की जरूरत वाले कोविड-19 (COVID-19 Patients) रोगियों पर एजीथ्रोमाइसिन (Azithromycin) के साथ हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन (Hydroxychloroquine) ​के उपयोग का सुझाव दिया गया था.

  • Covid-19 के इलाज में Hydroxychloroquine को खतरा बताने वाले रिसर्चर्स ने अपनी स्टडी ली वापस

    Covid-19 के इलाज में Hydroxychloroquine को खतरा बताने वाले रिसर्चर्स ने अपनी स्टडी ली वापस

    हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन को लेकर एक बड़ी स्टडी में कहा गया था कि इस दवा से कोविड-19 के इलाज में कोई खास मदद नहीं मिलेगी, वहीं इससे मरीज की अस्पताल में मौत होने की आशंका बढ़ जाती है.

  • WHO ने एंटी-मलेरिया ड्रग हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन का COVID परीक्षण फिर से शुरू करने के लिए कहा

    WHO ने एंटी-मलेरिया ड्रग हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन का COVID परीक्षण फिर से शुरू करने के लिए कहा

    25 मई को संवाददाता सम्मेलन में डब्ल्यूएचओ महानिदेशक टेड्रोस एडनोम गेब्रेयेसस ने कहा था कि पिछले हफ्ते लांसेट जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन के मुताबिक हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन ले रहे लोगों को मृत्यु और हृदय संबंधी समस्याओं का अधिक खतरा होने को ध्यान में रखते हुए हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के वैश्विक चिकित्सीय परीक्षण (क्लीनिकल ट्रायल) पर अस्थायी रोक होगी

  • Covid-19 को मात देने में सहायक इस दवाई से दिल को खतरा! रिसर्च में सामने आए चौंकाने वाले नतीजे

    Covid-19 को मात देने में सहायक इस दवाई से दिल को खतरा! रिसर्च में सामने आए चौंकाने वाले नतीजे

    वैज्ञानिकों का कहना है कि उन्होंने जो वीडियो बनाए हैं उसमें यह स्पष्ट दिखता है कि कैसे यह दवा हृदय में विद्युत तरंगों में गड़बड़ी पैदा कर सकती है. जॉर्जिया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के भौतिकी के प्रोफेसर और इस अध्ययन के सह-लेखक फ्लेवियो फेंटन ने कहा कि उन्होंने इस प्रयोग के लिए ऑप्टिकल मैपिंग का सहारा लिया. इससे उन्हें यह देखने में मिली कि हृदय की तरंगें किस तरह से बदलती हैं.

  • व्हाइट हाउस ने बताया हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन लेने के बाद कैसा महसूस करते हैं डोनाल्ड ट्रंप

    व्हाइट हाउस ने बताया हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन लेने के बाद कैसा महसूस करते हैं डोनाल्ड ट्रंप

    व्हाइट हाउस की एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा है कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प मलेरियारोधी दवा हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की दो सप्ताह तक खुराक लेने के बाद ‘‘बहुत अच्छा’’ महसूस कर रहे हैं और यदि उन्हें लगता है कि वह कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए हैं, तो वह दोबारा इसे लेंगे.

  • WHO ने मलेरिया की दवा हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन का कोरोनावायरस के इलाज के लिए ट्रायल रोका

    WHO ने मलेरिया की दवा हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन का कोरोनावायरस के इलाज के लिए ट्रायल रोका

    विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने सुरक्षा चिंताओं की वजह से मलेरिया की दवा हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन का कोरोनावायरस के इलाज के लिए ट्रायल रोक दिया है. न्यूज एजेंसी AFP ने इस बारे में खबर दी है.

  • कोरोना वायरस : सरकार की नई गाइडलाइन- जानिए, कौन-कौन खा सकता है मलेरिया वाली दवा Hydroxychloroquine

    कोरोना वायरस :  सरकार की नई गाइडलाइन- जानिए, कौन-कौन खा सकता है मलेरिया वाली दवा Hydroxychloroquine

    सरकार ने शुक्रवार को एक संशोधित परामर्श जारी कर गैर कोविड-19 अस्पतालों में काम कर रहे बिना लक्षण वाले स्वास्थ्यसेवा कर्मियों, निरुद्ध क्षेत्रों (कंटेनमेंट जोन) में निगरानी ड्यूटी पर तैनात कर्मियों और कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने संबंधी गतिविधियों में शामिल अर्द्धसैन्य बलों/पुलिसकर्मियों को रोग निरोधक दवा के तौर पर हाइडॉक्सीक्लोरोक्वीन (एचसीक्यू) का इस्तेमाल करने की सिफारिश की है. इससे पहले जारी परामर्श में किए उल्लेख के अनुसार, कोविड-19 को फैलने से रोकने एवं इसका इलाज करने में शामिल बिना लक्षण वाले सभी स्वास्थ्यसेवा कर्मियों और संक्रमित लोगों के घरों में संपर्क में आए लोगों में संक्रमण के खिलाफ इस दवा का इस्तेमाल करने की भी सिफारिश की गई है.

  • ट्रंप का खुलासा : COVID-19 से बचने के लिए रोज़ खा रहे हैं हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन टैबलेट, भारत से मांगी थी यह दवा

    ट्रंप का खुलासा : COVID-19 से बचने के लिए रोज़ खा रहे हैं हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन टैबलेट, भारत से मांगी थी यह दवा

    ट्रंप ने हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वीन के उपयोग को बढ़ावा देने में रुचि दिखाई है जबकि कुछ डॉक्टरों का मानना है कि यह दवा कोरोना मरीजों पर काम नहीं करती है और अमेरिकी सरकारी नियामक ने भी चेतावनी दी है कि "यह दवा सुरक्षित नहीं है." 

  • COVID-19 में कोई लाभ नहीं HCQ से, कोरोना के साथ जीना सीखना होगा

    COVID-19 में कोई लाभ नहीं HCQ से, कोरोना के साथ जीना सीखना होगा

    अमरीका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने अप्रैल के शुरू में कहा था कि यह दवा ठीक कर देगी. उस वक्त भी अमरीका के बड़े वैज्ञानिकों और डॉक्टरों ने सवाल उठाए थे. मगर इसी बहाने कुछ दिनों तक चर्चा चल पड़ी. कई देश इस दवा का आयात करने लगे जिनमें से अमरीका भी है. भारत ने निर्यात किया. इसे अपनी कूटनीतिक सफलता के रूप में देखा. ट्रंप की मूर्खता का अंदाज़ा सभी को था लेकिन महामारी ऐसी है कि हर कोई कुछ दिनों तक भरोसा तो करना ही चाहता है.

  • अमेरिका के कई अस्पताल कोविड-19 के इलाज में कर रहे हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन का इस्तेमाल : रिपोर्ट

    अमेरिका के कई अस्पताल कोविड-19 के इलाज में कर रहे हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन का इस्तेमाल : रिपोर्ट

    अमेरिका में कई अस्पताल कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के इलाज में मलेरिया के उपचार में काम आने वाली दवा हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन का इस्तेमाल कर रहे हैं. मीडिया में आई एक रिपोर्ट में यह जानकारी मिली है. चिकित्सा पत्रिका ‘एमडेज’ में शुक्रवार को प्रकाशित एक खबर के अनुसार, मलेरिया के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवा हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन (एचसीक्यू) और तोसीलिजुमैब दवा से येल न्यू हेवन हेल्थ सिस्टम के अस्पतालों में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों का इलाज हो रहा है.

  • COVID-19 रोगियों के इलाज के लिए हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के उपयोग से कोई लाभ नहीं: रिपोर्ट

    COVID-19 रोगियों के इलाज के लिए हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के उपयोग से कोई लाभ नहीं: रिपोर्ट

    ट्रम्प ने मंगलवार को व्हाइट हाउस में कोरोना वायरस पर अपने दैनिक समाचार सम्मेलन के दौरान संवाददाताओं से कहा, ‘मुझे रिपोर्ट के बारे में जानकारी नहीं है. जाहिर है कुछ बहुत अच्छी रिपोर्टें रही हैं और शायद यह अच्छी रिपोर्ट नहीं है. लेकिन हम इस मामले को देख रहे हैं. हम उचित समय पर इस पर टिप्पणी करेंगे.’

  • Coronavirus Mumbai News: मुंबई के धारावी में दी जाएगी हाड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा, हेल्थवर्कर को भी दिया जाएगा इसका डोज

    Coronavirus Mumbai News: मुंबई के धारावी में दी जाएगी हाड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा, हेल्थवर्कर को भी दिया जाएगा इसका डोज

    कोरोना वायरस का असर मुंबई समेत पूरे महाराष्ट्र पर साफ तौर पर देखने मिल रहा है. महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमित साढ़े चार हज़ार से भी ज़्यादा मरीज़ मौजूद हैं. देश के करीब 25 फीसदी कोरोना संक्रमित मरीज़ महाराष्ट्र में मौजूद हैं लेकिन स्वास्थ्य मंत्री के अनुसार ज़्यादा टेस्ट के कारण आंकड़े बढ़े हैं और हालात में सुधार हो रहा है. राज्य में 93 हज़ार से भी ज़्यादा लोगों को होम क्वारंटाइन किया गया है तो अबतक साढ़े पांच सौ से भी ज़्यादा लोग ठीक भी हो चुके हैं. ऐसे में अब यह देखना होगा कि संक्रमित इलाकों में बांटे जाने वाली दवाई का कितना असर होता है.

  • अब रुस ने दवाओं की पूर्ति के लिए भारत का आभार जताया, कहा- कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई में भारत का फैसला...

    अब रुस ने दवाओं की पूर्ति के लिए भारत का आभार जताया, कहा- कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई में भारत का फैसला...

    कोरोनावायरस के खिलाफ जंग में भारत महत्वपूर्ण निभाता हुआ नजर आ रहा है, अन्य देशों के लिए मलेरिया रोधी दवा ‘हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन’ के निर्यात का रास्ता खोलने के बाद कई देश खुले दिल से भारत का आभार जता चुके हैं. इसी कड़ी में रुस का नाम भी जुड़ गया है. भारत में रूसी दूतावास के अनुसार रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के प्रवक्ता ने कहा, 'COVID19 से लड़ने के लिए दवाओं की आपूर्ति के निर्णय के लिए रूस भारत का आभारी है. हम भारत के इस फैसले को कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई में सहयोग पर समझौतों को लागू करने की दिशा में एक प्रभावी कदम मानते हैं.'

  • Coronavirus: अब डोनाल्ड ट्रंप को मिलेगी थोड़ी राहत, भारत से अमेरिका पहुंची हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन की पहली खेप

    Coronavirus: अब डोनाल्ड ट्रंप को मिलेगी थोड़ी राहत, भारत से अमेरिका पहुंची हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन की पहली खेप

    अमेरिका और कुछ अन्य देशों की मदद करने के लिए भारत ने कुछ दिन पहले ही मलेरिया-रोधी इस दवा के निर्यात पर लगा प्रतिबंध मानवीय आधार पर हटा दिया था. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) के अनुरोध पर इस हफ्ते की शुरुआत में भारत ने अमेरिका को हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन की 35.82 लाख गोलियों के निर्यात को मंजूरी दे दी है. इसके साथ दवा के निर्माण में आवश्यक 9 टन फार्मास्यूटिकल सामग्री या एपीआई भी भेजी गई है.

  • कोरोना संकट के बीच चिदंबरम ने बताया जान बचाने, रोजी-रोटी की रक्षा के लिए ऐसे आ सकता है पैसा

    कोरोना संकट के बीच चिदंबरम ने बताया जान बचाने, रोजी-रोटी की रक्षा के लिए ऐसे आ सकता है पैसा

    कांग्रेस नेता ने एक के बाद एक कई ट्वीट किए. उन्होंने कहा, "गरीबों ने पिछले 18 दिनों में अपनी नौकरी या स्वरोजगार खो दिया है. उन्होंने अपनी अल्प बचत समाप्त कर दी है. कई लोग भोजन के लिए कतार में खड़े हैं. क्या राज्य खड़े होकर उन्हें भूखा रख सकते हैं?"

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com